छत्तीसगढ़

नियमितीकरण से होगा आकाशवाणी के कैजुअल कर्मियों को फायदा

अंबिकापुर 2016-12-17 04:12 pm.
No image

अंबिकापुर: आखिरकार केंद्र सरकार ने आकाशवाणी में कार्यरत कैजुअल कर्मियों की बात सुन ली है. आकाशवाणी के कैजुअल अनाउंसर, कम्पीयरों के नियमितीकरण की सम्भावनाए बढ़ गई है. देशभर के आकाशवाणी केन्द्रों में कार्यरत कैजुअल अनाउंसर और कम्पीयर दिल्ली के जन्तर-मंतर में धरने पर बैठे थे. अंबिकापुर आकाशवाणी केन्द्र से भी बड़ी मात्रा में कर्मी धरने में शामिल हो रहे थे. जो सरकार के आश्वासन पर वापस हुए है. धरने से वापस हुए अखिल भारतीय आकाशवाणी कैजुअल अनाउंसर, कम्पीयर संघ के कार्यसमिति सदस्य पद्मनाभ शर्मा ने बताया कि कैजुअल कर्मियों की मांग पर कार्रवाई के उद्देश्य से सूचना एवं प्रसारण मंत्रालय द्वारा संघ के शिष्ट मंडल को संयुक्त बैठक की चर्चा के लिए बुलाया गया था. जहां नियमितीकरण की सम्भावनाओं पर चर्चा हुई. बैठक में आश्वासन दिया गया कि समस्या के निराकरण हेतु संयुक्त समिति बनाई जाएगी. अंबिकापुर में आकाशवाणी की स्थपना 1976 में हुई है तब से यहां बड़ी संख्या में कैजुअल कर्मी कार्यरत है. अंबिकापुर केंद्र लंबे समय से नियमित कर्मचारियों की कमी झेल रहा है. इस स्तिथि में इन कैजुअल कर्मियों की वजह से ही अंबिकापुर का आकाशवाणी चल रहा है. यदि इन्हें सरकार नियमित करती है तो बड़ी तादात में अनाउंसरों और कम्पीयरों को फायदा मिलेगा.  

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan