छत्तीसगढ़

1 लाख किलो सब्जियां किसानों ने मुफ्त में बांट दी,उमड़ पड़े लोग 

रायपुर 2017-01-03 07:01 pm.
No image

छत्तीसगढ़ युवा प्रगतिशील किसान संघ ने नोट बंदी की वजह से किसानों को सब्जियों की कीमत नहीं मिलने के मुद्दे को लेकर रायपुर में आंदोलन किया।  किसानों ने 1 लाख किलो गोभी लगभग 30 गाड़ियों में टमाटर गोभी लौकी शिमला मिर्च बैंगन और केला जैसी सब्जियां हजारों लोगों को मुफ्त में बांट दी।  युवा प्रगतिशील किसान संघ के नेता रानू साहू,शेर सिंह ठाकुर, शिवकुमार वर्मा, जालम सिंह पटेल ने कहा है कि इस आंदोलन पर भाजपा नेता लगातार दबाव डाल रहे थे कि वह नोट बंदी का नाम ना लें।   जबकि असल हकीकत यह है कि किसान नोट बंदी की वजह से परेशान हैं और उनके उत्पाद नहीं बिक रहे हैंं।  उन्होंने कहा है कि इस गुस्से को जाहिर करने के लिए रायपुर में मुफ्त में लोगों को सब्जियां बांटी गई है।  धमधा कन्हारपुरी कोटवानी गांव से आए टमाटर उत्पादक किसानों ने इस मुद्दे पर संघ के रूप को लेकर नाराजगी जाहिर की है। उन्होंने कहा कि नोटबंदी के कारण दिल्ली, हरियाणा, पश्चिम बंगाल से व्यापारी टमाटर खरीदने छत्तीसगढ़ नहीं आ रहे हैं यही वजह है कि सब्जियों के दाम गिर गए हैं। किसानों ने सरकार से मांग की है कि धमधा दुर्ग बेमेतरा बेरला अहिवारा में टमाटर और दूसरी सब्जियों के लिए बड़ी मंडी बनाई जाए जहां से ट्रकों की लोडिंग हो सके।  किसानों ने राष्ट्रीयकृत बैंकों से 1% ब्याज दर पर कर्ज दिए जाने की मांग की है।  बेमेतरा में गन्ना किसानों ने गन्ना कारखाना खोलने की मांग की है और किसानों ने समाधान नहीं होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी है मुख्यमंत्री डॉक्टर रमन सिंह ने इस आंदोलन को लेकर कहा है कि जल्द ही सब्जी उत्पादन करने वाले क्षेत्रों में सरकार फूड प्रोसेसिंग यूनिट बनाएगी, साथ ही ऐसे क्षेत्र में प्राइवेट सेक्टर से बातचीत कर उद्योग लगाने को लेकर भी सीएम ने विचार करने की बात कही है

Ad

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan