छत्तीसगढ़

हाथियों में गुस्से के साथ शोक भी दिखा

अंबिकापुर 2016-12-19 07:12 pm.
No image

बतौली: करंट से मादा हथिनी की मौत पर ग्रामीणों ने दशगात्र कार्यक्रम किया है. जानकारी के अनुसार बतौली के मानपुर में करंट लगने से मादा हथिनी की मौत हो गई थी. हथिनी के अंतिम संकार पर पांच गांव के ग्रामीणों सहित वन विभाग की पूरी टीम शामिल थी. मानपुर पंचायत ने ब्रम्ह्भोज का आयोजन भी कराया. आत्मा की शांति के लिए प्रार्थना के साथ मौन भी रखा गया. कुछ दिनों पहले से ही पूरा गांव हाथियों की दल से प्रभावित है. ग्रामीणों को फसलों के साथ जानमाल की हानी का डर बना रहता है. सात दिसंबर को जब हाथी का दल गन्ना के खेत में घुसा था तभी एक मादा हथिनी बिजली के तार के चपेट में आ गई थी. करंट लगने से तुरंत उसकी मौत हो गई थी. वन विभाग सूचना मिलते ही घटना स्थल पर गए और हथिनी को पोस्टमार्टम के लिए भेजा गया था. बाद में ग्रामीणों द्वारा उसे दफनाया गया. गुस्साए हाथी फसलों को नुकसान कर रहे है. गुस्से के साथ हाथी शोक में भी है. दफन किए गए स्थान पर जा कर मिट्टी हटाते हुए बिलख रहे है.        

 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan