देश

अमित को टीएस सिंहदेव की दो टूक कभी कांग्रेस पर विश्वास नहीं किया, अब आपके अविश्वास पर हम कैसे करें विश्वास

रायपुर 2017-02-27 10:02 pm.
No image

राज्यपाल के अभिभाषण में शराबबंदी का उल्लेख नहीं होने के​ विरोध में विधायक अमित जोगी, सियाराम कौशिक, आर के राय गांधी प्रतिमा के सामने धरने पर बैठे। दरअसल तीनो विधायक शराब नीति का विरोध कर रहे थे। विधायक अमित जोगी ने कहा कि, सरकार के द्वारा शराब बेचे जाने के फैसले को लेकर वे सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाएंगे, अमित ने कांग्रेस से इस मसले पर समर्थन मांगा और कहा कि, यदि कांग्रेस सदन के बाहर विरोध करती है तो सदन में सदन में उनके अविश्वास प्रस्ताव का समर्थन करना चाहिए। 
                  नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव ने कहा कि, अमित जोगी ने कभी कांग्रेस पर विश्वास नहीं किया तो अमित का समर्थन किसी सूरत में नहीं हो सकता। नेता प्रतिपक्ष ने कहा कि, यदि अविश्वास प्रस्ताव आता है तो कांग्रेस व्हिप जारी करेगी, इसका उल्लंघन करने वालों पर नियमों के तहत कार्रवाई होगी। यदि कोई भी कांग्रेस विधायक व्हिप का उल्लंघन करता है तो उनकी सदस्यता समाप्त हो सकती है। 
                  दरअसल छत्तीसगढ़ में पूर्ण शराबबंदी की मांग को लेकर मरवाही विधायक अमित जोगी ने दांव खेला है। अमित जोगी ने शराबबंदी पर सदन में अविश्वास प्रस्ताव लाने की बात कही है। दरअसल किसी भी विधायक के अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा और मतदान तब होता है जब दहाई की संख्या में विधायक अविश्वास प्रस्ताव के समर्थन में हों। अमित खुद एक विधायक हैं, उनके साथ कांग्रेस के दो​ विधायक सियाराम कौशिक और आर के राय हैं। अमित का मानना है कि, कांग्रेस, निर्दलिय और बसपा के विधायक जनहित का मुददा मानते हुए उनका समर्थन करेंगे। जबकि कांग्रेस का मानना है कि, किसी मुददे पर जब अविश्वास प्रस्ताव लाना होगा वे खुद लाएंगे अमित का समर्थन क्यों करेंगे। 
 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan