छत्तीसगढ़

विधानसभा में सरकार विरोधी नारेबाजी, सभी विपक्षी विधायक निलंबित

रायपुर 2016-12-22 02:12 pm.
No image

रायपुर. आज विधानसभा  विपक्ष के हमले के बाद दोपहर 2:30 बजे तक के लिए स्थगित कर दी गई. दंतेवाड़ा के बारसूर में 2 छात्रों की मौत पर विपक्ष ने गृहमंत्री रामसेवक पैकरा का ध्यानाकर्षित किया. रामसेवक के असंतुष्ट जवाब से विपक्ष सांसदों ने सरकार विरोधी नारे लगाए और आंसदी तक चले गए. सरकार विरोधी नारे लगाने की वजह से सारे विपक्षी विधायकों को सभापति ने  निलंबित कर दिया गया. अमित जोगी ने बुधवार को हुई लाठी चार्ज पर स्थगन प्रस्ताव पर शून्यकाल में चर्चा की मांग की. अमित जोगी की मांग को स्पीकर ने अस्वीकार कर दिया. आरके राय अमित जोगी और सियाराम कौशिक ने नारेबाज़ी की इसके बाद तीनों को निलंबित कर दिया गया. फिर कुछ देर बाद निलंबन रद्द भी कर दिया गया. भूपेश बघेल ने शून्यकाल में पुलिस द्वारा बोनस की मांग के दौरान हुई मार-पीट का मामला उठाया. इस घटना पर भूपेश ने स्थगन प्रस्ताव की मांग की. नंदनवन के वीरान होने पर ध्यानाकर्षण में विधायक देवजी भाई पटेल ने सवाल उठाया. नाहर मरम्मत के लिए कितनी राशि स्वीकृत हुई विधायक सरोजनी बंजारे ने इसकी जानकारी मांगी. जावब देते हुए बृजमोहन अग्रवाल ने बताया की करीब 1 करोड़ रूपए की राशि स्वीकृत की गई है. निजी शासकीय गौशाला की जानकारी विधायक मनोज मंडावी ने मांगी इसका जवाब देते हुए बृजमोहन ने बतया की दुर्गकोंदल में एक शासकीय गौशाला है. सिहावा में स्कूल की जर्जर ईमारत पर विधायक श्रवण मरकाम ने प्रश्नकाल में सवाल उठाया. मंत्री किदार कश्यप ने जावाब देते हुए कहा की तकरीबन 57 स्कूल जर्जर हैं जिनका जीर्णोद्धार किया जाएगा.

इन्हें भी देखे

Follow Us




Copyright © BlueBanyan