छत्तीसगढ़

चांपा में 1 लाख 13 हजार के लूट का खुलाशा, कई सवाल छोड़ गई यह कार्यवाई

जांजगीर-चांपा 2017-03-28 10:03 pm.
No image

जाँजगीर ब्यूरो,

जाँजगीर चाम्पा जिले में एक मेडिकल रिप्रेजेन्टेटिव से 1 लाख 13 हजार रू की लूट के मामले का पुलिस ने खुलाशा कर लिया है इस मामले में कोटडबरी के दो आरोपियों को गिरफ्तार किया गया है घटना चांपा थाना क्षेत्र की है। गिरफ्तारी के बाद जिले मे पहली बार ऐसा हुआ जब आरोपियों को पुलिस ने मीडिया से दूर रखा वैसे तो जिले की पुलिस सटोरियों, जेबकतरों और सौ-दो सौ के जुआ पकड़ने पर भी जम कर प्रचार करती है मगर लूट के मामले में बड़ी सफलता के बावजूद आरोपियों को मीडिया से दूर रखना सवालों को पैदा कर रहा है। सूत्रों की मानें तो पुलिस 27 तारीख से आरोपियों को पकड़ चुकी थी यानी घटना के महज 18-20 घण्टे  बाद फिर आरोपियो ने 43 हजार रू कैसे खर्च कर डाले,

आखिर ऐसा क्या किया पुलिस से छिपते फिरते दोनों आरोपियों ने इसका पुलिस नोट में कोई उल्लेख नही है।

दूसरा सवाल पुलिस आरोपियों को लहु लुहान हालत में हास्पिटल क्यों लेकर गई और हास्पिटल में भी मीडिया से छुपाया गया क्यों ?

तीसरा सवाल आरोपियों को कोटडबरी लेजाकर जानवरों की तरह क्यों मारा गया ?

चौथा सवाल जब आरोपियों की हालत इतनी नाजुक थी कि  उन्हे मीडिया में दिखाना गंवारा नही था तो आनन फानन में दोनों को जेल क्यों भेज दिया गया।

 ये सवाल पुलिस की कार्य कुशलता पर नही है ये सवाल है पुलिस की कार्यप्रणाली पर। 

यहॉ यह बताना भी लाजमी होगा की पुलिस के आला अधिकारी इस मामले का खुलाशा प्रेस कॉन्फ्रेंस  के माध्यम से करना चाहते थे मगर चांपा पुलिस ने ऐसा होने नही दिया तो क्या अब आला अधिकाारियों के आदेश से उपर अब अधिनस्थों के मंसूबे हो ये...? यह भी सवाल उठना लाजमी है। बहरहाल दोनो आरोपी अजय अनंत और अमित सतनामी जेल भेजे जा चुके हैं और 43 हजार के खर्च का ब्यौरा न तो आरोपियों ने पुलिस को बताया और ना ही पुलिस ने मीडिया को बताना जरूरी समझा। 


 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan