छत्तीसगढ़

बच्चों ने चाकलेट समझकर चूहे मारने की दवा खा ली

अंबिकापुर 2016-12-19 07:12 pm.
No image

अंबिकापुर: दो मासूम बच्चों ने चाकलेट समझकर चूहा मार दवा खा ली. घटना सूरजपुर जिले के ग्राम नरोला में रहने वाले एक परिवार की है. एक ही परिवार के दोनों मासूम बच्चों की चूहे मारने की दवा खाने से मौत हो गई. जानकारी के अनुसार पड़ोस में रहने वाली 4 साल की बच्ची ने घर में रखे चूहे मारने की दवा को लेकर मृत बच्चें के घर गई थी. जिसे दोनों बच्चें चाकलेट समझ कर खा गए. ग्राम निवासी मंतोष आयाम का चार साल का एक बेटा दिनेश और उसकी डेढ़ साल की छोटी बहन करिश्मा को बेहोश देख उसकी माँ उनके पास गई. उनकी बेहोशी की जानकारी सरपंच को हुई तो वे तुरंत 108 को बुलाए और बच्चों को वाड्रफनगर सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र ले जाया गया. जहां शाम को करिश्मा की मौत हो गई. दिनेश की हालत में सुधार नहीं होने पर उसे अंबिकापुर के होलीक्रास अस्पताल में दाखिल कराया गया. जहां शनिवार की रात को उसकी भी मौत हो गई. पोस्टमार्टम के बाद बच्चें को परिवार वालों को सौप दिया गया. दोनों बच्चों के मौत से पूरा परिवार सदमे में है.     

 

 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan