देश

छत्तीसगढ़ विधानसभा में 3 घंटे तक कांग्रेस विधायकों ने की नारेबाजी, हंगामे की बीच सीएम ने दिया 7 मिनट का भाषण 

रायपुर 2017-03-02 08:03 pm.
No image

मोर खबर रायपुर ब्यूरो 
छत्तीसगढ़ विधानसभा में आज राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान पूरे दिन हंगामा चला ।कांग्रेस सरकार द्वारा शराब बेचे जाने के फैसले पर  चर्चा की मांग कर रही थी। स्थगन प्रस्ताव अग्राह्य होने के बाद बाद कांग्रेस विधायकों ने राज्यपाल के अभिभाषण में भाग नहीं लिया और लगभग 3 घंटे तक लगातार लगातार नारेबाजी की। कांग्रेस विधायकों के नारेबाजी की वजह से राज्यपाल के अभिभाषण पर सीएम का कृतज्ञता भाषण भी 7 मिनट में पूरा हो गया। सीएम ने कहा कि, विपक्ष को राज्यपाल के अभिभाषण की चर्चा में अपनी बात रखने का पर्याप्त समय था लेकिन विपक्ष को हंगामा करना था। सीएम ने अभिभाषण पर चर्चा के दौरान कहा कि, सरकार ने शिक्षा का विस्तार किया है। छत्तीसगढ़ के बस्तर ने शिक्षा का मॉडल दिया है। बस्तर के नक्सल प्रभावित इलाकों में सड़कों का निर्माण हुआ है। 10 हजार करोड़ से सड़कों का निर्माण आने वाले दिनों में होगा। सीएम ने कहा कि, प्रदेश के 514 गांव में शत प्रतिशत बिजली पहुंचेगी। सीएम ने कहा कि, शराब सरकार द्वारा चलाना नई योजना नहीं है..दिल्ली सरकार भी खुद संचालन करती है..ऐसे राज्यों में अवैध शराब बिक्री रुकी है..तमिलनाडु केरल में यह व्यवसाय वर्षो तक होता रहा है..सरकार का लक्ष्य कोचियों पर अंकुश लगाना है..सरकारी दुकान पहले भी थी..पहले ठेकेदार यूपी बिहार के लोग संचालन करते थे..अब इसे सरकार चलाएगी। 11 सदस्यों की टीम 7 राज्यों का दौरा करेगी..विपक्ष को धैर्य रखना चाहिए..सरकार अवैध शराब बिक्री रोकने कठोर कानून बनायेगी..थोड़े दिन बाद गांव में शांति होगी ।
हंगामे के बाद नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने कहा कि,सरकार शराब बेचने के विषय में चर्चा से भाग रही है..शासन ऐसी परिस्थितयां बना रही है जिससे समय कम है..परिस्थितिवश विपक्ष के विधायको को दिनभर नारेबाजी करना पड़ा। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि, छत्तीसगढ़ में कभी भी सरकार ने शराब दुकानें नहीं चलाई है सरकार जिसका जिक्र कर रही है वह वैकल्पिक व्यवस्था थी। 

 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan