छत्तीसगढ़

आय से अधिक संपत्ति का मामला - दीवान को 10 साल की सज़ा, 3 करोड़ जुर्माना

रायगढ़ 2016-11-22 06:11 pm.
No image

रायपुर. आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    आय से अधिक सम्पति रखने वाले हाउसिंग बोर्ड के डिप्टी कमिश्नर डीके दीवान पर चल रहे मुक़दमे में आज जिला कोर्ट ने फैसला सुनते हुए दीवान को 10 साल की सजा और 3 करोड़ रूपए का जुरमाना लगाया गया है. एसीबी के अधिकारीयों ने पत्रकारों को जानकारी देते हुए बताया कि 15 नवम्बर 2014 को कोर्ट से तलाशी वारंट प्राप्त कर उनके आवास व अन्य स्थानों की तलाशी ली गई थी. इस दौरान उनके घर व आस-पास के ठिकानों से नकद 34 लाख रुपए तथा करोड़ों की अन्य संपत्ति बरामद की गई थी. एसीबी के अधिकारीयों ने उन्हें कई बार नोटिस भेजा मगर उन्होंने किसी भी नोटिस का कोई जवाब नहीं दिया. आज जिला कोर्ट ने उन्हें आय से अधिक संपत्ति रखने के जुर्म में एतिहासिक फैसला सुनाया    

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan