देश

आर्मी अफसरों की पत्नियों ने दिखाया साहस टला बंधक संकट

नगरोटा 2016-12-19 01:12 pm.
No image

नगरोटा. जम्मू के नगरोटा में हुए आतंकी हमले में दो अफसरों समेत 7 सैनिक शहीद हो गये वहीं तीन आतंकी भी मारे गये. पुलिस की यूनिफार्म पहने आतंकवादियों का मकसद फैमिली क्वार्टर में रह रहें सैनिकों के परिवारों को बंधक बनाना था. फैमिली क्वार्टर में रह रहें अफसरों की पत्नियों के चलते आतंकियों के मंसूबो पर पानी फिर गया. दो आर्मी अफसरों की पत्नियों ने साहस दिखाते  हुए क्वार्टर की एंट्री को ब्लाक कर दिया, इससे आतंकियों का घर में घुसना मुश्किल हो गया. एक आर्मी अफसर ने कहा अफसरों की पत्नियों ने बहादुरी न दिखाई होती तो आतंकवादी उन्हें बंधक बनाने में सफल हो जाते और सेना को बड़ा नुकसान हो सकता था. लेफ्टिनेंट कर्नल मनीष मेहता ने कहा आतंकवादी जिस बिल्डिंग में घुसे थे वहां बंधक संकट जैसे हालत बन गये थे. सेना ने तुरंत कार्रवाई करते हुए 12 सैनिकों, 2 महिलाओं और 2 बच्चों को बाहर निकाला. इस रेस्क्यू के दौरान एक अफसर और दो जवान शहीद हो गये. पूरे इलाके की तलाशी के लिए आपरेशन चलाया गया. फिलहाल सुबह तक के लिए आपरेशन को स्थगित कर दिया गया है. 
 

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan