देश

No image

 मध्य प्रदेश में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस ने बीजेपी को बड़ा झटका दिया है। सीएम शिवराज सिंह चौहान के गढ़ और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज के संसदीय क्षेत्र विदिशा से करीब पांच सौ बीजेपी कार्यकर्ता अब कांग्रेसी हो गए। कार्यकर्ताओं ने भोपाल पहुंचकर कांग्रेस की सदस्यता ग्रहण की।

मीडिया प्रभारी मानक अग्रवाल के मुताबिक विदिशा से पांच सौ से ज्यादा बीजेपी कार्यकर्ता कांग्रेस में शामिल हुए हैं। कार्यकर्ता स्थानीय सांसद और विधायकों से नाराज़ बताए जा रहे हैं। पीसीसी में अचानक इतनी संख्या में कार्यकर्ताओं के आ जाने से मेले जैसा माहौल है| हाल ही में कर्नाटक चुनाव में हुई हार और फिर इतनी बड़ी संख्या में कार्यकर्ताओं का पार्टी छोड़ना कहीं न कहीं सवालियां निशान पैदा करता है। अचानक हुए इस घटनाक्रम ने सभी को आश्चर्यचकित कर दिया है|

No image

 रायसेन में रहने वाली विवाहिता ने शनिवार रात पुलिस थाने में रिपोर्ट लिखाई कि उसके पति के दोस्त ने दुष्कर्म का वीडियो वायरल करने की धमकी देकर कई बार उसके साथ दुष्कर्म किया। पुलिस ने पीड़िता की शिकायत पर शोभापुर निवासी आरोपी महेश पुरविया के खिलाफ दुष्कर्म सहित विभिन्न धाराओं में अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना में लिया है।

टीआई टी सप्रे ने बताया पीड़िता एक गांव में पति के साथ रहकर किराने की दुकान चलाती है। पति के दोस्त आरोपित महेश का पीड़िता के घर आना-जाना था। करीब 6 माह पूर्व 22 दिसंबर को आरोपित पीड़िता के घर आया और उसके पति को खाने-पीने का सामान लेने बाहर भेज दिया। इसी दौरान उसने अकेला पाकर महिला से दुष्कर्म किया और महिला का वीडियो भी बना लिया। आरोपित इसी वीडियो को वायरल करने की धमकी देता था।

पीड़िता ने इसी डर से चुप रही और उसने पुलिस में रिपोर्ट दर्ज नहीं कराई। पीड़िता ने पुलिस को बताया कि आरोपित महेश उसे वीडियो वायरल करने की धमकी देकर कई बार उससे दुष्कर्म कर चुका है। आरोपित ने 10 मई को वीडियो की बात कहकर डोकरीखेड़ा के जंगल में ले जाकर दुष्कर्म किया। पुलिस ने पीड़िता की रिपोर्ट पर आरोपित महेश पुरविया के खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज किया है। बताया जा रहा है की पीड़िता का अपने पति से 20 दिन पूर्व ही तलाक हुआ है।

No image

यदि आप जल्दी के चक्कर में अपना ATM कार्ड घर पर ही भूल आए हैं और आपको पैसे की सख्त जरूरत है तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। अब आप बिना कार्ड के ही ATM से पैसे निकाल सकते हैं। खास बात यह है कि इस विशेष सुविधा के लिए बैंक आपसे कोई अतिरिक्त चार्ज भी नहीं लेंगे। हालांकि इस सुविधा का लाभ लेने के लिए एक छोटा सा काम करना होगा। यह काम करने के बाद आप कभी भी अपने खाते से कार्ड के बिना ATM से रुपए निकाल सकते हैं।

बिना कार्ड ATM से रुपए निकालने की सुविधा का लाभ लेने के लिए सबसे पहले आपको अपनी बैंक में रजिस्ट्रेशन कराना होगा। आप यह रजिस्ट्रेशन बैंक शाखा में जाकर या इंटरनेट बैंकिंग की मदद से कर सकते हैं। रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया पूरी होने का बाद बैंक की ओर से आपको 4 अंकों का एक पिन नंबर दिया जाएगा। यह पिन नंबर आपको एटीएम कार्ड के पिन की तरह काम करेगा। इस पिन कोे खाताधारक ट्रांजेक्शन सिक्योरिटी पिन या अथॉरिटी कोड के रूप में इस्तेमाल कर सकते हैं।

बैंक के साथ रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया पूरी होने के बाद इस सुविधा का लाभ लेने के लिए आपको बैंक का एप अपने मोबाइल में डाउनलोड करना होगा। इसके लिए आपको एसएमएस का ऑप्शन भी मिलेगा। इस एप को डाउनलोड करने के बाद आपको माेबाइल पर इस एप्लीकेशन का वेब लिंक भेज दिया जाएगा। इसके जरिए आपको एक पासवर्ड बनाना होगा। इस पासवर्ड की मदद से आप ATM से बिना कार्ड रुपए निकाल सकते हैं।

पासवर्ड बनने के बाद ATM से बिना कार्ड रुपए निकाल सकते हैं। आपको एटीएम जाकर मशीन में कैश ऑन मोबाइल ऑप्शन चुनना होगा। यह ऑप्शन सामने आने के बाद आपको अपना पासवर्ड एंटर करना होगा। पासवर्ड एंटर होने को बाद आपको रुपए मिल जाएंगे। इस ऑप्शन के जरिए आप केवल 5000 रुपए तक ही निकाल सकते हैं। हालांकि, अभी इस सेवा को देश के सभी बैंकों ने शुरू नहीं किया है।

No image

अगर किसी कंपनी या इस्टैबलिशमेंट में बड़े पैमाने पर कर्मचारियों की सैलरी असामान्य तौर पर बेहद कम है तो सरकार इस बात की जांच कराएगी। कर्मचारी भविष्य निधि संगठन (ईपीएफओ) ने एम्पलॉयर्स द्वारा वर्कर्स के प्रॉविडेंट फंड में कंट्रीब्यूशन फुल वर्किंग पीरियड पर सुनिश्चित करने के लिए यह फैसला किया है। ईपीएफओ इसके लिए हर इस्टैबलिशमेंट की वेज एनालिसिस रिपोर्ट तैयार कराएगा। ईपीएफओ इस रिपोर्ट के आधार पर ऐसी कंपनियों या इस्टैलशिमेंट में जांच कराएगा जहां कर्मचारियों की सैलरी बहुत कम है या बड़ी संख्या में कर्मचारियों के नाम के आगे जीरो वेज दिखेगा।  ईपीएफओ की रीजनल पीएफ कमिश्नर- 1 कम्प्लायंस अपराजिता जग्गी ने सभी एडिशनल पीएफ कमिश्नर्स और रीजनल पीएफ कमिश्नर्स को एक सर्कुलर जारी किया गया है। सर्कुलर में कहा गया है कि यह जरूरी है कि एम्पलॉयर्स के इलेक्ट्रॉनिक चालान कम रिटर्न यानी ईसीआर में नॉन कंट्रीब्यूटरी पीरियड को सही तरीके से दिखाया जाए जिससे कि नॉन कंट्रीब्यूटरी पीरियड कंट्रीब्यूटरी पीरियड में न गिना जाए। इसके अलावा यह सुनिश्चित करना भी जरूरी है कि एम्पलॉयर्स खास कर कांट्रैक्टर्स कर्मचारी के प्रॉविडेंट फंड में फुंल वर्किंग पीरियड पर कंट्रीब्यूट करें न कि बहुत कम सैलरी पर। ईपीएफओ तैयार करेगा वेज एनालिसिस रिपोर्ट 

सर्कुलर में कहा गया है कि इसकी निगरानी के लिए सीएआईयू डैशबोर्ड में वेज एनालिसिस रिपोर्ट मुहैया कराई जाएगी। इससे जोन स्तर पर रीजनल स्तर पर ईपीएफओ अधिकारी अपने क्षेत्र की वेज एनालिसिस रिपोर्ट देख सकेंगे और इसके आधार पर जरूरी कदम उठा सकेंगे। वेज एनालिसिस रिपोर्ट में हर एक कंपनी या इस्टैबलिशमेंट और मेंबर्स की एक खास वेज स्लैब में डिटेल होगी। इसके आधार पर उन मेंबर्स की डिटेल को वेरीफाई किया जाएगा जहां जीरो वेज होगा। इसकेबाद अगले वेज स्लैब की वेरीफिकेशन होगी। 

बहुत कम सैलरी वाली कंपनियों की होगी जांचसर्कुलर में कहा गया है कि ऐसे इस्टैबलिशमेंट जहां पर बड़ी संख्या में कर्मचारियों को जीरो वेज में दिखाया जाएगा या जिनकी सैलरी असामान्य तौर पर बहुत कम होगी, का इंस्पेक्शन किया जा सकता है। इंस्पेक्शन में यह पाया जाता है कि कर्मचारियों के पीएफ में सैलरी को कम दिखा कर कम पीएफ कंट्रीब्यूशन किया गया है या पीएफ कंट्रीब्यूशन नहीं किया गया है तो इसका आकलन करने के बाद जल्द से जल्द रिकवर किया जाए। 
 

No image

तेलंगाना के मेडक जिला कलेक्टर के धर्म रेड्डी ने हाल ही में एक शौचालय गड्ढे में उतरकर उसे हाथ से साफ किया। दरअसल, वह पुणे में स्वच्छ भारत मिशन द्वारा आयोजित खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) की स्थायित्व पर कार्यशाला में शिरकत कर रहे थे।

कार्यशाला में मिट्टी को जैविक खाद में बदलने के तरीके को बढ़ाने के लिए आयोजित किया गया था। सबसे पहले कर्मचारियों ने इस प्रक्रिया का प्रदर्शन किया और बाद में कलेक्टर जैविक खाद को निकालने के लिए गड्ढे में उतरे थे।

पिछले साल मेडक को खुले में शौच मुक्त (ओडीएफ) घोषित किया गया था। इसके साथ ही यह तेलंगाना का 8वां जिला बन गया था, जिसे ओडीएफ घोषित किया था।

तेलंगाना अब ओडीएफ राज्य बनने के बहुत करीब है। बताते चलें कि अब तक देश के 11 राज्यों हिमाचल प्रदेश, केरल, उत्तराखंड, हरियाणा, गुजरात, चंडीगढ़, दमन और दीव, अरुणाचल प्रदेश, छत्तीसगढ़ और मेघालय को ओडीएफ घोषित किया गया है।

No image

जम्मू-कश्मीर में रमजान के महीने में भी आतंकियों की और सीमा पर पाकिस्तान की नापाक हरकतें जारी हैं। बॉर्डर पर पाकिस्तानी रेंजर्स सीजफायर का उल्लंघन कर रहे हैं तो घाटी में आतंकी हमले हो रहे हैं। इस बीच खबर है कि दक्षिण कश्मीर के पुलवामा में एक बड़ा आतंकी हमला हुआ है। आतंकियों ने एक पुलिस पोस्ट को निशाना बनाया है। हालांकि अभी हमले में किसी के हताहत होने की कोई खबर नहीं है।

बताया जा रहा है कि दहशतगर्दों ने पुलिसवालों से हथियार लूटने की कोशिश की है, जिसे नाकाम कर दिया गया है। जानकारी के मुताबिक, ये हमला के सैदपोरा गांव में हुआ है। आतंकियों ने जिस पुलिस पोस्ट को निशाना बनाया है, वो अल्पसंख्यक समुदाय के लोगों की सुरक्षा के लिए बनाई गई थी। एसएसपी पुलवामा मोहम्मद असलम चौधरी ने हमले की पुष्टि की है। उन्होंने बताया है कि दहशतगर्दों ने हमला किया और बदले में पुलिस के जवानों ने भी गोलीबारी की।

पुलिस के अनुसार, आतंकियों ने ये हमला हथियार छीनने के लिए किया था, लेकिन जवानों की होशियारी और त्वरित कार्रवाई से आतंकियों की कोशिश नाकाम कर दी गई। आपको बता दें कि रमजान के मौके पर भारत सरकार ने कश्मीर में सेना के द्वारा चलाए जा रहे ऑपरेशन ऑलआउट में ढिलाई दी है, ताकि घाटी के लोग रमजान के पावन अवसर को शांति से मना सकें, लेकिन सीमा पर पाकिस्तान रेंजर्स और घाटी में आतंकी अभी भी बाज नहीं आ रहे हैं। हालांकि सेना को ये निर्देश दिए हुए हैं कि अगर घाटी में कोई भी आतंकी गतिविधि होती है तो उसका माकूल जवाब दिया जाए।

इससे पहले रविवार की रात को पाकिस्तानी सेना ने सांबा सेक्टर में भी भारी गोलीबारी की थी। पाकिस्तानी रेंजर्स जम्मू और सांबा जिलों में अंतरराष्ट्रीय सीमा (आईबी) पर बिना किसी उकसावे के लगातार गोलीबारी कर रहे हैं। सीमा सुरक्षाबलों (बीएसएफ) सूत्रों के मुताबिक, पाकिस्तानी सेना ने रविवार देर रात जम्मू-कश्मीर के अर्निया, रामगढ़ और चामलियाल में बीएसएफ चौकियों पर गोलीबारी की।

No image

आंखों-आंखों के इशारे कर लाखों लोगों के दिलों पर छुरिया चलाने वाली मलयाली ऐक्ट्रेस प्रिया प्रकाश वारियर इन दिनों फिर से चर्चा में हैं। उनके आंख मारने वाले विडियो ने रातोंरात तहलका मचा दिया था। लोग इस कदर पागल हो गए थे कि वे प्रिया की नकल करते हुए विडियो शूट कर सोशल मीडिया पर शेयर करने लगे...और अब फिर से प्रिया वारियर का एक और विडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है।

हालांकि इस विडियो में प्रिया वारियर ने कोई आंख नहीं मारी, लेकिन उनके जो इशारे हैं, वे कातिलाना हैं। यह विडियो उनकी फिल्म ओरू अडार लव का है, जिसमें वह और उनका बॉयफ्रेंड एक लैब के अंदर हैं और इशारों में ही बातें चल रही हैं।इस विडियो क्लिप को एक ही दिन में साढ़े सात लाख से भी ज्यादा बार देखा जा चुका है और कॉमेंट भी खूब आ रहे हैं। ओरू अडार लव प्रिया प्रकाश वारियर की डेब्यू फिल्म है। यह अभी रिलीज भी नहीं हुई है, लेकिन प्रिया प्रकाश का नाम लोगों की जुबां पर है। आंख मारने वाले विडियो के वायरल होने के बाद प्रिया प्रकाश की पॉप्युलैरिटी में जबरदस्त इजाफा हुआ।

वह विडियो फरवरी के महीने में आया था और उसे इतना पसंद किया गया कि वह सोशल मीडिया पर वैलंटाइंसडे सिंबल बन गया। लोगों ने उन्हें नैशनल क्रश तक का टाइटल दे डाला था। इस वक्त इंस्टाग्राम पर प्रिया प्रकाश के 6 मिलियन फॉलोअर्स हैं।
 

No image

महेंद्र सिंह धोनी की टीम चेन्नै सुपर किंग्स जो इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के प्लेऑफ में पहले ही प्रवेश कर चुकी थी, उसने रविवार को किंग्स इलेवन पंजाब को हराकर उनकी उम्मीदों को खत्म कर दिया। मैच के बाद का महेंद्र सिंह धोनी का एक विडियो सोशल मीडिया पर सामने आया है। उसमें धोनी अपनी बेटी जीवा के साथ ग्राउंड पर मस्ती करते दिख रहे हैं। विडियो में धोनी के साथ दीपक चाहर भी दिख रहे हैं। जीवा अपने पापा की कैप के साथ खेलकर काफी खुश दिख रही हैं। इस विडियो को चेन्नै सुपर किंग्स के ट्विटर अकाउंट से पोस्ट किया गया था। इस टूर्नमेंट में धोनी का अलग ही रूप सामने आया है। वह खुलकर रन बनाने के साथ-साथ खूब मस्ती करते भी दिख रहे हैं। इसके साथ ही जूनियर्स को सिखाने में भी वह पीछे नहीं हटते, चाहें फिर वे दूसरी किसी भी टीम का हिस्सा ही क्यों न हों।
चेन्नै सुपर किंग्स ने रविवार को पुणे के एमसीए स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब को 5 विकेट से हरा दिया। चेन्नै ने पंजाब को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया और उसकी पूरी टीम को 153 रनों पर समेट दिया। जवाब में चेन्नै ने सुरेश रैना की फिफ्टी की मदद से 5 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। प्लेऑफ में पहुंचने के लिए किंग्स इलेवन पंजाब को चेन्नै सुपकिंग्स को कम से कम 53 रनों से हराना बहुत जरूरी गेंद हवा में अच्छी स्विंग हो रही थी। चेन्नै के गेंदबाजों ने इसका पूरा फायदा उठाया। लुंगी नगिडी ने अपने पहले ही ओवर में क्रिस गेल को विकेट के पीछे धोनी के हाथों लपकवाया। गेल खाता भी नहीं खोल पाए। इसके बाद दीपक चाहर की एक शानदार आउट स्विंगर एरॉन फिंच के बल्ले का किनारा लेती हुई पहली स्लिप में गई जहां सुरेश रैना ने उनका शानदार कैच लपका। लोकेश राहुल को बोल्ड कर लुंगी ने पंजाब को तीसरा झटका दिया। पंजाब का स्कोर चार ओवर बाद तीन विकेट पर 16 रन था।

मनोज तिवारी और डेविड मिलर ने पंजाब की पारी को पटरी पर लाने का प्रयास किया। दोनों ने चौथे विकेट के लिए 60 रन जोड़े। रनों की रफ्तार तो ज्यादा नहीं थी लेकिन पंजाब के लिए स्थायित्व बहुत जरूरी था। रविंद्र जडेजा की पहली ही गेंद पर बड़ा शॉट खेलने के चक्कर में गेंद तिवारी के बल्ले का किनारा लेती हुई धोनी के दस्तानों में गई।

पंजाब की टीम एक बार फिर लडख़ड़ा गई थी। टीम का स्कोर भी ज्यादा नहीं था ऐसे में करुण नायर ने महत्वपूर्ण हाफ सेंचुरी बनायी। उन्होंने 26 गेंदों पर तीन चौकों और पांच छक्कों की मदद से 54 रन बनाए। उनकी पारी की बदौलत पंजाब की टीम 150 के पार पहुंच सकी। हालांकि पारी के अंत में जल्दी-जल्दी विकेट गिरने से पंजाब 19.4 ओवर में ऑल आउट हो गया।

किंग्स इलेवन की ही तरह चेन्नै सुपर किंग्स की शुरुआत भी अच्छी नहीं रही। दूसरे ही ओवर में शानदार फॉर्म में चल रहे अंबाती रायुडू 1 रन बनाकर मोहित शर्मा का शिकार बने। उन्हें विकेट के पीछे केएल राहुल ने लपका। फाफ डु प्लेसिस 14 और सैम बिलिंग्स शून्य पर आउट होकर पविलियन लौटे। चेन्नै का स्कोर 3 विकेट पर 27 रन था।

इस बीच सुरेश रैना ने संयम भरी पारी खेली। उन्होंने 48 गेंदों पर 61 रनों की नाबाद पारी खेली। यह उनके आईपीएल करियर की 35वीं हाफ सेंचुरी थी। इसके साथ ही वह विराट कोहली को पीछे छोड़ आईपीएल में सबसे ज्यादा हाफ सेंचुरी लगाने के मामले में दूसरे स्थान पर आ गए। गौतम गंभीर और डेविड वॉर्नर, दोनों 36, इस लिस्ट में सबसे ऊपर हैं

कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने बैटिंग ऑर्डर में परिवर्तन करते हुए हरभजन सिंह को पांचवें नंबर पर बल्लेबाजी करने भेजा। हरभजन ने 19 रन जरूर बनाए लेकिन उनके ज्यादातर शॉट्स बल्ले के बीच में नहीं आए। धोनी ने इसके बाद दीपक चाहर को भेजा जिन्होंने 20 गेंदों पर 39 रन बनाकर चेन्नै के लिए लक्ष्य आसान कर दिया। धोनी ने कहा कि गेंदबाजों की लेंथ बिगाडऩे के मकसद से उन्होंने बल्लेबाजी क्रम में परिवर्तन किया।बता दें कि चेन्नै सुपर किंग्स ने रविवार को पुणे के एमसीए स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब को 5 विकेट से हरा दिया। चेन्नै ने पंजाब को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया और उसकी पूरी टीम को 153 रनों पर समेट दिया। जवाब में चेन्नै ने सुरेश रैना की फिफ्टी की मदद से 5 विकेट खोकर लक्ष्य हासिल कर लिया। प्लेऑफ में पहुंचने के लिए किंग्स इलेवन पंजाब को चेन्नै सुपकिंग्स को कम से कम 53 रनों से हराना बहुत जरूरी था। किंग्स की हार की वजह से राजस्थान रॉयल्स का प्लेऑफ का रास्ता साफ हो गया। 
 

No image

पार्टनर्स ग्रुप और केदारा कैपिटल सहित कई एंटिटीज का प्राइवेट इक्विटी कंसोर्शियम विशाल मेगा मार्ट को दिग्गज अमेरिकी प्राइवेट इक्विटी कंपनी टीपीजी कैपिटल और चेन्नै के श्रीराम ग्रुप से 5300-5500 करोड़ रुपये में खरीदने को राजी हो गया है। ईटी को यह बात डील की जानकारी रखने वाले सोर्स ने बताई और कहा कि इस बाबत शनिवार को डेफिनिटिव अग्रीमेंट साइन हुआ जिसका ऐलान मंगलवार तक हो सकता है।

डील से लगभग एक साल से चल रहा प्रोसेस खत्म हो जाएगा। इस दौरान कंपनी में स्ट्रैटिजिक कंपनियों और फाइनैंशल इंस्टीट्यूशंस के अलावा कार्लाइल और केकेआर पीई फंड्स ने दिलचस्पी दिखाई थी। इस डील से रिटेल सेक्टर की हाई प्रोफाइल कंपनी के टर्नअराउंड की संभावना बढ़ गई है। डील में सबसे ज्यादा रकम लगानेवाला पार्टनर्स ग्रुप इस कंसोर्शियम का सबसे बड़ा पार्टनर होगा, जबकि केदारा का माइनॉरिटी स्टेक होगा। रिलायंस फ्रेश के फॉर्मर सीईओ गुनेंदर कपूर की अगुवाई में काम कर रही मौजूदा मैनेजमेंट टीम बनी रहेगी। टीपीजी ने डील के बारे में कॉमेंट करने से मना कर दिया है।

केदारा और पार्टनर्स ग्रुप से भी संपर्क नहीं हो पाया है। ईटी ने सबसे पहले 23 अप्रैल को खबर दी थी कि पार्टनर्स और केदारा रिटेल कंपनी को खरीदने वाले हैं। विशाल मेगा मार्ट के पास 204 स्टोर्स वाली देश की सबसे बड़ी फैशन सपॉर्टेड हाइपरमार्केट चेन है। इसके पास देशभर के 110 शहरों में 30 लाख वर्गफुट एरिया है। कंपनी ने फिस्कल ईयर 2016 में 3000 करोड़ रुपये का सेल्स रेवेन्यू कमाया था। सेलर्स कंपनी की लगभग 5000 करोड़ रुपये का वैल्यूएशन लगने उम्मीद कर रहे थे। यह देश की छठी सबसे बड़ी होलसेल और वैल्यू रिटेलर की फिस्कल ईयर 2019 की लगभग 350 करोड़ रुपये इबिट्डा के 15-18 गुना के बराबर है। मल्टी ब्रैंड रिटेल में फॉरेन एंटिटीज की ऐंट्री पर रोक होने के चलते विशाल को दो हिस्सों में बांटना पड़ा था।

टीपीजी होलसेल प्राइवेट लिमिटेड और फ्रेंचाइजी फर्म थी जो कंपनी के बैकऐंड सोर्सिंग, फ्रेंचाइजी, मर्चेंडाइजिंग और लॉजस्टिक्स का काम देखती थी जबकि फ्रंट ऐंड रिटेल फर्म एयरप्लाजा रिटेल के पास था। टीपीजी होलसेल का नाम बाद में बदलकर विशाल मेगा मार्ट प्राइवेट लिमिटेड (ङ्करूरूक्करु) कर दिया गया था, जिस पर पीई इनवेस्टर का मालिकाना हक था। एयरप्लाजा पर श्रीराम डिस्ट्रीब्यूशन सर्विसेज प्राइवेट लिमिटेड का हक था। टीपीजी होलसेल विशाल मेगा मार्ट स्टोर्स को चलानेवाली एयरप्लाजा और दूसरी इंडिपेंडेंट फ्रेंचाइजी की फ्रेंचाइजर थी। सूत्रों ने बताया कि अब इंडिया में ऑल्टरनेटिव इनवेस्टमेंट फंड के तौर पर रजिस्टर्ड केदारा को लोकल एंटिटी माना जाएगा जबकि पार्टनर्स बैक ऐंड सपॉर्ट करनेवाली फॉरेन एंटिटी होगी। 
 

No image

सार्वजनिक क्षेत्र के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) ने उस आडिट या जांच के बारे में जानकारी देने से मना कर दिया है जिससे बैंक में 13,000 करोड़ रुपये से अधिक की धोखाधड़ी का पता चला। बैंक ने उन उपबंधों का हवाला देते हुए जानकारी देने से इनकार किया है जो ऐसी सूचना देने पर रोक लगाता है जिससे जांच या अभियोजन प्रभावित हो सकती है।  सूचना के अधिकार कानून (आरटीआई) के तहत पूछे गये सवाल के जवाब में पीएनबी ने घोटाले से संबंधित जांच रिपोर्ट की प्रति साझा करने से मना कर दिया।  पीएनबी ने आरटीआई आवेदन के जवाब में कहा, 'चूंकि मामले की जांच केंद्रीय जांच एजेंसियां (कानून प्रवर्तन एजेंसियां) कर रही हैं। ऐसे में जो सूचना मांगी गयी है, सूचना के अधिकार कानून, 2005 की धारा 8 (1) (एच) के तहत उसकी जानकारी नहीं देने की छूट है। यह धारा वैसी सूचना देने पर रोक लगाती है जिससे जांच की प्रक्रिया या गड़बड़ी करने वाले के खिलाफ अभियोजन प्रक्रिया प्रभावित होती हो।  बैंक से उस जांच का ब्यौरा देने को कहा गया था जिससे धोखाधड़ी का पता चला।

साथ ही जांच रिपोर्ट की प्रति उपलब्ध कराने को कहा गया था। बैंक क्षेत्र में अबतक के सबसे बड़े घोटाले का पता इस साल की शुरूआत में चला। इस घोटाले को अंजाम हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उसके मामा तथा गीतांजलि जेम्स के प्रवर्तक मेहुल चोकसी ने देश के दूसरे सबसे बड़े बैंक के कुछ अधिकारियों के साथ मिलकर दिया।  मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो के साथ आयकर विभाग तथा प्रवर्तन निदेशालय कर रहा है। रिजर्व बैंक ने जरूरी कार्रवाई के लिये मामले की विस्तृत जांच शुरू की है। इससे पहले, आरबीआई ने भी पीएनबी के मामले में आरटीआई के तहत इस बारे में पूछे गये सवाल का जवाब देने से मना कर दिया था। 
 

No image

 नवविवाहित मेगन मर्कल ने उस भारतीय परोपकारी संस्था को और ज्यादा वक्त देने का वादा किया है जिसे उन्होंने ड्यूक ऑफ ससेक्स प्रिंस हैरी के साथ हुई अपनी शाही शादी में मिले तोहफों को दान में देने के लिए चुना है।

कल विंडसर कैसल में सेंट जॉर्ज चैपल में आमंत्रित 600 अतिथियों के बीच पूर्व अमेरिकी अदाकारा ने मुंबई के माइना महिला फाउंडेशन की संस्थापक को बताया कि वह महिला सशक्तीकरण के लिए काम करने वाली संस्था को ज्यादा समय देने के बारे में विचार कर रही हैं। तीन साल पहले इस संस्था की नींव रखने वाली सुहानी जलोटा ने कहा, 'दुल्हन से मिलना सबसे खास था। वह बेहद सरल हैं और उनसे मिलना हमेशा की तरह आसान था। उन्होंने कहा कि वह माइना और मानव हित के अन्य कार्यों को ज्यादा समय दे पाएंगी। शाही शादी में शामिल होने के लिए पहली बार विमान यात्रा करने वाली देबोरा दास और अर्चना आंब्रे ने कल के दिन को 'जीवन में एक बार मिलने वालेअवसर के तौर पर परिभाषित किया। शाही युगल द्वारा चुने गए अंतिम सात परोपकारी संगठनों में माइना महिला फाउंडेशन एकमात्र ऐसा संगठन था जो ब्रिटेन के बाहर काम करता है।
 

No image

 कर्नाटक के मुख्यमंत्री के तौर पर 23 मई को शपथ ग्रहण करने जा रहे जदएस नेता कुमारस्वामी ने कांग्रेस को कड़ा संदेश देते हुए 30-30 महीने सरकार का नेतृत्व करने का फॉर्मूला खारिज कर दिया। उन्होंने साफ कहा कि ऐसी कोई बातचीत नहीं हुई है। दरअसल, मीडिया के एक वर्ग में ऐसी खबरें चल रही थीं कि जदएस और कांग्रेस बारी-बारी से 30-30 महीने सरकार का नेतृत्व करने के फॉर्मूले पर आगे बढ़ रहे हैं। कुमारस्वामी ने इसी फॉर्मूले के आधार पर जनवरी 2006 में 20-20 महीने के लिए भाजपा के साथ मिलकर सरकार बनाई थी। हालांकि, बाद में उन्होंने भाजपा को सरकार का नेतृत्व सौंपने से इन्कार कर दिया और सरकार गिर गई थी। इसके बाद 2008 में हुए चुनावों में भाजपा बहुमत हासिल कर सत्ता में आई थी और येद्दयुरप्पा मुख्यमंत्री बने थे। मंत्रियों को विभागों के बंटवारे के बारे में पूछे जाने पर कुमारस्वामी ने कहा कि इस बारे में भी अभी कोई बातचीत नहीं हुई है। वह सोमवार को दिल्ली में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और पार्टी की वरिष्ठ नेता सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे। इस बातचीत के आधार पर तय होगा कि कांग्रेस और जदएस के कितने-कितने विधायक मंत्री बनेंगे। वह उन्हें शपथ ग्रहण समारोह के लिए भी आमंत्रित करेंगे। उन्होंने बताया कि शपथ ग्रहण के 24 घंटे के भीतर वह बहुमत साबित कर देंगे। राजराजेश्वरी नगर और जयनगर सीट पर चुनावों में कांग्रेस से समझौता वार्ता की खबरों को भी कुमारस्वामी ने बेबुनियाद करार दिया। उन्होंने कहा कि दोनों सीटों पर जीत हासिल करना बेहद जरूरी है, लेकिन अब तक ऐसी कोई वार्ता नहीं हुई है। राजराजेश्वरी में जाली मतदाता पहचान पत्र मिलने और जयनगर में भाजपा प्रत्याशी के निधन के कारण चुनाव टाल दिया गया था।

कुमारस्वामी ने रविवार को अपने पिता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवेगौड़ा से उनके आवास पर जाकर मुलाकात की। वह उस होटल में भी गए जहां उनके पार्टी विधायक ठहरे हुए हैं। पार्टी विधायकों के साथ उन्होंने बैठक भी की। विधायकों को अभी भी होटल में ठहराए जाने के सवाल पर उन्होंने कहा कि यह फैसला उन्होंने विधायकों पर ही छोड़ा हुआ है। मालूम हो कि भाजपा के मुख्यमंत्री बीएस येद्दयुरप्पा ने शनिवार को विधानसभा में विश्वास प्रस्ताव का सामना किए बिना ही पद से इस्तीफा दे दिया था। जिसके बाद राज्यपाल वजुभाई वाला ने कुमारस्वामी को सरकार बनाने का निमंत्रण दिया था।
 

No image

आंधी-तूफान का कहर थमते ही उत्तर भारत के ज्यादातर हिस्सों में गर्मी अपने पूरे जोरों पर है। देश की राजधानी दिल्ली-एनसीआर में जहां एक ओर सूरज आसमान से आग बरसा रहा है, वहीं गर्म हवाएं लोगों को परेशान कर रही है। मौसम विभाग की मानें तो आंधी और बारिश के चलते तेज धूप एवं चुभन भरी गर्मी से मिल रही राहत का दौर अब खत्म हो गया है। इसका असर भी सोमवार को सुबह से ही दिखाई देने लगा। दिन चढऩे के साथ गर्मी एक बार फिर से जोर पकडऩे लगी है। मौसम विभाग की मानें तो तापमान लगातार बढ़ेगा और 44 डिग्री सेल्सियस तक जाएगा। इस दौरान न तो किसी पश्चिमी विक्षोभ के आसार हैं और न ही बारिश की संभावना। मौसम विभाग के मुताबिक गर्मी में इजाफे का दौर रविवार से प्रारंभ भी हो गया। तेज धूप के कारण छुंट्टी का दिन होने पर भी दिन भर ज्यादातर लोग घरों में ही कैद रहे। रविवार को औसत अधिकतम तापमान 40.8 डिग्री सेल्सियस जबकि न्यूनतम तापमान 27.0 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। दोनों ही सामान्य से एक-एक डिग्री ज्यादा है। नमी का स्तर अधिकतम एवं न्यूनतम क्रमश: 53 और 15 फीसद रिकॉर्ड किया गया।

हालांकि पालम में अधिकतम तापमान 42.6, आया नगर में 41.8 और 41.5 डिग्री सेल्सियस पहुंचा। स्काईमेट वेदर के मुख्य मौसम विज्ञानी महेश पलावत ने बताया कि अब अगले एक सप्ताह तक आसमान लगातार साफ रहेगा। इस सूरत में धूप भी तेज खिलेगी। दिन के समय तेज गर्म हवा भी चलने के आसार बने रहेंगे। जहां तक अगले कुछ दिनों के पूर्वानुमान का सवाल है तो सोमवार को आसमान साफ  रहेगा। अधिकतम एवं न्यूनतम तापमान क्रमश: 42 और 27 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है। इसके बाद मंगलवार को यह 43 एवं 27, बुधवार को 44 एवं 27, बृहस्पतिवार को 43 एवं 28 तथा 25 और 26 मई को 43 एवं 26 डिग्री सेल्सियस रहने की संभावना है।
 

No image

खेत में लगी फसल चरने से नाराज एक किसान ने पांच गायों को प्लास्टिक से मुंह बांध कर मार डाला। मामला प्रकाश में आने के बाद गांव के लोगों ने पंचायत कर मामले को सुलझाने की कोशिश की। पंचायत ने उक्त किसान पर 40 हजार रुपये का अर्थदंड लगाया है। घटना झारखंड में चतरा जिले के मारंगा गांव की है।

बताया जा रहा है कि ग्राम नावाडीह के रघु दांगी का घर मारंगा में भी है। इन दिनों वहां रघु ने अपने खेत में मिर्च की फसल लगाई है। इधर, अक्सर जानवर उसकी फसल चर जा रहे थे। इसी से तंग आकर रघु ने खेत में घुसी पांच गायों को पकड़ लिया और उनके मुंह में पॉलिथीन ठूंसकर प्लास्टिक से मुंह को बांध दिया व गायों की जमकर पिटाई कर दी। इस दौरान सांस नहीं ले पाने से गायें तड़प-तड़प कर मर गईं।
 

No image

गजुरात के राजकोट में एक दलित व्यक्ति के साथ बेरहमी से मारपीट करके उसकी हत्या करने का मामला सामने आया है। दलित की पिटाई का ये वीडियो सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। इस वीडियो में तीन लोग नजर आ रहे हैं जिनमें से दो दलित को बेरहमी से पीट रहे हैं और तीसरे शख्स ने उसे गेट पर रस्सी से बांध रखा है। वीडियो में साफ नजर आ रहा है कि जब पहला शख्स दलित व्यक्ति को मारते-मारते थक जाता है तब दूसरा शख्स उसने मारने आता है। 
वीडियो में जो नजर आ रहा है और खबरों की मानें तो शुरुआत में फैक्ट्री का ही कोई अन्य मजदूर दलित की पिटाई कर रहा है। बाद में फैक्ट्री मालिक आता है और दलित की पिटाई कर रहे मजदूर के हाथ से लोहे की रॉड ले लेता और फिर खुद उसकी पिटाई करना शुरू कर देता है। इस मामले में फिल्हाल पांच लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है। गुजरात के दलित नेता और विधायक जिग्नेश मेवानी ने युवक की पिटाई का वीडियो ट्वीट किया है। वीडियो ट्वीट करते हुए जिन्गनेश ने लिखा है कि मिस्टर मुकेश वानिया और उनकी पत्नी को फैक्ट्री के मालिक द्वारा बुरी पीटा गया है और उनकी हत्या कर दी गई है। 

खबरों के मुताबिक, दलित व्यक्ति मुकेश वानिया कचरा बीनने का काम करता था। रविवार को मुकेश अपनी पत्नी के साथ कचरा इक_ा करने निकला था और एक फैक्ट्री के पास दोनों पति-पत्नी कचरा बीनने लगे। तभी फैक्ट्री के चार-पांच लोग आए और फैक्ट्री के पास कचरा बीनने से दोनों को मना करने लगे। फैक्ट्री के पास से कचरा बीनने का विरोध करते हुए उन लोगों ने दोनों को पकड़ लिया और बुरी तरह पिटाई कर दी।

फैक्ट्री मालिक सहित कई लोगों ने कचरा बीनने वाली महिला को मारपीट कर वहां से भगा दिया। लेकिन दलित व्यक्ति को बंधक बना लिया। जिसके बाद उसे इतना मारा गया कि वो मौके पर ही बेहोश हो गया। बेहोशी की हालत में उसे अस्पताल पहुंचाया गया, जहां उसकी मौत हो गई। पुलिस ने दलित एट्रोसिटीज एक्ट के तहत हत्या का केस दर्ज कर लिया है।
 

No image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार को पुतिन के साथ अनौपचारिक शिखर सम्मेलन के लिए रूस के सोची शहर पहुंच चुके हैं। रूस के लिए रवाना होने से पहले प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के साथ उनकी प्रस्तावित बातचीत से भारत और रूस के बीच विशेष और विशेषाधिकार युक्त रणनीतिक भागीदारी को और अधिक मजबूती मिलेगी। मोदी ने एक साथ कई ट्वीट कर कहा कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ उनकी बातचीत द्विपक्षीय रिश्तों को नई ऊंचाई पर ले जाएगी। पहले रूसी भाषा और फिर अंग्रेजी में किये ट्वीट में उन्होंने कहा कि मुझे विश्वास है कि राष्ट्रपति पुतिन के साथ बातचीत भारत और रूस के बीच विशेष एवं विशाधिकार युक्त रणनीतिक भागीदारी और अधिक मजबूत होगी। एक अन्य ट्वीट में मोदी ने रूस के लोगों को शुभकामनाएं देते हुए लिखा कि मैं सोची के अपने दौरे और राष्ट्रपति पुतिन के साथ अपनी मुलाकात के प्रति आशान्वित हूं। उनसे मिलना मेरे लिये हमेशा सुखदायी रहा है।

रूस के सोची शहर में सोमवार को होने वाली दोनों नेताओं की अनौपचारिक शिखर बैठक में वैश्विक और क्षेत्रीय मुद्दों के अलावा ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका के हटने पर विशेष रूप से चर्चा होगी। आधिकारिक सूत्रों के मुताबिक मोदी और पुतिन के बीच  बिना किसी एजेंडे की भी बातचीत होगी। लगभग चार से छह घंटों की इस मुलाकात में द्विपक्षीय मुद्दों पर बातचीत की संभावना बहुत कम है। इस दौरान दोनों नेताओं के बीच बातचीत के मुद्दों में ईरान के साथ परमाणु समझौते से अमेरिका के हटने से भारत और रूस पर पडऩे वाले आर्थिक असर, सीरिया और अफगानिस्तान के हालात, आतंकवाद के खतरे तथा आगामी शंघाई सहयोग संगठन (एससीओ) और ब्रिक्स सम्मेलन से संबंधित मामलों के शामिल होने की संभावना है। इस बीच सूत्रों ने स्पष्ट किया कि भारत और रूस के साथ अपने रक्षा सहयोग को निर्देशित करने की किसी अन्य देश को इजाजत कभी नहीं देगा। 

पुतिन और मोदी के बीच अनौपचारिक बैठक का मकसद दोनों देशों के बीच मैत्री और आपसी विश्वास का इस्तेमाल कर वैश्विक और क्षेत्रीय स्तर के अहम मुद्दों पर आम राय कायम करना है। इस दौरान दोनों नेता भारत रूस असैन्य परमाणु सहयोग को अन्य देशों तक आगे बढ़ाने पर भी चर्चा कर सकते हैं। बता दें कि पीएम मोदी की इस रूस यात्रा को बेहद खास माना जा रहा है। हालांकि पीएम मोदी इससे पहले रूस की यात्रा कर चुके हैं। दरअसल, चौथी बार राष्ट्रपति चुने जाने के महज 2 हफ्ते के अंदर ब्लादिमीर पुतिन ने खुद पीएम मोदी को न्योता दिया था। यही वजह है कि इस मुलाकात पर दुनिया भर की निगाहें भी टिकी होंगी।
 

No image

दिल्ली मेट्रो की मजेंटा लाइन का कालकाजी मंदिर से जनकपुरी वेस्ट का सेक्शन खुलने का इंतजार अब खत्म होने को है। आम जनता के लिए यह सेक्शन 29 मई से खुल जाएगा। डीएमआरसी से मिली जानकारी के मुताबिक, 28 मई को इस सेक्शन का उद्घाटन किया जाएगा और 29 मई से आम यात्री इसमें सफर कर सकेंगे। डीएमआरसी की वेबसाइट पर दिए शेड्यूल के मुताबिक, 24 मई पब्लिक के लिए इस लाइन के खुलने की टेंटेटिव डेट दी गई थी। अब जानकारी मिली है कि 28 मई को इस सेक्शन का उद्घाटन होगा और 29 मई को सुबह 6 बजे से यह जनता के लिए खोल दी जाएगी।

25.6 किलोमीटर के इस सेक्शन को 28 मई की शाम 4:30 बजे केंद्रीय शहरी विकास मंत्री हरदीप पुरी और दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविंद केजरीवाल नेहरू एनक्लेव से इसे हरी झंडी दिखाएंगे और हौज खास तक पहुंचेंगे। इसके बाद अगले दिन से आम जन इससे सफर कर सकेंगे। कमिश्नर फॉर मेट्रो रेल सेफ्टी(ष्टरूक्रस्) ने सेफ्टी चेक के बाद कुछ शर्तों के साथ पहले ही इसे मंजूरी दे दी थी। बता दें कि इस लाइन का पहला सेक्शन पिछले साल दिसंबर में ही आम जनता के लिए खोल दिया गया था। यह सेक्शन मेट्रो फेज 3 का सबसे लंबा रूट है जिसमें 16 स्टेशन्स हैं। इस सेक्शन की सबसे खास बात हैं हौज खास और जनकपुरी वेस्ट पर दो इंटरचेंज सुविधा और डोमेस्टिक टर्मिनल से लिंक। इस सेक्शन के खुलने से नोएडा से गुडग़ांव जाने वालों को काफी सुविधा होगी। महज 50 मिनट में यह सफर पूरा किया जा सकेगा। नोएडा से आईजीआई के डोमेस्टिक टर्मिनल पहुंचने वालों को भी डायरेक्ट कनेक्टिविटी मिल सकेगी। 
 

No image

उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में धर्म समाज डिग्री कॉलेज में मेल टॉइलट में सीसीटीवी कैमरा लगाए जाने का मामला सामने आया है। टॉइलट में सीसीटीवी कैमरा लगे होने की जानकारी होते ही कॉलेज के छात्रों ने इसका विरोध शुरू कर दिया है। वहीं, कॉलेज प्रशासन का कहना है कि छात्र वॉशरूम के अंदर जाकर नकल करते हैं। उसे रोकने के लिए कैमरे लगाए गए हैं।

कॉलेज के छात्र सौरभ चौधरी ने कहा कि यह बहुत ही शर्मनाक है कि कॉलेज प्रशासन ने टॉइलट के अंदर कैमरे लगाए हैं। अगर टॉइलट से तत्काल सीसीटीवी कैमरे नहीं हटाए गए तो वे लोग कॉलेज प्रशासन के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करेंगे। कॉलेज के एक दूसरे छात्र संजीव कुमार ने कहा कि कारण चाहे जो भी हो लेकिन कॉलेज प्रशासन का टॉइलट के अंदर सीसीटीवी कैमरे लगाना अनुचित है। वे लोग हमें इस तरह से नहीं देख सकते हैं। कॉलेज के प्रिंसिपल हम प्रकाश गुप्ता ने कहा कि उन लोगों को छात्रों से ही कई शिकायतें मिली कि कई छात्र कॉलेज के टॉइलट के अंदर पर्चियां और नकल सामग्री छिपाकर रखते हैं। उनकी शिकायत के बाद कॉलेज प्रशासन ने टॉइलट में कैमरे लगवाए हैं

उन्होंने कहा कि कॉलेज के अंदर तीन टॉइलट्स हैं। वॉशरूम के अंदर कैमरा लगाना कोई गलत बात नहीं है। कैमरा सिर्फ यूरिनल को पीछे से फोकस करता है। फुटेज देखने के लिए अलग से कमरा बना है। छात्रों की किसी भी प्रिवेसी पर कोई असर नहीं पड़ रहा है।राष्ट्रीय अल्पसंख्यक शिक्षा की निगरानी समिति के सदस्य मानवेंद्र प्रताप सिंह ने कहा कि छात्र चाहें तो कॉलेज प्रशासन के खिलाफ मानहानि का केस दायर कर सकते हैं। टॉइलट के अंदर नकल रोकने के लिए और भी तरीके हैं लेकिन सीसीटीवी कैमरा लगाना गलत है। 
 

No image

जम्मू के अरनिया में पाकिस्तान की ओर से सोमवार सुबह की गई भारी गोलाबारी में एक पुलिस कर्मी समेत छह लोग घायल हो गए। धोखा देने में माहिर पाकिस्तान ने रविवार को दिन में सीमा पर शांति की गुहार लगाने के देर बाद रात को गोले दागना शुरू कर अपनी औकात दिखा दी। 

दो दिन सीमा पर शांति के बाद जम्मू के सांबा व जम्मू जिलों में पाकिस्तान की भारी गोलाबारी से दहशत का माहौल है। सीमा सुरक्षा बल की ओर से पाकिस्तान के गोलाबारी का कड़ा जवाब दिया जा रहा है। जिला प्रशासन ने एहियात के दौर पर सीमा से पांच किलोमीटर के दायरे में आने वाले स्कूलों को बंद रखा है। अंतराष्ट्रीय सीमा पर गोलाबारी का सिलसिला गत सोमवार को शुरू हुआ था व इसमेें अब तक दो सीमा प्रहरियों समेत छह लोगों की मौत हुई है व दो दर्जन के करीब लोग घायल हुए हैं। 

पाकिस्तानी रेंजर्स ने रविवार को दिन में सीमा सुरक्षा बल जम्मू फ्रंटियर के अधिकारियों से टेलीफोन पर बात कर सीमा पर शांति कायम करने का आग्रह किया था। मुकरने में माहिर पाकिस्तान ने रात दस बजे के करीब सांबा जिले के रामगढ़, चमलियाल इलाकों के साथ पहले हल्के हथियारों व इसके बाद मोर्टार से गोले दागना शुरू कर दिए।

वहीं सुबह सात बजे के करीब पाकिस्तान ने बिश्नाह के अरनिया में भारी गोलाबारी शुरू कर दी जिससे पुलिस के एक एसपीओ समेत छल लोग घायल हो गए। सुबह दस बजे के करीब पाकिस्तान की ओर से दागे गए दो शैल अरनिया में पुलिस थाने पर गिरे जिससे एसपीओ गुरचरण सिंह घायल हो गए। घायलों की पहचान बिश्नाह के पिंडी गांव के युवक यशपाल पुत्र तरसेम लाल, दर्शना देवी, पत्नी त्रिलोक सिंह, मोहेन्द्र कुमार, पुत्र हंस राज निवासी पिंडी चाढ़कां, अन्य घायलों की पहचान अभी नही हुई है। पाकिस्तान ने करीब एक घंटे में अरनिया, पिंडी चाढ़कां में दो दर्जन से अधिक मोर्टार शैल दागे। इनमें से कुछ अरनिया के अस्पताल के पास भी गिरे। पाकिस्तान की ओर से गोले दागने का सिलसिला जारी है लोग जान बचाने को घरों में छिपे हुए हैं। 

No image

राजस्थान में बांसवाडा जिले के सदर थाना क्षेत्र में 23 मोर कल संदिग्ध परिस्थितियों में मृत पाये गये। पुलिस ने बताया कि तलवाडा पुलिस चौकी के नाथूखेडी गांव के पास 23 मोर मृत पाये जाने पर पुलिस ने मौके पर पहुंचकर वन विभाग को सूचित किया। वन विभाग की मदद से शवों को पोस्टमार्टम के लिये बाड़मेर के राजकीय पशु चिकित्सालय ले जाया गया जहां मेडिकल बोर्ड ने शवों का पोस्टमार्टम किया। क्षेत्रीय वन अधिकारी (गढी) गोविंद सिंह राजावत ने बताया कि प्रथम दृश्यता में मृत पाये गये 10 नर मोर और 13 मादा मोर की मृत्यु संदिग्ध प्रतीत हो रही है।

पोस्टमार्टम के बाद सभी मृत मोरों का अंतिम संस्कार कर दिया गया। पोस्टमार्टम की रिपोर्ट और विसरा नमूनों की जांच के बाद मोरों की मौत के वास्तविक कारणों का पता चल सकेगा। उन्होंने बताया कि विसरा नमूनों को जांच के लिये जयपुर भेजा जा रहा है।
 

No image

कॉन्सटिपेश यानी कब्ज की बीमारी हर तीसरे शख्स को अपनी चपेट में ले रही है। दरअसल, आधुनिक लाइफस्टाइल की वजह से लोगों की शारीरिक गतिविधियां बहुत कम हो गई हैं। अगर पेट साफ नहीं हो, तो किसी काम में मन नहीं लगता है। मगर, आपको यह जानकर हैरानी होगी कि एक शख्स दो साल तक टॉयलेट नहीं गया।

आप अंदाजा लगा सकते हैं कि उसकी क्या हालत होती होगी। स्टे वॉकर नाम के एक 24 वर्षीय शख्स वेस्ट यॉर्कशायर का रहने वाला है। घटना 2012 की है जब 24 वर्षीय वॉकर को क्रोन (crohn) नाम की गंभीर बीमारी हो गई थी।

इस बीमारी के चलते इस वॉकर डिप्रेशन में जाता गया। हालांकि, उसने हार नहीं मानी और इस बीमारी से लड़ने का फैसला लिया। ये कहानी सुनकर आपको भी अपनी जिंदगी में कुछ प्रेरणा मिलेगी।

यह आंतों से जुड़ी हुई एक बीमारी है, जिसमें पाचनतंत्र में सूजन आने लगती है। यह इतनी ज्यादा खतरनाक बीमारी है कि इसके चलते वॉकर दो सालों तक टॉयलेट ही नहीं जा पाया।

इस बीमारी के कारण वॉकर को दो साल में 80 से अधिक सर्जरी करवानी पड़ी, जिसमें हर बार उनकी सूज चुकी आँतों को काटकर निकला जाता था। इसी के कारण वह साल 2012 से 2014 तक टॉयलेट भी नही जा पाए।

गौरतलब है कि जब भी वॉकर के लिए परेशानी होती थी वह सर्जरी करा लेते थे और पाचन तंत्र में जमा मल को बाहर निकलवा देते थे। उन्होंने अपनी इस घातक बीमारी के बारे में सोशल मीडिया पर लोगों से शेयर भी किया है।

No image

केरल के कोझिकोड जिले में घातक और दुर्लभ वायरस की चपेट में आकर 10 लोगों की मौत हो गई है। साथ ही वायरस की चपेट में आए छह लोगों की हालत नाजुक है। ऐसे 25 मरीजों को निगरानी में रखा गया है। केरल की स्वास्थ्य मंत्री केके शैलजा ने स्वास्थ्य विभाग और जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ आपातकालीन बैठक के बाद बताया कि केरल में दुर्लभ वायरस से नौ लोगों की मौत हो गई। 

मणिपुर लैब में हुए टेस्ट से यह खुलासा हुआ है कि एक दुर्लभ वायरस, जो आमतौर पर राज्य में नहीं पाया जाता, इन मौतों का जिम्मेदार है। सैंपल पुणे के नेशनल इंस्टिट्यूट ऑफ वायरोलॉजी को भेजे गए हैं, जिससे वायरस की सटीक जानकारी मिल सके। पुणे लैब से नतीजे जल्द ही मिलेंगे।

लोकसभा सांसद और पूर्व केंद्रीय मंत्री मुल्लापल्ली रामचंद्रन ने विषाणु के प्रकोप को रोकने के लिए केंद्र से मदद मांगी है। केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्री जेपी नड्डा को लिखे पत्र में रामचंद्रन ने कहा कि उनके लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र वताकरा में कुट्टियाडी और पेरम्ब्रा सहित कुछ पंचायत क्षेत्र घातक विषाणु की चपेट में हैं। 

सांसद ने बताया कि कुछ डॉक्टर ने बताया है कि यह निपाह नाम का विषाणु है, जबकि अन्य डॉक्टरों ने इसे जूनोटिक वायरस बताया है, जो घातक है और तेजी से फैलता है। रामचंद्रन ने पत्र में कहा है, विषाणु की चपेट में आए लोगों की मृत्यु दर 70 प्रतिशत होती है। बीमारी को बढऩे से रोकने की जरूरत है।

No image

बिरला नगर पुल के पास एपी एक्सप्रेस की तीन बोगियों में आग लग गई। इसके बाद ट्रेन को वहीं रोक दिया गया और यात्रियों को सुरक्षित बाहर निकाल लिया गया। सूचना मिलने के बाद फायर ब्रिगेड की 15 से ज्यादा गाड़ि‍यां मौके पर पहुंची और आग पर काबू पाने की कोशिश शुरू की। एपी एक्सप्रेस विशाखापट्टनम से दिल्ली जा रही थी।। रेलवे अधिकारियों के मुताबिक आग शार्ट सर्किट की वजह से लगी है। यात्रियों को अंदर रखा सामान पूरी तरह जल गया। घटना में दो कोच पूरी तरह जल गए। उधर दिल्ली की ओर जाने वाली ट्रेनें इससे प्रभावित हो गई हैं।

जिन डिब्बों में आग लगी थी उन्हें काटकर अलग कर दिया गया है। यह भी बताया जा रहा है कि जिस बोगी में आग लगी उसमें 37 डिप्टी कलेक्टर सवार थे, जो ट्रेनिंग कर वापस लौट रहे थे। सूचना मिलने के बाद झांसी रेल मंडल के अधिकारी भी ग्वालियर के लिए रवाना हो गए हैं। इसके साथ ही इस घटना की जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

यात्रियों का कहना है कि ट्रेन के अंदर मौजूद आग बुझाने के साधनों का उपयोग किया गया, लेकिन फिर भी आग नहीं बुझी और बढ़ती चली गई। घटना के बाद हजारों लोगों की भीड़ यहां जमा हो गई है। इसके साथ ही रेलवे एपी एक्सप्रेस में सवार यात्रियों को उनके गंतव्य तक पहुंचाने की तैयारी कर रहा है।

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

No image

आलिया भट्ट और रणबीर कपूर के लिंकअप्स के चर्चे कई दिनों से सुर्खियों में हैं। आए दिन दोनों से इस बारे में सवाल भी पूछे जाते हैं। बीते दिनों आलिया भट्ट से एक चैट शो के दौरान पूछा गया कि उनकी तस्वीरें आजकल रणबीर कपूर के साथ काफी छप रही हैं।आलिया ने इस सवाल का जवाब देने से मना कर दिया और शर्मा गईं। आलिया का चेहरा चैट शो के दौरान लाल हो गया था और उन्हें अपने दोनों हाथों से इसे छिपाना भी पड़ा था। अब एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जब रणबीर कपूर से आलिया और उनके लिंकअप के बारे में सवाल किया गया तो उन्होंने बताया, अब मुझे आलिया पर क्रश है। रणबीर ने यह भी बताया कि उन्होंने आलिया की फिल्म राजी देखी और यह हिंदी सिनेमा की बेहतरीन फिल्मों में से एक है। 

बता दें कि रणबीर और आलिया ब्रह्मास्त्र फिल्म में साथ काम कर रहे हैं। उनके लिंकअप की खबरें इसी बीच शुरू हुईं। हालांकि आलिया कह भी चुकी हैं किरणबीर कपूर उनके क्रश रहे हैं और उन्हें उनकी हर बात पसंद है। 
बीते दिनों आलिया-रणबीर सोनम कपूर के रिसेप्शन में साथ पहुंचे थे और उन्होंने पोज भी दिए थे। दोनों की बॉन्डिंग देखकर तरह-तरह के कयास लगाए जा रहे हैं, हालांकि आलिया और रणबीर इस बारे में हमेशा घुमा-फिराकर जवाब देते हैं।
 

No image

पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की पुण्यतिथि के मौके पर 21 मई को यूपी कांग्रेस कमेटी द्वारा विभिन्न कार्यक्रमों का आयोजन होगा। इन कार्यक्रमों में प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर मौजूद रहेंगे। 

प्रदेश कांग्रेस प्रवक्ता वीरेन्द्र मदान ने बताया कि प्रात: 9.30 बजे कालीदास मार्ग चौराहे पर स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण किया जाएगा। इसी तरह प्रात: 9.45 बजे माल एवेन्यू चौराहे पर स्थित राजीव गांधी की प्रतिमा पर माल्यार्पण होगा।मदान के मुताबिक, प्रात: 10 बजे प्रदेश कांग्रेस मुख्यालय में सर्वधर्म पाठ एवं गोष्ठी का आयोजन होगा। इसके अलावा आयोजित अन्य कार्यक्रमों में भी प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष राजबब्बर शामिल होंगे।
 

No image

दिल्ली पुलिस ने एक ऐसे व्यक्ति को गिरफ्तार किया है जिसपर आरोप है कि उसने एक16 साल की लड़की की हत्या की और शव को ठिकाने लगा दिया। शव को ठिकाने लगाने से पहले आरोपी ने लड़की के शव के करीब दस टुकड़े भी किए। 30 वर्षीय आरोपी मंजीत कारकेटा को गिरफ्तार कर लिया गया है। मृतका सोनी कुमारी का कसूर सिर्फ इतना था कि उसने मंजीत से अपना तीन साल का वेतन मांगा था। बता दें कि 4 मई को मियांवाली नगर के नाले में लड़की का शव मिला था। आउटर जिले के स्पेशल स्टाफ ने 16 दिन की जांच के बाद मामला सुलझाने का दावा किया है। लड़की की पहचा

पुलिस के अनुसार, " सोनी कुमारी झारखंड की रहने वाली थी। परिवार आर्थिक तंगी से जूझ रहा था। लड़की को करीब तीन साल पहले जानकार राकेश झांसा देकर काम के सिलसिले में दिल्ली लाया था। मंजीत करकेटा नांगलोई के भूतवाली गली में रहता है और घरों में काम करने वाली मेड सप्लाई का काम करता है। लड़की को आरोपी अलग-अलग जगहों पर काम के लिए भेजते रहे। 6500 रुपए का वेतन तय किया गया लेकिन एक भी पैसा नहीं दिया गया। लड़की ने वापस अपने घर लौटना चाहा तो आरोपी टाल देते। मई के शुरुआत में एक दिन उसने अपने तीन साल के पैसों देने की जिद की।इसके बाद आरोपी उसे नांगलोई के भूतवाली गली स्थित चौथी मंजिल पर ले गए। वहां पर आरोपी ने लड़की के सिर पर तवे से वार कर मौत के घाट उतार दिया। और उसके शरीर के टुकड़े कर

मियांवाली नगर के ज्वालापुरी स्थित रव विहार स्थित नाले में फेंक दिया"। पुलिस इस केस के निपटाने के लिए सीसीटीवी फुटेज खंगलाते हुए नांगलोई की भूतनाथ गली तक पहुंच गई। जहां पुलिस ने आरोपी को पकड़ने के लिए एक जाल बिझाया। फिलहाल अभी दो और आरोपी फरार हैं।

 

No image

पुलिस ने दिल्ली एयरपोर्ट से ऐसे शख्स को गिरफ्तार किया है जो प्लेन में महिला को देखकर अश्लील हरकत कर रहा था। दरअसल इस्तानबुल से आ रही एक फ्लाइट में भारतीय मूल की महिला यात्री भी सफर कर रही थी। महिला को अपने पास देखकर अचानक एक शख्स गंदी हरकत करने लगा। काफी देर तक तो महिला इस शख्स को नजरअंदाज करती रही, लेकिन हद तो तब हो गई जब इस शख्स ने अपनी पतलून तक उतार दी और महिला को देख गंदे इशारे भी करने लगा।

इस शख्स की गंदी और अश्लील हरकतों से तंग आकर महिला ने इस मामले में लिखित शिकायत कर दी। महिला ने पुलिस को बताया कि फ्लाइट में सफर के दौरान उसके आगे बैठा शख्स अचानक मास्टरबेशन (हस्तमैथुन) करने लगा। महिला ने शोर मचाकर इसकी जानकारी क्रू मेंबर्स को दी, जिसके बाद आरोपी शख्स को दूसरी सीट पर बिठाया गया. फ्लाइट के लैंड करने पर एयरपोर्ट पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया।

घटना रविवार सुबह करीब 4 बजकर 10 मिनट की है। टर्किश एयरलाइन्स की ओर से कंट्रोल रूम को बताया गया कि फ्लाइट में एक शख्स खुलेआम गंदी हरकत कर रहा है। दिल्ली एयरपोर्ट पर फ्लाइट को 4 बजकर 55 मिनट पर लैंड करना था. इसलिए सीआईएसएफ के जवान वहां पर पहले ही पहुंच गए थे। एयरपोर्ट पर आरोपी शख्स को गिरफ्तार कर लिया गया।

आरोपी की पहचान रूसी नागरिक के तौर पर हुई है। इसका नाम कृष्णा रिदजहल बताया जा रहा है। इसके पास से एक रूसी पासपोर्ट भी मिला है। रिदजहल के खिलाफ आईपीसी की धारा 509 के तहत मामला दर्ज किया गया है। हालांकि गिरफ्तारी के बाद इसे थाने से जमानत भी मिल गई।

फ्लाइट में मौजूद एक अधिकारी की माने तो इस बात की जानकारी मिली कि एक महिला के बगल में बैठे रूसी शख्स ने अपने पैंट की जिप खोली और उसके सामने ही अश्लील हरकत करने लगा। इस गंदी हरतक के लिए भले ही उस शख्स को फौरी तौर पर पुलिस ने हिरासत में लिया हो लेकिन बाद में आसानी से उसकी जमानत हो गई।

No image

4 सीटें मिलने के लिए कांग्रेस की नीतियों को जिम्मेदार बताया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी ने अपने चुनावी भाषणों में जेडी-एस को यदि भाजपा की 'बी टीम' न बताया होता तो नतीजा कुछ और होता। मायावती ने कहा कि इस चुनाव में भाजपा के विधायकों की संख्या 104 भी नहीं होती, बल्कि इससे काफी नीचे चली जाती। कांग्रेस पार्टी ने थोड़ी सी भूल कर दी, जिसका फायदा भाजपा को मिल गया।

बसपा प्रमुख ने आईपीएन को भेजे अपने बयान में कहा, "कांग्रेस पार्टी को मैं सलाह देना चाहती हूं कि इनको आगे भविष्य में किसी भी चुनाव में अपनी चुनावी जनसभाओं में ऐसी भाषा का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए, जिससे उल्टे भाजपा व आरएसएस को ही फायदा पहुंच जाए।"मायावती ने कहा कि कर्नाटक चुनाव में कांग्रेस ने अपने भाषणों में खासकर मुस्लिम बहुल क्षेत्रों में जेडी-एस को भाजपा की बी टीम बताकर इनके वोटों को और बांट दिया। यही कारण है कि ऐसे क्षेत्रों में भी अधिकांश भाजपा के उम्मीदवार कामयाब हो गए। 

No image

गांधी नगर थाना क्षेत्र में स्पा सेंटर की आड़ में चल रहे सेक्स रैकेट का पुलिस ने भंडाफोड़ किया है। थाइलैंड की दो लड़कियां सहित आठ कॉल गर्ल को हिरासत में लिया है। पुलिस इनसे सेक्स रैकेट के नेटवर्क के बारे में पूछताछ कर रही है। जानकारी के अनुसार पुलिस को गांधी नगर क्षेत्र के अब्बास नगर में स्पा सेंटर के नाम पर सेक्स रैकेट चलाने की सूचना मिल रही थी। पुलिस ने रविवार रात सेंटर पर छापा मारा, तो यहां महिलाएं और पुरुष आपत्तिजनक हालत में मिले। पुलिस को देखते ही अफरा-तफरी मच गई।महिलाएं और पुरुष वहां से भागने लगे। इसके बाद पुलिस ने घेराबंदी कर आठ महिलाओं और पांच पुरुषों को हिरासत में ले लिया। बताया जा रहा है कि हिरासत में ली गई लड़कियों में दो थाइलैंड की रहने वाली है। एक लड़की नगालैंड और पांच भोपाल की है। स्पा सेंटर से पुलिस को आपत्तिजनक सामग्री भी जब्त की है। बताया जा रहा है कि स्पा सेंटर एक महिला चलाती थी। उसने मार्च में ही ये सेंटर शुरू किया था।

में भी मसाज पार्लर के नाम पर सैक्स रैकेट का पर्दाफाश पुलिस ने किया था। इसके बाद कुछ समय तक गतिविधियां बंद रही। अब एक बार फिर यह गतिविधियां सामने आई है।

गौरतलब है कि करीब दस दिन पूर्व भी निशातपुरा पुलिस ने रहवासियों की मदद से युगांडा की कालगर्ल समेत छह युवतियों को गिरफ्तार किया था। गौरतलब है कि इस मामले में पुलिस अभी तक किसी नतीज पर नहीं पहुंच पाई है कि युगांडा से आई ये युवतियां किस तरह भोपाल में पहुंचीं और सैक्स रैकेट का हिस्सा बनीं।

वहीं उनके पासपोर्ट को लेकर भी असमंज की स्थिति बनी हुई है। पुलिस के अनुसार दोनों युवतियां मेडिकल वीजा पर भारत आईं थीं। इसके साथ ही उनके लोकल कनेक्शन की भी जांच की जा रही है।

 सुनील मेवाड़ा, रोहित सिंह, हरीश,शर्मा, भानुप्रताप सिंह चारों सिहोर जिले के हैं और शुभम मेहरा भोपाल का है।

No image

हाईवे पर रूठियाई के पास आज अलसुबह दर्दनाक हादसा हो गया। सड़क किनारे खड़े ट्रक में यात्री बस जा भिड़ी। जिससे 10 लोगों की मौके पर ही मौत हो गई एवं 50 लोग घायल हो गए।

मिली जानकारी के अनुसार गुना के ग्राम रुठियाई और गादेर के बीच उत्तरप्रदेश के बांदा से अहमदाबाद जा रही बस खड़े ट्रक से टकरा गई। भिड़ंत इतनी जबरदस्त थी कि गेहूं से भरे ट्रक और बस के परखच्चे उड़ गए। बस खचाखच भरी थी। जिसके चलते बस चालक समय पर ब्रेक नहीं लगा पाया। बस का नम्बर Bus reg. No is UP78 B

सूचना मिलते ही कलेक्टर, एसपी, सहित वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे। अधिकारियों के मुताबिक उत्तरप्रदेश के श्रमिक वर्ग के लोग  रोजगार की तलाश में गुजरात जाते हैं, जो बस में सवार थे। ट्रक में गेहूं भरे थे जिसके ब्रेक फैल हो गए थे। संभवतः बस ड्राइवर को झपकी आ गई जिसके चलते यह अति गंभीर हादसा हुआ।

आसपास के लोगों ने हादसे की जानकारी देते हुए बताया कि वाहन बहुत तेज गति में था और ओवरलोडेड था। जिस वजह से वह रूक न सका। यह हादसा बहुत ही दर्दनाक है। इतनी सारे शव एक साथ हमसे से तो देखा ही नहीं गया। हमने अपनी तरह से वहां घायल लोगों की पूरी मदद की। बस से सभी लोगों को बाहर निकाला और प्राथमिक उपचार देने की कोशिश भी की।

पुलिस ने मौके पर पहुंच कर घटना की जानाकरी ली। साथ ही रिपोर्ट दर्ज कर 108 को फोन किया। घायलों को इलाज के लिए गुना अस्पताल भेजा गया, जहां उनका इलाज चल रहा है और शवों को पीएम के लिए भेज दिया गया। पुलिस द्वारा मृत और घायल लोगों के परिवार वालों को हादसे की जानकारी दे दी गई है।

 

 

No image

हजारों करोड़ रुपए के पीएनबी घोटाले का मुख्य आरोपित नीरव मोदी देश से फरार होकर सिंगापुर के पासपोर्ट के जरिए ब्रिटेन पहुंच लंदन में छिपा हुआ है। प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) के अनुसार, नीरव व उसके परिवार के लोगों को जांच में शामिल होने के लिए कई समन भेजे गए, लेकिन आरोपितों ने इन सबकी अनदेखी करते हुए विदेश में छिपना पसंद किया। केंद्रीय एजेंसी का कहना है कि फिलहाल नीरव और उसके परिजन जांच एजेंसियों की पहुंच से बाहर हैं।

प्रवर्तन निदेशालय के सूत्रों के मुताबिक, वर्तमान में नीरव मोदी लंदन में छिपा हुआ है। सिंगापुर का पासपोर्ट हासिल करने के बाद उसने ब्रिटेन की ओर रुख किया। केंद्रीय एजेंसी के अनुसार, नीरव का भाई निशाल मोदी के पास बेल्जियम का पासपोर्ट है। वह बेल्जियम के शहर एंटवर्प में छिपा है। इसी प्रकार नीरव की बहन पूर्वी मेहता के पास भी बेल्जियम का पासपोर्ट है, लेकिन उसने हांगकांग को अपना ठिकाना बना रखा है।

ईडी सूत्र बताते हैं कि नीरव का जीजा व पूर्वी का पति मयंक मेहता (रोजी ब्ल्यू डायमंड का मालिक) के पास ब्रिटिश पासपोर्ट है। वह हांगकांग और न्यूयॉर्क के बीच चक्कर काटता रहता है।

प्रवर्तन निदेशालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के अनुसार, "पीएनबी बैंक घोटाले की जांच में शामिल होने के लिए नीरव और उसके परिजनों को ईमेल के जरिए समन भेजा जा चुका है। इसमें उसके पिता दीपक मोदी, बहन पूर्वी मेहता और जीजा मयंक मेहता भी शामिल हैं।

ध्यान रहे कि पीएनबी बैंक घोटाला उजागर होने के बाद नीरव मोदी और उसके परिजन देश छोड़कर भाग गए। सीबीआई और ईडी ने नीरव और उसके मामा मेहुल चौकसी के ठिकानों पर छापेमारी की। नीरव मोदी एंड कंपनी को पकड़ने के लिए इंटरपोल से भी मदद मांगी गई।

No image

 अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप किडनी की सर्जरी के बाद व्हाइट हाउस लौट आई हैं। व्हाइट हाउस कार्यालय की ओर से यह बयान जारी किया गया। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, शनिवार को उनके कार्यालय ने एक बयान में कहा, प्रथम महिला आज सुबह घर व्हाइट हाउस लौट आईं। बयान में कहा गया, वह सहजता के साथ आराम कर रही हैं और ऊर्जा से भरी हुई हैं। 

मेलानिया की सोमवार को किडनी की सफल सर्जरी हुई थी। राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप सोमवार शाम पत्नी से मिलने के लिए सेना अस्पताल गए थे, जहां वह सर्जरी के लिए रुकी थीं। ट्रंप ने शनिवार दोपहर ट्वीट कर मेलानिया के घर लौटने का स्वागत करते हुए कहा कि वह, अच्छा महसूस कर रही हैं। स्लोवेनिया में जन्मीं पूर्व मॉडल मेलानिया ने ट्रंप से 2005 में शादी की थी। दोनों 12 वर्षीय बेटे बैरन के माता-पिता हैं। 
 

No image

क्यूबा में हवाना के जोस मार्टी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे के पास शुक्रवार को दुर्घटनाग्रस्त हुए विमान 737 में मरने वालों की संख्या बढ़कर 110 हो गई है। सिन्हुआ के अनुसार, परिवहन मंत्री अबेल इजिच् डरे ने शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में बताया कि हादसे में 110 लोग मारे गए हैं, जिनमें 99 क्यूबा के नागरिक हैं और 11 अन्य देशों के हैं। 

क्यूबा के राष्ट्रपति मिगुएल डियाज-कैनेल ने शनिवार को हादसे में बचे लोगों और पीडि़तों के परिजनों से मुलाकात कर संवेदना व्यक्त की। इजिच् डरे ने कहा कि मेक्सिकी एयरलाइन दामोझ से किराए पर लिए गए विमान में दुर्घटना के समय 113 लोग सवार थे।

क्यूबा सरकार ने हादसे के पीडि़तों के परिजनों के लिए एक होटल में रहने की व्यवस्था की है क्योंकि उनमें से अधिकांश हवाना से करीब 700 किलोमीटर दूर हालगुइन से हवाना पहुंचे हैं। पिछले तीन दशकों में क्यूबा के सबसे विभत्स विमान हादसे के मद्देनजर शनिवार को दो दिन के शोक का ऐलान किया गया था और राष्ट्रध्वजों को आधा झुका दिया गया।
 

No image

मौजूदा विजेता मुंबई इंडियंस आज दिल्ली डेयरडेविल्स से उसके घर फिरोजशाह कोटला मैदान पर भिड़ेगी। यह मैच मुंबई के लिए प्लेऑफ का रास्ता है। जीत उसके इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के अंतिम-4 के दरवाजे खोल देगी तो वहीं हार उसे मायूस कर देगी। अपने पिछले मैच में मुंबई ने पंजाब को रोमांचक मुकाबले में तीन रन से मात दी थी। इस मैच में केरन पोलार्ड ने अर्धशतक जमाया था जिससे मुंबई को राहत मिली थी। मुंबई की बल्लेबाज सलामी बल्लेबाज सूर्यकुमार यादव और उनके जोड़ीदार इविन लुइस के जिम्मे हैं। दोनों ने टीम को हमेशा ही मजबूत शुरुआत दी है। टीम का मध्यक्रम निरंतरता रखने में विफल रहा है। यहां रोहित ने मोर्चा संभाले रखा है लेकिन हार्दिक पांड्या, उनके भाई क्रूणाल और पोलार्ड ने शुरू में निराश किया था। अब रोहित को उम्मीद होगी की यह तीनों अपनी जिम्मेदारियों को समझेंगे। 

गेंदबाजी में जसप्रीत बुमराह और मिशेल मैक्लेघन को इस मैच में आगे आना होगा। वहीं हार्दिक और पोलार्ड की भी कोशिश इस अहम मैच में अपनी टीम के लिए बड़ा योगदान देने की होगी। स्पिन विभाग का जिम्मा लेग स्पिनर मयंक मारकंडे पर होगा । दिल्ली की बात की जाए तो उसके लिए यह मैच सम्मान की लड़ाई के सिवाए कुछ नहीं है। अंकतालिका में आखिरी स्थान पर रहने वाली इस टीम की बल्लेबाजी युवा खिलाड़ी ऋषभ पंत के जिम्मे है। जिन्होंने इस सीजन में शानदार प्रदर्शन किया है। पंत के अलावा दिल्ली के लिए पृथ्वी शॉ और कप्तान अय्यर का ही बल्ला चला बाकी सब खामोश रहे हैं। गेंदबाजी में टीम ट्रैंट बाउल्ट के कंधों पर निर्भर है। पिछले मैच में लेग स्पिनर अमित मिश्रा और नेपाल के स्पिनर संदीप लामिछाने ने अच्छी गेंदबाजी की थी। पूरी उम्मीद है कि अय्यर आखिरी मैच में एक बार फिर दोनों को अंतिम एकादश में शमिल करेंगे। 

टीमें (संभावित) : दिल्ली डेयरडेविल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), जेसन रॉय, गौतम गंभीर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ग्लेन मैक्सवेल, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, राहुल तेवातिया, शहबाज नदीम, मोहम्मद शमी, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन मुनरो, अमित मिश्रा, पृथ्वी शॉ, हर्ष पटेल, आवेश खान, जयंत यादव, गुरकीरत सिंह मान, मंजोत कालरा, अभिषेक शर्मा, संदीप लामिचाने, नमन ओझा, सायन घोष और लियाम प्लकंट। 

मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), सूर्यकुमार यादव, इविन लुइस, ईशान किशन, हार्दिक पांड्या, क्रूणाल पांड्या, केरन पोलार्ड, मयंक मारकंडे, मिशेल मैक्लेघन, मुस्ताफिजुर रहमान, जसप्रीत बुमराह, अकिला धनंजय, बेन कटिंग, जेपी ड्यूमिनी, राहुल चहर, शरद लांबा, एडम मिलने, सिद्धेश लाड, मोहम्मद निधीश, मोहसीन खान, अनुकूल रॉय, प्रदीप सांगवान, तजिंदर सिंह, आदित्य तारे और सौरभ तिवारी। 

No image

बीएसएफ ने जवाबी फायरिंग में सीमा पार बंकर को उड़ाकर पाकिस्तान को करारा जवाब दिया है। बताया जा रहा है कि इससे पाकिस्तान को भारी नुकसान पहुंचा है। सीमा पार की ओर से हो रही लगातार फायरिंग में एक बीएसएफ जवान समेत 5 भारतीयों की मौत के बाद से भारतीय सेना भी जवाबी फायरिंग कर रही है। इसी सिलसिले में शनिवार को पश्चिमी सीमा पर तैनात बीएसएफ के सैन्य दस्ते ने अंतर्राष्ट्रीय सीमा के पार एक पाकिस्तानी बंकर को उड़ा दिया।

इसका विडियो बीएसएफ की ओर से जारी किया गया है। इस समय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी जम्मू-कश्मीर दौरे पर हैं। इस लिहाज में राज्य में सुरक्षा एजेंसियों की ओर से हाई अलर्ट जारी है। इससे पहले शुक्रवार को जम्मू क्षेत्र में बॉर्डर से लगे इलाके आरएस पुरा और अरनिया सेक्टर के गांवों में पाकिस्तानी मॉर्टार शेलिंग में एक बीएसएफ जवान समेत 5 भारतीयों की मौत हो गई थी।

वहीं उत्तरी कश्मीर में भारतीय सुरक्षा बलों ने 3 पाकिस्तानी घुसपैठिए मार गिराए हैं। बता दें कि रमजान के दौरान कश्मीर में आतंकवादियों के खिलाफ केंद्र की एकपक्षीय युद्धविराम के दो दिन बाद ही इसका पाकिस्तान की तरफ से इसका उल्लंघन कर दिया गया है।

बीएसएफ के सूत्रों ने बताया कि पाकिस्तानी रेंजर्स ने जम्मू जिले के अरनिया, आरएसपुरा और बिशनाह सेक्टर में गुरुवार रात करीब 1 बजे फायरिंग की थी। इस दौरान जबोवल सीमा चौकी पर तैनात झारखंड के बीएसएफ कॉन्स्टेबल उपाध्याय शहीद हो गए। 

घुसपैठ की कोशिश कर रहे 3 आतंकियों को मार गिराया शुक्रवार को ही घुसपैठ करने की कोशिश की नाकाम करते हुए सेना ने तीन आतंकियों को कुपवाड़ा के ब्रिंजाल इलाके के जंगलों में ढेर कर दिया है। बताया जा रहा है कि घुसपैठ की इस साजिश में तीन आतंकियों के मारे जाने के बाद अब इस इलाके में सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है।
 

No image

पूर्व राज्य मंत्री व भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता लाल सिंह ने कठुआ दुष्कर्म एवं हत्या मामले की जांच केंद्रीय जांच ब्यूरो द्वारा (सीबीआई) कराने की मांग करते हुए रविवार को जम्मू एवं कश्मीर के कठुआ जिले में नंगे पाव एक मार्च का नेतृत्व किया। लाल सिंह करीब पांच घंटे तक नंगे पांव चले, जिसके बाद उनके समर्थकों ने उनसे वाहन में बैठने का आग्रह किया क्योंकि उनके पैर में छाले पड़ गए थे। 

राज्य सरकार पर कठुआ मामले की जांच सीबीआई द्वारा कराने का दबाव बनाने के लिए यह मार्च निकाला गया। इस साल जनवरी में हीरानगर क्षेत्र में हिंदू एकता मंच द्वारा आयोजित की गई रैली में शामिल होने पर बवाल मचने के बाद लाल सिंह और भाजपा के एक अन्य वरिष्ठ नेता चंद्र प्रकाश गंगा ने राज्य मंत्रिमंडल से इस्तीफा दे दिया था। राज्य की अपराध शाखा कठुआ जिले के रासना में आठ वर्षीय बच्ची की दुष्कर्म के बाद हत्या कर देने के मामले में पहले ही आठ आरोपियों के खिलाफ आरोप पत्र दाखिल कर चुकी है। 
 

No image

कर्नाटक चुनाव परिणाम आने के बाद नाटकीय घटनाक्रम के बीच बहुमत न होने के चलते बीजेपी की सरकार गिर गई और कर्नाटक में अब कांग्रेस और जेडी(एस) गठबंधन एचडी कुमारस्वामी राज्यपाल से मिलकर सरकार बनानेवाले हैं। सीएम पद की शपथ लेने से पहले एचडी कुमारस्वामी ने कहा है कि वह सोमवार को दिल्ली आनेवाले हैं। दिल्ली आकर कुमारस्वामी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और सोनिया गांधी से मुलाकात करेंगे।

वहीं कर्नाटक में मंत्रिमंडल पर सवाल पूछे जाने पर कांग्रेस के वरिष्ठ नेता मल्लिकार्जुन खडग़े ने कहा है कि इस मुद्दे पर पार्टी के आलाकमान ही फैसला लेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि एक राष्ट्रीय पार्टी कांग्रेस ने क्षेत्रीय पार्टी जेडी (एस) का समर्थन किया ताकि संवैधानिक मूल्य और लोकतंत्र बना रहे और सब कुछ ध्यान में रखते हुए गिव एंड टेक का समीकरण बराबर होना चाहिए।

कुमारस्वामी ने कहा भी था कि शपथ ग्रहण समारोह में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी और वरिष्ठ कांग्रेस नेता सोनिया गांधी मौजूद रहेंगी। इसके साथ उन्होंने यह भी कहा है कि वह शपथ ग्रहण के बाद सिर्फ 24 घंटों के अंदर सदन बहुमत पेश करेंगे। बता दें कि कुमारस्वामी बुधवार दोपहर 12 से 1 बजे के बीच कांतीरवा स्टेडियम में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। इस शपथ ग्रहण समारोह में ममता बनर्जी, मायावती, अखिलेश यादव, एन चंद्रबाबू नायडू और के.चंद्रशेखर राव को भी निमंत्रण देने की बात कही गई है। विपक्ष कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह को मेगा शो बनाने की तैयार में जुट गया है। इस मौके पर सभी बड़े गैर-बीजेपी शासन वाले राज्यों के मुख्यमंत्री मौजूद रहने वाले हैं।

शपथग्रहण समारोह के दौरान स्टेडियम में करीब तीन से चार लाख लोगों के मौजूद होने की उम्मीद जताई जा रही है। कुमारस्वामी ने यह भी कहा कि कि राज्यपाल ने हमें बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का समय दिया है। हालांकि हमें इतने समय की आवश्यकता नहीं है। मैं जल्द से जल्द विश्वास प्रस्ताव लेकर आऊंगा।
 

No image

भारतीय मौसम विभाग (आईएमडी) ने दिल्ली-एनसीआर में आंधी तूफान की चेतावनी जारी की है. आईएमडी ने एक बयान में कहा कि क्षेत्र में 80 से अधिक किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से हवाएं चलने का अनुमान है. बीती 17 मई को राजधानी में हल्की बारिश के साथ 71 किलोमीटर प्रतिघंटे की रफ्तार से तेज हवाएं चली थी. दिल्ली में 16 मई को तड़के आये आंधी तूफान से 18 वर्षीय एक युवक की मौत हो गई थी और 13 लोग घायल हो गये थे.

इससे पहले मौसम विभाग ने पश्चिमी विक्षोभ का असर जम्मू कश्मीर से पूर्वोत्तर राज्यों की ओर से स्थानांतरित होने के कारण असम सहित पूर्वोत्तर के कुछ इलाकों में अगले 24 घंटे तक चक्रवाती हवाओं की आशंका जतायी है.विभाग द्वारा मौसम के पूर्वानुमान की आज शाम जारी रिपोर्ट के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ के कारण पश्चिमी अफगानिस्तान और आसपास के इलाकों में बने कम दबाव के क्षेत्र का असर मध्य भारत के कुछ राज्यों में बरकरार है. इस कारण उत्तर पश्चिमी मध्य प्रदेश और दक्षिण पश्चिमी राजस्थान से लेकर पूर्वी विदर्भ तक के कुछ इलाकों में चक्रवाती तूफान की आशंका जतायी गयी है.

मौसम की इन परिस्थितियों का असर अन्य उत्तरी राज्यों में भी देखने को मिलेगा. इसकी वजह से जम्मू कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली और उत्तर प्रदेश के कुछ इलाकों में अगले 24 घंटों में तूफान या तेज हवाओं का पूर्वानुमान व्यक्त किया गया है. इसके अलावा पूर्वोत्तर राज्यों और दक्षिण प्रायद्वीपीय इलाकों में तेज बारिश का अनुमान व्यक्त किया गया है.

इस बीच विभाग ने दक्षिणी पश्चिमी मानसून के लिये मौसम संबंधी परिस्थितियों को अनुकूल बताते हुये दक्षिणी अंडमान सागर और आसपास के इलाकों में आगामी 23 मई तक मानसून के सक्रिय होने की संभावना जतायी है. साथ ही नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, केरल और लक्षद्वीप के कुछ इलाकों में तेज बारिश की आशंका को देखते हुये मछुआरों को अगले 48 घंटों तक अदन की खाड़ी और दक्षिण पश्चिमी अरब सागर क्षेत्र में नहीं जाने की सलाह दी गयी है.
 

No image

कर्नाटक में बीते दिनों नाटकीय घटनाक्रम के बाद आखिर में भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के नेता बीएस येदियुरप्पा को इस्तीफा देना पड़ा, जिस वजह से अब कांग्रेस-जेडी(एस) गठबंधन की सरकार बनने जा रही है। बता दें कि शनिवार को फ्लोर टेस्ट होना था जिसमें येदियुरप्पा सरकार को बहुमत साबित करना था, लेकिन उससे पहले ही उन्होंने जाकर राज्यपाल को इस्तीफा सौंप दिया जिससे कर्नाटक में तीन दिन पहले बनी बीजेपी सरकार गिर गई। घटना के तुरंत बाद से सोशल मीडिया पर भी हलचल शुरू हो गई थी। ऐसे में जाने-माने लोग भी बीजेपी पर चुटकी लेने से पीछे नहीं हटे।

पहले से मोदी सरकार की नीतियों के खिलाफ लिखने-बोलने वाले ऐक्टर प्रकाश राज ने भी मामले पर ट्वीट किया। उन्होंने पीएम मोदी के 56 इंच के सीने वाले बयान पर चुटकी ली। प्रकाश राज ने लिखा, कर्नाटक का रंग केसरिया नहीं होने जा रहा है, बल्कि यह रंग-बिरंगा बना रहेगा। मैच शुरू होने से पहले ही खत्म हो गया, 56 भूल जाओ वह 55 घंटे भी कर्नाटक को नहीं संभाल पाए। मजाक से परे होकर आम नागरिकों से यह बात कहना चाहूंगा कि आगे और गंदी राजनीति होगी, उसके लिए तैयार रहें, मैं नागरिकों के लिए हमेशा ऐसे ही खड़ा रहूंगा।

बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर सामने आई थी, उसे 104 सीटें मिली थीं, वहीं अब कांग्रेस के पास जेडी(एस) के समर्थन के साथ 116 विधायक हैं और राज्य में बहुमत के लिए जरूरी संख्या 112 है। राज्यपाल ने उन्हें बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का वक्त दिया है। अब पूर्व प्रधानमंत्री देवगौड़ा के बेटे कुमारस्वामी बुधवार (23 मई) को शपथ लेंगे। इसके लिए वह राज्यपाल से भी मिल चुके हैं।

No image

गैंगरेप की एक क्लिप वायरल होने के कुछ दिन बाद बिहार पुलिस ने उसमें दिख रहे आरोपियों और पीडि़ता की पहचान कर ली है। वायरल हो रहे इस क्लिप में चार युवक एक महिला का रेप करते दिख रहे थे। पुलिस मामले की जांच कर रही है।

आईजी पटना जोन नैयर हसनैन खान ने कहा, विडियो में दिख रही लड़की की उम्र लगभग 18-19 साल है। वह जहानाबाद जिले की रहने वाली है और उसकी शादी हो चुकी है। विडियो में दिख रहा है कि चार युवकों में से एक उसका रेप कर रहा है और बाकी तीनों को वह उनकी बारी के लिए बुलाता है। 

पुलिस को शक, चेन्नै भागे आरोपी आईजी पटना ने कहा, विडियो में दिख रहा वाकया तीन से चार महीने पुराना है। घटना पटना के पास नौबतपुर के नारायणपुर मुसहारी की है और आरोपी भी यहीं के रहने वाले हैं। हमें शक है कि वे अपराध के बाद चेन्नै भाग गए हैं। उन्होंने कहा कि हम यह भी जानने की कोशिश कर रहे हैं कि क्या महिला की शादी इन चारों युवकों में से किसी एक से हुई है।
 

No image

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कानपुर देहात के रूरा क्षेत्र में जहरीली शराब के सेवन से लोगों की मौत मामले में गहरा शोक व्यक्त जाहिर किया है. सीएम ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करते हुए मुआवजे का ऐलान किया है. उन्होंने घटना के मृतकों के आश्रितों को 2-2 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दिए जाने की घोषणा की है. उधर रविवार को मरने वालों का आंकड़ा बढ़कर 6 पहुंच गया. दो लोगों की हालत अभी नाजुक बनी हुई है. उनका कानपुर के हैलट अस्पताल में इलाज चल रहा है.

बता दें कानपुर देहात में शनिवार को जहरीली शराब पीने से 4 लोगों की मौत हो गई. कुछ लोगों को इलाज के लिए हैलट अस्पताल भेजा जा गया, जहां 3 लोगों की हालत बेहद नाजुक बनी हुई है. सूचना मिलते ही जिला प्रशासन में हड़कंप मच गया. हालांकि अधिकारियों का कहना है कि मारे गए लोगों के विसरे की फोरेंसिक जांच की जा रही है, जिसकी रिपोर्ट आने के बाद ही आधिकारिक रूप से कुछ कहा जा सकेगा.

वहीं कानपुर देहात के रूरा में पुलिस ने नकली शराब, होलोग्राम और पैकर मशीन बरामद की है. पता चला है कि सपा के पूर्व विधायक रामस्वरूप गौड़ के के रिश्तेदार ये काला कारोबार चला रहे थे. पुलिस ने कई जगह छापे मारी की है. घटना सचेंडी में हेतपुर गांव की है. जहां कुछ लोगों को शराब पीते ही उल्टियां होने लगीं. हालत बिगड़ती देख परिजनों ने उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया. हेतपुर गांव के 15 लोगों पर जहरीली शराब का बुरा असर हुआ है.

शराब से मौत की सूचना से पूरे जिले में हड़कंप मच गया. जिला प्रशासन के सभी आला अधिकारी सचेंडी पहुंच चुके हैं. जिला प्रशासन के अधिकारी शराब के नमूने लेकर जांच-पड़ताल कर रहे है. पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है. पुलिस ने दुकानदार के खिलाफ केस दर्ज किया है. जो घटना के बाद से फरार बताया जा रहा है. घटना सामने आने के बाद डीएम ने जांच के आदेश दे दिए हैं.
 

No image

कर्नाटक में सरकार को बचाए रखने से चूकी बीजेपी की नजर अब तेलंगाना पर है। तेलंगाना बीजेपी के अध्यक्ष के लक्ष्मण का का कहना है कि पार्टी 2019 में राज्य में होने वाले चुनावों की तैयारी में जुट गई है। तेलंगाना में विधानसभा का चुनाव 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव के साथ ही कराया जाएगा।

के लक्ष्मण ने कहा कि हाल ही में दिल्ली में अध्यक्ष अमित शाह जी के नेतृत्व में एक बैठक हुई। उन्होंने तेलंगाना पर जोर दिया। उन्होंने स्पष्ट कहा कि जिन राज्यों में चुनाव होने थे, अब हो गए। अब तेलंगाना, आंध्र प्रदेश, पश्चिम बंगाल, ओडिशा पर ध्यान केंद्रित किया जाएगा। उन्होंने कहा की राजनीतिक स्थिति और चुनाव की योजना का आकलन करने के लिए शाह अगले महीने तेलंगाना आ सकते हैं। 
लक्ष्मण ने कहा कि राज्य में बीजेपी सांगठनिक रूप से मजबूत है और राज्य में खुद को और बेहतर करने के लिए मतदान केन्द्रों पर  पन्ना प्रमुख  मॉडल की प्रणाली अपनाई जाएगी। विभिन्न राज्यों में पन्ना प्रमुख बीजेपी का एक सफल मॉडल रहा है जिसमें एक पन्ना का प्रभारी अपनी सूची में आने वाले मतदाताओं के परिवारों से संपर्क करता है।

उन्होंने कहा, जहां तक पन्ना प्रमुख का सवाल है तो 119 विधानसभा क्षेत्रों में से करीब 40-50 विधानसभा क्षेत्रों में पन्ना प्रमुख का काम पूरा हो गया है। शेष विधानसभा क्षेत्रों में भी हम एक या दो महीना में काम पूरा कर लेंगे। साथ ही पार्टी राज्य में संगठन को मजबूत करने के लिए कुछ और कदम भी उठा रही है। उन्होंने कहा है कि बीजेपी तेलंगाना में टीआरएस सरकार की विफलताओं और नहीं पूरे किए गए वादों को भी उठाएगी। इनमें रोजगार सृजन, गरीबों को दो बेडरूम वाले आवास और दलितों को 3 एकड़ जमीन देने जैसे वादे शामिल हैं। 

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष ने बताया कि पार्टी समाज के विभिन्न सेक्शनों के लिए स्पष्ट चुनावी घोषणापत्र के साथ उतरेगी। इसमें अनुसूचित जाति, पिछड़ा वर्ग और युवा जैसे तमाम वर्ग शामिल होंगे। उनके मुताबिक समाज के विभिन्न तबकों के साथ चर्चा कर इसे लागू किया जाएगा। उन्होंने बताया कि बीजेपी महासचिव राम माधव, केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और बिहार के मंत्री मंगल पांडेय को तेलंगाना की 17 लोकसभा सीटों की जिम्मेदारी सौंपी गई है और वे राज्य का दौरा करेंगे। 

प्रदेश अध्यक्ष लक्ष्मण के मुताबिक चुनाव के समय पार्टी का केंद्रीय नेतृत्व उन राज्यों पर फोकस करेगा जहां सरकार नहीं है। दूसरे राज्यों में पार्टी के मुख्यमंत्री कैंपेन को लीड करेंगे। आपको बता दें कि शनिवार को येदियुरप्पा ने कर्नाटक विधानसभा में बहुमत प्रस्ताव पर वोटिंग से पहले ही इस्तीफा दे दिया। कांग्रेस और जेडीएस विधायकों की एकजुटता की वजह से बीजेपी संख्या बल नहीं जुटा पाई। ऐसे में साउथ में बीजेपी के आगे बढऩे के प्रयासों को धक्का लगा है और अब तेंलगाना पर नेतृत्व ताकत झोंकने की तैयारी में है।
 

No image

बाबा भोले की यात्रा कैलाश मानसरोवर इस बार 8 जून से शुरू हो रही है, जो 8 सितम्बर तक चलेगी. पहला दल 12 जून को उत्तराखण्ड में प्रवेश करेगा. पहले दिन बाबा भोले के भक्त दिल्ली से हल्द्वानी होते हुए अल्मोडा पहुंचेंगे. दूसरे दिन यात्रा सड़क मार्ग से धारचूला प्रवेश करेगी. 18 दलों में होने वाली यात्रा धारचूला के बाद पैदल मांगती, नजंग होते हुए बुंदी में रात्री विश्राम करेगी, तो छियालेख,गर्ब्यांग होते हुए गुंजी में यात्रा दो दिन रुकेगी.

इस दौरान सभी कैलाश यात्रियों का मेडिकल कैंप लगाकर चेकअप किया जायेगा. एक दल की 25 दिनों की होने वाली इस बाबा के दर्शनों की यात्रा 12वें दिन नाभीढांग, 13वें दिन कालापानी होते हुए 14वें दिन लिपूलेख रात्रि विश्राम करेगी.
जिसके बाद कैलाश यात्री 16वें दिन के बाद कैलाश की परिक्रमा कर 21 वें दिन भारत आएंगे. कैलाश यात्री 25वें दिन दिल्ली पहुंचेंगे. हर बार की तरह इस बार भी प्रत्येक दल में 60 यात्रियों के साथ कुल 1080 भक्तों को बाबा के दर्शन का पुण्य मिलेगा.

कैलाश मानसरोवर यात्रा के संचालन के लिये कुमाऊं मण्डल विकास निगम ने भी अपनी तैयारियां को तेज कर दिया है. भक्तों को दिक्कतें ना हो इसके लिये सभी पड़ावों को बेहतर किया जा रहा है, तो रैकी दल भी निरीक्षण कर वापस आ गया है.
खाने-पीने का सामान भी कैंपों में पोटरों और खच्चरों से भेजा जा रहा है. वहीं होम स्टे भी कैलाश यात्रियों के लिये तैयार किया गया है. इसके साथ ही यात्रा में मौसम की मार पडऩे के दौरान यात्रा को पिथौरागढ से गुंजी या धारचुला से बुंदी तक हैली से यात्रियों को भेजने पर प्लान तैयार किया गया है, हांलाकि यात्रा मार्ग ठीक होने पर यात्रा पैदल ही कैलाश को रवाना होगी.
 

No image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सोमवार से रूस की यात्रा पर जा रहे हैं। हालांकि, यह उनकी पहली रूस यात्रा नहीं लेकिन यह बाकी यात्राओं से अलग जरूर है। रूस में भारत के राजदूत पंकज सारन ने बताया, कि दोबारा राष्ट्रपति चुने जाने के महज 2 हफ्ते के अंदर व्लादिमीर पुतिन ने खुद पीएम मोदी को न्योता दिया था।

पंकज सारन ने बताया, पीएम मोदी और राष्ट्रपति पुतिन के बीच यह बहुत अहम बैठक होगी। हर बैठक से यह बैठक इसलिए अलग है क्योंकि प्रेजिडेंट पुतिन ने पीएम मोदी चौथी बार राष्ट्रपति बनने के सिर्फ दो हफ्ते के बाद ही तमाम मुद्दों पर चर्चा के लिए न्योता दिया है। उन्होंने आगे कहा कि यह दोनों के बीच की केमिस्ट्री के लिए बहुत अच्छा मौका है।

सारन ने कहा, दोनों नेता अंतर्राष्ट्रीय क्षेत्र में एक-दूसरे की अर्थव्यवस्था और प्रभाव को बेहतर बनाने के लिए आपसी सहयोग पर चर्चा करेंगे।बता दें कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रूस के सोचि में 21 मई को व्लादिमीर पुतिन के साथ अनाधिकारिक मुलाकात के लिए पहुंचेंगे। बता दें, कि इस दौरे से एक माह पहले ही पीएम मोदी ने चीन के राष्ट्रपति शी चिनफिंग के साथ भी इसी तरह की अनौपचारिक बैठक की थी। 

राजदूत ने बताया, द्विपक्षीय रिश्तों पर बातचीत के अलावा पीएम मोदी और पुतिन ईरान न्यूक्लियर डील से अमेरिका के अलग होने के बाद के प्रभावों पर भी चर्चा करेंगे। भारत और रूस दोनों ही आतंकवाद के पीडि़त हैं इसलिए दोनों पक्षों के बीच आईएस के खतरे और अफगानिस्तान-सीरिया की स्थिति पर भी चर्चा होगी।
सारन ने कहा, दोनों देशों के बीच तीसरी दुनिया देशों में परमाणु क्षेत्र में सहयोग को लेकर भी बातचीत हो सकती है। बांग्लादेश में भारत रूपपुर परमाणु प्लांट बना रहा है। हम आशा करते हैं कि यहां रूसी और भारतीय एक्सपर्टीज एक हो पाएगी। 
पीएम मोदी का सोचि एयरपोर्ट पर रूस के टॉप अधिकारी स्वागत करेंगे। इसके बाद वह पुतिन के रिजॉर्ट पर जाएंगे। बता दें कि सोचि रूस के लिए काफी अहम शहर माना जाता है। सारन ने बताया कि इस साल के आखिर तक पुतिन भी भारत का दौरा करेंगे। बीते दस दिनों में पुतिन ने कई देशों के नेताओं से मुलाकात की है। 
इस साल पुतिन और पीएम मोदी की यह पहली बैठक होगी। हालांकि, इस दौरान दोनों नेताओं के बीच कई बार फोन पर बातचीत हुई है।
 

No image

अलीपुरद्वार के एक कोर्ट ने भाजपा नेता मुकुल रॉय को माफी मांगने के निर्देश दिए हैं. कोर्ट ने तृणमूल कांग्रेस के नेता और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के भतीजे अभिषेक बनर्जी के खिलाफ की गई अभद्र टिप्पणी पर माफी मांगने के लिए कहा है. मुकुल रॉय ने एक राजनीतिक रैली के दौरान टीएमसी नेता बनर्जी के खिलाफ आपत्तिजनक बातें कही थीं. इसके बाद अभिषेक ने उनके खिलाफ मानहानि का मुकदमा दायर कर दिया था.

बता दें कि पश्चिम बंगाल में भाजपा ज्वॉइन करने के बाद पहली रैली के दौरान मुकुल रॉय ने सवाल उठाया था कि आखिर बिस्वा बंगला है क्या?....यह सरकारी संपत्ति नहीं है. यह निजी संपत्ति है, जिसके मालिक कोई और नहीं, बल्कि अभिषेक बनर्जी ही हैं. इसके स्वामित्व के लिए मुकुल ने ममता बनर्जी की मंजूरी के बाद आवेदन किया था.  मुकुल रॉय ने यह भी कहा कि तृणमूल कांग्रेस की इन प्रचार सामग्री का कॉन्ट्रैक्ट भी अभिषेक बनर्जी को ही दिया गया.
 

No image

मुख्यमंत्री बिप्लब कुमार देब के नेतृत्व वाली त्रिपुरा की बीजेपी सरकार ने सरकारी नौकरी भर्ती में नए फॉर्म्युले की घोषणा की है जिसके अनुसार सरकारी नौकरियों में महिलाओं को भी आरक्षण दिया जाएगा। त्रिपुरा सरकार ने पुलिस बल के पद पर महिलाओं के लिए 10 फीसदी आरक्षण घोषित किया है।

शिक्षा एवं कानून मंत्री रतनलाल नाथ ने सचिवालय में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा, गृह मंत्रालय के तहत आने वाले सभी लेवल पर पुलिस बल में महिलाओं के लिए 10 फीसदी आरक्षण होगा। इस राज्य में अब तक पुलिस भर्ती में महिलाओं के लिए कोई आरक्षण नहीं था, लेकिन हमारी सरकार ने पुलिस बल में सभी पदों पर 10 फीसदी आरक्षण महिलाओं को दिया है। 

सरकार की दलील कैबिनेट द्वारा लिया गया दूसरा महत्वपूर्ण फैसला नौकरी भर्ती प्रक्रिया में पादर्शिता और निष्पक्षता लाना है। रतनलाल ने कहा, हमने वर्तमान नौकरी भर्ती पॉलिसी रद्द कर दी है और बेहतर पारदर्शिता और सरकारी नौकरियों की भर्ती प्रकिया में निष्पक्षता के लिए कैबिनेट ने नई भर्ती नीति को स्वीकार कर लिया है। पारदर्शिता और निष्पक्षता के लिए यह जरूरी कदम है। यहां कोई पक्षपातपूर्ण व्यवहार नहीं होना चाहिए और योग्य उम्मीदवार को ही नौकरी मिलनी चाहिए और उसे प्रशासन का हिस्सा बनाना चाहिए। 

उन्होंने आगे कहा, यह हमारे विजन डॉक्युमेंट में शामिल है और इसलिए इस सरकार ने भर्ती प्रक्रिया को निष्पक्ष बनाने के लिए नई पॉलिसी को स्वीकार किया है। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने पिछली लेफ्ट सरकार द्वारा बनाए गए रोजगार नियमों को रद्द कर किया है। 

ग्रुप सी और डी के लिए लिखित परीक्षा रतनलाल के साथ कृषि एवं परिवहन मंत्री प्रानजित सिंघा रॉय ने कहा, पिछली सरकार ने कर्मचारियों की नियुक्ति के समय पक्षपात किया और योग्य अभ्यर्थियों को नजरअंदाज किया। अब से ग्रुप सी और ग्रुप डी की पद पर कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए लिखित परीक्षा होगी। 
मंत्री ने बताया कि ग्रुप सी और ग्रुप डी के पद पर सरकारी कर्मचारियों की नियुक्ति के लिए अलग से एक संगठन का गठन होगा और त्रिपुरा लोक सेवा आयोग जरूरी सरकारी पदों के लिए सर्वश्रेष्ठ अभ्यर्थियों को चुनेगा।
 

No image

 सोशल मीडिया नेटवर्क पर चाइल्ड पॉर्न और रेप विडियो रोकने के लिए प्रभावी कदम नहीं उठाने पर सुप्रीम कोर्ट ने कई सोशल नेटवर्किंग साइट्स पर जुर्माना लगाया है। याहू, फेसबुक आयरलैंड, फेसबुक इंडिया, गूगल इंडिया और माइक्रोसॉफ्ट और वॉट्सऐप पर 1 लाख रुपए का जुर्माना लगाया है। जस्टिस मदन बी लोकुर और जस्टिस उमेश ललित की बेंच ने 16 मई को यह फैसला दिया।
सोशल मीडिया साइट्स पर ऐसे आपत्तिजनक विडियो के प्रसारण को लेकर कई ऑनलाइन शिकायतों के आधार पर सुप्रीम कोर्ट की बेंच ने यह फैसला दिया। 2 जजों की बेंच ने सोशल नेटवर्किंग साइट्स को आदेश दिया कि हिंसक सेक्स विडियो और चाइल्ड पॉर्न के प्रसारण रोकने के लिए कौन से कदम साइट्स उठा रही हैं, इसकी जानकारी दें।

बेंच ने कहा, इनमें से किसी भी साइट ने अब तक इस दिशा में कोई प्रगति की है और न ही इनमें से कोई भी संगठन अब तक हमारे निर्देश के अनुसार कोई कार्रवाई कर रहा है। कोर्ट ने 15 जून तक का समय विभिन्न कंपनियों को जवाब दाखिल करने के लिए दिया। बेंच ने कहा, इन कंपनियों की तरफ से दायर शपथ पत्र को रजिस्ट्री स्वीकार करेगी और इसके साथ ही 1 लाख रुपए का फाइन भी इन्हें देना होगा, जिसका छोटी अवधि के लिए फिक्स डिपॉजिट कर दिया जाएगा। 
एनजीओ प्राजवाला की तरफ से दायर शिकायत की सुनवाई करते हुए कोर्ट ने यह फैसला किया। अडिशनल सलिसिटर जनरल मनिंदर सिंह ने सरकार की तरफ से इस दिशा में उठाए जाने वाले कदमों की जानकारी कोर्ट को दी। सरकार की तरफ से दायर जवाब में कहा गया कि हर राज्य में साइबर पुलिस यूनिट का गठन किया गया है, ताकि चाइल्ड पॉर्न और रेप विडियो के खिलाफ हम सख्ती से कदम उठाएं।
 

No image

कर्नाटक में सियासी घमासान के बाद आखिरकार कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन के हाथ सत्ता की चाबी लग ही गई है। अब इस गठबंधन सरकार की अगली मुसीबत सत्ता में भागीदारी और मंत्रियों के विभाग बंटवारे को लेकर है। सत्ता में भागीदारी को लेकर कांग्रेस अब फूंक-फूंककर कदम रख रही है और अपनी तरफ से कोई बेताबी नहीं दिखा रही।सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस इस वक्त जेडीएस को पूरा समर्थन देने के मूड में है और अपने क्षेत्रीय सहयोगी के साथ ज्यादा कड़ाई से अपनी शर्तें मनवाने का रिस्क नहीं लेना चाहती है। देश की सबसे पुरानी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा, हम कर्नाटक में गठबंधन में रहकर स्थिरता के साथ सरकार चलाना हैं। सत्ता के बंटवारे और मंत्रियों के विभागों को लेकर हम किसी तरह का दबाव सहयोगी पर नहीं बनाना चाहते हैं।


कुमारस्वामी को पूर्ण सहयोग देने के लिए कांग्रेस के कुछ वरिष्ठ नेताओं ने यह फैसला किया है कि कुमारस्वामी के शपथ ग्रहण में कोई अन्य कांग्रेस नेता मंत्री पद की शपथ लेंगे। कांग्रेस की कोशिश है कि इस समारोह और मुख्यमंत्री पद की शपथ का आनंद कुमारस्वामी पूरी तरह से लें और उन पर कोई अतिरिक्त औपचारिक दबाव न रहे। इसके साथ ही सूत्रों के हवाले से पता चला है कि कांग्रेस का इरादा पहले की तरह 20:20 सत्ता की कुर्सी बंटवारे का भी नहीं है और ऐसी कोई शर्त भी जेडीएस के सामने नहीं रखी जाएगी।बता दें कि 2006 में गठबंधन की सरकार में कांग्रेस और जेडीएस ने मुख्यमंत्री की कुर्सी के बंटवारे का आधार तय किया था। सूत्रों के हवाले से पता चला है कि 2019 लोकसभा चुनावों से पहले कांग्रेस की कोशिश है कि गठबंधन को मजबूत किया जाए और कर्नाटक की जनता को स्थायी सरकार का भरोसा दिया जा सके। हालांकि, कुमारस्वामी ने कहा है कि दोनों पार्टियों के वरिष्ठ नेता मिल-बैठकर मंत्रियों के विभागों के बंटवारे को लेकर फैसला करेंगे।

कुमारस्वामी ने कहा, कांग्रेस के विधायक मंत्री पद की 21 मई को शपथ ग्रहण करेंगे या नहीं इस पर अभी फैसला नहीं हुआ है। माना जा रहा है कि कुमारस्वामी केपीसीसी प्रेजिडेंट जी परमेश्वरा को उपमुख्यमंत्री पद सौंप सकते हैं। जेडीएस ने दलित या मुस्लिम समुदाय के किसी नेता को डेप्युटी सीएम बनाने का पहले वादा भी किया था। जेडीएस की तरफ से कुमारस्वामी के भाई एचडी रेवाना और सिद्धारमैया को चामुंडेश्वरी सीट पर हराने वाले जी टी देवेगौड़ा को भी मंत्री बनाया जाना लगभग तय है। कांग्रेस से डी. के. शिवकुमार, एम बी पाटिल, प्रियांक खडग़े और आर वी देशपांडे का नाम मंत्री पद की रेस में आगे चल रहा है। माना जा रहा है कि 33 विभागों में से 12 से 15 विभाग जेडीएस को मिल सकते हैं।
 

No image

कर्नाटक में 12 मई को हुए विधानसभा चुनाव के बाद शुरू हुए राजनीतिक ड्रामे का अंत मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के साथ हो गया है. येदियुरप्पा ने सदन में बहुमत परीक्षण से पहले ही पर्याप्त संख्या नहीं होने का हवाला देकर इस्तीफा दे दिया. वहीं जेडी (एस) नेता एच.डी. कुमारस्वामी ने शनिवार को कहा कि कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने उन्हें सरकार गठन के लिए आमंत्रित किया है. बुधवार को वो मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे.

कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाईवाला से मुलाकात करने के बाद कुमारस्वामी ने कहा, हमें पता है कि बहुमत साबित करने के लिए हमारे पास पर्याप्त विधायक हैं और सभी विधायक शपथ ग्रहण समारोह का हिस्सा होंगे. सभी से चर्चा के बाद मंत्रिमंडल का गठन किया जाएगा.

शपथ समारोह में थर्ड फंड की आहट कुमारस्वामी के शपथ समारोह में बीएसपी प्रमुख मायावती, तृणमूल कांग्रेस प्रमुख ममता बनर्जी, सपा नेता अखिलेश यादव, एनसीपी प्रमुख शरद पवार, टीआरएस प्रमुख और तेलंगाना के सीएम केसीआर, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू, डीएमके नेताओं, राजद नेता तेजस्वी यादव और आरएलडी नेता अजित सिंह को आमंत्रित किया गया है. कुमारस्वामी ने ये भी बताया कि उन्होंने पर्सनली राहुल गांधी और सोनिया गांधी को भी आने का न्योता दिया है.

राहुल गांधी का हमलाकांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मुख्यमंत्री बी.एस. येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद बीजेपी और राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) पर निशाना साधा और कहा कि उम्मीद है कि उन्हें सबक मिल गया होगा कि संविधान, उच्च संस्थानों और देश की इच्छाशक्ति का अनादर नहीं किया जा सकता.
कर्नाटक का सियासी ड्रामाकर्नाटक की राजनीति में बीते तीन दिन बेहद रोमांचक

रहे. 15 मई को चुनाव नतीजे घोषित होने के बाद कांग्रेस ने सरकार बनाने में जेडीएस को समर्थन देने का ऐलान कर दिया. बुधवार को दोनों पक्षों ने राज्यपाल के सामने सरकार बनाने का दावा पेश किया. राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता दिया. इसके खिलाफ कांग्रेस से सुप्रीम कोर्ट में याचिका लगाई. आधी रात को हुई सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि येदियुरप्पा को शपथ लेने से रोका नहीं जा सकता है, हालांकि कोर्ट ने शुक्रवार को येदियुरप्पा के समर्थन पत्र की कॉपी पेश करने को कहा . इसके बाद येदियुरप्पा ने गुरुवार को सीएम पद की शपथ ली. शपथ लेने के एक घंटे के अंदर ही येदियुरप्पा ने बेंगलुरु के ईगलटन रिसॉर्ट से सिक्योरिटी हटवा दी. इस रिसॉर्ट में कांग्रेस विधायकों को ठहराया गया था.

भावुक हुए येदियुरप्पासदन में इस्तीफा से पहले अपने भावुक भाषण में येदियुरप्पा ने कहा, अगर मैं सत्ता छोड़ता हूं, तो भी मेरा कुछ नहीं बिगड़ेगा. मेरा जीवन जनता के लिए है.अपने 15 मिनट के भाषण में 75 वर्षीय भाजपा नेता ने कहा कि ऐसा कोई रास्ता नहीं बचा था, जिससे कर्नाटक के लोगों की सेवा की जाए, क्योंकि कांग्रेस ने अपने विधायकों को उनके परिजनों से भी बातचीत करने नहीं दिया.
उन्होंने कहा, पिछले पांच वर्षो में सैकड़ों किसानों ने यहां आत्महत्या की है. कांग्रेस भारत की आजादी के 70 वर्षो बाद भी किसानों के लिए सिंचाई का पानी उपलब्ध नहीं करा सकी. मेरा उद्देश्य अंतिम सांस तक किसानों की मदद करना है. मैं इसके अलावा दलितों, पिछड़े वर्गो, कमजोर वर्गो और गरीबों के लिए काम करता रहूंगा.
येदियुरप्पा ने कहा, मेरा सपना था कि नरेंद्र मोदी के प्रधानमंत्री रहते हुए मैं राज्य का मुख्यमंत्री बनूं. अगर लोगों ने हमें 104 के बदले 113 सीटें दी होती तो, हम इस राज्य को स्वर्ग बना देते. लेकिन मैं अपनी अंतिम सांस तक राज्य के लिए लड़ता रहूंगा. हम लोकसभा की सभी 28 सीटों पर जीत दर्ज करेंगे और अगले विधानसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी के लिए 150 सीटों पर जीत दर्ज करेंगे.
 

No image

देश के राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद रविवार को पहली बार राजधानी शिमला पहुंचेंगे। वह पांच दिवसीय प्रवास पर शिमला आ रहे हैं। इस दौरान राष्ट्रपति सोलन जिले के नौणी विश्वविद्यालय भी जाएंगे। राष्ट्रपति के स्वागत के लिए प्रशासन की ओर से तैयारियां पूरी कर ली गई हैं। रविवार दोपहर एक बजे वायुसेना के हैलीकाप्टर से राष्ट्रपति कल्याणी हैलीपैड पर उतरेंगे। उनके स्वागत के लिए मुख्यमंत्री सहित तमाम मंत्री, विधायक व विशिष्ट गणमान्य मौजूद रहेंगे।

मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर खुद राष्ट्रपति की अगुवाई के लिए मौजूद रहेंगे। कल्याणी हैलीपैड से वह राष्ट्रपति निवास रिट्रीट के लिए रवाना होंगे। रविवार शाम आठ बजे राज्यपाल आचार्य देवव्रत राष्ट्रपति के सम्मान में रात्रि भोज देंगे। अपने दौरे के दूसरे दिन 21 मई को राष्ट्रपति डा. वाई.एस. परमार बागवानी एवं वानिकी विश्वविद्यालय नौणी जिला सोलन के दीक्षांत समारोह में भाग लेंगे। 

नौणी से राष्ट्रपति मशोबरा स्थित अपने आवास पर पहुंचेंगे, जहां पर मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर और उनके मंत्रिमंडल सहयोगियों के साथ चाय लेंगे। राष्ट्रपति कोविंद 22 मई को हिमाचल प्रदेश उच्च न्यायालय के मुख्य न्यायाधीश एवं अन्य न्यायाधीशों के साथ सुबह का नाश्ता करेंगे। इसके बाद राज्य सरकार की तरफ से होटल पीटरहॉफ में उनका नागरिक सम्मान किया जाएगा। रिट्रीट में 23 मई को एट होम का आयोजन होगा। इसके बाद 24 मई को सुबह राष्ट्रपति वापस नई दिल्ली लौट जाएंगे। उनके दौरे के दौरान राज्य सरकार के सबसे वरिष्ठ मंत्री महेंद्र सिंह मनिस्टर इन वेटिंग रहेंगे।

राष्ट्रपति के दौरे को देखते हुए शिमला और सोलन में चप्पे-चप्पे पर सुरक्षा जवान तैनात होंगे। सुरक्षा को लेकर पुलिस के वरिष्ठ अधिकारियों व प्रशासनिक अधिकारियों के बीच बैठक हो चुकी है। मुख्यमंत्री ने स्वयं सुरक्षा व अन्य तैयारियों को लेकर समीक्षा बैठक की है। उन्होंने सभी अधिकारियों को दौरे के दौरान उचित तैयारियां करने के निर्देश दिए हैं। राष्ट्रपति बनने के बाद रामनाथ कोविंद पहली बार शिमला आ रहे हैं। हालांकि वह वर्ष 2017 में भी शिमला आए थे, लेकिन उस दौरान वह देश के राष्ट्रपति नहीं थे। इसलिए डा कोविंद को छराबडा स्थित राष्ट्रपति निवास में ठहरने की अनुमति नहीं मिली थी।
 

No image

पेट्रोल और डीजल की कीमतें रविवार को अपने रेकॉर्ड स्तर पर पहुंच गईं। तेल कंपनियों की ओर से सुबह 6 बजे जारी रेट लिस्ट के मुताबिक दिल्ली में पेट्रोल 33 पैसे महंगा होते हुए 76.24 रुपये का हो गया, जबकि डीजल भी अब तक के अपने इतिहास में सबसे महंगा होते हुए 67.57 रुपये के स्तर पर पहुंच गया है। बीते करीब 4 सप्ताह से अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेल कीमतों के बढऩे से पेट्रोल और डीजल की महंगाई बढ़ रही है। स्थानीय सेल्स टैक्स और वैट के अनुसार हर राज्य में पेट्रोल और डीजल की कीमत अलग-अलग होती है। देश के सभी प्रदेशों की राजधानियों और मेट्रो शहरों की तुलना में दिल्ली में यह कीमतें फिर भी सबसे कम हैं।

इसके बावजूद रविवार को 33 पैसे के इजाफे के साथ दिल्ली में पेट्रोल अब तक के सबसे ऊंचे स्तर 76.24 रुपये पर पहुंच गया। इससे पहले दिल्ली में पेट्रोल की सबसे ज्यादा कीमत 76.06 रुपये 14 सितंबर, 2013 को हुई थी। इसके अलावा डीजल की कीमतें भी अब तक के अपने सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच गई हैं। कर्नाटक चुनाव से 19 दिन पहले से कीमतों में उतार-चढ़ाव पर लगी रोक 14 मई को खत्म हुई थी और तब से अब तक 7 दिनों में कीमतों में लगातार इजाफा जारी है। करीब एक सप्ताह में ही पेट्रोल की कीमत में 1.61 रुपये प्रति लीटर और डीजल में 1.64 रुपये प्रति लीटर का इजाफा हो गया है।

मुंबई में पेट्रोल सबसे महंगा 84.07 रुपये में देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल की कीमत सबसे अधिक 84.07 रुपये लीटर है, जबकि भोपाल में यह कीमत 81.83 रुपये प्रति लीटर है। पटना में पेट्रोल 81.73 रुपये में बिक रहा है। हैदराबाद में 80.76 और श्रीनगर में 80.35 रुपये में पेट्रोल मिल रहा है। कोलकाता में 78.91 और चेन्नै में 79.13 रुपये में पेट्रोल की बिक्री हो रही है। सबसे सस्ता पेट्रोल गोवा की राजधानी पणजी में है, जहां 70.26 रुपये में ही मिल रहा है। 

हैदराबाद में सबसे महंगा, पोर्ट ब्लेयर में सबसे सस्ता डीजल डीजल की बात करें तो हैदराबाद में स्थानीय करों के चलते डीजल सबसे महंगा 73.45 रुपये प्रति लीटर में मिल रहा है। त्रिवेंद्रम में डीजल 73.34 रुपये में मिल रहा है। इसके अलावा रायपुर, गांधीनगर, भुवनेश्वर, पटना, जयपुर, भोपाल, रांची और श्रीनगर समेत कई अन्य शहरों में डीजल की कीमत 70 रुपये प्रति लीटर से अधिक चल रही है। नोटिफिकेशन के मुताबिक पोर्ट ब्लेयर में सबसे सस्ता 63.35 रुपये में डीजल मिल रहा है। मुंबई में इसकी कीमत 71.94 रुपये है।
 

No image

वेस्ट दिल्ली के कीर्ति नगर थाना एरिया में 14 साल की एक बच्ची के साथ 25 साल का युवक एक साल से रेप कर रहा था। वह नाबालिग को डराता-धमकाता था। उसके विरोध करने पर नाबालिग को पैरंट्स का मर्डर करने की धमकी देता था। मामले का पता तब चला, जब

नाबालिग प्रेग्नेंट हो गई। पुलिस ने पॉक्सो ऐक्ट के तहत मामला दर्ज किया है।
जानकारी के मुताबिक, एक दिन अचानक उसकी तबीयत खराब हो गई। पैरंट्स अस्पताल लेकर गए। वहां पता चला कि बच्ची प्रेग्नेंट है। इसके बाद उससे जानकारी ली गई। काफी झिझक के बाद बच्ची ने आपबीती सुनाई। परिवार कुछ समय पहले ही कीर्ति नगर इंडस्ट्रियल एरिया में शिफ्ट हो गया था। इससे पहले वह मोती नगर एरिया में रहते था। बताया जाता है कि आरोपी मोती नगर से ही उन्हें जानता था और पड़ोसी था।

मोती नगर में उसने बच्ची को डराकर उसका रेप किया। वह उसके स्कूल में भी पहुंच जाता था। हालांकि, अभी यह साफ नहीं हो पाया है कि क्या आरोपी ने बच्ची के साथ स्कूल में भी गंदी हरकत की थी। इसकी जांच कराई जा रही है लेकिन अभी तक की जांच में पता लगा है कि वह बच्ची को धमकाकर अपने घर या कहीं और ले जाता था। शुक्रवार रात बच्ची की तबीयत अचानक बिगड़ गई। बच्ची को अस्पताल ले जाने पर मामले का खुलासा हुआ। पुलिस का कहना है कि आरोपी के बारे में काफी जानकारी है। वह फरार है, जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
 

No image

छत्तीसगढ़ की राजधानी में शनिवार को दिन भर तेज गर्मी पड़ी, तो प्रदेश में कहीं- कहीं तेज हवा के साथ बारिश हुई । राजधानी रायपुर में अधिकतम तापमान 42.8 डिग्री रहा । जबकि प्रदेश में सबसे अधिकतम तापमान माना एयरपोर्ट में 43.8 डिग्री रहा। राजधानी में पूरा दिन बादल छाए रहे। वहीं अंबिकापुर और पेंड्रा रोड़ में गरज-चमक के साथ बारिश हुई।

मौसम विभाग के अनुसार 0. 9 किलो मीटर की ऊंचाई तक द्रोणिका बनी हुई है 
मौसम विभाग के अनुसार दक्षिण उत्तर प्रदेश और आसपास के क्षेत्र पर बने ऊपरी चक्रवात से दक्षिणी बिहार और उत्तरी पश्चिम बंगाल होते हुए 0. 9 किलो मीटर की ऊंचाई तक द्रोणिका बनी हुई है। इस कारण से उत्तरी इलाके में गरज चमक के साथ बारिश हो रही है। 


आज भी छत्तीसगढ़ के सुदूर दक्षिणी भाग में कहीं कहीं हल्की वर्षा या गरज चमक के साथ छीटें पड़ने की संभावना है। राजधानी में आकाश मुख्यतः साफ रहेगा। दोपहर और शाम को आंशिक मेघमय रहने की संभावना है। साथ ही अधिकतम तापमान 43 डिग्री के आसपास रहेगा।


18 मई से नौतपा शुरू हो चुका है। इसके दौरान गर्मी में सूर्य देवता का कहर कुछ ज्यादा ही बढ़ जाता है। लेकिन इस साल रोज होने वाली बारिश और तेज आंधियों के कारण इसका असर थोड़ा कम देखने को मिला है।


स्काइमेट के पूर्वानुमान के अनुसार इस बार मानसून समय से पहले ही दस्तक दे सकता है। मिली जानकारी के अनुसार इस बार मानसून सबसे पहले केरल पहुंचेगा। 28 मई को ही वहां मानसून की शुरुआत हो सकती है। तो वही दिल्ली लखनऊ और पटना पहुँचने में इसे समय लगेगा।

No image

दुनियाभर को समय बताने वाली घड़ी की सुई भले ही बायीं से दायीं ओर घूमती हो पर छत्तीसगढ़ के कोरबा स्थित आदिवासी शक्ति पीठ से जुड़े गोंड आदिवासी परिवारों की घड़ी उलटी यानी दायीं से बायीं ओर चलती है। जबसे इन्होंने घड़ी का इस्तेमाल शुरू किया है, यह सिलसिला तभी से इसी तरह चला आ रहा है।

गोंड़ समुदाय के आदिवासी परिवारों ने इसे प्राकृतिक क्रम बताते हुए गोंडवाना टाइम्स का नाम दिया है। केवल कोरबा में ही हजारों परिवार इस अनोखी घड़ी का प्रयोग हर रोज वक्त देखने के लिए करते हैं। गोंडवाना टाइम्स की इस उलटी घड़ी के कांसेप्ट के पीछे की वजह भी अनोखी है। आदिवासी शक्ति पीठ के पुजारी केपी प्रधान ने बताया कि पृथ्वी भी दायीं से बायीं ओर घूर्णन करती है। सूर्य, चंद्रमा और तारे भी उसी दिशा में घूमते हुए अंतरिक्ष की सैर कर रहे हैं।

जल स्त्रोतों में पड़ने वाली भंवर हो या किसी पेड़ के तले से लिपटी बेल, उन सभी की दिशा यही होती है। इस मान्यता का अनुपालन करते हुए शादी के वक्त अग्नि के समक्ष दूल्हा- दुल्हन के सात फेरे भी दाहिने से बायीं ओर घूमकर पूरे किए जाते हैं। इनका मानना है कि प्रकृति के विपरीत दुनिया में प्रचलित घड़ियां उलटी दिशा में घूम रहीं। आदिवासी समाज के अध्यक्ष व बीएसएनएल कोरबा के पूर्व डीई सीआर राज ने बताया कि प्रकृति का चक्र जिस दिशा का अनुपालन कर रहा है, भला वे उसके विपरीत आचरण कैसे कर सकते हैं।

उन्होंने बताया कि महुआ, परसा व अन्य वृक्ष ही उनके आराध्य हैं। केवल जिले में ही दस हजार से ज्यादा परिवार इस तरह की उलटी घड़ी इस्तेमाल कर रहे हैं। आदिवासी शक्ति पीठ बुधवारी बाजार से जुड़े आदिवासी समाज के करीब 32 समुदायों में यही घड़ी प्रचलित है, जिसका इस्तेमाल वे दशकों से करते आ रहे हैं। गोंडवाना टाइम्स घड़ी में कुछ मंत्र भी लिखे गए हैं।

इस विशेष घड़ी का निर्माण खासतौर पर आर्डर देकर कराया जाता है। समुदाय की ओर से समय-समय पर अपनी आवश्यता के अनुरूप निजी इस्तेमाल के लिए और समय-समय पर होने वाले सामाजिक कार्यक्रमों में आने वाले सदस्यों को प्रदान करने के लिए इसे बनवाया जाता है।

No image

एनआईटी हरियाणा ( नेशनल इंस्टीटयूट ऑफ टेक्नोलॉजी, कुरुक्षेत्र, हरियाणा ) ने जूनियर रिसर्च फेलोशिप (जेआरएफ) के लिए आवेदन पत्र मांगे हैं। इन पदों के लिए योग्य उम्मीदवार 31 मई 2018 तक अपना आवेदन भेज सकते हैं। अधिक जानकारी के लिए इस अधिसूचना लिंक पर क्लिक करें।

पद नाम -

जूनियर रिसर्च फेलो

रिसर्च का विषय -

“Photoinduced release of therapeutic Nitiric Oxide (NO) from functionalized self assembled nanovesicles”

योग्यता-

रसायन विज्ञान में एमएससी होना चाहिए, नेट और गेट पास आवेदकों के वरीयता दी जाएगी। इसके साथ ही रिसर्च के फील्ड में काम करने का अनुभव होना चाहिए।

वेतन-भत्ता -

25,000 रु. प्रति माह

अवधि -

36 माह ( 3 साल )

चयन प्रक्रिया -

चयन लिखित परीक्षा और इंटरव्यू के माध्यम से होगा।

एेसे करें आवेदन -

योग्य उम्मीदवार सभी सेल्फ अटेस्टेड टेस्टीमोनियल 31 मई 2018 तक ईमेल या डाक द्वारा भेज आवेदन कर सकते हैं।

No image

रायपुर . छत्तीसगढ़ में नक्सलियों का सफाया करने महिला जवान समेत बस्तरिया बटालियन तैयार है। बस्तरिया बटालियन की पहली खेप पूरी ट्रेनिंग के बाद नक्सलियों को उनके ही मांद में घुसकर मुंहतोड़ जवाब देगी। बस्तरिया बटालियन के पहले बैच में अधिकारियों समेत 743 जवान शामिल हैं। इनमें 189 महिलाएं भी है। केन्द्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह 21 मई को अंबिकापुर में बस्तरिया बटालियन के पासिंग आउट परेड की सलामी लेंगे।


बस्तरिया बटालियन के जवानों को नक्सल से प्रभावित इलाकों में काम करने के लिए विशेष ट्रेनिंग दी गई है। इस ट्रेनिंग में जवानों को जंगल युद्ध, हथियार चलाने, और बिना शस्त्र लड़ाई की ट्रेनिंग दी गई है। इस बटालियन के जवान स्थानीय भाषा जानते हैं और इसके माध्यम से वे वहां रहने वाले लोगों से आसानी से संपर्क कायम कर सकते हैं।

चूंकि इससे पहले क्षेत्र में तैनात सेना के जवानों पर दुष्कर्म और छेड़खानी के आरोप लग चुके हैं। जिस कारण स्थानीय लोग सेना से दूरी बनाए रखते हैं। जब ये बस्तरिया बटालियन के जवान सीआरपीएफ के साथ होंगे तो नक्सली घटनाओं पर लगाम लगेगी। साथ ही बटालियन में महिला सैनिक होने के कारण भी स्थानीय लोग भी सेना से बात करने में हिचकिचाएंगे नहीं।


केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह दो दिन के दौरे पर 20 मई को छत्तीसगढ़ पहुंच रहे हैं। वे सरगुजा जिले के केपीग्राम स्थित केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के प्रशिक्षण केंद्र जाएंगे। वहां बस्तरिया बटालियन के पासिंग आउट परेड की सलामी लेंगे। आयोजन में मुख्यमंत्री डॉ. रमन सिंह भी उनके साथ होंगे।


केंद्रीय गृहमंत्री तय कार्यक्रम के मुताबिक 20 मई को दोपहर बाद सतना से हेलीकॉप्टर द्वारा अम्बिकापुर के दरिमा हवाईपट्टी पहुंचेंगे। वहां से वे सीआरपीएफ की 62वीं बटालियन के मुख्यालय पहुंचकर अफसरों-जवानों से मुलाकात करेंगे। भोजन और रात्रि विश्राम वहीं होगा। अगले दिन 21 मई को पासिंग आउट परेड की सलामी लेंगे।

इसके बाद रायपुर आकर दोपहर 2.30 बजे से मुख्यमंत्री निवास में समीक्षा बैठक लेंगे। मालूम हो कि अक्टूबर में बस्तरिया बटालियन की भर्ती प्रक्रिया शुरू की गई थी। वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इस बस्तरिया बटालियन के जवानों को तुरंत ही सुकमा, दंतेवाड़ा और बीजापुर जैसे माओवाद प्रभावित इलाकों में तैनात किया जाएगा। इसमें स्थानीय की ही भर्ती की गई है।

No image

मध्य प्रदेश के उज्जैन में ज्योतिर्लिंग महाकाल मंदिर में 7 मई को केक काटने की घटना के मामले में दो महिलाओं के खिलाफ दंड प्रक्रिया संहिता की धारा 107 व 118 के तहत शनिवार को प्रकरण पंजीबद्ध किया गया है।

आरोपित महिलाओं को 25 मई को कोर्ट में पेश होने को कहा गया है। साथ ही 1 लाख रुपए की प्रतिभूति व बंधपत्र प्रस्तुत करने के निर्देश भी दिए हैं। ऐसा नहीं करने पर एकपक्षीय कार्रवाई की जाएगी।

मालूम हो, शिप्रा स्लीमिंग सेंटर की संचालक नंदिनी जोशी व साधना उपाध्याय सहित अन्य महिलाओं ने किसी के जन्मदिन पर नंदी हॉल में केक काटा था। घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई थी। मीडिया में समाचार प्रकाशित होने के बाद मंदिर प्रबंध समिति ने एक प्रतिवेदन एडीएम के समक्ष पेश किया।

एडीएम ने जोशी और उपाध्याय को नोटिस जारी कर केस दर्ज करने की सूचना दी है। नोटिस में कहा गया है कि इस कृत्य से मंदिर की परंपरा का उल्लंघन हुआ है। जवाब पेश करें कि क्यों न आपको एक माह के लिए मंदिर में प्रतिबंधित कर दिया जाए।

No image

उत्तर प्रदेश के संभल जिले में शनिवार रात घर से निकले 'प्रेमी युगल' का शव रविवार सुबह पेड़ से लटकता मिला. पुलिस प्रेमी युगल की मौत को आत्महत्या मान रही है, जबकि इलाके में ऑनर कीलिंग की चर्चा है. ग्रामीणों की सूचना पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया. पुलिस घटना की जांच में जुट गई है.

घटना गुन्नौर कोतवाली के करिया मई गांव की है. पुलिस के अनुसार, करिया मई गांव में एक युवक और एक युवती के बीच काफी समय से प्रेम-प्रसंग चल रहा था. परिवार के लोग इस रिश्ते के लिए तैयार नहीं थे. बताया जाता है कि दोनों अपने-अपने घर से निकले. इसके बाद उनका पता नहीं चल सका आज सुबह गांव के बाहर एक पेड़ में दोनों के शव लटकते मिले. पुलिस ने दोनों की पहचान कर ली है. पुलिस की जांच में लड़की की पहचान गुन्नौर इलाके की नीरज और लड़का धनारी इलाके के रहने वाले सुरेश के रूप में हुई.

पुलिस का कहना है कि प्रेम-प्रसंग के चलते दोनों ने आत्महत्या की है. मगर इलाके में ऑनर कीलिंग की बात कही जा रही है. फिलहाल पुलिस घटना की जांच कर रही है.

No image

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के असम दौरे से पहले आरटीआई कार्यकर्ता व किसान निकाय के नेता अखिल गोगोई को रविवार सुबह नागरिकता (संशोधन) विधेयक, 2016 के खिलाफ विरोध करने पर गिरफ्तार कर लिया गया। शाह का रविवार को असम की राजधानी पहुंचने का कार्यक्रम है, जहां वह भारतीय जनता पार्टी के नेतृत्व वाले नॉर्थ ईस्ट डेमोक्रेटिक अलायंस (नेईडीए) के नेताओं को संबोधित करेंगे। 

कृषक मुक्ति संग्राम समिति (केएमएसएस) का नेत़ृत्व करने वाले गोगोई ने शनिवार को असम के लोगों से नागरिकता (संशोधन) विधेयक, 2016 को लेकर भाजपा अध्यक्ष को मजबूत संदेश देने के लिए शाह के दौरे के खिलाफ काले झंडे दिखाने का आग्रह किया था। गोगोई जब श्रीमंत शंकरदेव कलाक्षेत्र, जहां एनईडीए की बैठक होनी है, के पास विरोध प्रदर्शन कर रहे थे तो पुलिस ने उन्हें गिरफ्तार कर लिया। 

No image

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि कुंभ 2019 प्रयाग की धरती पर दुनिया का सबसे बड़ा सांस्कृतिक और अछ्वुत आयोजन साबित होगा। मुख्यमंत्री अखाड़ा परिषद की बैठक और कुंभ मेले के लिए शहर में चल रहे कार्यों की समीक्षा बैठक में एक दिवसीय दौरे पर आए थे। उन्होंने कहा कि कुंभ भव्य और दिव्य आयोजन होगा जिसमें देश दुनिया से आने वाले श्रद्धालुओं के आतिथ्य के लिए न केवल प्रयाग के नागरिक बल्कि अखाडों के संत, महात्मा और प्रशासन के लोग भी पूरे मनोयोग से तैयार रहें।

उन्होंने कहा कि इस आयोजन के माध्यम से हमें पूरे भारत की छवि को दुनिया के सामने निखारने का एक सुअवसर और सौभाग्य प्राप्त होगा। इस आयोजन के द्वारा हमें पूरे भारत को एक स्वच्छ तथा सुसंस्कृत देश के रूप में पूरी दुनिया को दिखाना होगा।  मुख्यमंत्री ने कहा कि इस बार 15 दिसम्बर से 15 मार्च के बीच कुंभ के दौरान देश के 6 लाख गांवों के लोगों के साथ दुनिया के 192 देशों के लोग इसमें भाग लेंगे। इस लिए इस आयोजन को सजाने की तैयारी अभी से पूरी कर ली जाए। उन्होंने कहा कि केवल मेला क्षेत्र में ही नहीं बल्कि पूरे प्रयाग राज में कहीं गंदगी नहीं रहे। हर चौराहा विशिष्ट सांस्कृतिक कार्यक्रमों से गुलजार रहे तथा अभी संगम तट को स्वच्छ रखने की व्यवस्था की जाए।

प्रयागराज में जितने भी धर्मस्थल हैं उनके विकास की योजना इस तरह बनाई जाए कि उनको देखकर हर पर्यटक और तीर्थयात्री को कुंभ की दिव्यता का अछ्वुद आभास हो। कुंभ मेला के साथ साथ प्रयाग नगर को भी संवारने और विकसित करने का कार्य किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि कुंभ के दौरान गंगा और यमुना में श्रद्धालुओं को स्नान करने के लिए पूरी तरह शुद्ध जल मिलेगा। किसी नदी में कोई कचरा प्रवाहित नहीं होगा। उन्होंने कहा कि पूरे मेला क्षेत्र और प्रयागराज में सीसीटीवी तथा ड्रोन कैमरों से निगरानी की जाएगी। सुरक्षा के व्यापक इंतजाम होंगे। फिर भी सुरक्षा के प्रति जागरूक रहना हर व्यक्ति कर कर्तव्य है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कुंभ में आने वाले श्रद्धालुओं को कम से कम पैदल चलना पड़े इसके लिए बनाई जाने वाली पार्किंग मेला क्षेत्र के 5 किलोमीटर के भीतर ही हो। कुंभ में सभी 20 सेक्टरों में 20 हजार श्रद्धालुओं के विश्राम के लिए पहली बार यात्री निवास उपलब्ध कराए जाएंगे। इसमें उन्हें सभी प्रकार की मौलिक सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी। योगी ने कहा कि प्रयाग को देश के हर कोने से रेल और सड़क मार्ग से जोड़ा जा रहा है। इसलिए कुंभ अवधि के दौरान प्रयाग आने वाले मार्गों पर टोल टैक्स न लिए जाएं। प्रशासनिक अधिकारियों से कहा कि सभी विकास कार्य गुणवत्ता के साथ समय से पूरा किया जाए।

No image

समाजवादी पार्टी (सपा) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव में मिली करारी शिकस्त के बाद केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार को नैतिकता के आधार पर इस्तीफा दे देना चाहिए। यादव ने ट्वीट किया कि आज का दिन भारतीय राजनीति में धनबल की जगह जनमत की जीत का दिन है। सबको खरीद लेने का दावा करने वालों को आज ये सबक मिल गया है कि अभी भी भारत की राजनीति में ऐसे लोग बाकी हैं, जो उनकी तरह राजनीति को कारोबार नहीं मानते हैं। नैतिक रूप से तो केंद्र की सरकार को भी इस्तीफ़ा दे देना चाहिए।

इस बीच कर्नाटक में मिली जीत से उत्साहित कांग्रेस के नेताओं और कार्यकर्ताओं ने जमकर जश्न मनाया। पार्टी के प्रदेश मुख्यालय में मिठाईयां बांटी गईं। कांग्रेस के प्रदेश मुख्यालय में  बड़ी संख्या में नेता तथा कार्यकर्ता एकत्र थे। सभी की निगाह टीवी पर जमी थीं। जैसे ही बीएस येदियुरप्पा ने विधानसभा भवन में अपने भाषण के बाद इस्तीफा देने का ऐलान किया, वैसे ही यहां पर कांग्रेसी झूम उठे।

भारतीय कम्यूनिस्ट पार्टी (माक्र्सवादी लेनिन) ने दावा किया कि मुख्यमंत्री बी एस येदुरप्पा का इस्तीफा प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह की हार है। पार्टी के राज्य सचिव सुधाकर यादव ने बयान जारी कर कहा कि लोकतंत्र को अगवा करने का भाजपा का प्रयास विफल रहा और आखिरकार जनता की जीत हुई। पूरे प्रकरण में कर्नाटक के राज्यपाल का चेहरा भी उजागर हो गया।

 

No image

कर्नाटक के किंग के तौर पर कुमार स्वामी लेंगे शपथ। आज दिल्ली में हो सकता है डिप्टी सीएम के पद पर फैसला। राजधानी में होगी बैठक, कर्नाटक के ट्विस्ट के बीच अभी टला नहीं तूफान का खतरा, ऐसी ही पांच बड़ी खबरें देखिए बस एक क्लिक पर...


1. कर्नाटक में अब जेडीएस-कांग्रेस की सरकार बनने जा रही है। इस गठबंधन को राज्यपाल वजुभाई वाला ने सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है। अब बुधवार को जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। वहीं कुमारस्‍वामी अपने शपथ ग्रहण समारोह में शामिल होने के लिए सोनिया गांधी और राहुल गांधी को आमंत्रण देने के लिए आज खुद दिल्‍ली आ सकते हैं। कांग्रेस और जेडीएस के नेताओं के बीच आज बैठक हो सकती है।कर्नाटक के डिप्‍टी सीएम जैसे कई अहम मुद्दों पर विचार होने की उम्मीद जताई जा रही है। मुमकिन है कि डिप्‍टी सीएम का पद कांग्रेस को मिले, हालांकि कांग्रेस ने जेडीएस को बिना कोई शर्त समर्थन दिया है। राहुल गांधी के साथ बैठक में पार्टी नेता यह फैसला करेंगे कि कुमारस्वामी के नेतृत्व वाली सरकार में कांग्रेस के कुल कितने मंत्री होंगे।

थम गया कर्नाटक का सियासी तूफान, तय हुआ सरकार बनाने का फार्मूला

2. कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद अब जेडीएस-कांग्रेस मिलकर सरकार बनाने जा रहे हैं. सूबे के राज्यपाल वजुभाई वाला ने जेडीएस-कांग्रेस गठबंधन को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है. अब बुधवार को जेडीएस के एचडी कुमारस्वामी राज्य के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. पहले सोमवार को शपथ लेने की बात कही जा रही थी, लेकिन बाद में इसमें परिवर्तन कर दिया गया. लिहाजा अब शपथ ग्रहण समारोह सोमवार की बजाय बुधवार को होगा.

कुमारस्वामी के शपथग्रहण समारोह में दिखेगा विपक्ष का शक्ति प्रदर्शन

3. उत्तर प्रदेश के कई शहरों में तेज हवाओं ने तबाही मचा दी है, कहीं बड़े-बड़े पेड़ जड़ से उखड़े तो कहीं तेज हवाओं के चलते कई शहर की रफ्तार पर ब्रेक लग गया। शनिवार शाम आए आंधी-तूफान से फिरोजाबाद में दर्दनाक हादसा हुआ. जिसने तीन लोगों की जिंदगी ही खत्म कर दी। खास बात यह है कि तूफान का खतर अभी भी टला नहीं है...मौसम विभाग की माने तो आज भी तूफान आ सकता है। दिल्ली एनसीआर समेत उत्तर भारत में एक बार फिर तूफान अपनी दस्तक दे सकता है।

4. केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह रविवार को छत्तीसगढ़ पहुंचेंगे। वह यहां सोमवार को आदिवासी युवाओं की नई बटालियन बस्तरिया को देश को सौपेंगे। इस बटालियन में 543 जवान हैं, जिसमें 189 महिलाएं शामिल हैं। पासिंग आउट परेड के बाद सीआरपीएफ की इस बटालियन की तैनाती नक्सल बेल्ट में की जाएगी। बटालियन को सुकमा, दंतेवाड़ा और बीजापुर जैसे नक्सल प्रभावित इलाकों में तत्काल नक्सल रोधी अभियानों में शामिल किया जाएगा। इन रंगरूटों का चयन अविभाजित बक्सर क्षेत्र के सुकमा, दंतेवाड़ा , नारायणपुर और बीजापुर जिलों से किया गया है। केंद्र सरकार ने पिछले साल च्बस्तरिया' बटालियन शुरू करने को मंजूरी दी थी

5. देश भर में दलित उत्पीड़न की बढ़ती घटनाओं के खिलाफ हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा आज दिल्ली में प्रदर्शन करेगी। बताया जा रहा है कि बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी की अगुवाई में संसद मार्ग पर आयोजित प्रदर्शन में समान शिक्षा प्रणाली लागू करने के साथ ही किसानों को खेती के लिए मुफ्त बिजली देने की मांग भी की जाएगी। प्रदर्शन के बाद बाद सभी राज्यों में पार्टी दलित अत्याचार सहित शिक्षा और किसान के हितों से जुड़े मुद्दों को लेकर सीधे लोगों के बीच जाएगी। आपको बता दें कि हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा (से.) के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जीतनराम मांझी के राजद के साथ जाने के फैसले से पार्टी दो धड़ों में बंट गई है। एक गुट मांझी के साथ है तो दूसरे गुट की अगुवाई पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह कर रहे हैं।

No image

साल के पांचवें महीने का 20वां दिन इतिहास के पन्नों में कुछ खास घटनाओं के लिए दर्ज है। 20 मई ही वह दिन था जब ब्रिटेन की पुलिस को अपराधियों के खिलाफ आंसू गैस के गोले छोडऩे की इजाजत दी गई। वह भी 20 मई का ही दिन था जब हबल स्पेस टेलीस्कोप ने पहली दफा अंतरिक्ष की तस्वीरें धरती पर भेजी थीं। देश दुनिया में 20 मई की तारीख पर दर्ज विभिन्न घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है

1293 : जापान के कामाकुरा में आए भूकंप में 30 हजार लोगों की मौत।
1609: विलियम शेक्सपियर की कविताओं के पहले संग्रह का लंदन में प्रकाशन। 1873: सान फ्रैंसिस्कों के कारोबारी लेवी स्ट्रॉस और दर्जी जेकब डेविस को जीन्स का पेटेंट मिला।
1891 : थॉमस एडिसन के प्रोटोटाइम काइनेटोस्कोप को नेशनल फेडरेशन के सामने पहली बार सार्वजनिक रूप से पेश किया।
1902 : क्यूबा को अमेरिका से आजादी मिली।
1927 : सऊदी अरब को ब्रिटेन से आजादी मिली।
1965 : ब्रिटिश पुलिस को अपराधियों के खिलाफ आंसू गैस के गोले छोडऩे की अनुमति मिली।
1990 : हबल स्पेस टेलीस्कोप ने अंतरिक्ष से पहली तस्वीरों भेजी।
1995 : रूस ने मानव रहित अंतरिक्ष यान का सफल प्रक्षेपण किया।
1998 : मल्टीबैरल रॉकेट प्रणाली ‘पिनाका’ का परीक्षण में हुआ।
 2003 : पाकिस्तान ने उग्रवादी संगठन हिज्बुल मुजाहिद्दीन पर प्रतिबंध लगाया।

No image

जमीन से हवा में मार करने वाली भारत की आकाश मिसाइल की धूम पूरी दुनिया में मची है। सटीक मारक क्षमता के चलते विश्व के कई देश इस मिसाइल को खरीदना चाहते हैं। उन्होंने इस मिसाइल को लेकर अपनी दिलचस्पी दिखाई है।

रक्षा एवं अनुसंधान संगठन (डीआरडीओ) द्वारा विकसित आकाश मिसाइल दुश्मनों के लड़ाकू विमान, क्रूज मिसाइल, हवा से जमीन पर मार करने वाली मिसाइलों के साथ बैलिस्टिक मिसाइल को भी मार गिराने में सक्षम है। 
डीआरडीओ के अध्यक्ष एस क्रिस्टोफर ने शनिवार को यह जानकारी दी। उनका कहना है, 'आकाश मिसाइल खरीदने को लेकर कई देशों से बातचीत चल रही है। उनकी ओर से आर्डर मिलने वाला है।' हालांकि उन्होंने इस बारे में ज्यादा ब्योरा देने से इन्कार कर दिया। क्रिस्टोफर ने बताया कि ब्रह्माोस मिसाइल को भी कई देश हासिल करना चाहते हैं।

कई देशों ने इस बारे में डीआरडीओ से पूछताछ की है। रक्षा एवं अनुसंधान संगठन प्रमुख के अनुसार, केंद्र की ओर से इस बार डीआरडीओ को 2,000 करोड़ रुपये का बजट आवंटित किया गया है, इससे अनुसंधान कार्यो को गति मिलेगी।क्रिस्टोफर एक कार्यक्रम के सिलसिले में कोयंबटूर आए हुए थे। इस समारोह में सरकारी उपक्रम भारत डायनेमिक्स लिमिटेड के सीएमडी वी उदय भास्कर ने कहा कि आगामी तीन-चार वर्षो में आकाश मिसाइल की मांग और बढ़ जाएगी।

No image

बलात्कार के मामले की सुनवाई करते हुए दिल्ली की एक अदालत ने एक अहम फैसला सुनाया है। रोहिणी स्थित अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पंकज गुप्ता की बेंच ने दुष्कर्म के एक केस की सुनवाई करते हुए कहा है कि अगर कोई युवक किसी महिला के साथ शादी का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाता है तो वो बलात्कार की श्रेणी में नहीं आएगा, क्योंकि ऐसे में जब युवती शारीरिक संबंध बनाती है तो उसमें उसकी भी मर्जी होती है।

कोर्ट ने शादी का झांसा देकर बलात्कार करने के बढ़ते मामलों पर सख्त टिप्पणी की है। हालांकि कोर्ट ने ऐसे में पीड़िता के लिए कहा है कि अगर उसके साथ जबरदस्ती होती है तो उसे आवाज उठानी चाहिए। कोर्ट ने इस फैसले के बाद आरोपी को अग्रिम जमानत दे दी है।

 


रोहिणी की अतिरिक्त सत्र न्यायाधीश पंकज गुप्ता की अदालत ने आरोपी को अग्रिम जमानत देते हुए कहा कि पीड़िता का कहना है कि आरोपी सितंबर 2016 से उससे लगातार बलात्कार कर रहा है, लेकिन इस बात के कोई सबूत अदालत में पेश नहीं किए जा सके हैं। कोर्ट ने कहा है कि पीड़िता कोई ऐसे दस्तावेज या साक्ष्य नहीं दे पाई, जिनसे लगे कि उसने शारीरिक संबंध के दौरान विरोध किया था।

कोर्ट ने कहा है कि इस बात से ये साबित होता है कि लड़की अपनी मर्जी से आरोपी के साथ होटल जाती रही। वहां दोनों के शारीरिक संबंध बने। उसने किसी को इस बारे में नहीं बताया कि आरोपी उसे धमकाकर संबंध बना रहा है। अदालत ने यह भी कहा कि शादी का झांसा देकर बलात्कार के आरोप का चलन बढ़ गया है। जबकि ऐसे मामलों में खुद बालिग लड़की या युवती की अपनी भी नैतिक और सामाजिक जिम्मेदारी बनती है। जानकारी के मुताबिक, 26 साल की पीड़िता ने अपने ट्यूटर पर ही बलात्कार का आरोप लगाया। आरोपी का नाम विनय राठौर है। पीड़िता विनय के पास प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी के लिए जाती थी। इसी दौरान अपने ट्यूटर से उसकी दोस्ती हो गई। धीरे-धीरे दोस्ती प्यार में बदल गई और आरोपी ने शादी का झांसा देकर युवती के साथ कई बार शारीरिक संबंध बनाए। बाद में जब युवती को पता चला कि आरोपी शादीशुदा है तो उसने पुलिस में उसकी शिकायत कर दी और बलात्कार का इल्जाम लगा दिया। आरोपी के वकील सत्यनारायण शर्मा ने अदालत में दलील पेश की कि पीड़िता ने मामला 10 मई 2018 को अमन विहार थाने में दर्ज कराया।

वहीं, घटनास्थल को देखते हुए मामला बेगमपुर थाने में दर्ज कराया जाना चाहिए था। लेकिन पीड़िता ने वहां से महज डेढ़ से दो किलोमीटर दूर स्थित अमन विहार थाने में जीरो एफआईआर कराई।

No image

आरक्षण को लेकर पहले ही देशभर में बवाल चल रहा है इसी बीच मोदी सरकार ने इस मामले में एक और कदम बढ़ाने के संकेत दिए हैं। अब प्रमोशन में आरक्षण लागू करने की तैयारी चल रही है। संसद के आगामी मॉनसून सत्र में केंद्र सरकार इसका रास्ता तैयार कर सकती है। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने नागपुर में हुए एक सम्मेलन को संबोधित करते हुए इसके संकेत दिए।

नागपुर में रवि भवन परिसर में आठवले ने कहा कि केंद्र सरकार इस मॉनसून सत्र में अनुसूचित जाति और अनुसूचित जनजाति के कर्मचारियों के लिए नौकरियों में प्रमोशन में आरक्षण लागू करने का रास्ता तैयार करेगी। उन्होंने कहा, ‘हम जुलाई-अगस्त में संसद के मॉनसून सत्र में अनुसूचित जाति-जनजाति के कर्मचारियों के लिए नौकरियों में प्रमोशन में आरक्षण के लिए एक विधेयक पेश करने की दिशा में काम कर रहे हैं। इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से चर्चा कर ली गई है। इस संबंध में एक विधेयक लाने का प्रयास किया जाएगा।’ फिलहाल अनुसूचित जाति-जनजाति के कर्मचारियों को प्रमोशन में आरक्षण नहीं दिया जा रहा है।

बीते दिनों सुप्रीम कोर्ट में एक जनहित याचिका पर सुनवाई के दौरान केंद्र सरकार ने कहा कि एससी-एसटी के लिए क्रीमी लेयर की अवधारणा लागू नहीं होती है। जनहित याचिका में कहा गया था कि इन वर्गों के लिए तय आरक्षण में समाज का प्रभावी तबका करीब 95 फीसदी लाभ उठा लेता है, जिसके चलते असली जरूरतमंदों तक इसका फायदा नहीं पहुंच पाता है। लेकिन केंद्र सराकर की ओर से अतिरिक्त सॉलिसिटर जनल पीए नरसिम्हा ने दलील दी ये पूरे समुदाय ही पिछड़े हैं, ऐसे में उन पर क्रीमी लेयर का सिद्धांत लागू ही नहीं होता।

No image

एक्ट्रेस बॉबी डार्लिंग के पति रमणिक पिछले दो दिन से जेल में हैं. उन पर घरेलू हिंसा और दहेज के लिए जबरदस्ती का मामला दर्ज कराया गया है. वेबसाइट स्पॉटबाई की रिपोर्ट के अनुसार बॉबी ने अपने पति पर बीते साल सितंबर में घरेलू हिंसा का मामला दर्ज कराया था. अब खबर है कि दिल्ली पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया है. बता दें कि बॉबी डार्लिंग ने भोपाल के बिजनेसमैन रमणिक से पिछले साल ही शादी की थी. वेबसाइट से हुई बातचीत में बॉबी ने बताया है कि, ‘दिल्ली पुलिस ने रमणिक को 11 मई को गिरफ्तार किया था. जिसके बाद उसने दिल्ली पुलिस के सामने अर्जी दी थी जिसे रिजेक्ट कर दिया गया. शुक्र है मैं अपनी बात साबित करने में कामयाब रही.’

बॉबी ने इससे पहले एक रिपोर्ट में कहा था कि, ‘रमणिक शराब पीकर मुझे पीटता है और मुझ पर हर दूसरे मर्द के साथ नाजायज संबंध रखने के आरोप लगाता है.’ बॉबी ने रमणिक पर प्रॉपर्टी और पैसा छीनने के भी आरोप लगाए हैं.

बता दें कि बॉबी डार्लिंग अपनी मम्मी के साथ नई दिल्ली में रहती हैं. वह टीवी रियल्टी शो बिग बॉस -1 के अलावा कई फिल्मों में भी नजर आ चुकी हैं. इन फिल्मों में क्या कूल हैं हम, अपना सपना मनी-मनी और शिरी फरहाद शामिल हैं.

No image

 कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बहुमत साबित करने के फेर में उलझे कर्नाटक के सीएम बीएस येदियुरप्पा ने फ्लोर टेस्ट से पहले हुए भाषण में इस्तीफा दे दिया। बहुमत से पहले ही सीएम की शपथ लेने के बाद वे मात्र ढ़ाई दिन तक सीएम रहे। वे सबसे कम कार्यकाल वाले सीएम रहे हैं। 

1. बीएस येदियुरप्पा कर्नाटक ढाई दिन 17 मई से 19 मई, 2018
2. जगदंबिका पाल उत्तर प्रदेश तीन दिन 21 फरवरी 1998 से 23 फरवरी 1998 
3. सतीश प्रसाद सिंह बिहार पांच दिन 28 जनवरी से एक फरवरी 1968
4. एससी मारक मेघालय छह दिन 27 फरवरी से तीन मार्च 1998 
5. जानकी रामचंद्र तमिलनाडु 24 दिन 7 जनवरी से 30 जनवरी 1988 
6. बीपी मंडल बिहार 31 दिन एक फरवरी से 2 मार्च 1968 
7. सीएच मोहम्मद केरल 45 दिन 22 अक्टूबर से 1 दिसंबर 1979
 

No image

हीरा कारोबारी नीरव मोदी और उनके परिवार को करोड़ों रुपये के पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) धोखाधड़ी मामले की जांच में शामिल होने के लिए प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) द्वारा समन जारी किए जाने के बावजदू मोदी ने निर्देशों को नजरअंदाज करते हुए विदेश में रहना चुना और वह जांचकर्ताओं की पहुंच से दूर बने हुए हैं। ईडी सूत्रों के मुताबिक, नीरव मोदी फिलहाल सिंगापुर के पासपोर्ट पर लंदन में हैं जबकि उनका भाई निशाल मोदी बेल्जियम के पासपोर्ट पर एंटवर्प में हैं। नीरव की बहन पूर्वी मेहता बेल्जियम पासपोर्ट पर फिलहाल हांगकांग में हो सकती हैं।

सूत्र ने कहा कि पूर्वी के पति मयंक मेहता के पास ब्रिटिश पासपोर्ट है और वह हांगकांग व न्यूयॉर्क के बीच घूम रहा है। ईडी ने नीरव मोदी के पिता दीपक मोदी, बहन पूर्वी मेहता और उसके पति मयंक मेहता को समन जारी किया था। नाम न छापने की शर्त पर ईडी के एक एक अधिकारी ने बताया, "उन्हें ईमेल के जरिए समन भेजे गए हैं।"

दीपक, पूर्वी और मयंक से एजेंसी के मुंबई कार्यालय में ईडी जांचकर्ताओं के समक्ष पेश होने के लिए कहा गया था ताकि वह मामले में अपने बयान दर्ज कराएं क्योंकि जांच एजेंसी मुंबई की अदालत में धन शोधन अधिनियम के विशेष धाराओं में आरोपपत्र दाखिल करने की प्रक्रिया में है।

ईडी अधिकारी ने कहा कि नीरव मोदी के रिश्तेदारों को इस महीने के पहले सप्ताह में समन जारी किया गया था और उन्हें 13 हजार करोड़ रुपये की धन शोधन जांच में पेश होने के लिए 15 दिन का वक्त दिया गया था। अधिकारी ने कहा कि मामले में पहले समन पर प्रतिक्रिया देने में विफल रहने पर तीनों को आगे भी समन जारी किए जाएंगे।

No image

पिछले कुछ समय से कर्नाटक में चल रहा सियासी तूफान आखिरकार थम ही गया। कर्नाटक के नए-नए सीएम बने येदियुरप्पा ने आज अपने पद से इस्तीफा दे दिया। कर्नाटक में भाजपा की सरकार गिरने के बाद कांग्रेस ने प्रेस कांफ्रेंस कर कार्याकर्ताओं को बधाई दी। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने अपने संबोधन में कहा कि कर्नाटक में लोकतंत्र की जीत हुई। उन्होंने भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि घमंड की सीमा होती है, ताकत और पैसे ही सबकुछ नहीं है। राहुल ने कहा कि भाजपा ने जनादेश का अपमान किया। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भ्रष्टाचार को बढ़ावा दे रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि कर्नाटक विधानसभा में क्या हुआ आपने देखा, येदियुरप्पा के इस्तीफा देने के बाद भाजपा के सभी नेता राष्ट्रगान से पहले ही सदन से उठकर चले गए। भाजपा ने ऐसा कर राष्ट्रगान का अपमान किया है। उन्होंने गोवा, मणिपुर के जनमत का भी अपमान किया। राहुल ने कहा कि जहां भी लगेगा कि भाजपा लोकतंत्र पर आक्रमण कर रही है हम इस देश की जनता की आवाज की रक्षा करेंगे।

इसके साथ ही उन्होंने राज्यपाल को भी निशाने पर लेते हुए कहा कि उन्हे भी अपने पद से इस्तीफा दे देना चाहिएबता दें कि विधानसभा की 224 सीटों में 222 सीट के लिए हुए चुनाव में भाजपा को 104 सीटें मिली हैं जबकि कांग्रेस को 78 तथा जनता दल(एस) को 37 सीटें और उसकी सहयोगी बहुजन समाज पार्टी को एक सीट मिली है। एक सीट निर्दलीय को तथा एक अन्य पार्टी को मिली है। बहुमत साबित करने के लिए 111 विधायकों की जरूरत थी लेकिन श्री येद्दियुरप्पा बहुमत जुटाने मे असफल रहे और उन्होंने इस्तीफे की घोषणा कर दी।। 

No image

प्रियंका चोपड़ा प्रिंस हैरी और अपनी प्यारी दोस्त मेगन मार्केल की शादी के समारोह में पहुंच चुकी हैं. उन्होंने शाही शादी के अनुसार ही शाही पोशाक पहनी है. प्रियंका के अलावा ओपरा विनफ्रे, जॉर्ज और अमाल क्लूनी, विक्टोरिया और डेविड बेखम भी समारोह में पहुंच चुके हैं. प्रियंका इस शादी में मेगन की खास सहेली का रोल अदा कर रही हैं. बॉलीवुड से वह एकमात्र खास मेहमान हैं, जिसे शाही शादी का न्यौता भेजा गया है.

बता दें कि ब्रिटिश राजघराने के प्रिंस हैरी और मेगन मार्केल आज शादी के बंधन में बंधने जा रहे हैं. शादी विंडसर कैसल के सेंट जार्ज चैपल में होगी. इस रॉयल वेडिंग में एक्ट्रेस प्रियंका चोपड़ा भी शिरकत कर रही हैं. प्रियंका चोपड़ा, मेगन मार्केल की बहुत अच्छी दोस्त हैं और इसलिए वह अपने बिजी वर्क शेड्यूल से टाइम निकाल कर लंदन पहुंची हैं. सोशल मीडिया पर अब उनकी ये तस्वीरें वायरल हो रही हैं

No image

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव रीवा पहुंचे. उन्होंने सर्किट हाऊस में पत्रकारों से मुलाकात के दौरान मध्य प्रदेश में समाजवादी पार्टी के संगठन को मजबूत करने की बात कही. उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के बाद अगर किसी राज्य में सपा को सबसे ज्यादा उम्मीद है तो वह मध्यप्रदेश है.

अखिलेश ने कहा कि पूरी ताकत से किसान, मजदूर वा नौजवानों की बेरोज़गारी के मुद्दे पर यहां चुनाव लड़ेंगे. वह अगर जीतते हैं तो उत्तरप्रदेश की तर्ज पर एमपी में विकास करेंगे. हालांकि किसी भी पार्टी के साथ गठबंधन की बात को इंकार नहीं किया पर इस निर्णय के बारे में फैसला भविष्य पर छोड़ दिया.

यमुना एक्सप्रेस- वे और प्रदेश में पांच मेट्रो बनवाने के काम का हवाला देते हुए अखिलेश यादव ने कहा की देश के किसी भी राज्य में इतने बड़े पैमाने पर काम नहीं हुआ, जितना हमने किया. वाराणसी में पुल गिरने से हुए हादसे पर अखिलेश ने कहा कि ब्रिज हमारे कार्यकाल में बनना जरूर शुरु हुआ था पर गिरा नहीं. यह पुल बीजेपी के कार्यकाल में गिरा. उन्होंने ईवीएम से चुनाव कराने पर कहा की अटेर में ईवीएम की गड़बड़ी पकड़ी गई थी. लोगों को मत पत्रों पर ज्यादा भरोसा है. चुनाव में ईवीएम मशीन की जगह मत पत्रों का प्रयोग होना चाहिए.

No image

बीएस येदियुरप्पा के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के साथ ही कर्नाटक में चल रहे लंबे सियासी ड्रामे के एक अध्याय का अंत हो गया। कर्नाटक में बीजेपी की सरकार गिर गई है। दूसरी ओर कांग्रेस और जेडीएस की सरकार बनने का रास्ता अब साफ दिखने लगा है। कांग्रेस अब राज्य में सरकार बनाने का दावा पेश करने जा रही है। ऐसे में संभावना जताई जा रही है कि राज्यपाल वजुभाई वाला कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन को अब सरकार बनाने का न्योता देंगे।

कांग्रेस और जेडीएस गठबंधन के नेता एचडी कुमार स्वामी ने संकते दिए हैं कि 21 मई सोमवार वो मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे। येदियुरप्पा के इस्तीफे के बाद कांग्रेस नेता सिद्धारमैया ने एक ट्वीट कर खुशी जताई है। उन्होंने लिखा, कर्नाटक में लोकतंत्र जीता है। षड्यंत्र के जरिए बीजेपी जिन संवैधानिक नियमों पर कब्जा करना चाहती थी उसमें असफल रही है।

बहुमत के लिए जरूरी विधायकों का समर्थन जुटाने में विफल रहे कर्नाटक के मुख्यमंत्री बी एस येदियुरप्पा ने विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव पर मतदान से पहले ही अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी। येदियुरप्पा ने विधायकों के शपथ ग्रहण करने के बाद विश्वास मत प्रस्ताव पेश किया और उसके बाद अपने भावुक संबोधन के अंत में इस्तीफा देने की घोषणा की। उन्होंने विधानसभा में सरकार के अल्पमत को स्वीकार करते हुए कहा कि जनता ने हमें 113 सीटें नहीं दी। अगर वह ऐसा करती तो राज्य की स्थिति बदल जाती। उन्होंने कहा कि मैं इस बहुतम परीक्षण को आगे नहीं बढ़ाते हुए कर्नाटक के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देता हूं। येदियुरप्पा ने कहा कि लोकतंत्र में मतदाता ही सब कुछ होता है और वह उनके निर्णय को स्वीकार करते हैं।

गौरतलब है कि राज्यपाल वजुभाई वाला ने येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिनों का समय दिया था, लेकिन शुक्रवार को सर्वोच्च न्यायालय ने कांग्रेस और जेडी(एस) की याचिका पर फैसला देते हुए येदियुरप्पा को शनिवार चार बजे बहुमत साबित करने का आदेश दिया था।

राज्यपाल वजुभाई वाला ने शनिवार को 15वीं कर्नाटक विधानसभा का सत्र बुलाया। सदन में नवनिर्वाचित विधायकों ने शपथ ली। प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया ने सदन की कार्यवाही का संचालन किया। बीएस येदियुरप्पा ने सबसे पहले शपथ ली। इसके बाद कांग्रेस विधायक दल के नेता और पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया और जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) के विधायक दल के नेता एच.डी.कुमारस्वामी ने शपथ ली। इन तीनों के बाद भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और जेडीएस के विधायकों ने शपथ ली।

No image

राजस्थान रॉयल्स और रॉयल चैंलजर्स बैंगलोर के बीच इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें सत्र का 53वां मुकाबला जयपुर में खेला जाएगा। दोनों ही टीमों के लिए यह मुकाबला बेहद खास है। जीतने वाली टीम की उम्मीदें प्लेऑफ के लिए जिंदा रहेंगी। आरसीबी का इस सत्र में प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है, लेकिन उसने पिछले 3 मुकाबलों में लगातार जीत दर्ज करते हुए जोरदार वापसी की है। 

अगर टीम को जीतना है तो कैप्टन विराट कोहली को रन बनाना होगा। लेकिन, राजस्थान के खिलाफ मुकाबला उनके लिए आसान नहीं होगा। वजह हैं धुवल कुलकर्णी। अब आप सोच रहे होंगे कि आखिर भारतीय कप्तान और धवल कुलकर्णी में क्या कनेक्शन हो सकता है तो बता दें कि राजस्थान के इस गेंदबाज के आगे विराट का प्रदर्शन खास नहीं रहा है।

धवल की 71 गेंदों का अब तक विराट कोहली ने आईपीएल में सामना किया है। वह कुल 91 रन ही बना सके हैं, जो टी-20 के लिहाज से कतई आकर्षक नहीं माना जा सकता है। इस दौरान वह 4 बार धवल की गेंद का शिकार बने हैं। विराट भी चाहेंगे कि इस मैच में उनके खिलाफ ज्यादा से ज्यादा रन बनाकर खुद का प्रदर्शन सुधारें और आरसीबी को जीत दिलाएं।स्पिनर्स के खिलाफ ऐसा है प्रदर्शन अगर विराट धवल से बच जाते हैं तो दूसरी टेंशन स्पिनर्स की है। इस सत्र में वह सबसे अधिक 7 बार स्पिनर्स की गेंदों का शिकार बने हैं। सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पिछले मुकाबले में राशिद खान ने उन्हें एक करिश्माई गेंद पर क्लीन बोल्ड कर दिया था। राजस्थान के पास स्पिनर के रूप में कृष्णप्पा गौतम हैं, जो अच्छा कर रहे हैं। हालांकि, बैंगलोर के लिए मिस्टर 360* एबी डि विलियर्स का फॉर्म में होना सुखद है।
 

No image

कर्नाटक में भाजपा की येदियुरप्पा सरकार ढाई दिन बाद गिर गई है। राज्य विधानसभा में बीजेपी के मुख्‍यमंत्री बीएस येदियुरप्‍पा का बहुमत परीक्षण होना था और इससे पहले एक बेहद भावुक भाषण के बाद येदियुरप्पा ने विधानसभा में अपने पद से इस्तीफे का ऐलान कर दिया। उन्होंने कहा कि में बहुमत परीक्षण को आगे नहीं बढ़ाते हुए इस्तीफा देता हूं और राज्यपाल से मिलकर इस्तीफा सौंप दूंगा। उनके इस्तीफे के बाद अब राज्य में कांग्रेस-जेडीएस की सरकार बनने का रास्ता साफ हो गया।

इससे पहले मुख्यमंत्री ने सदन को संबोधित करते हुए प्रस्ताव सदन में रखा। इस दौरान सदन को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि लोगों ने हमें बड़े प्यार से चुना है। मैं उन्हें धन्यवाद देता हूं। मेरे पास 104 विधायक हैं जबकि कांग्रेस और जेडीएस को बहुमत नहीं मिला। चुनाव में हारने के बाद मौका देखकर गठबंधन किया। उनका यह गठबंधन अवसरवादी। चुनाव के बाद सबसे बड़ी पार्टी होने की वजह से मुझे सरकार बनाने का आमंत्रण दिया।

राज्य में 3700 किसानों ने आत्महत्या की है। लोग पीने के पानी को तरस रहे हैं। मैं जब तक जिंदा हूं किसानों के लिए काम करूंगा। कर्नाटक में किसान आंसू बहा रहे हैं। जब वो तकलीफ में थे तब मैं उनके आंसू पोछने गया।

मैं दो साल तक राज्य में घूमा और खुद लोगों की तकलीफ देखी। मैं उस प्यार को नहीं भूल सकता जो लोगों ने मुझे दिया। मेरे सामने आज अग्निपरीक्षा है और यह मेरे लिए नया नहीं है। मैं जिंदगीभर जंग लड़ता रहूंगा। राज्य में कभी भी चुनाव आ सकता है और मैं फिर जीतकर आऊंगा। मेरे पास 113 सीट होती तो तस्वीर अलग होती।

 येदियुरप्पा के बहुमत प्रस्ताव के लिए दर्शक दिर्घा में भाजपा और कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता मौजूद हैं।

कांग्रेस के विधायक विधानसभा पहुंचे हैं और शपथ ग्रहण करेंगे। कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि हमारे विधायक हमारे साथ हैं और हमें ही वोट देंगे।

 सदन में लंच के दौरान सभी कांग्रेस विधायक विधानसभा से बाहर नहीं निकले और उन्होंने वहीं पर लंच किया।

 कांग्रेस के दो विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा सदन में शपथ ग्रहण के लिए नहीं पहुंचे कुछ देर बाद यह दोनों विधायक बेंगलुरु के गोल्डफिंच होटल में मिले जहां से उन्हें निकाला गया। वहीं भाजपा के एक विधायक सोमशेखर रेड्डी भी सदन से लापता थे इन्ही के साथ थे।

 कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने भाजपा पर अपने विधायकों को बंधक बनाने का आरोप लगाया है।

 सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस-जेडीएस की वो याचिका खारिज कर दी जिसमें प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को चुनौती दी गई थी।

सुप्रीम कोर्ट में प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस-जेडीएस की याचिका पर सुनवाई हो चुकी है और सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस को झटका देते हुए कहा कि वो राज्यपाल के फैसले को नहीं बदल सकती और वो भाजपा का ही रहेगा। इसके अलावा कोर्ट ने बहुमत परीक्षण के दौरान इसका लोकल चैनल्स पर लाइव प्रसारण करने के निर्देश भी दिए हैं।

 बहुमत परीक्षण के लिए मुख्यमंत्री येदियुरप्पा भाजपा विधायकों के साथ विधानसभा पहुंच चुके हैं वहीं कांग्रेस और जेडीएस विधायक भी बसों में विधानसभा पहुंचे हैं।

No image

अभिनेत्री व पर्यावरण प्रेमी दिया मिर्जा का कहना है कि वह अपने सेलेब्रिटी दर्जे का इस्तेमाल सकारात्मक बदलाव लाने के लिए करने में यकीन रखती हैं। दिया यहां अंतर्राष्ट्रीय भारतीय फिल्म एवं एकेडमी (आईफा) के 19वें संस्करण के लिए रखे गए संवाददाता सम्मेलन में करण जौहर, रणबीर कपूर, शाहिद कपूर और कार्तिक आर्यन के साथ शामिल हुई। 

यह पूछे जाने पर कि उनके लिए उन चीजों को पहचान देना क्यों जरूरी है जो समाज को प्रभावित करते हैं, इस पर दिया ने कहा, मैं जो महसूस करती हूं, बस उसी पर प्रतिक्रिया देती हूं और जब मैं किसी मामले में कोई मदद नहीं कर सकती या कुछ नहीं कर सकती तो फिर उस बारे में बात करती हूं और मैं सच में सोचती हूं कि मुझे लोगों पर अपना प्रभाव छोडऩे के सौभाग्य का उपहार मिला है और इस सौभाग्य का इस्तेमाल मैं सकारात्मक बदलाव लाने के लिए कर सकती हूं। 

भारत की संयुक्त राष्ट्र पर्यावरण की सद्भावना दूत नियुक्त हुई दिया ने कहा कि हर कोई बदलाव का वाहक बन सकता है, अगर वह बनना चाहे तो। दिया (36) ने कहा कि अगर वह अपने सेलेब्रिटी दर्जे का इस्तेमाल सकारात्मक बदलाव लाने के लिए नहीं करती है तो फिर मैं नहीं जानती कि मैं वास्तव में इसका इस्तेमाल किस चीज के लिए कर सकती हूं। 

No image

कावेरी नदी के जल को लेकर कर्नाटक और तमिलनाडु के बीच जारी विवाद सुप्रीम कोर्ट के फैसले से काफी हद तक सुलझ सकता है। लेकिन इस फैसले के बाद भी यह तय नहीं है कि कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल और पुडुचेरी को सिंचाई और पीने के लिए पर्याप्त जल उपलब्ध हो पाएगा या नहीं। हालांकि विशेषज्ञों के अनुसार इस समस्या का हल गोदावरी नदी की सहायता से निकाला जा सकता है।
तमिलनाडु पीडबल्यूडी के चीफ इंजिनियर और देश भर में नदियों के लिए काम करने वाले एनजीओ नावद टेक के चेयरमैन ए सी कामराज ने कहा कि अगर नदी और किसानों के साथ ही प्रदेश के विकास के मामले को ध्यान में रखा जाए तो दक्षिण भारत की सभी नदियों को आपस में जोडऩा ही सबसे बेहतर विकल्प साबित हो सकता है। 


ब्रिटेन में बसे जल विशेषज्ञ के. जयचंद्रन ने कहा, सभी नदियों में पानी का स्तर बढ़ाना जरुरी है। केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी भी लगातार दक्षिण भारतीय राज्यों में बहने वाली नदियों को इंटरलिंक करने पर जोर देते रहे हैं। राज्यों को भी आगे आकर इसे सपॉर्ट करना चाहिए। तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच कावेरी विवाद गौरतलब है कि कावेरी नदी के पानी के बंटवारे को लेकर मुख्य तौर पर तमिलनाडु और कर्नाटक के बीच विवाद था। कावेरी नदी कर्नाटक के कोडागु जिले से निकलती हैं और तमिलनाडु के पूमपुहार में बंगाल की खाड़ी में जाकर गिरती है। 


पिछले साल 20 सितंबर को सीजेआई दीपक मिश्रा, जस्टिस अमिताभ रॉय और जस्टिस ए. एम. खानविलकर की तीन जजों की बेंच ने इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था। बेंच के सर्वसम्मत फैसले को सीजेआई ने लिखा है। गौरतलब है कि पानी के बंटवारे को लेकर 2007 के कावेरी जल विवाद ट्राइब्यूनल के फैसले के खिलाफ कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल की ओर से सुप्रीम कोर्ट में अपील की गई थी।जानिए, क्या है पूरा मामला बता दें कि कावेरी नदी के बेसिन में कर्नाटक का 32 हजार वर्ग किलोमीटर और तमिलनाडु का 44 हजार वर्ग किलोमीटर का इलाका आता है। दोनों ही राज्यों का कहना है कि उन्हें सिंचाई के लिए पानी की जरूरत है। इसे लेकर दशकों से विवाद चल रहा है। विवाद के निपटारे के लिए जून 1990 में केंद्र सरकार ने कावेरी ट्राइब्यूनल बनाया था, लंबी सुनवाई के बाद 2007 में फैसला दिया कि हर साल कावेरी नदी का 419 अरब क्यूबिक फीट

पानी तमिलनाडु को दिया जाए, जबकि 270 अरब क्यूबिक फीट पानी कर्नाटक को दिया जाए। कावेरी बेसिन में 740 अरब क्यूबिक फीट पानी मानते हुए ट्राइब्यूनल ने अपना फैसला सुनाया। इसके अलावा केरल को 30 अरब क्यूबिक फीट और पुड्डुचेरी को 7 अरब क्यूबिक फीट पानी देने का फैसला दिया गया।ट्राइब्यूनल के फैसले से कर्नाटक, तमिलनाडु और केरल खुश नहीं थे और फैसलेके खिलाफ तीनों ही राज्य एक-एक करके सुप्रीम कोर्ट पहुंचे थे।
 

No image

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी शनिवार को जम्मू-कश्मीर में दो दिन के दौरे पर पहुंच रहे हैं। शनिवार को वह तीन क्षेत्रों जम्मू, श्रीनगर और लद्दाख में तय कार्यक्रम में जाएंगे। पीएम मोदी सबसे पहले लेह में 19वें लद्दाखी आध्यात्मिक गुरु कुशक बाकुला की 100वीं जयंती समारोह में भी शामिल होंगे। इसी इवेंट में वह जोजिला सुरंग की आधारशिला भी रखेंगे जो बालटाल और मीनामार्ग को जोड़ेगी।

यह 14 किमी लंबी सुरंग भारत की सबसे लंबी सड़क सुरंग और एशिया की सबसे लंबी द्वि-दिशात्मक सुरंग होगी। 6,800 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली सुरंग हर मौसम और परिस्थिति में श्रीनगर, कारगिल और लेह को जोड़ेगी। इस सुरंग की मदद से जोजि ला पास को सिर्फ 15 मिनट में पार कर लिया जाएगा। वर्तमान में जोजिला पास को पार करने में साढ़े तीन घंटे लगते हैं

।किशनगंगा प्रॉजेक्ट का उद्घाटन करेंगे पीएम इसी तरह श्रीनगर के शेर-आई-कश्मीर इंटरनैशनल कॉन्फ्रेंस सेंटर (एसकेआईसीसी) में पीएम मोदी 330 मेगावॉट किशनगंगा जलविद्युत परियोजना का उद्धाटन करेंगे। इस प्रॉजेक्ट को हिंदुस्तान कंट्रक्शन कॉर्पोरेशन (एचसीसी) द्वारा प्रतिकूल मौसम की स्थिति, नियंत्रण रेखा के पास से गोलाबारी और फायरिंग को ध्यान में रखते हुए तैयार किया गया है। इससे एक साल में 1,713 मिलियन यूनिट ऊर्जा उत्पन्न की जाएगी जिससे जम्मू-कश्मीर के 23 फीसदी इलाकों में बिजली पहुंचेगी और बाकी बची हुई बिजली एनएचपीची लिमिटेड द्वारा उपयोग की जाएगी। 

माता वैष्णो देवी के दर्शन के लिए रोप-वे सर्विस का उद्घाटन करेंगे पीएम मोदी 
पीएम मोदी श्रीनगर रिंग रोड में आधारशिला में रखेंगे। 42.1 किमी लंबी फोरलेन सड़क पश्चिमी श्रीनगर के गलंदर को बांदीपुरा जिले के संबल से जोड़ेगी। इसके अलावा पीएम मोदी पाकुल दल पावर प्रॉजेक्ट का शिलान्यास भी करेंगे। वह ताराकोटे मार्ग और माता वैष्णो देवी श्राइन बोर्ड की रोप-वे सर्विस का उद्घाटन भी करेंगे। पीएम मोदी शेर-ए-कश्मीर यूनिवर्सिटी ऑफ एग्रीकल्चरल साइंसेंस ऐंड टेक्नॉलजी के दीक्षांत समारोह में भी शामिल होंगे। बता दें कि पिछले दिनों भारत सरकार ने जम्मू-कश्मीर में रमजान के दौरान सेना और अन्य सुरक्षा बलों द्वारा आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करने की घोषणा की थी लेकिन यह रोक सशर्त थी। गृह मंत्रालय ने ट्विटर के माध्यम से इसकी जानकारी दी थी। इस फैसले के दो दिन बाद ही सीजफायर उल्लंघन में बीएसएफ जवान समेत 5 भारतीय मारे गए। ऐसे में राज्य के कुछ इलाकों में पीएम मोदी के दौरे का विरोध हो रहा है।
 

No image

इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में आज सवाई मान सिंह स्टेडियम में रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर का सामना राजस्थान रॉयल्स से होगा। दोनों टीमों के लिए यह मैच बेहद अहम है। क्योंकि प्लेऑफ में जाने के लिए दोनों को इस मैच में हर हाल में जीत की दरकार है। सिर्फ जीत हालांकि इनकी राह साफ नहीं करेगी, बल्कि अंतिम-4 में जगह बनाने के लिए उन्हें दूसरी टीमों के मैचों के परिणाम पर भी निर्भर रहना होगा। 

विराट कोहली की कप्तानी वाली बेंगलोर ने अपने पिछले मैच में मजबूत टीम सनराइजर्स हैदराबाद को मात दी थी और अपनी प्लेऑफ की उम्मीदों को जिंदा रखा था। बेंगलोर, राजस्थान और किंग्स इलेवन पंजाब के भी 12-12 अंक हैं लेकिन बेहतर रन रेट के मामले में बेंगलोर इन टीमों से आगे है और पांचवें स्थान पर काबिज है। वहीं राजस्थान को अपने पिछले मैच में कोलकाता नाइट राइडर्स के खिलाफ हार का सामना करना पड़ा था। वह नेट रन रेट के मामले में पीछे है और इस मैच में उसे बड़े अंतर से जीत की दरकार होगी। इससे पहले जब दोनों टीमों का मुकाबला हुआ था तब राजस्थान ने बेंगलोर को 19 रनों से हराया था।


बेंगलोर की बल्लेबाजी फॉर्म में है। अभी तक कप्तान कोहली और डिविलियर्स के जिम्मे ही टीम की बल्लेबाजी का भार होता था लेकिन हैदराबाद के खिलाफ हुए मैच में बाकी बल्लेबाजों ने भी शानदार प्रदर्शन किया। मोइन अली ने आईपीएल का अपना पहला अर्धशतक जमाया तो वहीं अंत में कोलिन डी ग्रांडहोम और सरफराज खान ने भी बल्ले से अच्छा योगदान दिया। कोहली को उम्मीद होगी इस अहम मैच में भी उनके बल्लेबाज इसी तरह के प्रदर्शन को जारी रखें और बल्ले से रन बनाए। 


गेंदबाजी में भी बेंगलोर ने शानदार प्रदर्शन किया और हैदराबाद को काफी प्रयासों के बाद भी रोके रखा। तेज गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी उमेश यादव, मोहम्मद सिराज तथा टिम साउदी पर है। वहीं स्पिन का जिम्मा युजवेंद्र चहल और अली के कंधों पर है। अगर राजस्थान की बात की जाए तो वह इस मैच में अपने दो स्टार खिलाडिय़ों जोस बटलर और बेन स्टोक्स के बिना उतरेगी। यह दोनों राष्ट्रीय टीम के साथ जुडऩे के लिए इंग्लैंड रवाना हो गए हैं। बटलर के जाने से बेशक टीम को झटका लगेगा, क्योंकि वो टीम की बल्लेबाजी को एक छोर से संभाले रहते थे। उन्होंने आईपीएल में पिछले पांच मैचों में लगातार पांच अर्धशतक जड़े थे। 

उनकी गैरमौजूदगी में टीम की बल्लेबाजी का भार कप्तान अजिंक्य रहाणे पर होगा। रहाणे इस सीजन में बल्ले से नियमित अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाए हैं। वहीं बटलर के अलावा संजू सैमसन राजस्थान के लिए लगातार रन बनाने वाले बल्लेबाज रहे हैं। उन पर भी इस अहम मैच में बड़ी जिम्मेदारी होगी। 

बटलर और स्टोक्स की गैरमौजूदगी में रहाणे हेनरिक क्लासेन और डार्सी शॉर्ट को मौका दे सकते हैं। गेंदबाजी का जिम्मा वेस्टइंडीज के जोफ्रा आर्चर के कंधों पर होगा जिन्होंने अपने सटीक लाइन लैंथ और तेजी से सभी को खासा प्रभावित किया है। उनके अलावा जयदेव उनादकट को अपनी लय हासिल करनी होगी। स्पिन में कृष्णाप्पा गौतम को एक बार फिर बड़ी जिम्मेदारी निभानी होगी। पिछले मैच में ईश सोढ़ी ने भी अच्छी गेंदबाजी की थी। रहाणे एक बार फिर उनको अंतिम एकादश में मौका दे सकते हैं। 

टीमें (संभावित): रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर : विराट कोहली (कप्तान), अब्राहम डिविलियर्स, सरफराज खान, क्रिस वोक्स, युजवेंद्र चहल, ब्रेंडन मैक्कलम, वॉशिंगटन सुंदर, नवदीप सैनी, च्ंिटन डी कॉक, मनदीप सिंह, कुलवंत खेजरोलिया, कोलिन डी ग्रांडहोम, उमेश यादव, मोइन अली, मनन वोहरा, अनिकेत चौधरी, मुरुगुन अश्विन, मनदीप सिंह, पवन नेगी, मोहम्मद सिराज, पार्थिव पटेल, अनिरुद्ध जोशी, पवन देशपांडे, टिम साउदी, कोरी एंडरसन।

राजस्थान रॉयल्स : अजिंक्य रहाणे (कप्तान), हेनरीक क्लासेन, जयदेव उनादकट, संजू सैमसन, जोफ्रा आर्चर, कृष्णप्पा गौथम, डार्सी शॉर्ट, राहुल त्रिपाठी, धवल कुलकर्णी, जाहिर खान पाकतीन, बेन लाफलिन, स्टुअर्ट बिन्नी, दुश्मंथा चमीरा, अनुरीत सिंह, आर्यमान विक्रम बिरला, एस. मिथुन, श्रेयस गोपाल, प्रशांत चोपड़ा, जतिन सक्सेना, अंकित शर्मा और महिपाल लोमरुर। 
 

No image

अफगानिस्तान के शीर्ष क्रिकेट खिलाड़ी इस समय इंडियन प्रीमियर लीग में अपनेटैलेंट के बलबूते सभी को प्रभावित कर रहे हैं। वहीं खबर आ रही है कि अफगानिस्तान के एक स्टेडियम में दिल दहला देने वाली घटना ने अंजाम लिया है। जलालाबाद के क्रिकेट स्टेडियम में कई बम धमाके हुए हैं जिसमे आठ लोगों के जान जाने की खबर आ रही है। इस घटना से अफगानिस्तान क्रिकेट को बड़ा झटका लगेगा।

बता दे कि मौजूदा अफगानिस्तान सरकार क्रिकेट के बढ़ावे के लिए काम रही है जिसको इस घटना से बड़ा झटका लगने वाला है। अफगानिस्तान के आतंकी संगठन सरकार के क्रिकेट को बढ़ावा देने के फैसले का विरोध करते आ रहे हैं। क्रिकेट जगत के लिए यह बहुत बड़ी घटना है क्योंकि क्रिकेट इतिहास में इससे पहले ऐसा कभी भी नहीं हुआ है।

शनिवार को अफगानिस्तान के पूर्वी नांगरहार प्रान्त की सरकार के द्वारा दी गयी जानकारी के अनुसार, रात में चल रहे मैच के दौरान कई बम विस्फोट हुए जिसमे 8 लोगों ने अपनी जान गंवा दी और 45 लोग घायल हो गए। उन्होंने जानकारी दी कि "शुक्रवार को रात 11 बजकर 20 मिनट पर जलालाबाद क्रिकेट स्टेडियम में आतंकवादी हमला हुआ जिसमे उन्होंने तीन IEDs बम विस्फोट किए गए। जिसमे कई लोगो की जान गई।"

रमदान के पाक महीने की शुरुआत पर एक लोकल क्रिकेट मैच का आयोजन किया गया था, जिसमे यह बम विस्फोट हुआ। हताहत लोगों को नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है और उनकी हालत अभी गंभीर है। जिन लोगो ने अपनी जान गंवई है उसमे क्रिकेट मैच के व्यवस्थापक हिदायतुल्लाह जहीर और कुछ स्थानीय क्रिकेट ऑफिशल्स हैं। प्रांतीय गवर्नर हयातुल्लाह हयात ने इस बम धमाके की निंदा की है। किसी भी संघठन ने इस विस्फोट की जिम्मेदारी नहीं ली है। सरकार के खिलाफ लड़ने वाले तालिबानी और इस्लामिक स्टेट जैसे आतंकवादी संगठन इस प्रान्त में मौजूद हैं।

 

No image

महेंद्र सिंह धोनी की कप्तानी वाली 2 बार की चैंपियन चेन्नै सुपर किंग्स को आईपीएल-11 के 52वें मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स के हाथों शुक्रवार को 34 रन से हार झेलनी पड़ी। अपने घरेलू मैदान फिरोजशाह कोटला में दिल्ली डेयरडेविल्स ने निर्धारित 20 ओवर में 5 विकेट के नुकसान पर 162 रन बनाए जिसके जवाब में चेन्नै की टीम 20 ओवर में 6 विकेट पर 128 रन ही बना सकी।

चेन्नै सुपर किंग्स के कैप्टन धोनी ने मैच के बाद कहा, पहली पारी के बाद इस विकेट पर बल्लेबाजी में थोड़ी मुश्किल हो रही थी। दिल्ली के गेंदबाजों ने कमाल का प्रदर्शन किया। यह पहले से सोचना मुश्किल था कि पिच बाद मे कैसी रहेगी। जब कोई चीज गलत होती है तो आपको प्रैक्टिकल होकर सोचने की जरूरत होती है।
चेन्नै के कैप्टन ने कहा, मुझे लगता है हमने सही बल्लेबाजी की। हमें किसी ऐसे बल्लेबाज की जरूरत थी जो अतिरिक्त 15-20 रन बना देता। उन्होंने मैच में हार पर कहा, कुछ गलत होना हार-जीत का हिस्सा है लेकिन यदि कारणों का पता चल जाता है तो वापसी करने में आसानी होती है। हम हार के कारणों को जानते हैं और उन पर मेहनत करने की कोशिश करेंगे।

उन्होंने कहा, यह जरूरी है कि हम पॉइंट्स टेबल को नहीं देखते हुए अपने प्रदर्शन पर फोकस करें। मुझे लगता है कि मिडिल ऑर्डर में एक अच्छी साझेदारी हो सकती थी। हमने टूर्नमेंट में ज्यादा बल्लेबाजों को मौका नहीं दिया है लेकिन किसी को भी मौका मिल सकता है। आपको शारीरिक तौर पर तैयार रहने के साथ-साथ मानसिक तौर पर भी तैयार रहने की जरूरत होती है।
 

No image

क्यूबा की राजधानी हवाना के प्रमुख हवाई अड्डे से आज एक बोइंग-737 यात्री विमान उड़ान भरने के कुछ देर बाद ही दुर्घटनाग्रस्त हो गया जिसमें 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई। क्यूबा के सरकारी टेलीविजन चैनल क्यूबा टीवी ने इस बात की जानकारी दी। विमान का मलबा हवाना से 20 किलोमीटर दूर दक्षिण में बोयरोस के कृषि क्षेत्र में बरामद किया गया।

क्यूबा के राष्ट्रपति मिगेल डियाज कनेल ने बताया कि विमान में यात्रियों समेत चालक दल के कुल 114 लोग सवार थे। इस हादसे में केवल तीन लोग जीवित बच पाए हैं जोकि गंभीर रूप से घायल हैं। यह विमान घरेलू उड़ान के तहत हवाना से होलगन जा रहा था। इस विमान में पांच बच्चों समेत कुल 105 यात्री सवार थे। इसके अलावा विमान में चालक दल के नौ सदस्य भी मौजूद थे।राष्ट्रपति श्री कनेल ने बताया कि विमान दुर्घटना के बाद लगी आग को बुझा लिया गया है और प्रशासन ने मारे गए लोगों के शवों की पहचान करनी शुरू कर दी है। प्रशासन विमान दुर्घटना के कारणों की जांच कर रहा है।
 

No image

अमेरिका के राष्ट्रपति डॉनल्ड ट्रंप ने किम जोंग-उन को उनकी बात मानने का ऑफर देते हुए धमकी दी है। शुक्रवार को ट्रंप ने किम जोंग को दोबारा आगाह किया है। ट्रंप ने कहा कि अगर किम परमाणु हथियार कार्यक्रम छोड़ देते हैं, तो सत्ता में बने रहेंगे। लेकिन अगर वह वॉशिंगटन के साथ समझौते से इनकार करते हैं तो उन्हें 'तबाह कर दिया जाएगा।

बता दें कि हाल में किम जोंग ने धमकी दी थी कि वह 12 जून को ट्रंप के साथ सिंगापुर में होने वाली संभावित बैठक में शामिल नहीं होंगे। इसपर ट्रंप ने पलटवार किया था। वाइट हाउस में ट्रंप ने पत्रकारों से कहा, 'अगर वह अपने परमाणु हथियारों को त्यागते हैं तो मैं किम को 'सुरक्षा प्रदान करने के लिए 'बहुत कुछ करने के लिए तैयार हूं।ट्रंप ने आगे कहा, 'उन्हें सुरक्षा दी जाएगी, जो बहुत मजबूत होगी.... सबसे अच्छी बात यह होगी कि वह समझौता कर लें।

ट्रंप ने यह भी कहा कि वार्ता से हटने के संबंध में उत्तर कोरिया की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। उन्होंने कहा, 'हमारे लोग वार्ता की व्यवस्था के लिए सचमुच काम कर रहे हैं, इसलिए यह उससे अलग है, जिसके बारे में आप पढ़ते हैं, लेकिन कई बार जो आप पढ़ते हैं, वह फर्जी समाचार नहीं होता है, वह सच होता है।

उन्होंने उत्तर कोरिया को चेतावनी दी और दो विकल्पों के बारे में बताया। पहला परमाणु कार्यक्रम बंद करके सत्ता में बने रहें या दूसरा लीबिया के नेता मुअम्मार गद्दाफी की तरह अपनी दुर्दशा करें, जिन्हें 2011 में नाटो के समर्थन वाले विद्रोहियों ने सत्ता से बेदखल कर मार गिराया था। ट्रंप ने कहा, 'अगर आप गद्दाफी के मॉडल को देखें तो उसे पूरी तरह से तबाह कर दिया गया था। हम वहां उन्हें हराने के लिए गए थे। कोई समझौता नहीं होने की स्थिति में उस मॉडल को अपनाया जा सकता है।

ट्रंप ने यह भी कहा कि अमेरिका उत्तर कोरिया के साथ वार्ता के दौरान 'लीबिया मॉडल का इस्तेमाल नहीं करेगा। इससे पहले राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बॉल्टन ने कहा था कि प्योंगयांग के साथ वार्ता का आधार '2003-04 का लीबिया मॉडल होगा। राष्ट्रपति ने कहा, 'जब हम उत्तर कोरिया के बारे में सोचते हैं, तो यह लीबिया मॉडल नहीं है। लीबिया में हमने उस देश को तबाह कर दिया था..... वहां गद्दाफी को सुरक्षित रखने का कोई समझौता नहीं किया गया था।2003 में, गद्दाफी अमेरिका से आर्थिक सहायता के बदले अपने देश में सामूहिक विनाश के हथियार को समाप्त करने पर सहमत हो गया था, हालांकि समझौते में गद्दाफी को किसी भी प्रकार की सुरक्षा का भरोसा नहीं दिया गया था।
 

No image

बहुचर्चित चारा घोटाले में सजा काट रहे अस्थाई जमानत पर जेल से बाहर आए राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष  लालू यादव की तबीयत शनिवार सुबह अचानक खराब हो गई। इसके बाद इन्हें पटना के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया है। लालू यादव को कुछ दिन पहले ही रांची हाईकोर्ट से 6 सप्ताह की अस्थायी जमानत मिली थी।

 

राजद के पार्टी प्रवक्ता ने बयान जारी कर बताया कि लालू ने सुबह सोकर उठने के बाद बेचैनी, सीने में दर्द और चक्कर आने की शिकायत की थी। इसके बाद पारिवारिक चिकित्सक को बुलाकर उन्हें दिखाया गया। इस दौरान पाया गया कि उनका ब्लड शुगर लेवल बढ़ा हुआ है। इसके बाद लालू प्रसाद को पटना के आईजीआइएमएस (इंदिरा गांधी आयुर्विज्ञान संस्थान) में भर्ती कराने का निर्णय लिया गया है।

 

चिकित्सकों की सलाह पर लालू को इलाज के लिए आईजीआइएमएस में भर्ती करा दिया गया है। आईजीआइएमएस के चिकित्सकों का कहना है कि अभी उनकी पूरी जांच की जाएगी उसके बाद ही कुछ बताया जा सकेगा। लालू यादव को पिछले कई दिनों से है ब्लडप्रेशर और खून में शुगर का लेवल भी बढ़ा हुआ है।

 

उल्लेखनीय है कि  में सजायाफ्ता लालू रांची के बिरसा मुंडा जेल में बंद थे। रांची उच्च न्यायालय ने उन्हें इलाज कराने के लिए छह सप्ताह की औपबंधिक जमानत दी है। लालू यादव इलाज के जल्द ही मुंबई जाने वाले हैं। लालू यादव पिछले काफी समय से बीमार चल रहे हैं। बता दें कि इससे पहले लालू अपने बेटे तेज प्रताप की शादी में शामिल होने के लिए तीन दिन की पैरोल पर बाहर आये थे।

No image

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने एडमिरल हैरी हैरिस का दक्षिण कोरिया के अगले राजदूत के रूप में चुनाव किया है। समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, हैरिस (61) वर्तमान में अमेरिकी प्रशांत कमान के कमांडर हैं। उन्हें पहले आस्ट्रेलिया में अमेरिकी राजदूत के तौर पर नामित किया गया था।

ट्रंप के 2017 में राष्ट्रपति के रूप में शपथ लेने के बाद से दक्षिण कोरिया में अमेरिकी राजदूत का पद रिक्त था। ऐसा कहा जा रहा है कि इस पद के लिए व्हाइट हाउस ने जनवरी में दिग्गज कोरियाई विशेषज्ञ विक्टर चा के नामांकन को वापस ले लिया था क्योंकि चा उत्तर कोरिया पर खिलाफ सैन्य विकल्प के खिलाफ थे। हालांकि, हैरिस को अभी इस पद पर नियुक्त होने से पहले अमेरिकी सीनेट से हरी झंडी मिलना बाकी है।
 

No image

अपने देश में लड़की की शादी के वक्त उसके पिता मौजूद न हों तो कन्यादान के लिए चाचा, मामा आगे आ जाते हैं। कभी यह नहीं सुना होगा कि होने वाले ससुर ने कन्यादान किया हो। लेकिन यह शुभ कार्य तो ससुर भी कर सकता है क्योंकि बहू भी वही दर्जा रखती है जो बेटी का होता है। ब्रिटेन के शाही परिवार में यही होने जा रहा है।

ब्रिटेन में प्रिंस हैरी और अमेरिकी ऐक्ट्रेस मेगन मर्केल शनिवार को शादी के बंधन में बंध जाएंगे। इस शाही शादी में बेटी और बहू का भेद भी खत्म होने जा रहा है। दरअसल, मेगन के पिता काफी बीमार हैं, इसलिए वह इस शादी में शामिल नहीं हो पाएंगे। ऐसे में दूल्हे प्रिंस हैरी के पिता प्रिंस चार्ल्स ही दुल्हन मेगन के लिए सेंट जॉर्ज चैपल में पिता की रस्में निभाएंगे।

 शाही महल केंजिंग्टन पैलेस के मुताबिक, खुद मेगन ने इस रस्म को निभाने का आग्रह अपने होने वाले ससुर प्रिंस चार्ल्स से किया था, जिसे उन्होंने मान लिया। प्रिंस चार्ल्स ने जो रिवाज निभाना है, वह हमारे यहां के कन्यादान जैसा ही है। ईसाई रीति-रिवाज से होने वाली शादियों में पिता दुल्हन का हाथ थामकर उन्हें पादरी और दूल्हे के पास ले जाते हैं। हालांकि मेगन के सेंट जॉर्ज चैपल तक आने के पूरे समय प्रिंस चार्ल्स साथ नहीं होंगे। माना जाता है कि शुरुआती आधा रास्ता वह अकेले या फिर प्रिंस विलियम के बच्चों के साथ पूरा करेंगी।

शाही वेडिंग रिसेप्शन में एक और परंपरा टूट सकती है। बताते हैं कि मेगन इस दौरान अपनी खुद की स्पीच पढ़ सकती हैं। ब्रिटिश शाही घराने में अब तक ऐसा नहीं हुआ था। आमलोग इसका स्वागत कर रहे हैं।क्या खास यह शादी सेंट जॉर्ज चैपल, विंडसर कैसल में होगी, इसे दुनिया के सबसे पुराने महलों में से एक बताया जाता है। शादी में कुल 2000 लोग शामिल होंगे। वेडिंग रिंग्स को वेल्स की खान से निकले सोने से बनाया गया है। शादी में ड्रेस कोड होगा। इसमें पुरुष मिलिट्री यूनिफॉर्म और महिलाएं डे ड्रेस (एक तरह का गाउन) और हैट पहनकर आएंगी। शादी में कुल 32 मिलियन पाउंड (तकरीबन 293 करोड़ रुपये) लागत आएगी।
 

No image

अंतर्राष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में आई तेजी और देश के ताजा राजनीतिक हालात, खासतौर से कर्नाटक विधानसभा चुनाव परिणाम के बाद के राजनीतिक घटनाक्रम के कारण इस सप्ताह घरेलू शेयर बाजार में नकारात्मक रुझान रहा। देश के शेयर बाजारों में इस सप्ताह गिरावट का दौर जारी रहा और प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 35 हजार के मनोवैज्ञानिक स्तर के नीचे बंद हुआ। 
बंबई स्टाक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स कारोबारी सप्ताह के आखिरी सत्र में शुक्रवार को 687.49 अंकों यानी 1.93 फीसदी की गिरावट के साथ 34,848.30 पर बंद हुआ। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का 50 शेयरों पर आधारित सूचकांक निफ्टी 210.10 अंकों यानी 1.94 फीसदी की गिरावट के साथ 10,596.40 पर बंद हुआ। 

बीएसई का मिडकैप सूचकांक 448.31 अंकों यानी 2.74 फीसदी की गिरावट के साथ 15,895.68 पर बंद हुआ। इसी तरह स्मॉलकैप सूचकांक 491.31 अंकों यानी 2.76 फीसदी की गिरावट के साथ 17,326.78 पर बंद हुआ। 

सप्ताह के पहले कारोबारी दिन सोमवार (14 मई) को शेयर बाजार में मिला-जुला रुख रहा। सेंसेक्स 20.92 अंकों यानी 0.06 फीसदी तेजी के साथ 35,556.71 पर बंद हुआ और निफ्टी 0.10 अंकों की नगण्य तेजी के साथ 10,806.60 पर बंद हुआ। सप्ताह के दूसरे कारोबारी दिन मंगलवार को सेंसेक्स में मामूली गिरावट रही और यह 12.77 अंकों यानी 0.04 फीसदी के साथ 35,543.94 पर बंद हुआ। इसी तरह निफ्टी 4.75 अंकों यानी 0.04 फीसदी की गिरावट के साथ 10,801.85 पर बंद हुआ। 

बुधवार को सेंसेक्स 156 अंकों यानी 0.44 फीसदी की गिरावट के साथ 35,387.88 पर और निफ्टी 60.75 अंकों यानी 0.56 फीसदी की गिरावट के साथ 10,741.10 पर बंद हुआ। कर्नाटक में राजनीतिक अनिश्चितता को लेकर निवेशकों में चिंता रही, जिससे गुरुवार को सेंसेक्स में 238.76 अंकों यानी 0.67 फीसदी गिरावट आई और यह 35,149.12 पर बंद हुआ। इसी तरह निफ्टी में 58.40 अंकों यानी 0.54 फीसदी की गिरावट रही और यह 10,682.70 पर बंद हुआ। 

इसी तरह शुक्रवार को भी बाजार में गिरावट का दौर जारी रहा। सेंसेक्स में 300 अंकों यानी 0.86 फीसदी की गिरावट रही और यह 34,848.30 पर बंद हुआ। निफ्टी में 86.30 अंकों यानी 0.81 फीसदी की गिरावट रही और यह 10,596.40 पर बंद हुआ। 

No image

श्रीराम ट्रांसपोर्ट फाइनेंस कंपनी हिंदुस्तान पेट्रोलियम के पेट्रोल पंप पर ग्राहकों को पेट्रोल-डीजल भरवाने के लिए लोन उपलब्ध कराएगी. इसे डिजिटल आधार पर दिया जाएगा. इस संबंध में दोनों कंपनियों ने एक समझौते पर हस्ताक्षर किए हैं. एसटीएफसी की तरफ से एक बयान में कहा गया कि इस सुविधा से ग्राहक वाहन के लिए डीजल, पेट्रोल और लुब्रिकेंट को ऋण पर खरीद सकते हैं. एसटीएफसी अभी वाणिज्य वाहन और टायर खरीदने के लिए ऋण देती है. यह सुविधा ग्राहकों के लिए कम लागत के कार्यशील पूंजी समाधान और ईंधन पर उनके खर्च की निगरानी करने में मदद करेगी.

ओटीपी से मिलेगी सुविधाकंपनी ने कहा कि इस संबंध में लेनदेन नकदी और कार्ड रहित होगा. एसटीएफसी के प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी उमेश रेवांकर ने कहा कि इससे छोटे ट्रांसपोर्ट मालिकों और खुद का ट्रक खरीदने वालों को आसानी होगी. यह ऋण सुविधा वन टाइम पासवर्ड (ह्रञ्जक्क) आधारित डिजिटल मंच से संचालित होगी. इसकी अवधि 15 से 30 दिन तक रहेगी.इंडियन ऑयल कर रही डीजल की होम डिलीवरी

इससे पहले मार्च में इंडियन ऑयल कॉर्पोरेशन ने पुणे में डीजल की होम डिलीवरी शुरू की थी. शुरुआत में कंपनी ने केवल डीजल की होम डिलीवरी शुरू की थी. इसके सफल होने पर पेट्रोल की भी होम डिलीवरी शुरू की जा सकती है. ऐसा पेट्रोल पंप पर लगने वाली लंबी लाइन से राहत पाने के लिए किया जा रहा है. इंडियन ऑयल की नई पहले के अनुसार कंपनी घर-घर जाकर फ्री में डीजल की डिलिवरी करेगी.

ऐसे मिलेगा डीजलकंपनी की तरफ से होम डिलीवरी के लिए डीजल भरने वाली मशीन को एक ट्रक में लगाया गया है. यह मशीन उसी तरह की है, जैसी पेट्रोल पंप पर लगी होती है. ट्रक में एक टंकी भी लगी है. इसके जरिये शहर में लोगों को डीजल की होम डिलिवरी की जाती है.
 

No image

वॉलमार्ट द्वारा फ्लिपकार्ट की बड़ी हिस्सेदारी खरीदे जाने पर सरकार का कहना है कि यह ऑनलाइन मार्केटप्लेस की नई नीति के तहत है जिसमें ऐमजॉन पहले से ही मौजूद है। आर्थिक सचिव सुभाष चंद्र गर्ग ने एक एक प्रेस कॉन्फ्रेंस में उन्होंने कहा, हम ऑनलाइन मार्केट में एफडीआई को मंजूरी देते हैं। एक अमेरिकी कंपनी (वॉलमार्ट) भी इसी के तहत निवेश कर रही है। जैसे ऐमजॉन आ सकती है वैसे ही वॉलमार्ट भी।

गर्ग की यह बात सरकार की तरफ से पहली आधिकारिक टिप्पणी है। इससे पहले नीति आयोग के थिंक टैंक वाइस चेयरमैन राजीव कुमार ने कहा था कि यह डील एफडीआई की नीति के तहत है। गर्ग ने कहा, कुछ लोग प्लैटफॉर्म मॉडल में भी एफडीआई का विरोध करते हैं। यह उनका विचार हो सकता है लेकिन यहां इस क्षेत्र में एफडीआई को अनुमति है। ट्रेडर्स लॉबी ग्रुप कन्फेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्स और संघ के स्वदेशी जागरण मंच ने वॉलमार्ट की इस डील का विरोध किया है। 

वॉलमार्ट ने फ्लिपकार्ट के 77 फीसदी शेयर खरीदने का फैसला किया है। इन संगठनों ने सरकार से सौदे को खारिज करने की मांग की है। उनका कहना है कि दुनिया का सबसे बड़ा रिटेलर भारत में अपने पांव पसारने के लिए फ्लिपकार्ट का इस्तेमाल कर रहा है। यह मल्टी ब्रैंड रीटेल पर रोक से बचने का तरीका है। गर्ग ने कहा कि वॉलमार्ट इस निवेश के जरिए कोई गलत काम नहीं कर पाएगा।
 

No image

13000 करोड़ रुपये के पीएनबी घोटाला मामले में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने हीरा कारोबारी नीरव मोदी के पिता समेत 4 लोगों को समन भेजा है। नीरव मोदी के पिता दीपक मोदी के साथ इसमें भाई निशल, बहन पूर्वी मेहता और उनके पति मयंक मेहता शामिल हैं। अमेरिका के रहने वाले मोदी के सहकारोबारी मिहिर भंसाली को भी ईडी ने पूछताछ के लिए समन भेजा है।

इस समय नीरव मोदी के परिवार के सभी लोग देश से बाहर हैं और उन्हें ई-मेल के माध्यम से समन भेजा गया है। नीरव की कंपनियों से हुए ट्रांजैक्शन के बारे में पूछताछ के लिए इन लोगों को समन किया गया है। अधिकारियों को इस बात की पुख्ता जानकारी नहीं है कि नीरव के परिवार के ये लोग इस समय कहां हैं लेकिन बताया जा रहा है कि दीपक मोदी बेल्जियम में, निशल और भंसाली अमेरिका में और मेहता हॉन्ग कॉन्ग में हैं। 

इससे पहले ईडी ने नीरव मोदी और मेहुल चौकसी को समन किया था लेकिन वे हाजिर नहीं हुए थे। दोनों पीएनबी से गलत एलओयू के जरिए हजारों करोड़ का घोटाला करने के आरोपी हैं। सीबीआई ने इसी सप्ताह बॉम्बे हाई कोर्ट में इन दोनों के खिलाफ चार्जशीट फाइल की है। ईड़ी ने इन दोनों के पास से लगभग 3000 करोड़ की संपत्ति जब्त की है।
 

No image

पीएम मोदी के संसदीय क्षेत्र काशी में आने वाले श्रद्धालु और यहां के रहने वाले लोगों को जल्द ही गोवा जैसे क्रूज का आनंद उठाने का मौका मिल सकेगा. खास बात यह है कि इस क्रूज पर गंगा की लहरों पर विश्व-प्रसिद्ध गंगा आरती देख सकेंगे. इसके अलावा यह क्रूज टूरिस्ट्स को गंगा की लहरों पर बनारस के घाट और आसपास के टूरिस्ट स्पॉट के दर्शन भी कराएगा.बता दें कि 20 मई को यह क्रूज कोलकाता से वाराणसी पहुंचेगा. कोलकाता की एक कंपनी ने इसे अलकनंदा काशी के नाम के इस क्रूज को तैयार किया है. इसी कड़ी में यूपी पर्यटन विभाग ने भी एक क्रूज को चलाने का फैसला किया है. जिसकी तैयारी अंतिम दौर में है.

वाराणसी के जिला पर्यटन अधिकारी अविनाश ने बताया कि एक प्राइवेट कंपनी ने अलकनंदा काशी के नाम के इस क्रूज को तैयार किया है. जो राजघाट से लेकर अस्सी घाट तक चलेगा. लेकिन इस कंपनी को अभी वन विभाग से एनओसी नहीं मिली है. इस लिए इस प्राइवेट क्रूज को चलाने में कुछ वक्त लग सकता है.अविनाश ने अहम खुलासा करते हुए बताया कि पर्यटन की दृष्टि से देखते हुए पर्यटन विभाग ने अपना एक क्रूज लाने का फैसला किया है. जिसके लिए यूपी निर्माण निगम को टेंडर दिया गया है. हम लोगों को वन विभाग से एनओसी मिल गई है. जिला पर्यटन अधिकारी की मानें तो 3-4 महीने के अंदर गंगा की लहरों पर श्रद्धालु क्रूज का आनंद उठा सकेंगे. 

बताया जा रहा हैं कि इस क्रूज में सभी आधुनिक सुविधाएं मौजूद रहेंगी. खासतौर से इसके सेफ्टी फीचर पर बहुत ध्यान रखा गया है. इसका इंजन 450 हॉर्स पॉवर का है. इसके साथ ही एक सर्विस बोट भी है. यह सर्विस बोट इमरजेंसी की सिचुएशन में लाइफ बोट का काम करेगी. इसके अलावा इस लक्जऱी क्रूज में पर्याप्त संख्या में लाइफ जैकेट्स और लाइफ गार्ड्स मौजूद रहेंगे.इसके अलावा इसमें बायो-टॉयलेट की सुविधा है ताकि किसी भी तरह से कोई गंदगी गंगा के पानी में न मिलने पाए. इस हॉल के साथ ही पैंट्री की भी व्यवस्था रहेगी ताकि टूरिस्ट्स को ब्रेकफास्ट, स्नैक्स और लंच परोसा जा सके. इस क्रूज के विंडो काफी बड़े बनाए गए हैं ताकि अंदर बैठा व्यक्ति बाहर के नज़ारे का पूरा लुत्फ़ उठा सके.

अलकनंदा काशी के नाम से जल्द आने वाले प्राइवेट क्रूज के कंपनी के अधिकारी विकास मालवीय ने बताया कि इसका इंजन एनवायरनमेंटल नॉर्म्स के हिसाब से ही एमिशन करेगा, साथ ही यह पूरी तरह से साउंड प्रूफ है. उन्होंने बताया कि इस क्रूज में 2000 स्चयर फीट की जगह है. जिसे सेमिनार और पार्टी हॉल की तरह इस्तेमाल किया जा सकेगा. वाराणसी की धार्मिक आस्था के चलते इस क्रूज पर कोई भी ऐसा खान-पान इस्तेमाल नहीं किया जा सकेगा जो इसके अनुरूप न हो.
नीचे का डेक पूरी तरह से एयर-कंडीशन्ड है. इसमें सेमिनार और पार्टी ऑर्गनाइज की जा सकेगी. यह एक बड़े हॉल नुमा है जिसमें इवेंट के मुताबिक़ बैठने की भी व्यवस्था की जा सकती है. इसकी दीवार पर ऑडियो-विजुअल सिस्टम चलाने की भी व्यवस्था रहेगी. इसका इस्तेमाल कॉर्पोरेट इवेंट्स के लिए किया जा सकेगा.
इसके अलावा इसमें बायो-टॉयलेट की सुविधा है ताकि किसी भी तरह से कोई गंदगी गंगा के पानी में न मिलने पाए. मालवीय ने बताया कि इस क्रूज को शुरुआत में अस्सी घाट से राजघाट तक चलाने की योजना है. क्रूज अस्सी घाट से टूरिस्ट्स को लेकर राजघाट तक जाएगा और फिर वहां से वापस आएगा.
 

No image

संभल में शनिवार तड़के सुबह भीषण सड़क हादसे में 8 लोगों की मौके पर मौत हो गई जबकि आधा दर्जन से ज्यादा लोग घायल हो गए. घटना ट्रैक्टर ट्रॉली पलटने से हुई. सूचना मिलते ही पुलिस ने घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया. जहां 3 लोगों की हालत चिंताजनक बनी हुई है. इस हादसे में मरने वाले सभी लोग मुरादाबाद के डिलारी के रहने वाले थे और दरी बनाने का काम करते थे. वे आज सुबह दरी बेचने के लिए अलीगढ़ जा रहे थे. वे आज सुबह दरी बेचने के लिए अलीगढ़ जा रहे थे. पुलिस ने सभी के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया.

घटना राजपुरा इलाके के अनूपशहर रोड की है. मौत की खबर मिलते ही गांव में कोहराम मचा हुआ है. सभी शव पोस्टमार्टम के लिए बहजोई लाये जा रहे हैं. पुलिस ने सभी मृतकों की पहचान कर ली है. जिनमें वसीम अहमद पुत्र अब्दुल जब्बार नि0 ग्राम बहादुरगंज उम्र -25 वर्ष, मुकरम अली पुत्र सलामत जान नि0ग्राम बहादुरगंज थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद, साजिद अली पुत्र अब्दुल वाहिद नि0ग्राम ग्राम आलमपुर उम्र 36 वर्ष, असलम हुसैन पुत्र साबिर हुसैन नि0ग्राम बहादुरगंज थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद उम्र 23 वर्ष, नासिर हुसैन पुत्र अब्दुल सलाम नि0ग्राम आलमपुर थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद उम्र 30 वर्ष.

अब्दुल कय्यूम पुत्र मोहम्मद अय्यूब नि0ग्राम आलमपुर थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद उम्र 50वर्ष, कमरूल जमा पुत्र अमजद नि0ग्राम बहादुरगंज थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद उम्र 40वर्ष और सगीर पुत्र वाहिद नि0ग्रामआलमपुर थाना डि़लारी जनपद मुरादाबाद उम्र 35 वर्ष है.
 

No image

 13 साल की एक बच्ची का बार-बार रेप करने और उसका अश्लील विडियो बनाने के दोषी पाए गए मस्जिद के एक 75 वर्षीय मौलवी को आजीवन कारावास की सजा सुनाई गई। मामले की सुनवाई यौन अपराध से बच्चों का विशेष संरक्षण ऐक्ट की अदालत द्वारा की गई। 

यह मामला चर्चा में तब आया था जब 2013 में पीडि़ता के एक पड़ोसी ने कुछ लड़कों के मोबाइल पर उसकी क्लिप देखी। इसके बाद पड़ोसी ने पीडि़ता के पैरंट्स को इस बारे में जानकारी दी और सतर्क किया। अभियोजन पक्ष ने कोर्ट में कहा कि दिसंबर 2012 में सुबह लगभग 11:30 बजे पीडि़ता अपने दोस्तों के साथ परीक्षा देने स्कूल जा रही थी, तभी मौलवी ने उसे परीक्षा में काम आने वाले कुछ महत्वपूर्ण नोट्स देने के बहाने मस्जिद में बुलाया। पीडि़ता के दोस्त तो वहां से चले गए लेकिन पीडि़ता नोट्स के लिए वहीं रुक गई। इसके बाद मौलवी ने दरवाजा लॉक कर लिया और पीडि़ता का रेप किया। मौलवी ने पीडि़ता को धमकी देते हुए इस बारे में किसी से कुछ न कहने की बात भी कही।

मौलवी ने इसके बाद भी कई बार पीडि़ता का रेप किया और उसका विडियो बनाया। मौलवी ने पीडि़ता को धमकी दी कि अगर वह किसी को इस बारे में बताएगी तो वह उसके माता-पिता की हत्या कर देगा। पीडि़ता के पड़ोसी और मामले के एक गवाह ने कोर्ट को बताया कि जनवरी 2013 में एक दिन दोपहर में मस्जिद के पास सड़क पर उसने लड़कों की भीड़ देखी। जब वह उनके पास गया तो देखा कि वे मोबाइल पर एक विडियो क्लिप देख रहे हैं। विडियो में एक आदमी बच्ची के साथ गलत काम कर रहा था। उसे वह बच्ची जानी-पहचानी लगी। इसके बाद उसने मामले की पूरी जानकारी पीडि़ता के पिता को दी। 

गवाह ने बताया कि इसके बाद पीडि़ता ने पिता ने घर जाकर उससे पूरी बात पूछी। तब पीडि़ता ने बताया कि आरोपी लगातार उसका यौन शोषण कर रहा था। इसके बाद पड़ोसी ने पुलिस को बुलाया और मौलवी को गिरफ्तार कर लिया गया। क्लिप के प्रसार से जुड़े दो अन्य लोगों को भी कोर्ट ने सूचना प्रौद्योगिकी अधिनियम के तहत जेल भेज दिया है।

No image

मौसम विभाग ने उम्मीद जताई है कि मॉनसून इस साल केरल में समय से 3 दिन पहले पहले 29 मई को पहुंच सकता है। शुक्रवार को मौसम विभाग की तरफ से दी गई जानकारी के अनुसार, साउथ वेस्ट मॉनसून केरल में इस साल 29 मई तक पहुंच सकता है। मॉनसून पहुंचने के पूर्व के अनुमान से यह 4 दिन पहुंच रहा है। आम तौर पर साउथ वेस्ट मॉनसून केरल में सबसे पहले 1 जून के आसपास पहुंचता है।

साउथ वेस्ट मॉनसून के पहले चरण में 7 दिन तक बारिश होती है और इसी के साथ भारत में वर्षा ऋतु की शुरुआत मानी जाती है। मॉनसून केरल में पहुंचने के बाद उत्तर की तरफ बढ़ता है और बारिश और फुहारों से उत्तर भारत की तपती गर्मी से लोगों को राहत मिलती जाती है। मॉनसून का आगमन और वर्षा ऋतु की शुरुआत का उत्तर भारत में इस वक्त तपती गर्मी से बेहाल लोग बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं।

भारतीय मौसम विभाग की तरफ जारी पूर्वानुमान में अमूमन 4 दिनों के आगे या पीछे को शामिल किया जाता है। केरल से मॉनसून आगमन के पूर्वानुमान के साथ इन 4 दिनों को आगे-पीछे ध्यान में रखकर ही साल 2005 से किया जाता रहा है। पिचले 13 साल से यह पूर्वानुमान लगभग ठीक ही रहा है। हालांकि, 2015 में यह गलत साबित हुआ था।
 

No image

 दिल्ली हाई कोर्ट ने कहा कि गूगल और अन्य सोशल मीडिया प्लेटफार्म ने ऐसी सामग्री अपलोड करके देश का बड़ा नुकसान किया है, जिससे कठुआ बलात्कार और हत्या मामले की पीडि़त बच्ची की पहचान का खुलासा हुआ। अदालत ने सोशल मीडिया प्लेटफार्म जैसे गूगल, फेसबुक , ट्विटर और यूट्यूब को नोटिस जारी किए। अदालत ने ये नोटिस तब जारी किए, जब इन सोशल मीडिया कंपनियों की

भारतीय सहायक कंपनियों ने पीठ को बताया कि वे मुद्दे पर अदालत के नोटिस का जवाब देने के लिए संबंधित इकाई नहीं हैं। कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश गीता मित्तल और न्यायमूर्ति हरिशंकर की पीठ ने कहा , आपने देश का बड़ा नुकसान किया है। यह देश और पीडि़त परिवार के साथ एक अन्याय है। इस तरह के प्रकाशन की अनुमति नहीं है। मामले की अगली सुनवाई 29 मई को होगी।
 

No image

देशभर के 20 से ज्यादा राज्यों में एक बार फिर आंधी-तूफान का खतरा मंडरा रहा है। मौसम विभाग ने अडवाइजरी जारी कर आने वाले तीन दिनों में उत्तर और उत्तर-पश्चिम भारत में भारी तूफान और मूसलाधार बारिश की संभावना जताई है। राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र दिल्ली-एनसीआर में भी मौसम एक बार फिर से बिगड़ सकता है। इस दौरान हल्की बारिश की भी संभावना जताई जा रही है। यही नहीं रात के समय भी दिल्ली-एनसीआर में धूल भरी आंधी चलने का अनुमान है।कई राज्यों को अलर्ट जारी 

मौसम विभाग ने चक्रवाती तूफान सागर के संबंध में तमिलनाडु, केरल, कर्नाटक, गोवा, महाराष्ट्र और लक्षद्वीप को अलर्ट जारी किया। अलर्ट में कहा गया है कि अगले 12 घंटों में इसके थोड़े मजबूत होने और फिर पश्चिम-दक्षिण पश्चिम की ओर बढऩे की संभावना है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, अलर्ट है कि मछुआरे अगले 48 घंटों के दौरान अदन की खाड़ी और पश्चिमी, मध्य और दक्षिण-पश्चिमी अरब सागर के आसपास के क्षेत्रों में न जाएं। दक्षिण और पश्चिमी राज्यों के तटीय इलाकों में 70 से 80 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से चल रही तूफानी हवाएं 90 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार पर पहुंच रही हैं।

पूर्वी राज्यों में भी असर राजस्थान में एक बार फिर धूलभरी आंधी आ सकती है। मौसम विभाग के मुताबिक, गर्मी के मौसम में यह बदलाव होता ही है। मौसम विभाग ने असम, मेघालय, नगालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, झारखंड, बिहार, पूर्वी उत्तर प्रदेश, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, पंजाब, हिमाचल प्रदेश, जम्मू एवं कश्मीर, तटीय आंध्र प्रदेश, कर्नाटक, तमिलनाडु, केरल, लक्षद्वीप के कुछ इलाकों में तेज हवा के साथ आंधी का अलर्ट जारी किया है।

No image

 कर्नाटक विधानसभा में बहुमत परीक्षण से ठीक पहले सुप्रीम कोर्ट ने प्रोटेम स्पीकर के चुनाव पर कांग्रेस की आपत्तियों को खारिज कर दिया है। अब यह तय हो चुका है कि राज्यपाल द्वारा नियुक्त प्रोटेम स्पीकर केजी बोपैया के नेतृत्व में ही बहुमत परीक्षण कराया जाएगा। सुनवाई के दौरान एएसजी तुषार मेहता ने सुप्रीम कोर्ट को बताया कि बहुमत परीक्षण का लाइव टेलिकास्ट किया जाएगा। इसपर जिरह के बाद कांग्रेस ने भी अपनी आपत्तियों को वापस ले लिया। शुक्रवार को सुप्रीम कोर्ट ने शनिवार 4 बजे कर्नाटक में फ्लोर टेस्ट कराने का आदेश दिया था। इसके बाद कर्नाटक के राज्यपाल वजुभाई वाला ने बीजेपी विधायक केजी बोपैया को प्रोटेम स्पीकर नियुक्त किया था।

शनिवार को इस मामले में जिरह करते हुए ऐडवोकेट कपिल सिब्बल ने कोर्ट में कहा कि संसद की परंपरा के मुताबिक सबसे वरिष्ठ सदस्य को ही प्रोटेम स्पीकर नियुक्त करना चाहिए। सिब्बल ने कहा कि प्रोटेम स्पीकर के रूप में बोपैया की नियुक्ति कर कर्नाटक के राज्यपाल ने लंबे समय से चली आ रही इस परंपरा को तोड़ा है। इस पर जस्टिस एसए बोबडे ने कहा कि पहले भी ऐसा हुआ है कि जब वरिष्ठ सदस्य प्रोटेम स्पीकर नहीं बनाए गए हैं। इसपर सिब्बल ने प्रोटेम स्पीकर के रूप में बोपैया के मामले को अलग बताते हुए कहा कि पहले भी विधायकों को अयोग्य ठहराने के उनके फैसले को कोर्ट रद्द कर चुका है। इसपर जस्टिस बोबडे ने कहा कि प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को चुनौती देने पर नोटिस जारी करना पड़ेगा और फ्लोर टेस्ट टालना पड़ेगा।

सुनवाई के दौरान जस्टिस सीकरी ने कहा कि हम स्पीकर की नियुक्ति नहीं कर सकते। सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि हम राज्यपाल को इसके लिए निर्देश नहीं दे सकते। जबतक परंपरा कानून नहीं बन जाती तबतक कोर्ट दबाव नहीं डाल सकता। एएसजी तुषार मेहता की तरफ से सुप्रीम कोर्ट को बताया गया कि बहुमत परीक्षण का लाइव टेलिकास्ट किया जाएगा। इसपर कोर्ट ने संतुष्टि जाहिर की और इसके बाद कांग्रेस ने भी अपनी आपत्तियों को वापस ले लिया।

कर्नाटक के गवर्नर के इस फैसले को संविधान के खिलाफ बताते हुए कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुंची थी। कांग्रेस ने अपनी अर्जी में कहा था कि नियुक्ति को खारिज किया जाए और संसदीय परंपरा के तहत सबसे वरिष्ठ सदस्य को प्रोटेम स्पीकर बनाया जाए। कांग्रेस का आरोप था कि क्योंकि सबसे वरिष्ठ विधायक (आरवी देशपांडे) उनकी पार्टी से आते हैं, इसलिए उन्हें नजर अंदाज कर बोपैया को प्रोटेम स्पीकर बनाया गया है।

आपको बता दें कि कर्नाटक विधानसभा में शनिवार को होने वाले बहुमत परीक्षण के लिए गवर्नर ने प्रोटेम स्पीकर के तौर पर बीजेपी एमएलए केजी बोपैया को नियुक्त किया। इससे पहले कांग्रेस विधायक आरवी देशपांडे और बीजेपी के उमेश कट्टी का नाम इसके लिए सबसे आगे चल रहा था। शक्ति परीक्षण का काम प्रोटेम स्पीकर की निगरानी में ही होगा।
 

No image

सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद कर्नाटक में आज शाम 4 बजे भाजपा की येदियुरप्पा सरकार का बहुमत परीक्षण होगा। इसके विधानसभा का सत्र शुरू हो चुका है। सत्र शुरू होने के बाद सबसे पहले मुख्यमंत्री येदियरप्पा ने सदन की सदस्यता की शपथ ली जिसके बाद अन्य विधायकों को शपथ दिलाई गई। फ्लोर टेस्ट को देखते हुए विधानसभा के आसपास सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं।

कांग्रेस के दो विधायक आनंद सिंह और प्रताप गौड़ा सदन में शपथ ग्रहण के लिए अब तक नहीं पहुंचे हैं। वहीं भाजपा के एक विधायक सोमशेखर रेड्डी भी सदन से लापता हैं।

 कांग्रेस नेता वीरप्पा मोइली ने भाजपा पर अपने विधायकों को बंधक बनाने का आरोप लगाया है।

सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस-जेडीएस की वो याचिका खारिज कर दी जिसमें प्रोटेम स्पीकर की नियुक्ति को चुनौती दी गई थी।

सुप्रीम कोर्ट में प्रोटेम स्पीकर पर कांग्रेस-जेडीएस की याचिका पर सुनवाई हो चुकी है और सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस को झटका देते हुए कहा कि वो राज्यपाल के फैसले को नहीं बदल सकती और वो भाजपा का ही रहेगा। इसके अलावा कोर्ट ने बहुमत परीक्षण के दौरान इसका लोकल चैनल्स पर लाइव प्रसारण करने के निर्देश भी दिए हैं।

बहुमत परीक्षण के लिए मुख्यमंत्री येदियुरप्पा भाजपा विधायकों के साथ विधानसभा पहुंच चुके हैं वहीं कांग्रेस और जेडीएस विधायक भी बसों में विधानसभा पहुंचे हैं।

 

 

 

 

No image

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने शुक्रवार को टनकपुर में हुई एक बस दुर्घटना में पूर्णागिरि जा रहे जनपद बरेली के श्रद्धालुओं की मौत पर गहरा शोक व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री ने मृतकों के आश्रितों को 02-02 लाख रुपये तथा घायलों को 50-50 हजार रुपये की आर्थिक सहायता प्रदान करने की घोषणा की है। उन्होंने घायलों का समुचित इलाज कराने के भी निर्देश दिए हैं। योगी ने दुर्घटना में दिवंगत श्रद्धालुओं की आत्मा की शांति की कामना करते हुए उनके शोक संतप्त परिजनों के प्रति अपनी संवेदना भी व्यक्त की है।बरेली जिले में शुक्रवार तडक़े सडक़ हादसे में नौ श्रद्धालुओं की मौत हो गई, जबकि 21 अन्य घायल हो गए। यह हादसा तक हुआ जब सभी लोग उत्तराखंड में मां पूर्णागिरि के दर्शन के लिए जा रहे थे।

No image

उत्तर प्रदेश की राजधानी में स्थित डॉ. ए.पी. जे. अब्दुल कलाम प्राविधिक विश्वविद्यालय में इस साल से सभी सेमेस्टर की मार्कशीट डाक के जरिए छात्रों के घर भेजी जाएंगी। विश्वविद्यालय प्रशासन का कहना है कि इससे पहले छात्रों की डिग्री ही डाक से उनके घर भेजी जाती थीं लेकिन अब मार्कशीट भी उनके घर तक पहुंचाई जाएगी। विश्वविद्यालय के परीक्षा नियंत्रक प्रो. राजीव कुमार के मुताबिक कई विद्यार्थियों की शिकायतें आती थीं कि कॉलेज उनकी मार्कशीट रोक लेता है और मार्कशीट लेते समय अतिरिक्त फीस भी ली जाती है। स्कॉलरशिप नहीं आने पर भी मार्कशीट रोके जाने की शिकायतें हैं। 

उन्होंने बताया कि इन सब परेशानियों से विद्यार्थियों को नहीं जूझना पड़े, इसके लिए विश्वविद्यालय ने अब डाक के जरिए मार्कशीट घर भेजने का फैसला किया है। इसके लिए वेबसाइट पर एक फॉर्म निकाला गया है। इस पर विद्यार्थियों को अपना वर्तमान पता और स्थाई पता अपडेट करना होगा ताकि मार्कशीट उन्हें आसानी से भेजी जा सके। कुमार के मुताबिक, पिछले वर्ष 10,000 डिग्रियां इसलिए वापस आ गई थीं क्योंकि विद्यार्थियों द्वारा दिया गया पता सही नहीं था। उन्हें बाद में कॉलेज की तरफ से दिया गया। 

 

No image

 दमोह में 8 साल की मासूम के साथ दुष्कर्म का मामला सामने आया है। वारदात शुक्रवार की रात को जैरथ पुलिस चौकी के अंतर्गत एक गांव में घटित हुई। मासूंम के साथ दुष्कर्म का आरोप पड़ोसी पर लगा है। पीड़िता के पिता ने बताया कि आरोपी बुट्टई उर्फ भजन लाल अपने घर के बाहर खेल रही मासूम को अपने साथ खेत पर लेकर गया और वहां पर उसने दुष्कर्म की वारदात को अंजाम दिया।

साथ ही आरोपी ने मासूम को धमकी दी कि यदि उसने घटना के बारे में किसी को बताया तो वह उसके हाथ काट देगा । मासूम जब उसके परिजन को खेत में मिली तो उसने उनको सारी वारदात के बारे में बताया। इसके बाद पीड़ित ने परिजनों के साथ पुलिस में रिपोर्ट दर्ज करवाई । पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है ।

No image

ओडिशा में बीते 24 घंटे के भीतर नाबालिग बच्चियों के साथ रेप की कई घटनाएं सामने आई हैं। एक मीडिया रिपोर्ट की मानें तो बच्चियों के यौन शोषण के ये मामले उस समय दर्ज किए गए हैं, जब राज्य पुलिस ने महिलाओं और बच्चियों की सुरक्षा के लिए एक जन-जागरुकता अभियान चलाने का ऐलान किया है। रेप का ऐसा ही एक मामला ओडिशा के नाबारंगपुर जिले में दर्ज किया गया, जहां एक नाबालिग छात्रा के साथ गैंगरेप किया गया। जानकारी के अनुसार पीड़िता शाम को शौच के लिए अपने घर से बाहर निकली थी, तभी रास्ते में खड़े दो युवकों ने उसको अगवा कर रेप की घटना को अंजाम दिया। घटना के बाद पीड़िता ने एक एनजीओ के माध्यम से पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। शिकायत के अनुसार 8वीं कक्षा में पढ़ने वाली पीड़िता ने बताया कि घटना के बाद आरोपियों में से एक ने उसके साथ शादी करने का वादा किया था। उसने कहा था कि अगर वह इसके बारे में किसी को कुछ नहीं बताएगी तो वह उसके साथ शादी कर लेगा।

वहीं ओडिशा के बालासोर जिले में गुरुवार को 15 साल की नाबालिग के साथ हुए यौन शोषण का मामला दर्ज किया गया है। पुलिस से मिली जानकारी के अनुसार एक 40 वार्षीय अधेड़ युवक बीते एक साल से नाबालिग लड़की का यौन शोषण करता आ रहा था। घटना का खुलासा उस समय हुआ जब घरेलू हिंसा के केस में बालासोर की बाल कल्याण समिति पिछले तीन महीनों से बच्ची की काउंसलिंग कर रही थी। काउंसिलिंग के दौरान पीड़िता ने बताया कि एक चेंगा नाम के युवक ने उसके साथ जबरन शारीरिक संबंध बनाए। पीड़िता की शिकायत के आधार पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया।

वहीं, बालासोर में ही एक 10 वर्षीय दिव्यांग बच्ची के साथ ही रेप की शिकायत दर्ज की गई। पुलिस के मुताबिक पीड़िता के 56 वर्षीय पड़ोसी ने ही उसके साथ रेप की घटना को अंजाम दिया। पीड़िता के दादा की ओर से की गई शिकायत में बताया गया कि दिव्यांग बच्ची मानसिक रूप से कमजोर है। पुलिस आरोपी की धर-पकड़ के लिए दबिश डाल रही है।

 

No image

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी अपने दो दिवसीय प्रवास पर छत्तीसगढ़ में हैं. तय शेड्यूल के अंतिम कार्यक्रम के तहत राहुल गांधी ने शुक्रवार को दुर्ग से मेगा रोड शो किया. इस दौरान जगह-जगह उनका स्वागत किया गया.

राहुल गांधी कई मौकों पर प्रोटोकॉल तोड़कर कार्यकर्ताओं से मिलने बस से नीचे भी उतरे. दुर्ग से भिलाई के बीच उनके रोड शो के स्वागत के लिए कार्यकर्ता हाथी और ऊंट लेकर भी पहुंचे थे. उन्होंने रोड शो के दौरान महात्मा गांधी और सरदार पटेल की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण भी किया.

छत्तीसगढ़ दौरे के दूसरे दिन कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने मेगा रोड शो किया. ओपन बस में राहुल के साथ प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल भी सवार थे. रोड शो के दौरान कुछ जगह भारी भीड़ नजर आई तो कहीं कहीं खाली जगह भी नजर आई.

रोड शो के दौरान राहुल गांधी कर बस के पीछे कांग्रेस नेताओं की गाड़ियों का लंबा काफिला चल रहा था. इस दौरान दुर्ग के गांधी चौक, सरदार पटेल, सुपेला चौक, पावर हाउस अंबेडकर चौक, सिरसा चौक और कुम्हारी चौक में उनका सम्मान भी किया गया.

राहुल गांधी  का संवाद कार्यक्रम

कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां संवाद कार्यक्रम में कार्यकर्ताओं के सावलों का बेबाकी से जवाब दिए।

-रैंप पर घूमकर प्रत्येक ब्लाक के क्षेत्र का नाम पूछा। जिला अध्यक्षो को भी रैंप के समीप बुलाया। 
-मेरा पहला काम कांग्रेस की विचारधारा देश में फैलाने का है। इसके लिए कार्यकर्ता जरूरी है, मैं और सभी नेता भी पार्टी के कार्यकर्ता हैं।
-कार्यकर्ता चुनाव लड़े हैं तब जीत मिलती है। कार्यकर्ताओं को टिकट वितरण के समय पूछा नहीं जाता है। अब कार्यकर्ताओं की सहमति से ही टिकट तय होंगे। विधानसभा चुनाव में हेलीकाप्टर से उतरे लोगों को टिकट नहीं मिलेगा। उनका इशारा छत्तीसगढ़ जनता (जोगी) कांग्रेस की ओर था।

बड़े नेता भी बक्शे नही जाएंगे

-आरएसएस के स्वंय सेवक लोगों को आपस में लड़ा रह है। इसी के चलते किसान, दुकानदार और छोटे तबके के लोग परेशान है। प्रधानमंत्री ने झूठ बोला है सिर्फ भ्रष्ट और आरएसएस के लोगों को योजनाओ का लाभ मिल रहा है।
-जनता को बताना है और शेर की तरह कार्यकर्ता लड़ेंगे। कार्यकर्ता का अपमान नहीं होगा, ऐसा हुआ तो बड़े नेता भी बक्शे नही जाएंगे।
-सवाल ईवीएम के बजाय पुराने पद्धति से चुनाव क्यों नही। जवाब-बदलाव होना चाहिए।
0-सरकार के ब्रष्ट होने का प्रमाण कर्नाटक में बीजेपी को सरकार बनाने का मौका और गोवा में कांग्रेस को अवसर नहीं दिया। हर संस्था पर आरएसएस का दबाव, देश के इतिहास में 4 जजों को न्याय के लिए जनता के पास आना पड़ा। 
0-कल्पना देशमुख से मोबाइल पर शक्ति एप से बात। पूछा ठीक से दिख रहा हूं मैं। पूछा कब से कांग्रेस में हो? फिर सबको शक्तिसे जुडऩे का आह्वान किया। 
0-हर नेता की जिम्मेदारी होगी कि एक पोलिंग बूथ जिताए। राहुल से लेकर आम कार्यकर्ता की यह जिम्मेदारी है।

प्रत्याशी थोपे नहीं जाएंगे
0-भिलाई के पार्षद सुभद्रा सिंह ने फर्जी वोटर का मामला उठाया? राहुल ने कहा बीजेपी के लोग इस तरह से चुनाव जीतते है। उन्होंने कहा कि 15 अगस्त तक 90 फीसदी टिकट तय हो जाएगी।
0-एक कार्यकर्ता ने पूछा कि एमपी में पहले 60 से 70 सीट जीतते थे। जितने वालो को टिकट नहीं मिलती इसलिए पराजय का सामना करना पड़ता है। 
0-जवाब स्थानीय होना जरूरी टिकट के लिए। प्रत्याशी थोपे नहीं जाएंगे? सवाल-टिकट की घोषणा किश्तो में क्यों, सेटिंग्स के चलते पराजय होती है। पुरानी बात छोड़कर नए सिरे से तैयारी की नसीहत दी।

सवाल जाति धर्म के आधार पर टिकट क्यों?
उन्होंने कहा विधानसभा चुनाव के पहले घोषणा पत्र सबको पूछकर बनाया जाएगा। यह घोषणा पत्र पार्टी की नहीं जानता का होगा।

0-निर्दलीय पार्षद हमीद खोखर ने पूछा कि ईमानदारी से काम करने के बाद भी पार्टी ने टिकट नहीं दी। इसके बाद 1970 वोटों से जीत मिली। 
डौंडीलोहारा की संगीता नायर ने प्रदेश में पूर्ण शराबबंदी के संबंध में सवाल किया। इस पर राहुल के बोलने के पहले भूपेश ने कहा कि पार्टी ने पहले से इस संबंध में प्रस्ताव पारित किया है।

No image

दक्षिण अमरीकी देश क्यूबा की राजधानी हवाना में एक दुखद घटना शुक्रवार को घटी। हवाना में एक यात्री विमान रनवे पर टेक ऑफ करते समय दुर्घटना का शिकार हो गया, जिसमें 100 से अधिक लोगों की मौत हो गई। बता दें कि इस विमान में 104 यात्रियों के अलावा चालक दल के 9 लोग सवार थे।

जैसे ही दुर्घटना की सूचना राष्ट्रपति मिगुएल दायज केनल को मिली वे फौरन घटना स्थल पर पहुंच गए। हालात का जायजा लेते हुए उन्होंने गहरा दुख व्यक्त करते हुए बताया कि हादसे में बड़ी संख्या में लोगों की मौत हुई है। एक रिपोर्ट के मुताबिक जब बोइंग 737 ने उडान भरी जिसके तुरंत बाद यह हादसा हो गया। हादसे के बाद घटना स्थल पर काला धुआं उठता हुआ देखा गया।

रिपोर्ट में बताया गया है कि इस विमान को क्यूबा की सरकारी एयरलायंस क्यूबाना ने किराए पर लिया था। बताया जाता है कि इस एयरलायंस ने पिछले कुछ महीनों में अपने कई पुराने विमानों को सेवा से बाहर करने का फैसला किया है। कंपनी के मुताबिक इन विमानों को उनकी तकनीकी खामी के कारण सेवा से बाहर किया जा रहा है। इससे पहले भी क्यूबा में विमान हादसा हो चुका है। एक विमान हादसे में 39 यात्रियों की मौत हो गई थी।

एएनआई के मुताबिक, क्यबून एयरलाइंस के विमान एंटोनोव एन-26 ने बाराकोआ हवाईअड्डे से उड़ान भरी थी। क्यूबा के पश्चिम में स्थित पिनर डेल रियो प्रांत में यह विमान दुर्घटनाग्रस्त होकर गिर गया। इस हादसे में विमान में सवार सभी यात्री मारे गए।

सरकारी एयरलायंस क्यूबाना का था यह विमानमीडिया रिपोर्ट के मुताबिक यह यात्री विमान हवाना से क्यूबा के एक और शहर हूलगिन जा रहा था। बताया जा रहा है कि यह विमान सरकारी एयरलायंस क्यूबाना का बोइंग 737 विमान था। जब यह विमान रनवे पर टेकऑफ कर रहा था कि तभ अचानक दुर्घटना का शिकार हो गया। बता दें कि यह हादसा दक्षिणी हवाना के जोस मार्ती इंटरनेशनल एयरपोर्ट में सैंटियागो डि लास वेगस नामक शहर के पास हुई।

No image

आज खत्म होगा कर्नाटक का 'नाटक’? ये बड़ा सवाल इसलिए है क्योंकि आज कर्नाटक के नव निर्वाचित मुख्यमंत्री बीएस येदियुप्पा के लिए बड़ा दिन हैं। आज उन्हें सदन में बहुमत हासिल करना है।

विधानसभा सत्र से पहले भारतीय जनता पार्टी की बैठक हो रही है। शंगरी-ला होटल में बीजेपी की बैठक चल रही है। इस बैठक में मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा और कर्नाटक के चुनाव प्रभारी प्रकाश जावड़ेकर समेत बीजेपी के विधायक भी शामिल हैं। वहीं इससे पहले कांग्रेस और जेडीएस विधायक भी हैदराबाद से बेंगलुरु पहुंच गए हैं। सभी बस से बेंगलुरु के होटल हिल्टन पहुंचे हैं। JDS नेता कुमारस्वामी अपनी पार्टी के विधायकों के साथ हैदराबाद से प्लेन में बेंगलुरु आए हैं। खरीद-फरोख्त से बचाने के लिए कांग्रेस ने शुक्रवार को अपने विधायक बेंगलुरु के इगलटन रिजॉर्ट में भेजे थे। जेडीएस विधायक होटल शांगरी ला में रोके गए। इस बीच, कुछ विधायकों के लापता होने की खबरें आईं।

सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने के लिए शनिवार शाम 4 बजे तक का वक्त दिया है। इस तरह देश की सबसे बड़ी अदालत ने राज्यपाल वजूभाई वाला के उस फैसले को पलट दिया, जिसमें उन्होंने बीएस येदियुरप्पा को बहुमत साबित करने के लिए 15 दिन का वक्त दिया था। येदियुरप्पा ने दावा किया कि 100 फीसदी जीत हमारी होगी। अब देखने वाली बात यह होगी कि जादुई आंकड़े से 7 कदम दूर बीएस येदियुरप्पा विधानसभा में फ्लोर टेस्ट में कैसे बहुमत को हासिल करते हैं।

No image

कमलानगर पुलिस ने एक महिला की शिकायत पर उसके पति पर सगी बेटी के साथ दुष्कर्म करने का केस दर्ज किया है। आरोपित की सरगर्मी से तलाश की जा रही है।

कमलानगर थाना प्रभारी आशीष भट्टाचार्य ने बताया कि इलाके की बस्ती में रहने वाली 15 वर्ष की किशोरी का पिता ठेकेदार के पास मिस्त्री का काम करता है, जबकि मां मजदूरी करती है। बुधवार की रात को महिला बच्चों के साथ सो रही थी। देर रात नींद खुलने पर उसने देखा कि उसकी बेटी बिस्तर पर नहीं है। उसने दूसरे कमरे में देखा तो अवाक रह गई। उसका पति, बेटी के साथ दुष्कर्म कर रहा था।

महिला ने बेटी को पति के चंगुल से छुड़ाया और अपने कमरे में लाकर सो गई। गुरुवार सुबह उसने घटना के बारे में पहले पड़ोसियों को बताया। उनकी सलाह पर बेटी को साथ लेकर थाने पहुंची और अपने पति की करतूत के बारे में बताया। उधर, इस बात का पता चलने पर आरोपित मौके से फरार हो गया। इस मामले में आरोपित के खिलाफ दुष्कर्म का केस दर्ज कर लिया गया है।

टीआई भट्टाचार्य के मुताबिक घटना का पता चलते ही आरोपित की तलाश शुरू की गई। इस दौरान पता चला कि वर्तमान में वह मंडीदीप के सतलापुर में एक ठेकेदार के पास काम कर रहा है। इस आधार पर सतलापुर में उसकी साइट पर भी दबिश दी गई, लेकिन वहां पता लगा कि वह साइट पर नहीं पहुंचा। इसके अलावा उसने अपना मोबाइल फोन भी बंद कर लिया है। पुलिस आरोपित की हर संभावित ठिकानों पर तलाश कर रही है।

No image

 पूर्वांचल विश्वविद्यालय में योग गुरु बाबा रामदेव ने कहा कि 25 वर्ष पहले योग की शुरुआत की। शुरुआती दौर में 75 हजार का टर्न ओवर हुआ करता था। आज पतंजलि से जुड़कर डेढ़ लाख लोग नौकरी कर रहे हैं। एलोपैथ का डॉक्टर भी मुक्तावती का प्रयोग कर रहा है, यह आयुर्वेद की विजय है। 50 हजार डॉक्टर को नौकरी को ऑफर दिया। अब आयुर्वेद को गरिमा मिली है।

अब पतंजलि ने 10 हजार छात्रों के लिए कॉलेज खोले हैं इसके साथ ही एक लाख से अधिक निशुल्क सेंटर आयर्वेद की चल रही है। जो दुनिया में नहीं हुआ वो हमने योग से कर दिखाया। इंदिरा जी और नेहरू जी पहले योग करते थे अब आम आदमी के लिए शुलभ हुआ है।1 00 लाख करोड़ की दवा बिकती है लेकिन एक भी दवा काम नहीं आई। अनलोम- विलोम और लौकी से यह समस्या दूर हुई है। योग से सभी सभी बीमारियों को दूर किया जा सकता है यहां तक कि कैंसर भी। 50 लाख की किट हार्मोन चेक करने के लिए बाहर से मंगवाई लेकिन योग से स्ट्रेस की समस्या को आसानी से दूर कर दिया। योग करने से बॉडी का स्ट्रक्चर और करेक्टर दोनों ठीक रहते है।

कालेधन पर बोलते हुए रामदेव ने कहा कि यह मामला हमने उठाया था। अब यह काम हमने देश के प्रधानमंत्री और जेटली जी पर छोड़ दिया है। अब काले मन को सही करने का प्रयास कर रहा हूं। वेद के माध्यम से बहुत कुछ सीखा है। ब्राह्मण के अलावा विभिन्न जातियों को वेद का ज्ञान दिलाया।

एकता समानता के सूत्र में समाज को बांधने का काम हमने काम किया। योग के नाम पर धर्म परिवर्तन नहीं बल्कि जीवन परिवर्तन हैं। स्वदेशी शिक्षा, भजन, भोजन पर हम सब भारतीय गौरव करते हैं। देश को आर्थिक और सांस्कृतिक आजादी तक हमारा स्वदेशी का प्रयास जारी रहेगा। पतंजलि का 100 फीसदी फायदा चैरिटी के लिए किया जाएगा। कर्नाटक के नाटक कुछ ज्यादा हो गया है इसपर कुछ ज्यादा ही नाटक हो रहा है।19 करोड़ गाय हैं जिसका पतंजलि घी बेच रहा है।

No image

 सूरत से सटे वलसाढ़ जिले में शादी करने से मना करने पर प्रेमी ने अपने परिवार के साथ मिलकर प्रेमिका की जमकर पिटाई की और इसके बाद उस पर एसिड फेंक दिया। लड़की को गंभीर अवस्था में वलसाढ़ सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया।

घटना की जानकारी मिलने पर पुलिस बल पहुंचा और मामले की जांच-पड़ताल शुरू कर दी। पुलिस ने शुक्रवार अस्पताल में भर्ती 22 वर्षीय पीड़िता की शिकायत के बाद आरोपी प्रेमी अजमल अंसारी और उसकी मां व भाभी को गिरफ्तार कर लिया। उधर लव जिहाद का मामला होने के कारण हिन्दू संगठनों ने इसका विरोध किया है।

यह घटना वलसाढ़ के चणवई एकता फलिया क्षेत्र की है। पीड़िता ने शिकायत दर्ज करवाई कि वह दो साल पहले बारहवीं कक्षा में पढ़ाई करती थी। तब वह क्षेत्र में ही रहनेवाले अजमल नामक लड़के के संपर्क में आई थी। दोनों के बीच प्यार हो गया, लेकिन परिजनों की इज्जत के लिए उसने वर्ष 2017 में प्रेमी से संबंध तोड़ दिए।

पीड़िता ने पुलिस को बताया कि तब से अजमल उसे परेशान कर रहा है। वह बार-बार उसका पीछा कर उससे शादी करने के लिए दबाव डालता था। गत 16 मई के दिन दोपहर 12 बजे वह अपनी एक सहेली से मिलने के लिए गई थी तभी अजमल अपनी मां और भाभी के साथ यहां आया था। तीनों उसे देखते ही मारने लगे। इस दौरान अजमल की भाभी एसिड की बोतल लेकर आई और अजमल ने उस पर एसिड फेंका, लेकिन वह हट गई जिससे उसका चेहरा बच गया और कंधे से दाईं तरफ बुरी तरह से जल गया।

पुलिस ने बताया कि लड़की आरोपियों के चंगुल से छुटकर हाइवे पर आई। यहां कुछ लोगों ने उसे अस्पताल पहुंचाया। फिलहाल उसकी हालत स्थिर है। लड़की के बयान के बाद प्रेमी सहित तीन लोगों गिरफ्तार कर आगे की कार्रवाई शुरू कर दी है। उधर इस घटना के बारे में हिन्दू संगठनों ने आक्रोश व्यक्त किया है। हिन्दू संगठनों ने लव जिहाद के बैनर के साथ रैली निकालकर आरोपियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की।

No image

कैराना उपचुनाव से पहले राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) को जबरदस्त झटका लगा है. रालोद के राष्ट्रीय प्रवक्ता चौधरी साहब सिंह ने शुक्रवार को बीजेपी का दामन थाम लिया. लखनऊ स्थित बीजेपी मुख्यालय पर 11 बजे के करीब साहब सिंह और दो बसपा नेताओं ने बीजेपी की सदस्यता ग्रहण की.

बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष डॉ महेंद्रनाथ की मौजूदगी में चौधरी साहब सिंह, संभल के बसपा नेता चरण सिंह भारती जाटव और मुरादाबाद के रजनीकान्त जाटव ने पार्टी की सदस्यता ली. बता दें पूर्ववर्ती सपा सरकार में भी दर्जा प्राप्त मंत्री रह चुके हैं साहब सिंह. कैराना उपचुनाव से पहले चौधरी साहब सिंह का बीजेपी में शामिल होना रालोद अध्यक्ष अजीत सिंह के लिए बड़ा झटका माना जा रहा है.

मौजूदा समय में रालोद का न कोई सदस्य लोकसभा में है और न ही विधानसभा में. ऐसे में कैराना उपचुनाव में रालोद की टिकट पर सपा समर्थित तबस्सुम हसन मैदान में हैं.2019 के लोकसभा चुनाव से पहले रालोद किसी भी कीमत पर कैराना उपचुनाव जीत कर पश्चिम उत्तर प्रदेश में वापसी करना चाह रही है. कैराना में हार रालोद के अस्तित्व के लिए खतरा बन सकती है.
 

No image

सेक्सुअल हैरेसमेंट को लेकर मी टू कैंपेन के जरिए कई हॉलीवुड स्टार्स ने अपने बुरे अनुभवों को सबके सामने रखा. इस मुहिम के चलते कई एक्ट्रेसेस ने अपनी आपबीती बताई और अन्य महिलाओं को इसके खिलाफ आवाज उठाने के लिए प्रेरित किया. हालांकि इस मुहिम में बॉलीवुड से कोई आगे नहीं आया.

इसी को लेकर कान फिल्म फेस्टिवल में पहुंची हुमा कुरैशी से सवाल किया गया. हुमा से पूछा गया कि बॉलीवुड अभिनेत्रियां इस मामले पर खुलकर आवाज क्यों नहीं उठाते, इसे लेकर उन्होंने कहा ''महिला होने के नाते हमें कई बार ऐसे लोंगों का सामना करना पड़ता है. लेकिन मेरा मानना है कि ये सिर्फ फिल्म इंडस्ट्री में नहीं बल्कि हर फील्ड में होता है.''

हुमा ने कहा कि बॉलीवुड में इस मामले को लेकर ज्यादा आवाजें इसलिए सुनाई नहीं देती क्योंकि उन्हें अपने भविष्य की चिंता होता है. जब कभी महिलाएं ऐसे मामलों को लेकर आवाज उठाती हैं तो उन्हें इसे लेकर विरोध का सामना भी करना पड़ता है. समाज को भी ये समझने की जरूरत है कि अगर ऊंची आवाज में बोल रहा है तो उसे मदद की आवश्यकता है लेकिन मदद करने के लिए कोई आगे नहीं आता.

हुमा ने आगे कहा कि ऐसा नहीं है कि हालात बदल नहीं रहे लेकिन ये सच है कि अभी हालातों को और बेहतर होने में वक्त लगेगा. देश में और फिल्म इंडस्ट्री में अब सकारात्मक बदलाव दिख रहे हैं.

 

 

No image

 चेन्नई सुपर किंग्स इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में शुक्रवार को फिरोजशाह कोटला मैदान पर दिल्ली डेयरडेविल्स से भिड़ेगी। इस मैच में जीत से दो अंकों के साथ चेन्नई आधिकारिक तौर पर प्लेऑफ में अपना स्थान पक्का कर लेगी। बल्लेबाजी में अंबाती रायुडू और शेन वाटसन की सलामी जोड़ी ने टीम को अच्छी शुरुआत दी है। धौनी रायुडू के स्थान पर फाफ डु प्लेसिस को वाटसन के साथ सलामी बल्लेबाजी के लिए भेज सकते हैं और रायुडू को मध्यक्रम में भी उतार सकते हैं। टीम के मध्यक्रम को सुरेश रैना और धौनी ने अच्छे से संभाल रखा है। निचले क्रम में ड्वायन ब्रावो और रवींद्र जडेजा भी बल्ले से योगदान देने में सफल हैं। 

गेंदबाजी में चेन्नई के लुंगी नगिदी, शार्दूल ठाकुर और डेविड विले ने टीम की बागडोर को अच्छे से संभाला है। धौनी इस मैच में कुछ बदलाव भी कर सकते हैं। उनके पास कर्ण शर्मा और इमरान ताहिर के रूप में दो लेग स्पिनर हैं जिसमें से धौनी एक के साथ जाएंगे। हरभजन सिंह खेलेंगें या नहीं यह तय नहीं है। धौनी दोनों लेग स्पिनरों को बैठा कर हरभजन को अंतिम एकादश में मौका दे सकते हैं। जडेजा के कंधों पर भी स्पिन विभाग की जिम्मेदारी होगी। वहीं दिल्ली की बात की जाए तो उसकी बल्लेबाजी ही इस सीजन में कुछ चल पाई है वो भी युवा बल्लेबाज ऋषभ पंत के बूते। पंत के अलावा अंडर-19 विश्व विजेता कप्तान पृथ्वी शॉ और कप्तान श्रेयस अय्यर का बल्ला भी चला है। इन तीनों के अलावा सभी विफल रहे हैं। गेंदबाजी में ल्याम प्लंकट ने कुछ हद तक प्रभावित किया है। ट्रैंट बाउल्ट के जिम्मे तेज गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी होगी। 

टीमें (संभावित): दिल्ली डेयरडेविल्स : श्रेयस अय्यर (कप्तान), जेसन रॉय, गौतम गंभीर, ऋषभ पंत (विकेटकीपर), ग्लेन मैक्सवेल, विजय शंकर, डेनियल क्रिस्टियन, राहुल तेवातिया, शहबाज नदीम, मोहम्मद शमी, ट्रेंट बोल्ट, कोलिन मुनरो, अमित मिश्रा, पृथ्वी शॉ, हर्ष पटेल, आवेश खान, जयंत यादव, गुरकीरत सिंह मान, मंजोत कालरा, अभिषेक शर्मा, संदीप लामिचाने, नमन ओझा, सायन घोष और लियाम प्लकंट। 

चेन्नई सुपर किंग्स : महेंद्र सिंह धौनी (कप्तान/विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, सुरेश रैना, ड्वायन ब्रावो, शेन वाटसन, अंबाती रायुडू, मुरली विजय, हरभजन सिंह, फाफ डु प्लेसिस, मार्क वुड, सैम बिलिंग्स, दीपक चहर, लुंगी नगिदी, के.एम. आसिफ, कनिष्क सेठ, मोनू सिंह, ध्रुव शोरे, क्षितिज शर्मा, चैतन्य बिश्नोई, कर्ण शर्मा, इमरान ताहिर, शार्दूल ठाकुर, एन. जगादेसन।
 

No image

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने व्हाइट हाउस में चीन के राष्ट्रपति शी जिनपिंग के विशेष दूत और उपप्रधानमंत्री लिउ हे से द्विपक्षीय मुद्दों पर चर्चा की। लिउ अमेरिकी सरकार के निमंत्रण पर आर्थिक और व्यापारिक मामलों पर चर्चा के लिए मंगलवार को वाशिंगटन पहुंचे थे।समाचार एजेंसी सिन्हुआ के मुताबिक, लिउ चीन की कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय समिति के पॉलिटिकल ब्यूरो के सदस्य भी हैं। लिउ ने शी जिनपिंग और उनकी पत्नी पेंग लियुआन की शुभकामनाएं भी ट्रंप और

अमेरिका की प्रथम महिला मेलानिया ट्रंप को दीं।इस दौरान लिउ ने कहा कि दोनों देशों के संबंध उस महत्वपूर्ण स्तर पर है, जिन्हें आपसी सहमति से क्रियान्वित किए जाने की जरूरत है। ट्रंप ने कहा कि वह शी के साथ निजी संबंधों और अच्छे कामकाजी संबंधों को महत्व देते हैं।
 

No image

जम्मू-कश्मीर के आरएस पुरा सेक्टर में पाकिस्तान की ओर से गुरुवार रात सीजफायर उल्लंघन किया गया। सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) की ओर से पाकिस्तान की इस हरकत का मुंहतोड़ जवाब दिया गया। हालांकि इस कार्रवाई में एक बीएसएफ जवान शहीद हुआ है। कुल पांच लोगों की जान भी चली गई है।
उधर गुरुवार देर रात बांदीपुरा के हाजिन सेक्टर में 13 राष्ट्रीय राइफल्स के एक गश्ती दल पर कुछ आतंकियों ने हमला किया। हमले के बाद चौकन्ने हुए सुरक्षाबलों ने पूरे इलाके में रातभर सर्च ऑपरेशन चलाया, मगर फिलहाल कुछ नहीं मिला है।

बता दें कि पाकिस्तान की ओर से रमजान के पहले दिन ही जम्मू-कश्मीर के सांबा और कठुआ जिलों में बुधवार को रातभर 15 सीमा चौकियों और कुछ रिहायशी इलाकों पर गोलीबारी की गई और मोर्टार दागे गए। इसमें बीएसएफ का एक जवान घायल हो गया। आरएस पुरा सेक्टर में बीएसएफ जवान सीताराम उपाध्याय शहीद हो गए। सीजफायर उल्लंघन की घटनाओं में शुक्रवार को 4 नागरिकों की जान चली गई है। इनमें से दो नागरिकों की जान अरनिया सेक्टर में गई।

उधर, शहीद सीताराम की पत्नी का कहना है कि सरकार ने रमजान के महीने में सीजफायर की घोषणा की थी लेकिन पाकिस्तान की ओर से फायरिंग में उनके पति की जान चली गई। उन्होंने कहा कि अब मुआवजा देने से क्या होगा। उनके पति अब वापस नहीं आएंगे। इससे पहले सांबा सेक्टर में 15 मई को पाकिस्तानी जवानों ने संघर्षविराम का उल्लंघन कर सीमा चौकियों पर गोलीबारी की थी। उनका उद्देश्य सीमापार से घुसपैठ करवाने में मदद देना था। उस गोलीबारी में बीएसएफ का 28 वर्षीय एक जवान शहीद हो गया था। जवानों ने रविवार से अबतक घुसपैठ के चार प्रयासों को विफल किया है।
 

No image

बॉलीवुड एक्टर जॉन अब्राहम की फिल्म परमाणु जल्द ही रिलीज होने वाली है. इस फिल्म में जॉन भारतीय सैनिक की भूमिका में नजर आएंगे. जिसके बाद वह जल्द ही एक और फिल्म की शूटिंग करने वाले हैं और इस फिल्म में भी वह एक पुलिसवाले की भूमिका निभाएंगे. दरअसल, जॉन अब्राहम रीयल लाइफ इंसिडेंट से इंस्पायर्ड फिल्म में अहम भूमिका निभाने वाले हैं और वह निखिल आडवाणी की फिल्म बाटला हाउस में नजर आएंगे.

ट्रेड एनालिस्ट और इंडियन फिल्म क्रिटिक तरण आदर्श ने अपने ट्विटर हैंडल पर इस खबर की पुष्टि की है. अपने ट्वीट में उन्होंने लिखा, जॉन अब्राहम और डायरेक्टर निखिल आडवाणी एक बार फिर साथ आने वाले हैं. निखिल, जॉन को फिल्म बाटला हाउस में डायरेक्ट करेंगे और फिल्म की शूटिंग इस साल सितंबर में शुरू होगी. फिल्म की कहानी रितेश शाह द्वारा लिखी गई है और फिल्म को दिल्ली, मुंबई, जयपुर और नेपाल में फिल्माया जाएगा. यहां आपको यह भी बता दें कि इससे पहले निखिल और जॉन फिल्म सलाम-ए-इश्क में साथ काम कर चुके हैं.

गौरतलब है कि इससे पहले निखिल एयरलिफ्ट जैसी फिल्म का भी निर्देशन कर चुके हैं और फिल्म की कहानी रितेश शाह ने लिखी है. रितेश इससे पहले पिंक जैसी मशहूर फिल्म की कहानी भी लिख चुके हैं. जिसके बाद निर्देशक और कहानी के लेखक से उम्मीदें बढ़ जाती हैं. वहीं आपको यह भी बता दें कि, फिल्म की कहानी असल घटना बाटला हाउस एनकाउंट पर आधारित है. ऑफिशियली इसका नाम ऑपरेशन बाटला हाउस था. यह ऑपरेशन सितंबर 19, 2008 को दिल्ली के जामिया नगर में बटाला हाउस इलाके में इंडियन मुजाहिदीन (आईएम) आतंकवादियों के खिलाफ किया गया था.
 

No image

 राजधानी लखनऊ से सटे सीतापुर के खैराबाद थाना क्षेत्र के खैरमपुर गांव में गुरुवार को आदमखोर कुत्तों के हमले में घायल हुई 9 वर्षीय बच्ची की शुक्रवार को जिला अस्पताल में इलाज के दौरान मौत हो गई.गुरुवार को खैरमपुर निवासी छोटेलाल की 9 साल की बेटी सोनम अपनी सहेली के साथ गांव के बाहर बाग में गई थी. तभी 8 कुत्तों के एक झुण्ड ने बच्चियों पर हमला बोल दिया. कुत्तों को अपनी तरफ आता देख सोनम की सहेली पड़ोस के आम के पेड़ पर चढ़ गई, जिससे कुत्ते उसे अपना शिकार नहीं बना सके. लेकिन आदमखोर कुत्तों ने सोनम को बुरी तरह नोचकर घायल कर दिया. इस बीच ग्रामीणों को आता देखकर कुत्तों का झुण्ड वहां से भाग गया. आनन-फानन में घायल बच्ची को इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया गया था. जहां आज उसकी इलाज के दौरान मौत हो गई.
सोनम की मौत के बाद जिले के खैराबाद थाना क्षेत्र में कुत्तों के हमलों में अब तक कुल 14 बच्चों की मौत हो चुकी है, जबकि कई अन्य घायल हुए हैं.

कुत्तों के हमलों से परेशान होकर ग्रामीणों ने भी अब जवाबी कार्यवाही शुरू कर दी है. पिछले दिनों शहर कोतवाली के बिहारीगंज गांव में 10 वर्षीय शहरीन पर कुत्तों हमला किये जाने से नाराज ग्रामीणों ने दो कुत्तों को दौड़ा-दौड़ाकर मौत के घाट उतार दिया.इस घटना की सूचना मिलने पर मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारी ने टीम के साथ गांव पहुंचे. उन्होंने दोनों कुत्तों के शवों को अपने कब्जे में ले लिया. इन कुत्तों के शवों को आरवीआरआई की टीम द्वारा जांच के लिए बरेली भेज दिया गया है.

बता दें कि कुत्तों द्वारा बच्चों पर हमले की घटना की गंभीरता को लेते हुए सीएम योगी आदित्यनाथ ने अधिकारियों को सारे आवारा कुत्तों को पकडऩे का निर्देश भी दिया था, जिसके बाद अब तक 35 कुत्तों को पकड़ा जा चुका है. मुख्यमंत्री के निर्देश के बाद पुलिस और प्रशासन हरकत में आ चुका है. कुत्तों को गोली मारने के साथ ही पकड़कर उनकी नसबंदी की जा रही है. इसके बाद उन्हें जंगल में ले जाकर छोड़ा जा रहा है.
 

No image

 मुजफ्फरपुर के तीन अल्पसंख्यक मजदूर समेत बिहार के सैकड़ों लोग कतर के दोहा शहर में फंस गये हैं. ये मजदूर कतर के सहानिया में एडवांस विजन नामक कंपनी में काम करते थे. कंपनी ने पिछले तीन माह से इनका वेतन बंद कर दिया है. बीते सप्ताह से खाना-पीना भी रोक दिया है. कंपनी के संचालक और अधिकारी कार्यालय छोड़कर फरार हो गये हैं. वहीं मजदूरों को भूखे मरने के लिए छोड़ दिया.
मजदूरों ने अपने परिजनों को कतर से वीडियो भेजकर बचा लेने की गुहार लगाई है. भेजे गए वीडियो में सैकड़ों मजदूर दिख रहे हैं, जो भारत वापस बुला लेने की गुहार लगा रहे हैं. क्योंकि लौटने के लिए भी इनके पास कोई पैसा नहीं है.

मुजफ्फरपुर के मोतीपुर प्रखंड के तीन मजदूर कतर में फंसे हैं. आफताब आलम, मोहम्मद मिंटु और आबिद हुसैन मोतीपुर के ठीकहां गांव के रहने वाले हैं. इनके परिजनों का हाल काफी बुरा है. दोनों के माता-पिता दिन-रात रो-रोकर समय काट रहे हैं. क्योंकि विदेश में फंसे बच्चों को बुलाने का कोई उपाय नहीं सूझ रहा है.
इस वजह से पूरे गांव मे सन्नाटा पसरा हुआ है. रमजान का महीना आ गया है और घर का लाल संकट में फंसा है. इससे मां लगातार गम में जी रही है. उधर विदेश में फंसे मजदूर भी इस बात से परेशान हैं कि वे रोजा कैसे रखेंगे. इस मामले में जिले के डीएम ने तेजी से संज्ञान लिया है. मीडिया द्वारा सूचना मिलते ही डीएम मो सोहैल ने परिजनों से बात की. डीएम ने कहा है कि विदेश मंत्रालय की सहायता लेकर फंसे हुए मजदूरों को वापस लाया जाएगा.
 

No image

 रिलायंस जियो इन्फोकॉम ने गुरुवार को मनोरंजन आधारित संवाद के मंच स्क्रींज के साथ विशेष साझेदारी की घोषणा की। यह साझेदारी गेमिफिकेशन के लिए जियो के मौजूदा मंच को आगे बढ़ाएगी। जियो की ओर से जारी बयान के मुताबिक, इस साझेदारी से जबरदस्त मानकों की विषय-वस्तु बनाने में प्रसारक व प्रकाशक समर्थ हो पाएंगे। इस मंच पर उपलब्ध फीचर विविध विषय-वस्तुओं के लिए काफी ग्रहणीय है। साथ ही, प्रसारकों और दर्शकों के बीच सही समय पर संवाद के साथ तारतम्यता बनान व दर्शकों को बांधे रखने में समर्थ है। 
 

No image

 दूरसंचार सचिव अरुणा सुंदरराजन ने गुरुवार को कहा कि 5जी के पूरे देश में चालू होते ही इसकी अहमियत स्थापित हो जाएगी। सुंदरराजन ने कहा, तीव्र रफ्तार वाले, व्यापक व विश्वसनीय 5जी नेटवर्क को चालू करने की तकनीकी चुनौतियों को हम जितना समझेंगे इसकी अहमियत उतनी ही ज्यादा होगी। इससे पहले जब 2जी, 3जी और 4जी दुनियाभर में चालू हुआ था तो भारत में इनकी इतनी अहमियत नहीं जान पड़ती थी। हालांकि 5जी में हमारे लिए बड़े अवसर हैं। 

वह 5जी इंडिया 2018 इंटरनेशनल कान्फ्रेंस को संबोधित कर रही थीं। ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम (बीआईएफ), कंज्यूमर यूनिटी और ट्रस्ट सोसायटी इंटरनेशनल (सीयूटीएस) ने आईसीटी मानकीकरण और 5जी में भारत के अग्रणी स्थान हासिल करने में इसके महत्व पर एक रिपोर्ट जारी किया है। 

सुंदरराजन ने कहा, भारत का संचार बाजार दुनिया में सबसे बड़ा है और इसलिए यह जरूरी है कि भविष्य के संचार नेटवर्क को बनाने के लिए हम प्रशासन, उद्योग और दुनियाभर में अकादमिक क्षेत्र के लोगों के साथ जुड़ें। भारत मौजूदा दौर में अहम मोड़ पर है क्योंकि सरकार सफलतापूर्वक निकट भविष्य में शुरू होने वाली 5जी प्रौद्योगिकी के आलोक में प्रगतिगामी डिजिटलीकृत अर्थव्यवस्था के संभावित फायदे उठाने की ओर उन्मुख है। 

ब्रॉडबैंड इंडिया फोरम के प्रेसिडेंट टी. वी. रामचंद्रन ने कहा, बड़े आर्थिक संदर्भ में अहम भूमिका निभाने वाले मानकों पर परिचर्चा आवश्यक है और भारत जैसे विकासशील देशों के मामले में इसकी प्रासंगिकता को वास्तविकता से अधिक बढ़ा-चढ़ा कर नहीं देखा जा सकता है।

No image

केंद्रीय वित्तमंत्री पीयूष गोयल ने गुरुवार को कहा कि मोदी सरकार सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों की हरसंभव सहायता करेगी और उन्हें जितनी जल्दी हो सके, उतनी जल्दी पटरी पर लाएगी। गोयल ने बैंकिंग क्षेत्र के मौजूदा संकट के लिए पूर्व की संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन की सरकार को दोषी ठहराया। उन्होंने कहा कि बैंकिंग क्षेत्र का वर्तमान संकट अतीत में अंधाधुंध बांटे गए ऋण के कारण पैदा हुआ है। पीयूष गोयल को अस्थाई तौर पर वित्त व कारपोरेट मामलों के मंत्रालय का प्रभार सौंपा गया है। अरुण जेटली के गुर्दा प्रत्यारोपण के बाद स्वस्थ हो जाने तक के लिए उन्हें दोनों मंत्रालय का जिम्मा सौंपा गया है। गोयल ने सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के प्रमुख के साथ एक समीक्षा बैठक की। 

गोयल ने बताया कि जेटली के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है। उन्होंने कहा कि मंत्रालय के कामकाज के सिलसिले में सलाह लेने के लिए वह बुधवार को जेटली से मिले थे। गोयल ने संवाददाताओं को बताया, उन्होंने मुझे कुछ मसलों पर सलाह दी। मैं उनके निर्देशों का अनुपालन कर रहा हूं ताकि जब तक वह अस्वस्थ हैं, उनकी उपस्थिति में सबकुछ सुचारु ढंग चल सके। हम यह सुनिश्चित करना चाहते हैं कि पूरा बैंकिंग क्षेत्र अपने बलबूते चल सके और 2014 में इस सराकर को विरासत में मिले संकट का अंत हो सके।

उन्होंने कहा, मुझे पक्का विश्वास है कि भारतीय रिजर्व बैंक के सहयोग व निर्देशन में कार्यरत मेरे सभी बैंकर सहयोगी, सार्वजनिक क्षेत्र के लाखों कर्मचारी और बैंकिंग प्रणाली के हितधारकों के प्रयासों से हम क्षेत्र का सम्यक विकास सुनिश्चित कर पाएंगे और निष्ठा व उत्तरदायित्व के उच्च मानदंड कायम करेंगे जिसकी इन बैंकों से अपेक्षा है। गोयल ने कहा, हम इस बात की सराहना करते हैं कि भारतीय रिजर्व बैंक बैंकिंग प्रणाली का उचित ढंग से निरीक्षण सुनिश्चित कर रहा है और चूककर्ताओं के खिलाफ कार्रवाई कर रहा है, जिसपर मुझे लगता है कि पूर्व की सरकार के दौरान गंभीरता से ध्यान नहीं दिया गया। गोयल के साथ इस बैठक में 11 बैंकों के प्रमुख मौजूद थे, जिनमें से कुछ ने संकट से बैंकों को निकालने के सुझाव भी दिए। 
 

No image

केंद्रीय खाद्यमंत्री रामविलास पासवान ने गुरुवार को कहा कि वर्तमान आयात नीति के तहत निजी कारोबारियों को पाकिस्तान से चीनी आयात करने से नहीं रोका जा सकता है। पासवान ने पत्रकारों को बताया , दरअसल, पाकिस्तान की चीनी कोई मसला नहीं है। जब हम आयात करने का फैसला लेते हैं तो हम किसी देश के बारे में नहीं सोचते हैं। आयात नीति आज नहीं बनी है बल्कि यह काफी पहले बनी थी। उन्होंने कहा, इसमें सरकार की कोई भूमिका नहीं है। सरकार आयात नहीं कर रही है। निजी लोगों को अधिकार है। विश्व व्यापार संगठन के अनुसार, हम आयात निर्यात पर पूरी तरह प्रतिबंध नहीं लगा सकते हैं।उन्होंने कहा कि पाकिस्तान से आयातित अत्यल्प है। 

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) ने सोमवार को मुंबई में एक गोदाम की छान मारी थी जिसमें पाकिस्तान से मंगाई गई चीनी का भंडारण किया गया था। इसपर महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना ने भी कड़ी प्रतिक्रिया जाहिर की थी और कांग्रेस ने भी केंद्र सरकार की आलोचना की थी। पासवान ने कहा कि सरकार ने चीनी आयात रोकने और घरेलू चीनी उद्योग को राहत देने के मकसद से चीनी पर आयात शुल्क 50 फीसदी से बढ़ाकर 100 फीसदी कर दिया। उन्होंने कहा, 100 फीसदी आयात शुल्क होने के बावजूद अगर कोई आयात करता है तो हम क्या कर सकते हैं। क्या हमें पास्कितान से चीनी आयात पर प्रतिबंध लगाने के लिए कहना चाहिए? 
 

No image

 सुरक्षा बलों ने पिछले कुछ समय में जम्मू-कश्मीर में कई बड़े आतंकियों को मार गिराया है और घाटी में आतंकी नेटवर्क को कमजोर किया है। सुरक्षा बलों को इस वक्त बड़ी चुनौती पत्थरबाजों की तरफ से मिल रही है। पिछले कुछ महीनों में पत्थरबाजों + ने पत्थर के साथ फायरक बम और कभी-कभी तो ऐसिड भी सेना और पुलिस के जवानों पर फेंकना शुरू कर दिया है। रमजान के महीने में सेना के सामने ऑपरेशन रोकने के साथ पत्थरबाजों से निपटना भी एक चुनौती है।
रमजान के महीने में सेना ने ऑपरेशन पर रोक लगाने की सहमति तो दे दी है, लेकिन उनकी चिंता पहले से कम नहीं हुई है। सेना + के सामने इस वक्त चुनौती है कि वह दुर्गम क्षेत्रों में सर्च ऑपरेशन और आतंकी ठिकानों को नष्ट करने की कार्रवाई नहीं कर सकते। इसके साथ ही एनकाउंटर की सूरत में सुरक्षा बलों के लिए एक बहुत बड़ी चिंता एनकाउंटर स्पॉट पर पहुंचने की भी है। रमजान के महीने के लिए बनाए अल्पकालिक नियम के अनुसार सुरक्षा बलों की गश्त भी अपेक्षाकृत कम होगी, हालांकि अटैक की सूरत में वह तत्काल इंटेलिजेंस कार्रवाई करने के लिए स्वतंत्र हैं।

सेना के काफिलों को बनाया जा रहा है निशाना ग्राउंड स्तर पर सुरक्षा बलों ने बताया, हाल ही में भीड़ ने च्कि रिऐक्शन टीम की भारी हथियारों से भरे वाहन और पहले भी कई बार सेना के काफिले पर हमला बोला है। सुरक्षा बलों के ऑपरेशन को बाधित करने के लिए भीड़ पूरी तरह से तैयार हो गई है और यह ऑपरेशन रोकने में कई बार सक्षम भी होते हैं। बता दें कि 2 हफ्ते पहले ही दक्षिणी कश्मीर में आर्मी के एक वाहन पर पत्थरबाजों ने पेट्रोल बम फेंका था। पिछले शनिवार को एक कैरियर को टार या तेल जैसी किसी चीज का प्रयोग कर निशाना बनाया गया था।

एक वरिष्ठ सुरक्षा अधिकारी ने बताया, जिहादे के नाम पर दुष्प्रचार बहुत तेजी से फैलाया जा रहा है। सोशल मीडिया इसमें और बड़ी भूमिका निभा रहा है। अगर हम इस दुष्प्रचार को रोकने के लिए 10 कदम उठाते हैं तो वो हमसे इतना आगे चल रहे हैं कि वो 15 कदम उठा रहे हैं। रमजान के महीने में नो ऑपरेशन का जो कदम उठाया गया है यह एक तरह से हमारी मुश्किलें बढ़ानेवाला ही है। यह एक तरह से सीजफायर नहीं करने का एकतरफा उदाहरण है। सेना और सुरक्षा बलों के साथ यह शायद रक्षा मंत्रालय के लिए आश्चर्यचकित करनेवाला फैसला है।
 

No image

 प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के इंडोनेशिया में अपने पहले दौरे पर जाने वाले है। इससे पहले ही जकार्ता की तरफ से नई दिल्ली के लिए सहयोगी कदम उठाए जा रहे हैं। इंडोनेशिया की तरफ से भारतीय जहाजों को गहरे समुद्र तट वाले अपने क्षेत्र सबांग में प्रवेश की अनुमति देने के संकेत दे दिए हैं। गुरुवार को इंडोनेशिना के नौसेना मामलों के मंत्री लुहुच पंडजैतान ने मीडिया से बात करते हुए यह जानकारी दी।
जोको सरकार में नौसेना मामलों के मंत्री ने कहा, भारत और इंडोनेशिया ने साथ में नौसेना अभ्यास 2017 में शुरू किया है और अब हम अगले मुकाम पर जा रहे हैं। समुद्री तटों पर सहयोग बढ़ाने की दिशा में हम कदम उठा रहे हैं। सबांग समुद्री तट जब भारत के सहयोग के साथ विकसित होगा तो यह दोनों देशों के लिए एक और बड़ा कदम साबित होगा। सबांग पोर्ट की गहराई 40 मीटर तक है और यह नौसेना के कार्यक्रमों के लिहाज से बहुत उपयोगी है।

अगले कुछ सप्ताह में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी इंडोनेशिया + की यात्रा कर सकते हैं। पीएम मोदी की यह पहली इंडोनेशिया यात्रा है और वहां द्विपक्षीय वार्ता में वह प्रेजिडेंट दो विदोदो से मुलाकात करेंगे। जकार्ता में विभिन्न कार्यक्रमों में हिस्सा लेने के साथ ऐसी खबरें भी हैं कि पीएम सबांग में एक अस्पताल के उद्घाटन की भी घोषणा करेंगे। सबांग अंडमान और निकोबार से महज 700 किमी. की दूरी पर है। लुहुट ने कहा, इंडोनेशिया की सरकार चाहती है कि भारत उसी क्षेत्र के इकनॉमिक जोन में निवेश करे क्योंकि वह इलाका अभी ज्यादा विकसित नहीं हुआ है।
सूत्रों के हवाले से ऐसी खबर है कि पीएम मोदी + सबांग सबांग के समुद्र तट की भी सैर करेंगे। सबांग के तट का भारत की नौसेना के लिहाज से क्या महत्व है पीएम इसकी भी जानकारी लेंगे। सूत्रों ने यह भी जानकारी दी कि पीएम मोदी के इंडोनेशिया दौरे पर खास तौर पर डिफेंस और स्पेस में सहयोग बढ़ाने को लेकर कुछ अहम घोषणा हो सकती है। 

ओबीओर और चीन के विवादित साउथ चाइना सी में मिसाइल स्टेशन निर्माण के सवालों पर लुहुट ने कहा कि यह बहुत संवेदनशील मामला है। इंडोनेशिया ने चीन के साथ इससे संबंधित अपनी चिंताएं दोस्ताना अंदाज में शेयर की हैं। भविष्य में इसका शांतिपूर्ण समाधान खोज लिए जाने की हम उम्मीद कर रहे हैं।
 

No image

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर भारतीय जनता पार्टी, कांग्रेस और जेडी (एस) के बीच घमासान जारी है। जेडी (एस) बीजेपी पर उसके विधायकों को खरीदने की कोशिश का आरोप भी लगा चुकी है। इस सब के बीच जेडी (एस) प्रमुख एचडी देवगौड़ा के जन्मदिन पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें शुभकामनाएं दी हैं। राहुल गांधी ने भी पूर्व पीएम को बर्थडे विश किया है और साथ ही सॉरी भी बोला है।
पीएम ने ट्वीट किया है- मैंने पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा से बात की और उन्हें जन्मदिन की शुभकामनाएं दीं। मैं उनके अच्छे स्वास्थ्य और लंबी उम्र के लिए कामना करता हूं। पीएम के ट्वीट के बाद से ट्विटर पर लोगों ने रिऐक्शन देने शुरू कर दिए हैं। कई लोगों ने पीएम की तारीफ की है तो कइयों ने सवाल किया है कि पहले तो पीएम ने उन्हें कभी विश नहीं किया तो इस बार क्या कर्नाटक चुनाव में फायदा लेने के लिए ऐसा किया है।

राहुल ने मांगी माफी उधर, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने भी पूर्व पीएम को विश किया। उन्होंने देवगौड़ा को फोन कर उनके स्वास्थ्य के बारे में जानकारी भी ली। यही नहीं, सूत्रों के मुताबिक 10 मिनट तक चली बातचीत में राहुल ने देवगौड़ा से चुनाव प्रचार के दौरान उन पर व्यक्तिगत हमले करने के लिए उनसे माफी भी मांगी। दोनों ने कर्नाटक में साथ मिलकर लडऩे की बात को भी दोहराया। बाद में राहुल ने ट्वीट कर भी देवगौड़ा को बधाई भी दी।

ममता ने भी किया विश पीएम के अलावा पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी ट्वीट कर देवगौड़ा को जन्मदिन की शुभकामनाएं दी हैं। ममता के ट्वीट को भी राजनीतिक बताते हुए लोगों ने याद दिलाया है कि ममता गैर-कांग्रेस, गैर-बीजेपी तीसरा मोर्चा बनाने की कोशिश कर रही हैं। इसके लिए उन्होंने पहले देवगौड़ा और उनके बेटे एच डी कुमारस्वामी से मुलाकात भी की थी।

No image

रेलवे फ्लेक्सी फेयर को भले ही पूरी तरह से समाप्त न करे, लेकिन वह जल्द ही कुछ रूटों पर फ्लेक्सी फेयर में कुछ छूट दे सकता है। लेकिन यह छूट सिर्फ उन रूटों पर ही मिलेगी, जहां ट्रेन की सीटें खाली रह जाती हैं। यह भी संभव है कि किसी खास रूट के किसी एक छोटे हिस्से में ही फ्लेक्सी फेयर में छूट दी जाए। रेलवे यह छूट एक जून से दे सकता है। हालांकि, रेलवे की ओर से अभी आधिकारिक तौर पर किसी ने पुष्टि नहीं की है।

रेलवे के सूत्रों का कहना है कि फिलहाल शताब्दी, राजधानी और दुरंतो जैसी ट्रेनों में फ्लेक्सी फेयर सिस्टम चल रहा है। इस सिस्टम के तहत एक तय संख्या में सीटों की टिकट बिकने के बाद किराए में 10 फीसदी की बढ़ोतरी कर दी जाती है। इस तरह से यह बढ़ोतरी 50 फीसदी तक चली जाती है। 

रेलवे के सूत्रों के मुताबिक रेलवे ने इस मामले में अध्ययन किया था, जिसमें पता चला कि फ्लेक्सी फेयर की वजह से कुछ रूटों और कुछ ट्रेनों के छोटे से हिस्से में सीटें खाली रह जाती हैं। अब रेलवे ऐसे रूटों और उन हिस्सों में, जहां ट्रेनों की सीटें खाली रह जाती हैं, वहां रेलवे किराए में छूट दे सकता है। इससे पहले रेलवे जयपुर और अजमेर के बीच चलने वाली अजमेर शताब्दी पर छूट दे चुका है। 

रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि यह करना इसलिए जरूरी है, क्योंकि ऐसे छोटे हिस्सों में फ्लेक्सी फेयर से किराया बहुत अधिक हो जाता है जबकि अगर उसी हिस्से में बस से यात्रा की जाए तो किराया काफी कम होता है। सूत्रों का कहना है कि यह छूट एक जून से दी जा सकती है, हालांकि आधिकारिक तौर पर अभी रेलवे की ओर से पुष्टि नहीं की गई है।
 

No image

शुक्रवार सुबह टनकपुर में बड़ा हादसा हुआ है. पूर्णागिरी मंदिर जा रहे उत्तर प्रदेश के श्रद्धालुओं के एक जत्थे पर डंपर चढ़ गया. हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत की पुष्टि हो गई है और कई घायल हैं.टनकपुर बिचई सेलटैक्स ऑफिस के पास मां पूर्णगिरी के दर्शन को जा रहे डोले के श्रद्धालुओं को टिप्पर ने कुचल दिया. हादसे में छह लोगों में मौके पर ही मौत हो गई और बाद में पांच अन्य की मौत की ख़बर आई.अभी तक मिली जानकारी के अनुसार करीब दर्जन भर श्रद्धालु घायल श्रद्धालुओं का इलाज सीएचसी टनकपुर में चल रहा है और गंभीर हालत में 8 को हायर सेंटर रेफऱ कर दिया गया है. हादसे की सूचना मिलते ही स्थल पर पहुँची सेना और पुलिस मौके पर पहुंच गए थे और घायलों को रेस्क्यू कर सबसे पहले टनकपुर सीएचसी पहुंचाया था.

अब तक मिली जानकारी के अनुसार लगभग 250 लोगों के इस जत्थे में ज़्यादातर उत्तर प्रदेश के बरेली के थे, जो बुधवार को पैदल ही बरेली से पूर्णादेवी मंदिर के लिए निकले थे. गुरूवार रात को चकरपुर में कुछ देर विश्राम करने के बाद ये लोग रात करीब सवा दो बजे मंदिर के लिए निकल पड़े थे.प्रत्यक्षदर्शियों के अनुसार सुबह करीब साढ़े चार-पांच बजे यह हादसा हुआ. यह भी बताया जा रहा है कि हादसा इसलिए हुआ क्योंकि दो डंपर सड़क पर रेस लगा रहे थे. हादसे के बाद दूसरा डंपर आगे जाने के बजाय वापस लौट गया.

हादसे में मारे गए लोगों के नाम:
राजकुमार, पुत्र नन्हें, उम्र 16 वर्ष, नवाबगंज बरेली.
दीनदयाल, पुत्र फोशी राम, उम्र 35 वर्ष नवाबगंज बरेली.
बाबू, पुत्र माखन लाल, उम्र 12 वर्ष, नवाबगंज, बरेली.
केशर सिंह, पुत्र रूपचरण, उम्र 16 वर्ष, बहेड़ी.
वीर सिंह, पुत्र अंगदलाल, उम्र 18 वर्ष, बहेड़ी.
सोनू, पुत्र माखनलाल, 18 वर्ष, नवाबगंज, बरेली.
विशाल, उम्र 17 वर्ष, सदलपुर.
सोहन लाल, पुत्र नाथू लाल, उम्र 40 वर्ष, नवाबगंज, बरेली.
रामस्वरूप, पुत्र नाथू लाल, उम्र 45 वर्ष.
 

No image

दिल्ली सरकार के मुख्य सचिव अंशु प्रकाश के साथ हाथापाई के मामले में दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल से आज पूछताछ होनी है . केजरीवाल ने पुलिस सेजांच कार्रवाई की वीडियो रिकॉर्डिंग भी करवाने की मांग की है.सिविल लाइन्स पुलिस थाने के प्रभारी को भेजे पत्र में मुख्यमंत्री ने कहा था कि वहशुक्रवार शाम पांच बजे अपने कैंप ऑफिस में उपलब्ध होंगे. पत्र में लिखा गया है, ''पहले से तय कार्यक्रम को लेकर व्यस्तता के कारण मैं 11 बजे जांच में शामिल नहीं हो पाउंगा. मैं उसी दिन अपने कैंप कार्यालय में पांच बजे का समय निर्धारित करने का अनुरोध करता हूं.

पुलिस ने गुरुवार को उन्हें एक नोटिस भेज कर शुक्रवार सुबह 11 बजे जांच में शामिल होने के लिए कहा था. केजरीवाल ने कार्रवाई का वीडियो रिकॉर्ड करवाने की भी अनुमति देने की मांग की है.जांच से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि एसीपी हरेंद्र सिंह के नेतृत्व में छह सदस्यीय पुलिस टीम मुख्यमंत्री कार्यालय जाएगी. उन्होंने कहा, ''कार्रवाई का वीडियो रिकार्ड कराया जाएगा लेकिन मुख्यमंत्री को जांच का वीडियो रिकार्ड करने की अनुमति नहीं होगी. उनसे रिकार्डिंग साझा करने पर पुलिस फैसला लेगी. इस मामले में आप के विधायकों और अन्य से पूछताछ का भी वीडियो रिकार्ड किया गया.

केजरीवाल के सरकारी आवास पर 19 फरवरी को एक बैठक के दौरान कथित रूप से प्रकाश से हाथापाई की गई थी. पुलिस आप के उन 11 विधायकों से इस मामले में पहले ही पूछताछ कर चुकी है, जो वहां बैठक के दौरान मुख्यमंत्री आवास पर मौजूद थे. इस मामले में दो विधायकों, अमानतुल्लाह खान और प्रकाश जारवाल को गिरफ्तार किया गया था.
 

No image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी में गत मंगलवार की शाम को कैंट स्टेशन के पास हुए हादसे में अपर मुख्य सचिव राज प्रताप सिंह ने अपनी जांच रिपोर्ट गुरुवार रात मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सौंप दी. जांच कमेटी ने सेतु निगम के प्रबंध निदेशक समेत सात अफसरों पर कठोर दंडात्मक कार्रवाई की सिफारिश की है.

बता दें जांच कमेटी की रिपोर्ट आने से पहले ही डिप्टी सीएम केशव प्रसाद मौर्य ने सेतु निगम के एमडी राजन मित्तल को पहले ही हटा दिया, जबकि चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर समेत चार अधिकारी भी निलंबित किए जा चुके हैं. राजन मित्तल की जगह जेके श्रीवास्तव को उत्तर प्रदेश राज्य सेतु निगम का प्रबंध निदेशक बनाया गया है.
जांच रिपोर्ट में कमेटी ने स्थानीय प्रशासन को भी कटघरे में खड़ा किया है. हादसे की जांच के लिए गठित कॉमेट में राज प्रताप सिंह के अलावा सिंचाई विभाग के प्रमुख अभियंता व विभागाध्यक्ष भूपेंद्र शर्मा और जल निगम के एमडी राजेश मित्तल ने गुरुवार को लखनऊ लौटते ही सीएम को अपनी रिपोर्ट सौंपी.

इन अफसरों के खिलाफ कठोर कार्रवाई की सिफारिशजांच कमेटी ने अपनी रिपोर्ट में सेतु निगम के एमडी राजन मित्तल, मुख्य परियोजना प्रबंधक एचसी तिवारी, पूर्व परियोजना प्रबंधक गेंदालाल, पूर्व परियोजना प्रबंधक केआर सूद, सहायक परियोजना प्रबंधक राजेंद्र सिंह, अवर परियोजना प्रबंधक लाल चंद्र, अवरपरियोजना प्रबंधक राजेश पाल शामिल हैं.जांच कमेटी ने हादसे के लिए उन सभी को जिम्मेदार ठहराया है जिन्होंने पिछले दो-तीन महीने के दौरान निरीक्षण किया था. रिपोर्ट में कहा गया है कि परियोजना में हर स्तर पर निरीक्षण बरती गई. हालांकि, रिपोर्ट में कहा गया है कि पुल के स्ट्रक्चर व चलिटी में कोई कमी नहीं पाई गई. लेकिन डिज़ाइन पर जरुर सवाल खड़े किए गए हैं. जांच में मामला सामने आया कि डिज़ाइन को ड्राइंग के सक्षम अधिकारी से अनुमोदन नहीं कराया गया.
 

No image

भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने राजनीति में कूच करने की घोषणा कर चुके अपने दोस्तों कमल हासन और रजनीकांत को सलाह दी है। शत्रुघ्न ने कहा, ‘‘मुझे उम्मीद है कि उन्होंने राजनीति में प्रवेश करने से पहले अपने राजनीतिक आधार पर काफी सोच-विचार किया होगा। हालांकि मुझे ऐसा लगता तो नहीं है। उम्मीद है कि मैं गलत हूं क्योंकि राजनीति कोई आसान काम नहीं है।’’ उन्होंने कहा, ‘‘अभिनेता ग्लैमर की दुनिया से आते हैं। वे ग्लैमर के आदी हैं। राजनीति में बहुत ताकत है और ताकत बेहद ग्लैमरस है। अभिनेता अपना ग्लैमर और प्रसिद्धि बढ़ाने की उम्मीद से राजनीति में आते हैं।’’उन्होंने कहा कि लेकिन सच्चाई यह है कि राजनीति उम्मीदों से परे है।

उन्होंने कहा, ‘‘रजनीकांत और कमल हासन को यह तय करना होगा कि वे राजनीति में क्यों आना चाहते हैं। रजनीकांत क्यों? यहां तक कि कमल हासन भी मेरा बहुत अच्छा दोस्त है। राजनीति में उतरने से पहले उन्होंने कभी मेरी सलाह नहीं मांगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘मेरी पार्टी में मेरे साथ किस तरह का व्यवहार किया जा रहा है, उसे देखिए। मुझे बताया गया था कि मुझे कैबिनेट पद दिया जाएगा लेकिन इसके बजाए एक टीवी अभिनेत्री को कैबिनेट पद दिया गया। मेरे साथ भेदभाव किया गया, मेरा अपमान किया गया। हम कलाकारों को भीड़ खींचने के लिए राजनीति में लाया जाता है लेकिन जब हम उस भीड़ को पार्टी से जोड़ देते हैं तो पार्टी हमारी लोकप्रियता देखकर खुद को असुरक्षित महसूस करती है। यह बहुत ही पेचीदी स्थिति है।’’

यह पूछने पर कि क्या रजनीकांत ने राजनीति में कदम रखने को लेकर उनकी सलाह ली थी? उन्होंने कहा, ‘‘नहीं, रजनी ने मुझसे सलाह नहीं ली। अगर वह मुझसे इस बारे में पूछते तो मैं इसके विपरीत सलाह देता। देखो, यह आसान होने वाली नहीं है। तमिलनाडु की राजनीति में एम.के स्टालिन का आधार काफी मजबूत है। उन्होंने लोगों के लिए बहुत काम किया है। रजनी स्टालिन की साख को नकार नहीं सकते और हम सिर्फ रजनी के बारे में ही क्यों बात कर रहे हैं? के पास बहुत मजबूत शक्ति-आधार है। उन्होंने लोगों के लिए बहुत कुछ किया है। रजनी स्टालिन के पद को नजरअंदाज नहीं कर सकते।’’

No image

बदलापुर और हिंदी मीडियम जैसी सोचने पर मजबूर करने वाली फिल्में बना चुके दिनेश विजन अब दर्शकों को एंटरटेन करने के लिए फिर से तैयार हैं। उनकी अगली फिल्म स्त्री मल्टीस्टारर फिल्म है और टीम ने उसकी शूटिंग पूरी कर ली है।
शूटिंग खत्म होने के मौके पर मेकर्स ने सभी स्टार्स के लिए एक शानदार पार्टी

रखी। इस पार्टी में फिल्म के ऐक्टर्स राजकुमार राव, श्रद्धा कपूर, वरुण शर्मा और सुशांत सिंह राजपूत के साथ दिनेश विजन भी मौजूद थे। इन स्टार्स ने यहां खूब मस्ती की। इसी पार्टी से एक विडियो सामने आया है जिसमें श्रद्धा कपूर और सुशांत सिंह राजपूत साथ में डांस के मजे ले रहे हैं।प्रॉडक्शन हाउस की तरफ से जारी किए गए एक बयान के मुताबिक श्रद्धा कपूर का इसमें एक खास रोल है जिसके इर्द-गिर्द कई रहस्य हैं।

No image

फिल्म हैप्पी फिर भाग जाएगी की शूटिंग पूरी हो गई है और अभिनेत्री सोनाक्षी सिन्हा का कहना है कि उनके लिए यह शानदार सफर रहा है. सोनाक्षी ने उन्हें मौका देने के लिए मंगलवार रात को फिल्म के निर्देशक मुदस्सर अजीज और पूरी टीम का आभार जताया. सोनाक्षी ने ट्वीट किया, और फिल्म हैप्पी फिर भाग जाएगी की शूटिंग पूरी हो गई. शानदार टीम के साथ यह शानदार सफर रहा है. मुदस्सर अजीज मुझे जीवन में खुशी लाने का मौका देने के लिए आपका शुक्रिया और मेरे अब तक के सबसे मजेदार शूटिंग में से एक के लिए सभी कलाकारों और टीम का आभार. 24 अगस्त का इंतजार नहीं कर सकती.

अजीज ने फिल्म के सभी कलाकारों का आभार जताया. उन्होंने लिखा, सोनाक्षी सिन्हा, जस्सी गिल, जिम्मी शेरगिल, पियूष मिश्रा, अली फैजल, डायना पेंटी, अपारशक्ति..आप सबका धन्यवाद. आनंद एल. राय यह आपके लिए..24 अगस्त, हम आ रहे हैं. फिल्म हैप्पी फिर भाग जाएगी साल 2016 में आई फिल्म हैप्पी भाग जाएगी का सीक्वल है, जो 24 अगस्त को रिलीज होगी. 

गौरतलब है कि फिल्म के फर्स्ट पार्ट को दर्शकों का अच्छा रिस्पॉन्स मिला था. उसमें जिम्मी शेरगिल, अभय देओल और डायना पेंटी ने लीड रोल निभाया था. हालांकि, इस बार भी फिल्म की टीम सेम है लेकिन इस बार फिल्म से सोनाक्षी सिन्हा भी जुड़ गई हैं.

No image

सलमान खान बॉलिवुड के सबसे ज्यादा कमाने वाले ऐक्टर्स में से एक हैं। इन दिनों ऐसा लगता है कि किसी भी फिल्म को 100 करोड़ क्लब में शामिल होने के लिए उसमें सलमान खान का होना ही काफी है। इसकी एक बड़ी वजह है सलमान खान की तगड़ी फैन फॉलोइंग। उनकी फिल्मों का फैन्स को हमेशा इंतजार रहता है।
अब सलमान के फैन्स ने उन्हें एक और बड़ी उपलब्धि से नवाजा है। सलमान खान और कटरीना कैफ का गाना स्वैग से स्वागत यू-ट्यूब पर सबसे ज्यादा देखा जाने वाला हिंदी फिल्म का गाना बन गया है। इस गाने ने रणवीर सिंह और वाणी कपूर के गाने नशे सी चढ़ गई के व्यूज को पीछे छोड़ दिया है। फिल्म बेफिक्रे का यह गाना लगभग एक साल से टॉप पर था। लगभग 423 मिलियन व्यूज के साथ यह

गाना टॉप पर बना हुआ था। इससे यह तो साफ था कि इस गाने को पीछे छोडऩा किसी भी दूसरे गाने के लिए बहुत मुश्किल होगा। इस मुश्किल को आखिरकार सलमान खान और कटरीना कैफ के गाने स्वैग से स्वागत ने पार किया है। यू-ट्यूब पर इस गाने के अब तक करीब 425 मिलियन व्यूज हो गए हैं। अगली फिल्म की बात करें तो सलमान खान ने मंगलवार को ही अपनी फिल्म रेस 3 का ट्रेलर लॉन्च किया है। इस ट्रेलर को भी फैन्स ने खूब देखा और शेयर किया। रेस 3 में सलमान के ऑपोजिट जैकलिन फर्नांडिस दिखाई देंगी। यह फिल्म ईद के मौके पर रिलीज हो रही है।
 

No image

ऐश्वर्या राय बच्चन जहां एक तरफ कान फिल्म फेस्टिवल में अपने रेड कार्पेट लुक को लेकर चर्चा में हैं... वहीं फेस्टिवल के दौरान उनकी मीडिया से हुई बातचीत भी खूब सुर्खियों में हैं। फिल्मों से दूरी की वजह बताते हुए ऐश्वर्या ने कहा कि अब वह एक मां भी हैं, इसलिए ज्यादा फिल्मों में काम करना संभव नहीं है। वहीं महिलाओं की समाज में स्थिति पर अपनी राय देते हुए ऐश्वर्या कहती हैं कि समाज को इस सोच से ऊपर उठने की जरूरत है कि मेकअप करने वाली महिलाओं के पास दिमाग नहीं होता है।

ऐश्वर्या कहती हैं, समाज को इस सोच से ऊपर उठने की जरूरत है कि मेकअप करने वाली महिलाओं के पास दिमाग नहीं होता है। हमें एक-दूसरे को जज करने से बचना चाहिए। यदि औरतें मेकअप लगाती है तो इसका मतलब यह नहीं है कि वह मूर्ख हैं और उनमें संवेदनशीलता की कमी है।ऐश्वर्या आगे कहती हैं, यदि महिलाएं मेकअप नहीं करती तो इसका मतलब यह नहीं कि उनकी दिलचस्पी लोगों या रंगों में नहीं है। या उनके पास बहुत दिमाग है... क्योंकि आप मेकअप नहीं लगाती हैं। 


कान में ऐश ने अपने डिजाइनर आउटफिट्स, फ्रेश स्टाइल और एटीट्यूड से सभी को इम्प्रेस कर दिया.... ऐश पिछले 17 साल से कान रेड कार्पेट पर अपना जलवा बिखेर रहीं हैं। इस बार उन्होंने डिजाइनर मिशेल सिनको का पीकॉक मोटिफ गाउन पहना था और वह काफी खूबसूरत लग रही थीं। ऐश्वर्या ने अपने एटीट्यूड से बॉलिवुड की तमाम हिरोइन को यह बता दिया है कि कान की असली क्वीन वह खुद हैं। बता दें कि ऐश्वर्या ने कान फिल्म फेस्टिवल के रेड कार्पेट पर 11 और 12 मई को वॉक किया था। ऐश वापस मुंबई लौट आईं हैं। इन दिनों ऐश्वर्या फिल्म फन्ने खां में काम कर रही हैं। हालांकि फिल्म की निर्माता कंपनी क्रिअर्ज प्रॉडक्शन के दिवालिया होने से फिल्म की शूटिंग रुक गई है।

No image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए उत्तर प्रदेश कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री आज सारी मानवीय संवेदनाओं से परे, मात्र भाजपा के चुनावी रोबोट होकर रह गए हैं, वरना ऐसे कैसे हो सकता है कि उनके संसदीय क्षेत्र वाराणसी में इतने भीषण हादसे के बावजूद उस क्षण नई दिल्ली स्थित भाजपा के फाइव स्टार कार्यालय में कर्नाटक की जीत का जश्न मना रहे थे। 

विपक्षी पार्टी ने कहा कहा कि प्रधानमंत्री मोदी ने उसी जलसे में वाराणसी हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त करने की सतही और हल्के तौर पर रस्म अदायगी भी कर ली। जहां वाराणसी के लोग शोक में डूबे थे, वहीं यहां के सांसद मोदी दिल्ली में कर्नाटक की अधूरी जीत के नशे में मस्त थे।

प्रदेश कांग्रेस के महामंत्री एवं प्रवक्ता अरुण प्रकाश सिंह ने आईपीएन से बातचीत में कहा, "यह हादसा प्राकृतिक या कोई अनहोनी घटना न होकर पूरी तरह से प्रशासन और निर्माण एजेंसियों की घोर लापरवाही और आम जन के जान-माल के प्रति उपेक्षा का दुष्परिणाम है, फिर भी हमारे मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री में कोई अपराधबोध या संवेदना नहीं है।" 

No image

सीबीएसई (CBSE) की ओर से आयोजित NEET-2018 के आवेदन फाॅर्म की तीन कैटेगरी में करेक्शन का मौका शुक्रवार तक ही रहेगा। इसके बाद सीबीएसई किसी भी प्रकार करेक्शन का अवसर स्टूडेंट्स को नहीं देगा। सीबीएसई ने यह विंडो 15 मई से 18 मई तक के लिए फिर से आेपन की है। स्टूडेंट्स शुक्रवार शाम 5 बजे तक करेक्शन कर सकते हैं।

स्टूडेंट्स फॉर्म के केवल चुनिंदा फील्ड्स में ही सुधार कर सकते हैं। इनमें जन्मतिथि, कैटेगिरी और पीडब्ल्यूडी शामिल हैं। इन तीन क्षेत्रों में सुधार की सुविधा 18 मई शाम 5 बजे तक ही है। इसके बाद सुधार नहीं किया जा सकेगा।

नीट के फॉर्म में सुधार के लिए आपको सबसे पहले सीबीएसई की आधिकारिक वेबसाइट cbseneet.nic.in पर जाना होगा। यहां नीचे Online Services में Online Correction पर क्लिक करें। इसके बाद अपना रजिस्ट्रेशन नंबर और पासवर्ड डालकर लॉगइन करें। इसके बाद आपको जहां भी सुधार करना है, वो करें और इसे फिर से सब्मिट कर दें।

आपको बता दें कि सीबीएसई ने ६ मई को नीट (NEET 2018) की परीक्षा का आयोजन करवाया था। अब कैंडिडेट्स को इसकी आंस्वर की का इंतजार है। नीट के जरिए छात्रों को देश के टॉप मेडिकल कॉलेजिस में एमबीबीएस कोर्स के लिए एडमिशन मिलता है। केवल AIIMS और JIPMER ही ऐसे संस्थान हैं जहां एडमिशन के लिए उनकी अपनी प्रवेश परीक्षा देनी पड़ती है।

No image

 कर्नाटक मामले में सुप्रीम कोर्ट ने शुक्रवार को फैसला सुनाया है। कांग्रेस और जेडीएस ने राज्यपाल वजुभाई वाला द्वारा येदियुरप्पा को सरकार बनाने को न्योता दिए जाने को चुनौती दी थी। इस पर सुप्रीम कोर्ट ने फैसला सुनाते हुए कहा, कर्नाटक में शनिवार यानी कल ही फ्लोर टेस्ट कराया जाएगा। यानी अब तय हो गया कि कर्नाटक में बीजेपी को बहुमत साबित करने के लिए अब 14 दिनों का समय नहीं मिलेगा। सुप्रीम कोर्ट की 3 सदस्यीय बेंच के सामने बीजेपी और कांग्रेस-जेडीएस के पक्ष में दलीलें रखी गईं। सबसे पहले बीजेपी की तरफ से सुप्रीम कोर्ट को वह लेटर उपलब्ध कराया गया जिसे येदियुरप्पा की तरफ से राज्यपाल को भेजा गया था। 

कांग्रेस-जेडीएस की याचिका के खिलाफ ऐडवोकेट मुकुल रोहतगी ने सुप्रीम कोर्ट में वह पत्र सौंपा जिसमें येदियुरप्पा को बीजेपी विधायक दल का नेता चुना गया था। मुकुल रोहतगी ने बीजेपी की तरफ से दलील देते हुए कहा कि पार्टी के पास बहुमत साबित करने के लिए विधायकों की पर्याप्त संख्या है और हम फ्लोर टेस्ट के लिए तैयार हैं।

बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी ने कहा कि कांग्रेस और जेडीएस विधायकों से समर्थन मिलेगा और इस मौके पर मैं इससे अधिक कुछ नहीं कहना चाहता हूं।

 हम सुप्रीम कोर्ट के फैसले का स्वागत करते हैं। हम कल सदन में बहुमत साबित कर देंगे। हम बहुमत परीक्षण के लिए तैयार हैं

 सुप्रीम कोर्ट के फैसले ने संविधान और लोकतंत्र को बचाए रखा। यह एक फैसला है जिसका जश्न होना चाहिए। सुप्रीम कोर्ट में लोगों का विश्वास एक बार फिर जगा है

 बीजेपी ने बार-बार समय को आगे बढ़ाने की दलील दी। सुप्रीम कोर्ट ने एक ऐतिहासिक फैसला लिया है और बहुत सारे महत्वपूर्ण फैसले लिए

No image

 मेडिकल स्टूडेंट्स के लिए अच्छी खबर है। राजस्थान में 500 एमबीबीएस सीटें बढ़ा दी गई हैं। केन्द्र सरकार ने इस संबंध में आदेश जारी कर दिए हैं। केन्द्र सरकार ने बुधवार देर रात 5 नए मेडिकल कॉलेजों को फाइनल मंजूरी दे दी है। डूंगरपुर,पाली, चूरू, भीलवाड़ा और भरतपुर मेडिकल कॉलेज के लिए एलपीओ बुधवार रात जारी कर दिया गया। सत्र सत्र 18-19 के लिए एमसीआई ने इन्हें स्वीकृति दी है। राजस्थान में जयपुर एसएमएस मेडिकल कॉलेज और बीकानेर मेडिकल कॉलेज को एमबीबीएस कोर्स के लिए स्थाई 250-250 सीट मिल गई हैं। 

No image

उज्जैन जिले की आगर तहसील की १६ साल की नाबालिग दुष्कर्म पीडि़ता का १३ सप्ताह का गर्भ गिराने की इजाजत हाई कोर्ट ने दी है। उज्जैन जिला अस्पताल से गर्भपात की इजाजत नहीं मिलने के बाद पीडि़ता के पिता ने हाइकोर्ट से गुहार लगाई थी।

गुरुवार को जस्टिस प्रकाश श्रीवास्तव की कोर्ट में याचिका पर सुनवाई हुई। कोर्ट के समक्ष मेडिकल बोर्ड की रिपोर्ट पेश की गई जिसमें यह बात सामने आई की पीडि़ता के पेट में १३ सप्ताह का गर्भ है और गर्भपात करने में लडक़ी की जान को कोई खतरा नहीं है। मेडिकल बोर्ड के डॉक्टर भी कोर्ट में उपस्थित थे। रिपोर्ट और डाक्टरों के बयान के आधार पर कोर्ट ने एक सप्ताह में नाबालिग का गर्भपात कराने की इजाजत दी है।

एडवोकेट दीपक रावल और  चेलावत के मुताबिक उज्जैन के आगर में रहने वाली १६ वर्षीय युवती को क्षेत्र में रहने वाला आरोपी रंजीत २४ फरवरी को बहला फुसला कर अपने साथ ले गया था। लडक़ी के गायब होने पर पिता ने थाने में गुमशुदगी दर्ज कराई थी। १९ मार्च को पुलिस ने युवती को रंजीत के पास से बरामद किया था। इसके बाद जब मेडिकल किया गया तो नाबालिग के गर्भवती होने की जानकारी मिली थी। पुलिस ने आरोपी के खिलाफ अपहरण और दुष्कर्म की धाराओं में केस दर्ज किया था। इसके बाद जिला अस्पताल में गर्भपात की इजाजत मांगी गई थी, लेकिन डॉक्टरों ने इनकार कर दिया था। ११ मई को पिता ने हाईकोर्ट में याचिका दायर कर गर्भपात की इजाजत मांगी थी। १४ मई को जस्टिस एससी शर्मा की कोर्ट में सुनवाई हुई थी, कोर्ट ने मेडिकल बोर्ड का गठन कर रिपोर्ट पेश करने को कहा था जो गुरुवार को पेश की गई थी।

No image

अशोका गार्डन इलाके के प्रगति नगर में सिरफिरे पति ने अपनी चौथी पत्नी के सिर पर धारदार हथियार से वार कर हत्या कर दी। उसने पत्नी के प्राइवेट पार्ट में बोतल भी डाल दी। हत्या के बाद मकान के खाली कमरे में लाश छिपा दी।

गुरुवार सुबह मकान मालिक ने खाली कमरे को खोला तो उसमें महिला का निर्वस्त्र हालत में खून से लथपथ शव मिला।मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की पहचान मूलत: इछावर सीहोर निवासी ३४ वर्षीय महिला के रूप में हुई है। महिला पति राजाराम की चौथी पत्नी थी। इसमें दो छोडक़र चली गईं और तीसरी की मौत हो चुकी है।

एएसपी विकास कुमार ने बताया कि गुरुवार सुबह करीब ११.३० बजे सूचना मिली कि प्रगति नगर में आसिफ के मकान के बाहर से कुंडी बंद कमरे में फर्श पर महिला की लाश पड़ी है। मौके पर पहुंची पुलिस ने शव की पहचान मूलत: इछावर सीहोर निवासी ३४ वर्षीय माला मेवाड़ा पति राजाराम के रूप में की। माला के सिर समेत शरीर के अन्य हिस्सों पर गंभीर चोट के निशान थे, वहीं फर्श पर खून के धब्बे मिले हैं।

मकान मालिक आसिफ ने पुलिस को बताया कि दो माह पहले ही दंपती ने किराए पर एक कमरा लिया था। दोनों उसी कमरे में रहते थे। गुरुवार सुबह माला की लाश उसके कमरे के बगल वाले खाली रूम में मिली। लाश की बदबू दूर-दूर तक जा रही थी।

गुरुवार को मकान मालिक आसिफ मुंबई से घर आए। घर पहुंचते ही उन्हें घर में बदबू आने का अहसास हुआ। आसिफ को लगा कि चूहा मरने से बदबू आ रही होगी। उन्होंने एक-एक कमरे की सफाई शुरू की। इसी बीच माला मेवाड़ा के कमरे के सामने खाली पड़े कमरे का दरवाजा खोला तो अंदर माला की खून से लथपथ लाश पड़ी थी। आसिफ ने तत्काल पुलिस को घटना की जानकारी दी।

पुलिस को मकान मालिक आसिफ की बहन यास्मिन ने बताया कि माला का पति राजाराम मेवाड़ा गुरुवार सुबह घर पर था। उसने पत्नी के बारे में किसी से चर्चा नहीं की। इसके बाद वह कब गायब हो गया आस-पड़ोस के लोगों को इसकी जानकारी नहीं है। जिस कमरे में माला की लाश मिली है, उस कमरे में मकान मालिक अपनी बाइक व अन्य सामान रखते हैं।

बताया गया कि दो दिन पहले पति-पत्नी के बीच किसी गोपनीय बात को लेकर विवाद हुआ था। राजाराम ने पत्नी के साथ मारपीट भी की थी। विवाद बढ़ता देख मकान में रह रहे अन्य किराएदारों ने दोनों को शांत करा दिया था। पुलिस को संदेह है कि राजाराम ने उसी रात पत्नी की हत्या कर शव को दूसरे कमरे में रख दिया होगा। हालांकि पुलिस अन्य पहलुओं पर भी जांच कर रही है।

 

No image

हबीबगंज थाना क्षेत्र में नौंवी की छात्रा से मनचले ने छेडख़ानी की और विरोध करने पर पीटने लगा। 17 वर्षीय किशोरी थाना क्षेत्र में रहती है। वह नौंवी कक्षा में पढ़ती है।बुधवार रात उसकी मां की तबीयत खराब हो गई थी। मां के लिए वह दवा लेने जा रही थी। इस दौरान पड़ोसी रवि राठौर आया और इसका पीछा करने लगा। कुछ देर तक पीछा करने के बाद वो उसने छात्रा का हाथ पकड़ लिया और बात करने के लिए रोक दिया। इस पर छात्रा ने विरोध किया।

छात्रा के विरोध करने पर युवक गुस्सा गया और उसने छात्रा के साथ मारपीट शुरू कर दी। युवती ने शोर तो वो वहां भाग गया। मामले में पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है। हबीबगंज थाना प्रभारी वीरेंद्र चौहान ने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

 

No image

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर पर एक रोड शो के दौरान स्याही फेंकी गई है। सुरक्षाकर्मियों ने तुरंत स्याही फेंकने वाले शख्स को दबोच लिया है। रिपोर्ट के मुताबिक स्याही फेंकने वाला शख्स इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) का कार्यकर्ता था।खट्टर पर स्याही उस वक्त फेंकी गई जब वो हिसार में रोड शो के दौरान देवी में पूजा कर निकल रहे थे। तभी एक युवक ने जो संभवत: इंडियन नेशनल लोकदल (इनेलो) का कार्यकर्ता था, उसने स्याही फेंक दिया। बाद में युवक ने ‘देवीलाल जिंदाबाद’ के नारे भी लगाए। घटना के तुरंत बाद कार्यकर्ताओं ने उसे पकड़ लिया

और उसकी पिटाई की और उस्याही से मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर के कपड़े खराब हो गए। कुछ छींटे उनके चेहरे पर भी लगे। जिसके बाद वह मंदिर परिसर के अंदर चले गए। मुख्यमंत्री की सुरक्षा में लगे अफसरों ने वहां जिला अधीक्षक मनीषा चौधरी को युवक की शिनाख्त प्रवीण के रूप में की गई है जो जिले के आदमपुर क्षेत्र के जाखौद खेड़ा गांव का निवासी है। पुलिस उससे पूछताछ कर रही है। वह मंदिर में भारतीय जनता पार्टी का कार्यकर्ता बनकर आया था।डांट भी लगाई।से पुलिस के हवाले किया।

No image

 कर्नाटक में सरकार गठन पर सुप्रीम कोर्ट में आधी रात से गुरुवार सुबह तक चली ऐतिहासिक सुनवाई के बाद शुक्रवार सुबह फिर सुप्रीम सुनवाई होगी। आज सुप्रीम कोर्ट इस माममले में साढ़े दस बजे सुनवाई करेगा। साथ ही ही वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी की याचिका पर भी इस मामले में आज सुनवाई हो सकती है। आपको बात दें कि कर्नाटक में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी बीजेपी के नेता बीएस येदियुरप्पा ने विवादों के बीच गुरुवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ ली है। 

मुकुल रोहतगी ने कहा कि राज्यपाल को येदियुरप्पा को विधायकों के नाम देने की जरूरत ही नहीं थी क्योंकि वह सदन में बहुमत साबित करने को तैयार हैं।- सुप्रीम कोर्ट ने बीएस येदियुरप्पा से समर्थन पत्र की मांग की।- सुप्रीम कोर्ट में कर्नाटक मामले की सुनवाई शुरू हुई।- वरिष्ठ वकील शांती भूषण और एजी वेणुगोपाल भी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे।- वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी भी सुनवाई के लिए सुप्रीम कोर्ट पहुंचे।

सुप्रीम कोर्ट पहुंचे वकील शांति भूषण और पी चिदंबरम।
 कर्नाटक मामला: कोर्टरूम पहुंचे बीजेपी के वकील मुकुल रोहतगी।
 थोड़ी देर में कर्नाटक मामले पर सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई।
 कर्नाटक मामले में राज्यपाल का फैसला रद्द होना चाहिए: गुलाम नबी आजाद
 सुप्रीम कोर्ट ने हमारी याचिका मंजूर की: गुलाम नबी आजाद
 राज्यपाल ने खरीद-फरोख्त को बढ़ावा दिया: गुलाम नबी आजाद
 कर्नाटक के लिए बीजेपी नया नियम लेकर आई: गुलाम नबी आजाद

देर रात दो बजकर 11 मिनट से गुरुवार सुबह पांच बजकर 58 मिनट तक चली सुनवाई के बाद शीर्ष कोर्ट ने यह स्पष्ट किया कि राज्य में शपथ ग्रहण और सरकार के गठन की प्रक्रिया न्यायालय के समक्ष इस मामले के अंतिम फैसले पर निर्भर करेगा। तीन घंटे से भी ज्यादा तक चली सुनवाई के बाद भाजपा नेता बीएस येदियुरप्पा के कर्नाटक के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने पर रोक लगाने से इनकार कर दिया।सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस एके सीकरी, एसए बोब्डे और जस्टिस अशोक भूषण की एक मध्यरात्रि पीठ ने केंद्र को भाजपा की ओर से प्रदेश के राज्यपाल वजुभाई वाला के समक्ष सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए भेजे गए 15 और 16 मई के दो पत्र कोर्ट में पेश करने के लिए कहा है। पीठ ने कांग्रेस और जद एस की याचिका पर कर्नाटक सरकार तथा येद्दियुरप्पा को नोटिस जारी करते हुए इस पर जवाब मांगा है और मामले की सुनवाई आज के लिए तय कर दी। 

 

No image

अमेरिका के राष्ट्रपति अकसर अपनी बयानबाजी के लिए विवादों में रहते हैं। अब एक बार फिर उन्होंने प्रवासियों को लेकर ऐसा बयान दिया है जिसकी चारों तरफ आलोचना हो रहा है। दरअसल, डॉनल्ड ट्रंप ने सीमा पर दीवार बनाने और कानून प्रवर्तन के बारे में चर्चा के बीच कुछ प्रवासियों की तुलना जानवरों से कर डाली।
ट्रंप ने कैलिफॉर्निया से वाइट हाउस आए रिपब्लिकन सांसदों को कहा , 'हमारे देश में लोग आ रहे हैं या आने की कोशिश कर रहे हैं। हम लोगों को देश से बाहर ले जा रहे हैं। आप यकीन नहीं करेंगे कि ये लोग कितने बुरे हैं, ये आदमी नहीं बल्कि जानवर हैं। 

ट्रंप के इस बयान पर कोलोराडो से कांग्रेस के सदस्य जेरेड पोलिस ने कहा , 'प्रवासी इंसान हैं ना कि जानवर, अपराधी, ड्रग डीलर और बलात्कारी। वे इंसान हैं। कैलिफॉर्निया के गवर्नर जैरी ब्राउन ने कहा , 'ट्रंप प्रवासियों के बारे में, अपराध के बारे में और कैलिफॉर्निया के कानूनों के बारे में झूठ बोल रहे हैं।
 

No image

पूर्व क्रिकेटर और दरभंगा के सांसद कीर्ति आजाद के छोटे बेटे के रिसेप्शन पार्टी में शामिल होने दरभंगा पहुंचे भाजपा सांसद  शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि कर्नाटक में सरकार बनाने के लिए जुगाड़ और दबाव की पॉलिटिक्स चल रही है और यह लोकतंत्र के लिए कहीं से भी उचित नहीं है

उन्होंने भाजपा का नाम लिए बगैर निशाना साधते हुए कहा कि लोकतंत्र की हत्या कर सरकार बनाना कभी हास्यास्पद और फजीहत भरा भी हो सकता है. वहीं उन्होंने आने वाले चुनाव में बिहार में बड़े सामाजिक और राजनीतिक क्रांति होने की बात कही. बीजेपी सांसद ने कहा कि परिवर्तन प्रकृति का नियम है. जल्द ही लोगों को बिहार में एक बड़ा राजनीतिक परिवर्तन देखने को मिलेगा.

इससे पूर्व शत्रुघ्न सिन्हा ने नवदंपति को आशीर्वाद दिया और कहा कि कीर्ति आजाद के परिवार से उनका पुराना संबंध है. भागवत झा आजाद के सानिध्य में उनका राजनीतिक जीवन शुरू हुआ था. वहीं शत्रुघ्न सिन्हा के समारोह स्थल पर पहुंचने पर उनके साथ सेल्फी लेने की लोगों में होड़ मच गई.
 

No image

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का मानना है कि पूरी तरह से फिट रहने पर ही वह मैदान और मैदान के बाहर मिलने वाली चुनौतियों का सामना कर पाते हैं। कोहली ने इसके साथ ही भारत की एक-तिहाई जनसंख्या द्वारा पिछले एक साल में एक बार भी शारीरिक संबंधी गतिविधियों में हिस्सा न लेने पर हैरानी जताई है। 

प्यूमा इंडिया द्वारा किए गए एक शोध में यह स्पष्ट हुआ है कि देश की एक-तिहाई जनसंख्या ने पिछले एक साल में एक भी बार शारीरिक संबंधी गतिविधियों में हिस्सा नहीं लिया। प्यूमा इंडिया की ओर से किए गए इस अध्ययन का उद्देश्य देश में शारीरिक गतिविधि और खेल के प्रति रुचि को समझना था। शोध ने अनुसार, गुडगांव में स्थिति और भी चिंताजनक है, जहां 54 प्रतिशत लोगों ने पिछले एक साल में एक बार भी शारीरिक गतिविधि नहीं की। 
 

No image

 देश में चीनी का रिकॉर्ड उत्पादन होने से घरेलू बाजार में चीनी का थोक मूल्य लागत से कम हो गया है मगर सस्ती चीनी का जायका उपभोक्ताओं को नहीं मिल रहा है। थोक में चीनी खरीदने वाले कन्फेक्शनरी उद्योग ने अपने उत्पादों के दाम में कोई कटौती नहीं की है। उपभोक्ताओं की शिकायत है कि चीनी तो सस्ती हुई मगर मिठाई सस्ती नहीं हुई। कुछ जगहों पर चीनी का खुदरा मूल्य चीनी थोक मूल्य के दोगुने से भी ज्यादा है। उपभोक्ताओं को लग रहा है कि उपकर लगने से उनके ऊपर और महंगाई की मार पड़ेगी। 

ग्रेटर नोएडा में रहने वाली शालिनी को लगता है कि चीनी पर अगर उपकर लगाया जाएगा तो उसका बजट और बिगड़ जाएगा। वह कहती है कि मॉल में बिक रही ब्रांडेड चीनी अभी 60-70 रुपये प्रति किलोग्राम है अगर चीनी के भाव में किन्हीं वजहों से बढ़ोतरी हुई तो फिर यह कहीं 70-80 रुपये प्रति किलोग्राम न हो जाए। यह चिंता सिर्फ ग्रेटर नोएडा की शालिनी की नहीं है, बल्कि देश के अन्य शहरों की गृहणियों की भी है जो महंगी चीनी ही खरीदती रही हैं। मुंबई के मीरारोड इलाके की एक सोसायटी में रहने वाली तृप्ति ने फोन पर बताया कि वह ब्रांडेड चीनी 48 रुपये प्रति किलोग्राम की दर से खरीदती है और अगर उपकर लगता है तो भाव निश्चित रूप से बढ़ेगी। तृप्ति ने कहा, रोज सुनती आ रही हूं कि चीनी की कीमत घट गई है लेकिन यहां तो ब्रांडेड चीनी हो या मिठाई या फिर बिस्कुट या अन्य कोई कन्फेक्शनरी आइटम यहां तक कि कोल्ड ड्रिंक्स चीनी के दाम घटने से किसी भी चीज के दाम में कोई कमी नहीं आई। यह सरासर उपभोक्ताओं के साथ नाइंसाइफी है। 

ग्रेडर नोएडा इलाके की एक जनरल स्टोर में एक खास ब्रांड की चीनी के पांच किलोग्राम की पैकेट की अंकित कीमत 345 रुपये पाई गई। एक अन्य ब्रांड की पांच किलोग्राम की पैकेट 325 रुपये की थी। पास की एक दूसरी जनरल स्टोर में खुली बोरी की चीनी 44 रुपये प्रति किलोग्राम थी। दिल्ली के मंडावली इलाके की एक दुकान में बुधवार को चीनी 30 रुपये प्रति किलोग्राम थी। दिल्ली के शाहदरा इलाके स्थित चीनी के डीलर सुशील कुमार ने बताया कि उत्तर प्रदेश की चीनी मिल का अधिकतम एक्स मिल रेट बुधवार को 2680-85 रुपये था। इस पर पांच फीसदी जीएसटी और अन्य खर्च करीब 135 रुपये और 60 रुपये प्रति च्ंि टल की दर से ढुलाई खर्च जोडऩे के बाद दिल्ली में चीनी 2880-85 रुपये पर डीलर के पास उपलब्ध होता है, जिसे वह 2910-2950 रुपये पर बेच रहा है। उन्होंने बताया कि डबल रिफाइंड चीनी भी दिल्ली में खुले में कहीं 3000-3100 रुपये प्रति च्ंि टल से ज्यादा नहीं है। बंबई मर्चेट शुगर एसोसिएशन से प्राप्त रेट के अनुसार, मुंबई में बुधवार को एस-ग्रेड चीनी 2610-2751 रुपये प्रति च्ंि टल और एम-ग्रेड की चीनी 27700-2882 रुपये प्रति च्ंि टल थी। नाका डिलीवरी भाव एस-ग्रेड 2575-2645 रुपये प्रति च्ंि टल और एम-ग्रेड 2645-2725 रुपये प्रति च्ंि टल थी। 

उत्तर प्रदेश के एक बड़े चीनी उत्पादक ने ईमेल के जरिए बताया कि उनकी ब्रांडेड चीनी का भी एक्स मिल रेट महज 31.50 रुपये प्रति किलोग्राम है। इस दर पर वह अपने वितरकों को अपने ब्रांड की चीनी मुहैया करवाते हैं। खुले चीनी के भाव के मुकाबले ब्रांडेड चीनी महंगी होने पर देश के चीनी उद्योग की शीर्ष संस्था इंडियन शुगर मिल्स एसोएिशन (इस्मा) के महानिदेशक अविनाश वर्मा ने कहा, ब्रांडेड चीनी प्रीमियम चेलिटी की चीनी है जिसके साथ खास ब्रांड का वैल्यू भी जुड़ा होता है। इसके अलावा उस पर उत्पादन, पैकेजिंग व अन्य लागत भी है, जिसके कारण उसका मूल्य अधिक होता है। मगर, दोगुने भाव पर चीनी बिकने की बात से उन्होंने भी इनकार किया और कहा कि भाव में इतना बड़ा अंतर नहीं हो सकता है। वर्मा ने बताया कि देश के कुल चीनी उत्पादन के करीब 8-10 फीसदी परिमाण का उपयोग ब्रांड के तौर पर किया जाता है। उन्होंने कहा, इसकी प्रोसेसिंग के लिए जो मशीन आती है उसकी लागत भी काफी ज्यादा होती है। इस चीनी को उत्पादन से पैकेजिंग के किसी भी स्तर पर हाथ से स्पर्श नहीं किया जाता है। जाहिर है कि इस पर लागत ज्यादा होने के कारण इसकी कीमत ज्यादा होती है।

इस्मा के अनुसार, 30 अप्रैल 2018 तक देशभर में चीनी का उत्पादन 310 लाख टन से ज्यादा हो चुका था और चालू सत्र 2017-18 (अक्टूबर-सितंबर) में कुल उत्पादन 315-320 लाख टन हो सकती है। मिलों के अनुसार चीनी का वर्तमान मिल रेट लागत के मुकाबले करीब आठ-नौ रुपये किलोग्राम कम है। यही वजह है कि मिलें नकदी की समस्या से जूझ रही है और गन्ना उत्पादकों का बकाया करीब 22,000 करोड़ रुपया हो गया है। सरकार ने चीनी मिलों को राहत देते हुए 55 रुपये प्रति टन की दर से एफआरपी के हिस्से के तौर गन्ना उत्पादकों को सीधे उनके खाते में भुगतान करने का फैसला लिया। 
 

No image

देश के शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में गुरुवार को गिरावट का रुख है। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 10.23 बजे 23.84 अंकों की गिरावट के साथ 35,364.04 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 7.55 अंकों की कमजोरी के साथ 10,733.55 पर कारोबार करते देखे गए।

बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 95.74 अंकों की मजबूती के साथ 35483.62 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 34.5 अंकों की बढ़त के साथ 10,775.60 पर खुला।
 

No image

 राजस्थान के उदयपुर जिले में गुरुवार को एक कार हादसे में दो लोगों की जिंदा जलने से मौत हो गई. यह कार हादसा उदयपुर- पिंडवाड़ा हाईवे पर जसवंतगढ़ के पास हुआ. तेज रफ्तार कार पहले डिवाइडर से टकराई और फिर पलटते समय उसमें आग लग गई. यह टक्कर इतनी तेज थी कि का कार सवार दोनों लोगों को बाहर निकलने का मौका नहीं मिला और पलक छपते ही आग की चपेट में आ गए. इस हादसे में कार सवार एक पुरुष और एक महिला की आग में झुलसने से मौत हो गई.

उदयपुर पुलिस के अनुसार फिलहाल कार हादसे के पीछे कारणों का पता नहीं चल सका है. कार सवार दोनों लोगों की शिनाख्त के भी प्रयास चल रहे हैं. फिलहाल पुलिस ने शवों को मोर्चरी में रखवाया है. उधर, टोंक जिले के देवली कस्बे के बीच पुरानी जहाजपुर चुंगी नाके के पास बीती देर रात एक बड़ा हादसा होते होते टल गया. देवली की ओर आ रहा एक ट्रेलर जिसमें की भारी सामान भरा हुआ था, अनियंत्रित हो गया.

अनियंत्रित होकर यह ट्रेलर एक खड़ी बाईक को टक्कर मार एक बहुमंजिला मकान के बाहर पेड़ से जा टकराया. हादसे के बाद बाईक में आग लग गई. स्थानीय लोगों की सूचना पर भीलवाड़ा जिले की सीमा का मामला होने के कारण हनुमाननगर थाना पुलिस मौके पर पहुंची. घटना के बाद ट्रेलर चालक मौके से फरार हो गया है. पुलिस ने ट्रेलर को सीज़ करते हुए उसे अपने कब्ज़े में ले लिया है.
 

No image

झारखंड के लातेहार में नक्सलियों ने तालाब निर्माण में लगे एक जेसीबी और दो ट्रैक्टरों को आग के हवाले कर दिया. तालाब गारू थाना इलाके के कबरी महुवाडाबर में बनाया जा रहा है, जिसमें जेसीबी और ट्रैक्टर लगे हुए थे. नक्सलियों के इस तांडव में तीनों जलकर खाक हो गये.नक्सलियों ने जेसीबी चालक और मजदूरों की पिटाई भी की. घटना से आस-पासके गांवों में दहशत का माहौल है. गौरतलब है कि पुलिस द्वारा जिले मेंनक्सलविरोधी

अभियान चलाये जा रहे हैं. हाल में इस क्षेत्र में एक हार्डकोर नक्सली मारा भी गया था. इससे बौखलाए नक्सलियों ने अपनी उपस्थिति दर्ज करवाने के लिए ताजा घटना को अंजाम दिया है.प्रत्यक्षदर्शी ने बताया कि जंगल के रास्ते से काली वर्दीधारी हथियारबंद नक्सली आए और पहले तालाब निर्माण में लगे मजदूरों को जमकर पीटा और फिर जेसीबी और दो ट्रैक्टरों को आग के हवाले कर दिया. सूचना मिलने पर पुलिस के अधिकारियों ने घटनास्थल पर जाकर मामले की तहकीकात की.
 

No image

कर्नाटक की सियासी लड़ाई में अब वरिष्ठ वकील राम जेठमलानी भी कूद पड़े हैं। राम जेठमलानी ने कर्नाटक के राज्यपाल द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने का न्योता देने के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया है। जेठमलानी ने राज्यपाल के फैसले को संवैधानिक शक्ति का घोर दुरुपयोग बताया है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के नेतृत्व वाली पीठ ने तत्काल सुनवाई के लिए दायर की गई जेठमलानी की याचिका पर विचार किया और कहा कि गुरुवार तड़के कर्नाटक मामले की सुनवाई करने वाली तीन सदस्यीय स्पेशल बेंच शुक्रवार को इस पर सुनवाई करेगी।
जस्टिस एएम खानविल्कर और जस्टिस डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने वरिष्ठ

अधिवक्ता से कहा कि वह न्यायमूर्ति ए के सीकरी की अगुवाई वाली तीन सदस्यीय पीठ के समक्ष 18 मई को अपनी याचिका दायर करें जब कांग्रेस पार्टी और जेडीएस की याचिकाओं पर सुनवाई होगी। आपको बता दें कि कर्नाटक में येदियुरप्पा सरकार का गठन हो गया है लेकिन इस पर विवाद लगातार जारी है।
कांग्रेस और जेडीएस ने आरोप लगाया है कि राज्यपाल संविधान की अवहेलना कर रहे हैं। जेडीएस नेता कुमारस्वामी ने मोदी सरकार विधायकों को अपने पाले में करने के लिए ईडी की मदद से डराने-धमकाने का आरोप लगाया है। इससे पहले कुमारस्वामी ने यह भी आरोप लगाया था कि बीजेपी उनके विधायकों को 100-100 करोड़ रुपये का ऑफर दे रही है। 

राज्पाल द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने की अनुमति देने के बाद कांग्रेस और जेडीएस ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था। गुरुवार देर रात से तड़के तक सुप्रीम कोर्ट में इस इस मामले पर जिरह हुई। केंद्र सरकार की ओर से अडिशनल सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता, बीजेपी की ओर से पूर्व अटॉर्नी जनरल मुकुल रोहतगी और कांग्रेस की ओर से अभिषेक मनु सिंघवी कोर्ट में पेश हुए।

हालांकि कोर्ट ने राज्यपाल के फैसले पर रोक लगाने से इनकार कर दिया। इसके बाद गुरुवार सुबह 9 बजे के करीब येदियुरप्पा ने कर्नाटक सीएम पद की शपथ ली। कोर्ट ने इस बात को माना है कि विश्वास मत साबित करने के लिए दिए गए 15 दिन के समय पर सुनवाई हो सकती है। जेठमलानी ने राज्यपाल के फैसले को संवैधानिक शक्ति का घोर दुरुपयोग बताया है। चीफ जस्टिस दीपक मिश्रा के

नेतृत्व वाली पीठ ने तत्काल सुनवाई के लिए दायर की गई जेठमलानी की याचिका पर विचार किया और कहा कि गुरुवार तड़के कर्नाटक मामले की सुनवाई करने वाली तीन सदस्यीय स्पेशल बेंच शुक्रवार को इस पर सुनवाई करेगी। कर्नाटक के नए मुख्यमंत्री येदियुरप्पा ने कहा है कि उन्हें विधानसभा में विश्वास मत जीतने और पांच साल का कार्यकाल पूरा करने का 100 फीसदी भरोसा है। उन्होंने कांग्रेसजेडीएस गठबंधन को अपवित्र बताया और आरोप लगाया कि लोगों ने उन्हेंपूरी तरह से खारिज कर दिया है लेकिन इसके बावजूद वे सत्ता हथियाने की कोशिश में हैं।
 

No image


कर्नाटक में बीएस येदियुरप्पा  के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ लेने पर बसपा सुप्रीमो मायावती ने गुरुवार को बीजेपी पर जमकर हमला किया. मायावती ने प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि बीजेपी बाबा साहेब आंबेडकर रचित संविधान को बर्बाद करने की साजिश रच रही है.मायावती ने दिल्ली में प्रेस कांफ्रेंस को संबोधित करते हुए कहा कि जब से बीजेपी सत्ता में आई है तब से सरकारी मशीनरी का दुरूपयोग लोकतंत्र पर हमले करने के लिए कर रही है.इससे पहले समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी एक ट्वीट कर येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर निशाना साधा. अखिलेश यादव ने नाम लिए बगैर येदियुरप्पा के शपथ को लोकतंत्र की हत्या करार दिया है. साथ ही उन्होंने कर्नाटक के ताजा घटनाक्रम को इशारों में इसे सत्ता की हनक और जमीर की मंडी सजाने जैसी संज्ञा दी है.


अखिलेश ने लिखा है कि आज फिर लोकतंत्र की शपथ ली जाएगी. आज फिर एक बार और हत्या की जाएगी. आज फिर सत्ता की हनक दिखाई जाएगी. आज फिर ज़मीर की मंडी सजाई जाएगी. आज फिर आज़ादी थोड़ी और मर जाएगी.गौरतलब है कि बुधवार रात सुप्रीम कोर्ट में चले हाईवोल्टेज ड्रामे के बीच येदियुरप्पा नेगुरुवार सुबह 9 बजे तीसरी बार कर्नाटक के मुख्यमंत्री के तौर पर शपथ ली.येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण पर कांग्रेस और जेडीएस लगातार बीजेपी और राज्यपाल वजुभाई वाला पर हमलावर है.

कांग्रेस नेता डीके शिवकुमार ने कहा कि इस सरकार की उम्र ज्यादा नहीं है. हमें विश्वास है कि सरकार गिर जाएगी. क्योंकि हमारे पास बहुमत है. हमारे सभी विधायक पार्टी के साथ हैं.बता दें बुधवार शाम को राज्यपाल ने सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते येदियुरप्पा को सरकार बनाने का निमंत्रण देते हुए 15 दिनों में बहुमत साबित करने को कहा है. जिसके बाद आनन-फानन में कांग्रेस ने सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया. गुरुवार सुबह तक चली सुनवाई में सुप्रीम कोर्ट ने शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से इनकार कर दिया. हालांकि, कोर्ट ने येदियुरप्पा और कांग्रेस से विधायकों के बहुमत की सूची सौंपने को भी कहा है.
 

No image

सुप्रीम कोर्ट आईआईटी से जुड़े 20 से ज्यादा छात्रों, वैज्ञानिकों द्वारा आईपीसी की धारा 377 को चुनौती देने वाली याचिका की सुनवाई के लिए तैयार हो गया है. इस याचिका में सुप्रीम कोर्ट से उस फैसले को रद्द करने की बात कही गई है जिसमें समलैंगिकता को अपराध माना गया है. हालांकि कोर्ट ने याचिका सुनने की तारीख के बारे में अभी तक कोई निर्णय नहीं लिया है.

गौरतलब है कि आईआईटी से जुड़े 20 से ज्यादा छात्रों, शिक्षकों और वैज्ञानिकों ने समलैंगिकता के मुद्दे पर सुप्रीम कोर्ट में याचिका डाली है. याचिका में दलील दी गई है कि समलैंगिकता को अपराध की श्रेणी में शामिल करने के बाद से उनहें शर्म की भावना और कलंक जैसा महसूस हो रहा है. इस मामले में पहले से भी कई याचिकाएं लंबित हैं. आईआईटी के एलजीबीटी एल्यूमनी एसोसिएशन की तरफ से दायर याचिका की सुनवाई पर सुप्रीम कोर्ट में अब सुनवाई तय मानी जा रही है. हालांकि इस मामले की सुनवाई कब होगी इसकी जानकारी अभी तक हासिल नहीं हो सकी है.

No image

अवधेश प्रताप सिंह विश्वविद्यालय की सेमेस्टर परीक्षा में बुधवार को रामबाई स्मृति महाविद्यालय में परीक्षार्थियों ने जमकर बवाल किया। निरीक्षण के लिए पहुंचे कुलपति और सदस्यों के साथ न केवल हाथापाई की बल्कि कुलपति के वाहन में तोडफ़ोड़ कर क्षतिग्रस्त कर दिया। विश्वविद्यालय की ओर से परीक्षार्थियों के खिलाफ थाने में एफआईआर दर्ज कराई गई है। इधर, विश्वविद्यालय प्रशासन परीक्षा केंद्र निरस्त कर दिया है।

रामबाई स्मृति महाविद्यालय डभौरा में बुधवार को विधि छठवें सेमेस्टर की परीक्षा थी। विश्वविद्यालय के कुलपति को खबर मिली कि इसमें सामूहिक नकल जैसी स्थिति है। केंद्राध्यक्ष नकल पर लगाम लगा पाने में असमर्थ हैं। सूचना के मद्देनजर कुलपति प्रो. केएन सिंह यादव पहली पाली में विधि की छठवें सेमेस्टर की परीक्षा में केंद्र पर पहुंच गए। सुबह पौने नौ बजे पहुंचे दल ने परीक्षा कक्ष तलाशी शुरू की तो भगदड़ मच गई। एक परीक्षार्थी को नकल सामग्री के साथ सदस्यों ने दबोच भी लिया लेकिन अन्य दूसरे परीक्षार्थियों की तलाशी हो पाती कि इससे पहले परीक्षार्थियों ने हंगामा शुरू कर दिया।

तलाशी के लिए परीक्षार्थी तैयार नहीं हुए और दल के सदस्यों से तू-तू मैं-मैं करने लगे। धीरे-धीरे परीक्षार्थी उग्र हो गए और उत्तरपुस्तिका लेकर कक्ष से बाहर आ गए हैं। छात्रों की उग्रता को देखते हुए केंद्राध्यक्ष ने पुलिस को सूचना दे दी। मौके पर पुलिस पहुंचती कि इससे पहले ही परीक्षार्थियों का एक समूह दल के सदस्यों पर हमलावर हो गया। जैसे-तैसे कुलपति और दल के सदस्य केंद्र में बनाए गए कंट्रोल रूम में जाकर छिपे। परीक्षार्थी कुलपति व सदस्यों को खोजते हुए कंट्रोल रूम तक जा पहुंचे और दरवाजा तोडऩे को कोशिश करने लगे, लेकिन तब तक पुलिस के तीन सिपाही मौके पर पहुंच गए और परीक्षार्थियों को बाहर किया।

 

No image

एमसीए की छात्रा को तेजाब फेंकने व अश्लील फोटो वायरल करने की धमकी देने वाले मनचले छात्र को बुधवार को वी केयर फॉर यू ने गिरफ्तार किया।आक्रोशित परिजन पुलिस कार्रवाई के दौरान उसे पीटते हुए थाने ले गए। ुलिस के मुताबिक चंदन नगर थाना क्षेत्र निवासी छात्रा की शिकायत पर कृष्णा पिता राकेश गुप्ता निवासी शिवपुरी को गिरफ्तार किया है। वह दो साल से छात्रा को परेशान कर रहा था। दोनों ने साथ एमसीए की कोचिंग की थी।

रिजल्ट के बाद दोनों का आंध्रप्रदेश के अलग शहरों के कॉलेज में एडमिशन हुआ। कृष्णा बारंगल के कॉलेज से एमसीए कर रहा है। वह लगातार फोन पर छात्रा से मिलने का दबाव बनाने लगा। इनकार करने पर फोन पर धमक ी देने लगा। छात्रा के फोटो एडिट कर उसे अश्लील बनाकर सोशल मीडिया में वायरल करने और तेजाब से हमला करने की बात कहने लगा। छात्रा ने परिजन को जानकारी दी व पुलिस को शिकायत की।

पुलिस ने प्लाङ्क्षनग के तहत कृष्णा को बारंगल से शहर में छात्रा से मिलने बुलाया। तुकोगंज क्षेत्र के मॉल में जैसे ही वह छात्रा से मिलने पहुंचा, वहां तैनात पुलिस टीम ने उसे पकड़ लिया। वहीं मौजूद परिजन आक्रोशित होकर उसे पीटने लगे। उन्होंने आरोपित के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग की है। परिवार ने बेटी को वाट्सएप पर दी गई धमकी की चैट भी पुलिस को जांच के लिए सौंपी है।पुलिस को कृष्णा ने बताया, वह स्कीम 78 में रिश्तेदार के यहां आया था। छात्रा से उसकी कोचिंग में मुलाकात हुई थी। पीडि़ता को उसने फोन पर धमकी देने व परेशान करने से इनकार किया। उसका परिवार करैरा, शिवपुरी रहता है। पिता की स्टेशनरी शॉप है। आरोपी को चंदन नगर पुलिस के सुपुर्द किया है।

No image

सोमनाथ की चाल में रहने वाली एक बच्ची का आज सुबह नाले में शव मिला। बताया जाता है कि वह कल अपने मामा के घर जाने के लिए निकली थी, तब से ही लापता थी। आज सुबह नाले में उसका शव मिला।पलिस के अनुसार कल बच्ची की मां दीपा पति प्रकाश केशरकर ने शिकायत की थी कि उनकी चार साल की बेटी आरुषी (4) अचानक घर से लापता हो गई है। पुलिस ने अपहरण का केस दर्ज कर लिया था। परिजनों ने पुलिस को बताया कि वह अपने मामा के घर ठंडा पानी लेने के लिए निकली थी।

इसके बाद वह घर पर नहीं लौटी। जब वह काफी देर तक नहीं आई तो परिजन खोजने के लिए निकले, लेकिन कोई पता नहीं चला तो पुलिस को सूचना दी। आज सुबह नाले की सफाई के लिए कुछ कर्मचारी वहां पहुंचे तो उन्होंने शव देखा। सूचना के बाद पुलिस का दल भी पहुंच गया था।इसी बीच बच्ची के परिजनों को सूचना मिली तो वह भी वहां पहुंच और शिनाख्त की। पुलिस ने शव को पीएम के लिए भेज दिया है। पुलिस का कहना है कि बच्ची की नाले में डूबने से मौत हुई है। डीआईजी हरिनारायणाचारी मिश्र ने बताया कि प्राथमिक तौर पर यह डूबने का केस लग रहा है।

बच्ची के शरीर पर कोई चोट के निशान नहीं है, इसी के चलते यह हादसा ही लग रहा है। पुलिस जांच कर रही है।मामा और मां के साथ पिता से अलग रहती थी बच्चीपरिजनों ने बताया कि बच्ची सोमनाथ की चाल में अपने मामा और मां के साथ में रहती थी। बच्ची उसकी मां दीपा का अपने पति से अलग यहां पर रहती है और छोटा-मोटा काम कर परिवार पाल रही है। बच्ची केजी-2 में पढ़ती है। परिवार का कहना है कि खेलते हुए वह पीछे की गली में चली गई होगी और यह हादसा हो गया। उन्होंने फिलहाल किसी पर भी शंका नहीं जताई है।

No image

ग्वालियर में एक व्यक्ति ने आत्महत्या कर ली। आरोप है कि आत्महत्या का कदम उन्होने अपनी बहू के आरोपों से परेशान होकर उठाया है। इससे पहले बहू ने ससुर पर दुष्कर्म का आरोप लगाया था देर रात पुलिस ने बहू की शिकायत पर मामला दर्ज कर लिया था और सुबह ससुर ने आत्महत्या कर ली। परिजनों का कहना है कि खुदकुशी का यह कदम बहू के आरोप की वजह से उठाया है। पुलिस ने खुदकुशी के मामले की भी जांच शुरू कर दी है। हादसा ठाठीपुर थाना के तहत जीवाजी नगर में हुआ।

No image

कर्नाटक में चुनावी नतीजों के बाद आखिरकार राज्य में भाजपा की ही सरकार बन गई है। गुरुवार को बीएस येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ली। इसके साथ ही येदियुरप्पा कर्नाटक में 24वें मुख्यमंत्री बन गए हैं। हालांकि अभी येदियुरप्पा सरकार को 21 मई तक विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है।

मुख्यमंत्री का पद संभालते ही बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक के किसानों को एक बड़ी सौगात दे दी है। दरअसल, मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक में किसानों की कर्जमाफी का ऐलान कर दिया है, बस इसका औपचारिक ऐलान होना बाकि है। येदियुरप्पा के इस ऐलान के बाद कर्नाटक के करीब 1 लाख किसानों को इसका फायदा होगा। गुरुवार को सीएम पद की शपथ लेने के बाद बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि मैं अपने वादे के मुताबिक इस मंच से कर्नाटक के किसानों की कर्जमाफी का ऐलान करता हूं। आपको बता दें कि चुनाव प्रचार के दौरान भाजपा ने राज्य में किसानों की कर्जमाफी का ऐलान किया था।

इसके अलावा उन्होंने शपथ ग्रहण करने के बाद कहा कि हमें 100 फीसदी यकीन है कि राज्यपाल के द्वारा दिए गए तय समय में ही हम बहुमत साबित कर देंगे। बीएस येदियुरप्पा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बीजेपी अध्यक्ष ने मुझे जो जिम्मेदारी दी है, उसके लिए मैं उनका शुक्रगुजार हूं, मैं राज्य के किसानों और एससी-एसटी का शुक्रगुजार हूं कि उन्होंने मुझे चुना है, मैं उन्हें भरोसा दिलाता हूं कि मैं उनसे किए सभी वादे को पूरा करूंगा।

येदियुरप्पा ने कहा, "मैं सभी 224 विधायकों के समर्थन की अपील करता हूं, मुझे उम्मीद है कि वह अपनी अंतरात्मा की आवाज सुनकर मेरा समर्थन करेंगे। मुझे भरोसा है कि मैं विधानसभा में विश्वास मत प्राप्त करूंगा और अगले 5 साल तक राज्य की सरकार का नेतृत्व करूंगा। उन्होंने कहा कि कर्नाटक के विधानसभा चुनाव में बीजेपी को मिला जनादेश राज्य के विकास के लिए है।

आपको बता दें कि कर्नाटक विधानसभा चुनाव के नतीजों में बीजेपी को 104 सीटें मिली हैं, जबकि कांग्रेस को 78 और जेडीएस को 38 सीटें मिली हैं। सबसे बड़ी पार्टी होने की वजह से राज्यपाल ने बीजेपी को पहले सरकार बनाने का न्योता भेजा था

No image

 पश्चिम बंगाल में 14 मई को हुए पंचायत चुनाव की मतगणना गुरुवार को शुरू हो गई है। सुबह 10 बजे तक हुई मतगणना के शुरुआती रुझानों के मुताबिक, सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस 1800 ग्राम पंचायत सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। वहीं 100 सीटों पर बीजेपी और 30 ग्राम पंचायत सीटों पर सीपीएम ने बढ़त बनाई है।
पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा को देखते हुए सभी 291 मतगणना केन्द्रों पर कड़ी सुरक्षा व्यवस्था की गई है। आपको बता दें कि 14 मई को पश्चिम बंगाल में 621 जिला परिषदों, 6,123 पंचायत समितियों और 31,802 ग्राम पंचायतों के लिए मतदान हुआ था।

पंचायत चुनाव के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को जिन 568 मतदान केन्द्रों पर हिंसा की शिकायतें मिली थीं, वहां 16 मई को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच फिर से मतदान कराए गए थे। 16 मई को हुगली में 10 मतदान केन्द्रों , पश्चिम मिदनापुर में 28 मतदान केन्द्रों, कूचबिहार में 52 मतदान केन्द्रों, मुर्शिदाबाद में 63 मतदान केन्द्रों, नादिया में 60 मतदान केन्द्रों, उत्तर 24 परगना में 59 मतदान केन्द्रों, मालदा में 55 मतदान केन्द्रों , उत्तर दिनाजपुर में 73 मतदान केन्द्रों और दक्षिण 24 परगना में 26 मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान कराया गया था।जानकारी के मुताबिक, 48,650 ग्राम पंचायत सीटों में से 16,814 सीटें इस बार खाली रह गईं। पंचायत समिति की कुल 9,217 सीटों में से 3509 सीटों पर पर्चा नहीं भरा गया। वहीं जिला परिषद की 825 सीटों में से 203 सीटों पर उम्मीदवार खड़े नहीं हुए थे।

No image

हाल ही में बिजनसमैन आनंद आहूजा से शादी करने वाली बॉलिवुड ऐक्ट्रेस सोनम कपूर अब अपनी आने वाली फिल्म वीरे दी वेडिंग को लेकर एक्साइटेड हैं। हाल ही में उन्होंने बताया कि इंडस्ट्री में उनके सबसे करीबी दोस्त कौन हैं।सोनम से पूछा गया कि क्या सच्चे दोस्त बॉलिवुड में नहीं बनाए जा सकते हैं तो उन्होंने कहा, यह बात पूरी तरह से गलत है। जैकलिन, बेबो (करीना) और स्वरा मेरे सबसे करीबी दोस्तों में से एक हैं। 

बता दें, रणबीर कपूर की आने वाली फिल्म संजू में भी सोनम ने अहम किरदार निभाया है। इस बारे में पूछे जाने पर उन्होंने कहा, सही समय आने पर इस बारे में बताऊंगी। फिलहाल, मैं किसी भी जानकारी का खुलासा नहीं कर सकती। 
29 जून को रिलीज होने वाली डायरेक्टर राजकुमार हिरानी की संजू में दिया मिर्जा, मनीषा कोइराला, परेश रावल और अनुष्का शर्मा भी अहम किरदारों में नजर आएंगे। वहीं, डायरेक्टर शशांक घोष की फिल्म वीरे दी वेडिंग में सोनम कपूर के अलावा करीना कपूर, स्वरा भास्कर और शिखा तल्सानिया जैसी ऐक्ट्रेसेस भी नजर आएंगी। फिलहाल, सोनम 71वें कान फिल्म फेस्टिवल को अटेंड करने पहुंची हुई हैं।

No image

गुरुग्राम में महिलाओं की सुरक्षा के बारे में जहां दावे किये जाते है. वहीx दिल को दहला देने वाला मामला सामने आया है. जहां एक 17 वर्षिय छात्रा ने छेडछाड से परेशान आकर फांसी लगा ली और अपनी जान दे दी.बादशाहपुर इलाके में टीकरी गांव में एक 17 वर्षिय छात्रा ने मनचलों द्वारा रोजना की जा रही छेड़छाड़ से परेशान आकर मौत को गले लगा लिया. स्कूल जाते समय मनचले छात्रा को छेड़ते थे, उसके ऊपर फब्तियां कसते थे.

बार बार कहने के बावजूद एक युवक ने तो छात्रा का जीना भी दुर्भर कर दिया जिसके बाद हताश छात्रा ने हिम्मत हारकर अपनी जान दे दी. रविवार देर रात अपने घर पर कमरे के अंदर फंदे से लटकर छात्रा ने खुदखुशी कर ली और आपबीती को सुसाइड नोट में लिख दिया.इस पूरे मामले में पुलिस ने छात्रा के परिजनों की शिकायत पर मामला दर्ज कर दिया है. पुलिस ने अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है. वहीं अब उस आरोपी युवक की तलाश शुरु कर दी है. पुलिस का मानना है कि इस मामले में पुलिस सुसाइड नोट और परिजनों की शिकायत के आधार पर जांच कर रही है. बताया जा रहा है कि छात्रा बारहवीं कक्षा की छात्रा थी और स्कूल जाते समय उसके साथ एक युवक छेड़छा़ड करता था. उसी से परेशान होकर उसने ये कदम उठाया है.

No image

हाई वोल्टेज ड्रामे के बीच बीजेपी के बीएस येदियुरप्पा ने कर्नाटक के सीएम पद की शपथ ले ली है। इस दौरान शपथग्रहण समारोह में केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार के साथ प्रकाश जावड़ेकर और जेपी नड्डा समेत बीजेपी के कई बड़े नेता मौजूद रहे। हालांकि पीएम मोदी और अमित शाह कार्यक्रम में शामिल नहीं हो सके। राज्यपाल वजुभाई आर वाला येदियुरप्पा को सीएम पद की शपथ दिलाई और गुलदस्ता भेंट कर उनका स्वागत किया। अब येदियुरप्पा के सामने सबसे बड़ी चुनौती विधायकों के हस्ताक्षर जुटाकर बहुमत साबित करना है।

75 साल के येदियुरप्पा ने विधानसभा चुनाव में शिकारीपुरा से जीत हासिल की है। वह तीसरी बार राज्य के सीएम बने हैं और राज्य के 25वें मुख्यमंत्री हैं। हालांकि इससे पहले दोनों बार अपना कार्यकाल पूरा नहीं कर सके। 2006 में पहली बार जेडीएस के साथ मिलकर सरकार बनाई। 2008 में अकेले दम पर बीजेपी राज्य में जीती।2011 में खनन घोटाले के आरोप के चलते येदियुरप्पा को कुर्सी छोडऩी पड़ी। इसके बाद येदियुरप्पा बीजेपी से अलग हो गए थे जिसके बाद 2013 में बीजेपी को राज्य में हार का सामना करना पड़ा था। 2014 में येदियुरप्पा वापस बीजेपी में शामिल हुए। मांड्या जिले मे बीएस येदियुरप्पा के गांव बुकानाकेरे में भी जश्न मनाया गया।

दूसरी ओर कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शपथ ग्रहण समारोह का विरोध करते हुए कहा कि भले ही बीजेपी आज खुश है लेकिन भारत लोकतंत्र की हार का शोक मनाएगा। राहुल गांधी ने ट्वीट कर कहा, बहुमत न होने के बाद भी बीजेपी की सरकार बनना संविधान का मजाक उड़ाना है। आज सुबह जब बीजेपी अपनी खोखली जीत का जश्न मना रही होगी तो भारत लोकतंत्र की हार का शोक मनाएगा। 

उधर केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार ने कहा, अगर कांग्रेस विरोध करना चाहती है तो उसे राहुल गांधी, सोनिया गांधी और सिद्धारमैया का विरोध करना चाहिए, तीनों नेकांग्रेस को बर्बाद कर दिया है।सुप्रीम कोर्ट तक पहुंचा कर्नाटक विवाद बता दें कि कांग्रेस-जेडीएस ने येदियुरप्पा के शपथ ग्रहण समारोह के खिलाफ याचिका दायर की थी जिस पर सुप्रीम कोर्ट में रात 1:45 बजे सुनवाई शुरू हुई जो सुबह साढ़े पांच बजे तक चली। कोर्ट ने गवर्नर के फैसले पर रोक लगाने से इनकार करते हुए कहा कि शपथ ग्रहण पर रोक नहीं लगाई जा सकती है। हालांकि, कोर्ट ने इस बात को माना है कि विश्वास मत साबित करने के लिए दिए गए 15 दिन के समय पर सुनवाई हो सकती है। इसके साथ ही दोनों पक्षों समेत येदियुरप्पा को एक जवाब दाखिल करने का नोटिस भी जारी किया है। कर्नाटक मसले में शुक्रवार को फिर सुनवाई होगी।

 

No image

दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ कथित तौर पर मारपीट के मामले में दिल्ली पुलिस अरविंद केजरीवाल से शुक्रवार को शाम मुख्यमंत्री निवास पर कैंम्प कार्यालय में पूछताछ करेगी. पहले बताया जा रहा था कि यह पूछताछ सुबह 11 बजे हो सकती है. इस संबंध में नार्थ जिला दिल्ली पुलिस के एडिशनल डीसीपी हरेंद्र सिंह की ओर से बुधवार को अरविंद केजरीवाल को पूछताछ के लिए नोटिस भेज दिया गया था.
गौरतलब है कि मुख्य सचिव ने पिछले महीने आरोप लगाया था कि सीएम

केजरीवाल के आवास पर उन्हें मीटिंग के लिए बुलाया गया था. इस दौरान आम आदमी पार्टी के विधायकों ने उन पर सरकारी विज्ञापन रिलीज करने का दबाव बनाया. इनकार करने पर उनके साथ बदसलूकी की गई. उनके साथ मारपीट की गई. मुख्य सचिव ने दिल्ली पुलिस में इसकी शिकायत दी.

No image

चुनावी नतीजों के बाद उलझे कर्नाटक में लगभग तीस घंटे की खींचतान के बाद यह तय हो गया कि ताज भाजपा के येद्दयुरप्पा के सिर बंधेगा। बुधवार की देर रात राज्यपाल वजुभाई वाला ने सबसे बड़ी पार्टी के नेता के तौर पर येद्दयुरप्पा को सरकार गठन का आमंत्रण दे दिया है। वहीं, कांग्रेस इस मामले को लेकर बुधवार रात में ही सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई। सुप्रीम कोर्ट ने कर्नाटक भाजपा को कुछ देर के लिए ही सही लेकिन बड़ी राहत दी है और येदियुरप्पा की शपथ पर रोक लगाने से इनकार कर दिया है, लेकिन इस पूरी कवायद ने एक बार फिर इतिहास रचा, क्योंकि भारत के इतिहास में दूसरी बार सुप्रीम कोर्ट ने न्याय के लिए अपना दरवाजा खोला।


देश की न्यायपालिका के इतिहास में ये दूसरी बार हुआ है जब न्याय के लिए सुप्रीम दरवाजा आधी रात को खुला हो। जब देश सो रहा तब सुप्रीम कोर्ट में दलीलों का दौर चल रहा था। कर्नाटक में राज्यपाल की ओर से बीजेपी को सरकार बनाने का न्यौता देने के खिलाफ कांग्रेस ने देर रात को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कांग्रेस की इस मांग पर मुख्य न्यायधीश दीपक मिश्रा ने सोच विचार के बाद करीब 12 बजे अदालत लगाने का फैसला लिया। रात 1 बजे सीजेआई ने मामले की सुनवाई के लिए 3 जजों की बेंच गठित की और 2 बजकर 10 मिनट पर सुनवाई शुरू हो गई जो तड़के 5.30 बजे तक चली। इस सुनवाई के बाद सुप्रीम कोर्ट ने कांग्रेस की ओर से येदियुरप्पा का शपथ रोकने की मांग को ठुकरा दिया।

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर चल रही खींचतान के अलावा देश की न्यायपालिका के इतिहास में सुप्रीम दरवाज एक बार पहले भी न्याय के लिए आधी रात को खुल चुका है। इससे पहले 29 जुलाई 2015 को पहली बार आधी रात को सुप्रीम कोर्ट का दरवाजा खुला था। मुंबई बम धमाकों के दोषी याकूब मेमन की याचिका, सुप्रीम कोर्ट, गवर्नर और बाद में राष्ट्रपति से खारिज होने के बाद फांसी से ठीक पहले आधी रात को वकील प्रशांत भूषण समेत 12 वकील चीफ जस्टिस के घर पहुंचे थे। तीन जजों की बैंच के सामने मामले पर सुनवाई शुरू हुई और आखिर में तीन जजों की लार्जर बेंच ने याकूब की फांसी की सजा को बरकरार रखा था।

No image

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद उठा तूफ़ान शांत होने का नाम नहीं ले रहा है। वैसे तो आधिकारिक रूप से कर्नाटक में बीजेपी की सरकार बन गई है और येदियुरप्पा ने मुख्यमंत्री पद की शपथ भी ले ली है लेकिन इसके विरोध में कांग्रेस पार्टी के नेता और पूर्व सीएम सिद्दारमैया कर्नाटक विधानसभा के सामने गांधी प्रतिमा के आगे धरने पर बैठ गए हैं। इस धरने में दिग्गज कांग्रेसी नेता और राज्यसभा में विपक्ष के नेता गुलाम नबी आजाद भी शामिल हैं।

कांग्रेसी विधायक सिद्धारमैया के नेतृत्व में गांधी प्रतिमा के आगे धरना दे रहे हैं। पूर्व मुख्यमंत्री सिद्धारमैया ने कहा कि 'राज्यपाल ने अनैतिक तरीकों से बीजेपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित क्र दिया और उनकी सरकार बनवा दी। हम इसके खिलाफ चुप नहीं बैठेंगे।'

हालांकि येदियुरप्पा ने सीएम पद की शपथ जरूर ले ली है लेकिन अभी भी उनके पास 104 ही विधायक हैं।कांग्रेस और जेडीएस का आरोप है कि अब येदियुरप्पा और बीजेपी जमकर विधायकों की खरीद फरोख्त कर सकते हैं।बता दें कि कर्नाटक में राज्यपाल द्वारा बीजेपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करने के खिलाफ कांग्रेस सुप्रीम कोर्ट पहुँच गई थी लेकिन उसे वहां भी राहत नहीं मिली थी और शीर्ष अदालत ने शपथ ग्रहण पर रोक लगाने से मना कर दिया। इसके बाद अब कांग्रेस ने सड़क पर उतरकर बीजेपी नेता बीएस येदियुरप्पा के सीएम बनने का विरोध करने का फैसला लिया है।

कांग्रेस और जेडीएस ने अपने ज्‍यादातर विधायकों को बीजेपी के प्रलोभन और दबाव से दूर रखने के लिए बेंगलुरु के ईगलटन रिजॉर्ट में ठहराया हुआ है। येदियुरप्पा के शपथ लेते ही ये सभी विधायक शपथग्रहण समारोह के बाद कांग्रेस के विधायक रिजॉर्ट से निकलकर बेंगलुरु के फ्रीडम पार्क में विरोध प्रदर्शन के लिए जमा हो गए हैं। अब ये विधायक येदियुरप्‍पा की ताजपोशी के ख‍िलाफ विधानसभा के सामने सड़क पर धरना दे रहे हैं।

No image

 प्रेम की निशानी ताजमहल में उस वक्त अफरा-तफरी का माहौल पैदा हो गया जब पश्चिमी गेट पर बने शाहजहां गार्डन में अचानक आग लग गई। मौके पर पहुंचीं कई दमकल की गाड़ियों ने कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया।शुरूआती जांच में पता चला कि दरअसल ताजमहल के पश्चिमी गेट पर सूखे पेड़ हैं।

पुलिस सूत्रों के मुताबिक किसी पर्यटक ने सिगरेट पीकर सूखे पेड़ के पास फेंक दी, इसी वजह से वहां आग लग गई। ऐसे में बड़ा सवाल यह है कि आखिर पर्यटक ताजमहल के अंदर सिगरेट लेकर कैहाल ही में सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल के रख-रखाव को लेकर सख्ती जताई थी। सुप्रीम कोर्ट ने ताजमहल के बदलते रंग को लेकर कहा था कि सफेद रंग का यह स्मारक पहले पीला हो रहा था लेकिन अब यह भूरा और हरा होने लगा है।से गया?आग किसी पर्यटक की लापरवाही से लगी।

No image

उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बहुजन समाज पार्टी की अध्यक्ष मायावती नेवाराणसी में हुए फ्लाईओवर हादसे को लेकर गहरा दुख व्यक्त किया है। उन्होंने कहा है कि घटना के लिए जो भी लोग जिम्मेदार हैं, सरकार उनके खिलाफ कार्रवाई करे। उन्होंने मामले की उच्चस्तरीय जांच की मांग उठाई है। मायावती ने बुधवार को जारी एक बयान में कहा कि ऐसे संगीन मामलों को भी भाजपा के शीर्ष नेता 'मन पर बोझ' बता कर जिम्मेदारी से मुक्ति ले ले रहे हैं, जो सही नहीं है। इसके लिए कुछ ठोस सुधारात्मक कार्रवाई व उपाय भी करने कीजरूरत है।

उन्होंने कहा, "सरकार पीड़ित परिवारों व घायलों को मुआवजा देकर जिम्मेदारी से मुक्त हो जाती है लेकिन सरकार का असली कर्तव्य है कि वह दोषियों की पहचान करके सजा सुनिश्चित करे ताकि घटनाओं की पुनरावृत्ति न हो।"गौरतलब है कि मंगलवार शाम वाराणसी के कैंट इलाके में निर्माणाधीन फ्लाइओवर का बीम गिरने से 18 लोगों की मौत हो गई, जबकि कई लोग घायल हो गए। इस हादसे को लेकर केंद्र से लेकर उप्र सरकार एक्शन में है। बुधवार सुबह से घटना की जांच शुरू कर दी गई है। वाराणसी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का संसदीय क्षेत्र है।
 

No image

चकसीताराम गांव में रामनिवास पुत्र रामसिंह आदिवासी के घर में सोमवार को एक ऐसे शिशु ने जन्म लिया जिसकी आंखे ही नहीं हैं। घर में आए इस नन्हें मेहमान के स्वागत में परिजन खुशी मनाएं या उसकी दिव्यांगता पर अफसोस जताए यह उनकी समझ नहीं आ रहा है। उधर बालक का प्रसव गैर संस्थागत होने से अस्पतालीन सेवाओं की भी पोल खुल गई हैं।

आदिवासी के घर बिन आंखों के जन्मे बालक का प्रसव संस्थागत के बजाए घर पर गैर संस्थागत तरीके से हुआ है। परिजनों ने बताया कि प्रसव पीड़ा होने पर उन्होंने 108 पर फोन कर एंबुलेंस मंगाने की गुहार लगा दी थी। रात 08 बजे फोन लगाने के दूसरे दिन तक भी एंबुलेंस गर्भवती को लेने नहीं पहुंची, नतीजा असुरक्षित प्रसव घर में ही हो गया। बच्चे की आंखों वाला स्थान तो है लेकिन उसकी आंखें ही नहीं है।

लोगों का कहना है कि बालक दिव्यांग है इसलिए उसके साथ परिवार द्वारा कोई घटना भी घटित की जा सकती थी। ऐसे बच्चों को परिवार स्वीकारने के बजाए खत्म करने जैसा कदम उठा लेते हैं। गनीमत यह रही है कि इस परिवार ने ऐसा कुछ नहीं किया, लेकिन अस्पताल की सेवाओं की पोल जरूर इस घटना के बाद खुल गई हैं।

No image

एक पति ने अपनी पत्नी की चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। सूचना पर पुलिस ने रक्तरंजिश हालत में महिला का शव बरामद किया गया। मामला जिले के गढ़ी थाना क्षेत्र के आमगहन गांव का है। जानकारी के अनुसार ननकुसियाबाई परते (50) अपने पति रामसिंह पिता फागूसिंह परते (55) पर शक करते रहती थी कि उसका संबंध अन्य महिला के साथ है। इस बात को लेकर पति, पत्नी के बीच कई बार झगड़ा होते रहता था।

13 मई को रामसिंह परते ग्राम संजारी रुपए लेने के लिए गया था और रात में वहीं पर रूक गया। 14 मई को रामसिंह सुबह आठ बजे घर आया तो ननकुसियाबाई ने कहा कि रात में कहा रूका था। इस बात को लेकर दोनों में विवाद हुआ और रामसिंह ने चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी।

थाना में सूचना कोटवार गांधीदास पनिका ने दी। सूचना मिलने पर गढ़ी थाना प्रभारी रोहित मिश्रा, सहायक उपनिरीक्षक राजकुमार ठाकुर ने मौके पर पहुंचकर शव बरामद कर पंचनामा कार्रवाई पूरी की। शव का पीएम कराकर परिजनों को सौंपकर आरोपित के खिलाफ धारा 302 के तहत अपराध दर्ज किया है।

No image

दिल्ली सहित भारत के कई हिस्सों में शुक्रवार तक आंधी-तूफान आने और तेज हवाएं चलने के आसार हैं। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) बुधवार को यह जानकारी दी। आईएमडी ने कहा कि बुधवार को जम्मू एवं कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल, सिक्किम, बिहार, झारखंड, असम, मेघालय, नागालैंड, मणिपुर, मिजोरम, त्रिपुरा, आंध्र प्रदेश के तटीय इलाकों, कनार्टक के तटीय इलाकों, तमिलनाडु, पुडुच्चेरी और केरल जैसे राज्यों में आंधी-तूफान आने के आसार हैं। 

आईएमडी की ओर से जारी एक विज्ञप्ति में कहा गया कि पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़, दिल्ली, उत्तर प्रदेश और कर्नाटक में शुक्रवार तक ऐसा मौसम देखने को मिल सकता है। मौसम विभाग ने अगले दो दिनों में हिमाचल प्रदेश, जम्मू एवं कश्मीर और उत्तराखंड में भी आंधी-तूफान आने की चेतावनी दी है। 
 

No image

 मुंबई इंडियंस आज इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में अपने घर वानखेड़े स्टेडियम में किंग्स इलेवन पंजाब से भिड़ेगी। दोनों टीमों के लिए यह मैच बेहद अहम है क्योंकि जीत उन्हें अंतिम-4 में जाने के रास्ते पर बनाए रखेगी तो हार टूर्नामेंट से बाहर का रास्ता दिखा सकती है। पिछले मैच में पंजाब की टीम बेंगलोर के सामने सिर्फ 88 रनों पर ही ढेर हो गई थी। इस मैच में न क्रिस गेल का बल्ला चला था न ही लोकेश राहुल अपनी फॉर्म के मुताबिक प्रदर्शन कर पाए थे। दोनों इस मैच में अपनी लय हासिल करने की कोशिश में होंगे। 

पंजाब का मध्यक्रम करुण नायर के जिम्मे है जिन्होंने अपनी जिम्मेदारी को बखूबी निभाया है लेकिन उनको साथ नहीं मिला है। मयंक अग्रवाल को लगातार मौके मिल रहे हैं लेकिन वो अपने बल्ले से रन नहीं निकाल पा रहे हैं। मार्कस स्टोइनिस और एरॉन फिंच भी नियमित रन नहीं बना पा रहे हैं। कप्तान रविचंद्रन अश्विन का बल्ला भी बोला तो है लेकिन वह टीम को जीत नहीं दिला पाया है। कुल मिलाकर अगर देखा जाए तो पंजाब की बल्लेबाजी का जिम्मा गेल और राहुल के कंधों पर ही है। टीम को जीत दिलाने के लिए इन दोनों में से किसी एक का चलना बेहद जरूरी है। गेंदबाजी में कप्तान और मुजीब उर रहमान को बड़ी जिम्मेदारी निभानी होगी। वहीं मोहित शर्मा, एंड्रयू टाई पर तेज गेंदबाजी आक्रमण की जिम्मेदारी होगी। 
मुंबई की बात की जाए तो उसकी परेशानी मध्यक्रम रहा है क्योंकि सूर्यकुमार यादव और इविन लुइस की सलामी जोड़ी ने उसे कभी निराश नहीं किया है।

पिछले कुछ मैचों में मध्यक्रम की जिम्मेदारी कप्तान रोहित शर्मा ने अपने कंधों पर ले रखी है। एक बार फिर रोहित के जिम्मे ही मध्य क्रम की जिम्मेदारी होगी। टीम के लिए केरन पोलार्ड, क्रूणाल पांड्या और उनके भाई हार्दिक का बल्ला चलना भी बेहद जरूरी है। गेंदबाजी का भार जसप्रीत बुमराह और मिशेल मैक्लेघन ने अपने कंधों पर ले रखा है और अपनी जिम्मेदारी को भी बखूबी निभाया है। स्पिन विभाग में मयंक मारकंडे बड़ा रोल निभा सकते हैं। 

टीमें (संभावित) : मुंबई इंडियंस : रोहित शर्मा (कप्तान), सूर्यकुमार यादव, इविन लुइस, ईशान किशन, हार्दिक पांड्या, क्रूणाल पांड्या, केरन पोलार्ड, मयंक मारकंडे, मिशेल मैक्लेघन, मुस्ताफिजुर रहमान, जसप्रीत बुमराह, अकिला धनंजय, बेन कटिंग, जेपी ड्यूमिनी, राहुल चहर, शरद लांबा, एडम मिलने, सिद्धेश लाड, मोहम्मद निधीश, मोहसीन खान, अनुकूल रॉय, प्रदीप सांगवान, तजिंदर सिंह, आदित्य तारे और सौरभ तिवारी। 

किंग्स इलेवन पंजाब : रविचंद्रन अश्विन (कप्तान), अक्षर पटेल, युवराज सिंह, करुण नायर, लोकेश राहुल, क्रिस गेल, डेविड मिलर, एरॉन फिंच, मार्कस स्टोइनिस, मयंक अग्रवाल, अंकित राजपूत, मनोज तिवारी, मोहित शर्मा, मुजीब उर रहमान, बरिंदर शरण, एंड्रयू टाई, अक्षदीप नाथ, प्रदीप साहू, मयंक डागर, मंजूर दार। 
 

No image

 भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने मंगलवार को पूर्व टेस्ट गेंदबाज शांताकुमारन श्रीसंत की अजीवन प्रतिबंध को हटाने की अपील का विरोध किया है। श्रीसंथ ने काउंटी क्रिकेट खेलने के लिए बीसीसीआई से आजवीन प्रतिबंध मेंछूट मांगी थी। सर्वोच्च अदालत में बीसीसीआई की तरफ से दलील देते हुए सीनियर वकील पराग त्रिपाठी ने मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा की अध्यक्षता वाली पीठ को बताया कि बोर्ड ने आईपीएल-2013 स्पॉट फिक्सिंग मामले में श्रीसंत को बरी किए जाने फैसले के खिलाफ अपील की है। 

पराग ने अदालत को बताया कि जांच में पाया गया था कि श्रीसंत सट्टेबाजों के संपर्क में थे। त्रिपाठी ने कहा कि यह सिर्फ कानून का मसला नहीं है बल्कि बीसीसीआई के नियमों का भी सवाल है। वहीं श्रीसंत की तरफ से दलील दे रहे सीनियर वकील सलमान खुर्शीद ने पूर्व गेंदबाज को शानदार क्रिकेट खिलाड़ी बताया और अदालत से अपील करते हुए उन्हें इंग्लैंड में बाकी बचे तीन महीनों के लिए काउंटी क्रिकेट खेलने की इजाजत देने की मांग की है। 

शीर्ष अदालत ने दिल्ली उच्च न्यायालय से कहा कि वह उसके समक्ष तीन महीने से श्रीसंत को बरी करने के खिलाफ की गई अपील को जुलाई के अंत तक खारिज करे। अदालत ने कहा कि वह खिलाड़ी के क्रिकेट खेलने की उत्सुकता को समझती है। दिल्ली पुलिस ने आईपीएल-2013 में श्रीसंत की टीम राजस्थान रॉयल्स के साथी अजित चंडिला और अंकित चव्हाण को गिरफ्तार किया था। श्रीसंत ने इसके बाद केरल उच्च न्यायालय के बीसीसीआई द्वारा उन पर लगाए गए अजीवन प्रतिबंध को बनाए रखने के खिलाफ सर्वोच्च न्यायालय में अपील की थी। 
 

No image

प्रमुख स्मार्टफोन निर्माता ओप्पो के ई-कॉमर्स उप-ब्रांड रियल ने मंगलवार को अपना पहला डिवाइस रियलमी1 लांच किया, जिसकी कीमत 8,999 रुपये से शुरू होती है। कंपनी ने एक बयान में दावा किया कि रियलमी 1 को दुनिया के पहले 12एनएम एएल सीपीयू मीडिया टेक हेलियो पी60 एवं एएल शॉट तकनीक के साथ तथा 6 जीबी रैम और 128जीबी रोम की स्टोरेज क्षमता के साथ पेश किया गया है, जिसे युवाओं को ध्यान में रखकर बनाया गया है। इसमें 6.0 की एफएचडी (फुल एचडी) स्क्रीन है।

कंपनी ने बताया कि रियलमी 1 के 3जीबी रैम और 32जीबी रोम संस्करण की कीमत 8990 रुपये, 6जीबी रैम और 128जीबी रोम संस्करण की कीमत 13990 रुपये रखी गई है, जो ब्लैक एंड सोलर रेड कलर में 25 मई दोपहर 12 बजे से अमेजॉनडॉटइन पर उपलब्ध होगा। वहीं, रियलमी 1 के 4जीबी रैम और 64जीबी रोम वाले संस्करण की कीमत 10,990 रुपये रखी गई है, जो मूनलाइट सिल्वर और डायमंड ब्लैक कलर में ऑनलाइन उपलब्ध होगा। बयान में कहा गया कि रियलमी1 खरीददारों के लिए अमेजॉनडॉटइन पर एसबीआई कार्डधारकों को 5 फीसदी कैशबैक और जियो ग्राहकों को 4850 रुपये के कैशबैक के साथ नो कॉस्ट ईएमआई ऑफर पर उपलब्ध होगा। रियलमी 1 खरीददारों को उनके ऑर्डर के लिए अमेजॉन प्राइम डिलीवरी की भी पेशकश की जाएगी।

रियलमी इंडिया के मुख्य कार्यकारी अधिकारी माधव सेठ ने कहा, रियलमी 1 आज देश में सर्वश्रेष्ठ डिजाइन और बेहतर प्रदर्शन का सबसे किफायती संयोजन है। मेड फॉर एंड इन इंडिया उपकरणों की एक श्रृंखला के साथ रियलमी देश में ओप्पो की दो विनिर्माण सुविधाओं को साझा करेगा। ओप्पो कारखानों द्वारा निर्मित यह ब्रांड 15,000 रुपये की रेंज में अत्यधिक उच्च गुणवत्ता और पावर पैक विकल्प के साथ खूबसूरत डिजाइन्स की पेशकश करता है।
 

No image

ऑल इंडिया बैंक कर्मचारी संघ (एआईबीईए) के एक शीर्ष नेता ने मंगलवार को कहा कि देश में तीन शीर्ष बैंकरों के खिलाफ केंद्र सरकार की कार्रवाई एक स्वागतयोग्य कदम है। उन्होंने यह भी कहा कि भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) द्वारा पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) के निदेशक मंडल में नामांकित उम्मीदवार लेटर्स ऑफ अंडरटेकिंग (एलओयू) घोटाले की जिम्मेदारी से बच नहीं सकता हैं। एआईबीईए के महासचिव सी. एच. वेंकटचलम ने बताया, इलाहाबाद बैंक की प्रबंध निदेशक और मुख्य कार्यकारी अधिकारी अनंतसुब्रमण्यम और पीएनबी के दो कार्यकारी निदेशकों को उनके बैंकों से हटाना एक स्वागतयोग्त फैसला है। यह अच्छा है कि कथित आरोपियों को सिस्टम से हटा दिया जाता है।

उन्होंने कहा कि नैतिक जिम्मेदारी लेते हुए, पीएनबी के मौजूदा प्रबंध निदेशक को पीएनबी से खुद को दूर रखना चाहिए जब तक कि कथित घोटाले की जांच पूरी नहीं हो जाती। अनंता सुब्रमण्यम घोटाले के दौरान पीएनबी की अध्यक्ष थीं। सोमवार को केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में 13,000 करोड़ रुपये के नीरव मोदी घोटाले में अपना पहला आरोपपत्र दायर किया था।


वेंकटचलम ने कहा, इसी प्रकार, पीएनबी के मौजूदा प्रबंध निदेशक सुनील मेहता को कथित घोटाले की जांच होने तक नैतिक आधार पर बैंक से दूर रहना चाहिए। उन्होंने कहा कि पीएनबी में पूरी प्रणाली विफल रही है और शीर्ष प्रबंधन को धोखाधड़ी की जिम्मेदारी लेनी होगी। सीबीआई ने पीएनबी में धोखाधड़ी के संबंध में दाखिल आरोपपत्र में अनंता सुब्रमण्यम और 11 बैंक अधिकारियों सहित 21 लोगों को आरोपी बनाया है, इस घोटाले का मास्टरमाइंड कथित तौर पर हीरा व्यापारी नीरव मोदी और उसका मामा मेहुल चौकसी है। 
 

No image

कर्नाटक में सरकार बनाने को लेकर बीजेपी के सीएम पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा ने राज्यपाल से मुलाकात के बाद दावा किया कि वह ही कर्नाटक के मुख्यमंत्री बनेंगे और कल शपथ लेंगे। राजभवन में विधायकों के समर्थन की चि_ी सौंपने के बाद येदियुरप्पा ने मीडिया से कहा, हमने गवर्नर को नाम सौंप दिए हैं और सरकार बनाने का रास्ता तलाश लिया गया है।

उन्होंने आगे कहा, पार्टी ने मुझे ही चुना है। मैंने राज्यपाल को पत्र सौंप दिया हैं और वह मुझे उम्मीद है कि वह मुझे बुलाएंगे। उन्होंने मुझसे कहा कि वह उपयुक्त फैसला लेंगे। राज्पाल से पत्र मिलने के बाद मैं आपको सूचित करूंगा। उन्होंने कहा कि राज्यपाल अब कानूनी विशेषज्ञों की सलाह लेंगे। येदियुरप्पा ने यह भी कहा कि उन्हें उम्मीद है कि राज्यपाल से जल्द से जल्द फैसला लेंगे।

वहीं सूत्रों के अनुसार कर्नाटक के राज्यपाल वाजुभाई आर वाला फिलहाल फैसला लेने की जल्दी में नहीं है। संभवत: वह जेडीएस और कांग्रेस के विधायकों से भी मुलाकात करेंगे। कुल मिलाकर कर्नाटक में किसकी सरकार बनेगी इसको लेकर सस्पेंस क्लियर होने में फिलहाल वक्त लगने की संभावना है। दूसरी ओर जेडीएस में कुमारस्वामी के नेतृत्व में विधायक दल की बैठक चल रही है। जल्द ही वह राज्यपाल से मुलाकात कर सकते हैं। कयास यह भी लगाए जा रहे हैं कि बीजेपी को सबसे बड़ी पार्टी होने का फायदा मिल सकता है और सूत्रों के अनुसार गुरुवार को ही येदियुरप्पा शपथ ले सकते हैं। फिलहाल बीजेपी के पास कुल 105 विधायक हैं जिसमें एक निर्दलीय भी शामिल हैं। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस के 7 लिंगायत विधायक भी बीजेपी के संपर्क में हैं।
 

No image

 दिल्ली के मुख्य सचिव के साथ कथित तौर पर मारपीट के मामले में दिल्ली पुलिस अरविंद केजरीवाल से पूछताछ कर सकती है. दिल्ली पुलिस की ओर से मुख्यमंत्री को पूछताछ के लिए नोटिस भेज दिया गया है. दिल्ली पुलिस के मुताबिक सीएम के घर या दफ्तर पर ही उनसे पूछताछ होगी. उन्होंने कहा कि शुक्रवार को मुख्यमंत्री जहां भी होंगे वहां पर पूछताछ की जा सकती है.

नार्थ जिला दिल्ली पुलिस के एडिशनल डीसीपी हरेंद्र सिंह के मुताबिक दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को पूछताछ के लिए नोटिस भेज दिया गया है. शुक्रवार को इस मामले को देख रही दिल्ली पुलिस की टीम सीएम से पूछताछ कर सकती है.गौरतलब है कि मुख्य सचिव ने पिछले महीने आरोप लगाया था कि सीएम केजरीवाल के आवास पर उन्हें मीटिंग के लिए बुलाया गया था. इस दौरान आम आदमी पार्टी के विधायकों ने उन पर सरकारी विज्ञापन रिलीज करने का दबाव बनाया. इनकार करने पर उनके साथ बदसलूकी की गई. उनके साथ मारपीट की गई. मुख्य सचिव ने दिल्ली पुलिस में इसकी शिकायत दी.
 

No image

सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ गैंगरेप और मर्डर मामले की गवाहों को सुरक्षा उपलब्ध कराने से इनकार किया है. साथ ही कोर्ट ने यह भी कहा कि इस मामले की जांच कश्मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच ही करेगी. सीजेआई दीपक मिश्रा, जस्टिस एमए खानविलकर और जस्टिस धनंजय चंद्रचूड़ की पीठ ने यह फैसला दिया.
इस घटना के मुख्य आरोपियों में से एक विशाल जंगोत्रा की तरफ से गवाही देने वाले उसके तीन दोस्तों ने आरोप लगाया था कि कश्मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच उन्हें परेशान कर रही है. ये छात्र जम्मू के रहने वाले हैं और यूपी के मुजफ्फरनगर के कृषि कॉलेज में विशाल जंगोत्रा के साथ पढ़ाई करते हैं.

साहिल शर्मा, सचिन शर्मा और नीरज शर्मा की तरफ से उनके वकील रवि शर्मा ने याचिका लगाई थी कि क्राइम ब्रांच तीनों गवाहों को परेशान कर रही है और उनके परिवार के सदस्यों पर दबाव डाल रही है. अविलंब सुनवाई का अनुरोध किया. उन्होंने आरोप लगाया कि जम्मू कश्मीर पुलिस की अपराध शाखा उनपर और उनके परिवार के सदस्यों पर दबाव डाल रही है.वकील ने कहा कि ''विशाल जंगोत्रा सात जनवरी से 10 फरवरी तक मुजफ्फरनगर में तीनों गवाहों के साथ था और छात्रों को इससे अलग बयान देने पर मजबूर किया जा रहा है. उस दौरान वह तीनों गवाहों के साथ परीक्षा और प्रैक्टिकल में शामिल हुआ.याचिका में कहा गया है, ''याचिकाकर्ताओं को राज्य पुलिस अधिकारियों ने 19 से 31 मार्च के बीच शारीरिक और मानसिक यातना दी.

वकील ने आरोप लगाया कि क्राइम ब्रांच से छात्रों की जान को खतरा है और इसलिए उन्हें सुरक्षा प्रदान कराई जाए. वकील ने तीनों छात्रों के लिए सीबीआई से सुरक्षा की मांग की थी. उन्होंने मामले की जांच सीबीआई से कराने की भी मांग की थी. कोर्ट ने दोनों मांगे खारिज कर दी है.क्या है मामलाजम्मू-कश्मीर के घुमंतु बकरवाल समुदाय की 8 साल की बच्ची कठुआ के एक गांव से 10 जनवरी को लापता हो गई थी. एक सप्ताह बाद पास के जंगल में बच्ची का शव मिला था. जम्मू-कश्मीर क्राइम ब्रांच की जांच में सामने आया कि बच्ची का अपहरण कर उसे नशीली दवाएं खिलाकर उसके साथ एक सप्ताह तक गैंगरेप किया गया और बाद में उसकी हत्या कर दी गई. इस मामले में राज्य पुलिस ने सात आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल किया है जबकि एक किशोर आरोपी के खिलाफ कठुआ की अदालत में अलग से चार्जशीट दाखिल किया गया है. सुप्रीम कोर्ट ने 7 मई को फैसला दिया था कि इस मामले की सुनवाई पठानकोट की अदालत में होगी.
 

No image

मोहाली सिविल अस्पताल फेज-6 की एमरजेंसी में रात 10 बजे उस समय सभी सन्न रहे गए जब एक व्यक्ति ने ड्यूटी पर तैनात डॉक्टर से कहा कि उसने अपना नवजात बच्चा बेचना है. यह सुनकर डॉक्टर बोले बच्चा कहां है. उस शख्स ने अपने हाथ में पकड़ा पीले रंग का कैरीबैग डॉक्टर के हाथ में थमा दिया.डॉक्टर कैरीबैग में बच्चा देख एकदम उसे एमरजेंसी रूम में ले गए और फिर चेक किया. नवजात की हालत खराब थी, वह वोमेटिंग कर रहा था. अस्पताल के डॉक्टर्स ने तुरंत इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी, जिसके बाद पुलिस ने नवजात बच्ची के आरोपी पिता को गिरफ्तार कर लिया है.

पुलिस पूछताछ में पता चला कि आरोपी जसपाल सिंह मोहाली के गांवबल्लोमाजरा के गुरुद्वारा साहब के पास किराए के मकान में रहता है. आरोपी पिता के दो बेटे है और जब घर में तीसरी संतान बेटी हुई तो वह उसे एक पॉलिथीन में रखकर बेचने अस्पताल पहुंच गया.आरोपी जसपाल मोहाली के वीआर मॉल के रिलांयस फ्रेश में लोडिंग का काम करता है. इसलिए उसके पास रिलांयस का बड़ा कैरी बैग था. नवजात बच्चे को उक्त पीले रंग के कैरीबैग में डाल कर बेचने के लिए गया था,लेकिन अस्पताल प्रबंधन की सूझबूझ के चलते उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

जानकारी के अनुसार आरोपी पिता इससे पहले बच्ची को मोहाली के एक बड़े प्राइवेट अस्पताल में भी बेचने के लिए गया था, लेकिन उन्होंने उसे वहां से निकाल दिया. फिलहाल पुलिस ने आरोपी पर केस दर्ज कर उसे गिरफ्तार कर लिया है.
वहीं, मोहाली सिविल अस्पताल के डॉक्टर्स के अनुसार आरोपी पिता जब बच्ची को लेकर अस्पताल पहुंचा तो उसकी हालत काफी नाजुक थी. जिसके बाद उसे जरुरी उपचार देने के साथ-साथ ऑक्सीजन लगाई गई. फि़लहाल बच्ची की हालत स्थिर बताई जा रही है.
 

No image

कर्नाटक में राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदल रहा है। बीजेपी विधायक दल का नेता चुने जाने के फौरन बाद येदियुरप्पा समेत पार्टी के नेताओं ने राजभवन जाकर गवर्नर से मुलाकात की। 104 सीटें जीतने वाली बीजेपी ने सरकार बनाने का दावा पेश कर दिया है। ऐसे में अब सबकी नजरें राज्यपाल वजुभाई आर. वाला के फैसले पर टिकी हैं कि वह बीजेपी या कांग्रेस+जेडीएस में से किसे सरकार बनाने के लिए आमंत्रित करते हैं।

गोवा, मणिपुर की तर्ज पर मिले न्योता कई एक्सपर्ट्स का मानना है कि जिस तरह गोवा और मणिपुर में सबसे बड़ी पार्टी के तौर पर उभरने के बाद कांग्रेस ने सरकार बनाने की पेशकश की थी, बीजेपी को भी वही तर्क सामने रखना चाहिए। दोनों राज्यों में कांग्रेस को ज्यादा वोट मिलने के बावजूद बीजेपी ने क्षेत्रीय पार्टियों के साथ मिलकर सरकार बनाई थी।सबसे बड़ी पार्टी को मिले न्योता 


पूर्व अटर्नी जनरल सोली सोराबजी का मानना है कि पहले सबसे बड़ी पार्टी को न्योता दिया जाना चाहिए। सदन के फ्लोर पर वह 7 से 10 दिन में अपना बहुमत साबित करे। अगर वह पार्टी बहुमत साबित नहीं कर सकी तब अगली सबसे बड़ी पार्टी या गठबंधन को न्योता दिया जाना चाहिए। अगर वह भी बहुमत साबित नहीं कर सके, ऐसी स्थिति में राष्ट्रपति शासन लगना चाहिए।राज्यपाल के विवेक पर सब निर्भर कई तरह के तर्कों से हटकर सुप्रीम कोर्ट ने सरकार बनाने का न्योता देने का अधिकार राज्यपाल को उनके विवेक के आधार पर दिया है। लोकसभा के पूर्व महासचिव सुभाष कश्यप का कहना है कि राज्यपाल को किसी भी पार्टी, चुनाव से पहले या बाद में बने गठबंधन को न्योता देना होता है, अगर वह इस बात से संतुष्ट हैं कि जिसे वह न्योता दे रहे हैं, वे सदन में बहुमत साबित कर सकेंगे।


यहां तक माना गया है कि राज्यपाल का फैसला गलत भी हो सकता है लेकिन फिर भी उनसे यह अधिकार छीना नहीं गया है। हालांकि, बहुमत सदन में फ्लोर पर ही साबित करना होगा। जस्टिस आरएस सरकारिया कमिशन ने इस बारे में विकल्पों और उनकी प्राथमिकताओं को चिह्नित किया है लेकिन साथ ही राज्यपाल के खुद के फैसले को भी अहम बताया है।कौन होगा मुख्यमंत्री? कर्नाटक की स्थिति पर कश्यप ने बताया कि कैसे पहले के कई उदाहरणों से कर्नाटक की संभावनाओं को समझा जा सकता है। उन्होंने बताया कि सबसे बड़ी पार्टी के नेता को मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है या चुनाव के बाद गठबंधन होने पर उसके किसी नेता को भी मुख्यमंत्री बनाया जा सकता है। इस बारे में भी राज्यपाल अपने विवेक से फैसला कर सकते हैं क्योंकि संविधान में जोड़-जोड़ कर सरकार बनने पर राज्यपाल को कैसे मुख्यमंत्री की नियुक्ति करनी है, इस बारे में कुछ नहीं कहा गया है।
 

No image

 गर्मियों की छुट्टियां मनाने देश के राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद शिमला आ रहे हैं. राष्ट्रपति कोविंद 20 मई को पांच दिनों के प्रवास पर शिमला पहुंचेंगे. राष्ट्रपति शिमला में निवास रिट्रीट में 5 दिन तक रहेंगे और 24 मई को राष्ट्रपति के वापसी का कार्यक्रम है. राष्टपति के शिमला दौरे को लेकर तैयारियां भी शुरू हो गई है.
राज्य सरकार ने सभी विभागों को इस संबंध में दिशा निर्देश भी जारी कर दिए हैं.

राष्ट्रपति निवास को सजाया जा रहा है. इसके अतिरिक्त राष्ट्रपति निवास के आसपास की सफाई और पानी का जिम्मा नगर निगम शिमला को दिया गया है.
नगर निगम शिमला ने भी राष्ट्रपति निवास और शहर के उन हिस्सोंकी सफाई व्यवस्था दुरुस्त करनी शुरू कर  दी है, जहां से राष्ट्रपति गुजरेंगे. नगर निगम के आयुक्त रोहित जामवाल ने बताया कि सरकार से सफाई व्यवस्था और पानी उपलब्ध करवाने के निर्देश मिले हैं.उन्होंने बताया कि राष्ट्रपति कोविंद के दौरे के लिए नगर निगम शिमला ने अपनी ओर से भी तैयारी शुरू कर दी हैं. राष्ट्रपति निवास के आसपास सफाई के साथ-साथ पूरे शहर में सफाई की जा रही है.
 

No image

रांची के बिरसा मुंडा कारावास में बंद आरजेडी सुप्रीमो लालू प्रसाद दोपहर तक जेल से बाहर निकल सकते हैं. सीबीआई कोर्ट में बेल बॉन्ड भरने की प्रक्रिया जारी है. प्रक्रिया पूरी होते ही कोर्ट से जेल प्रशासन को रिलीज ऑर्डर जाएगा और लालू प्रसाद जेल से बाहर आएंगे.

इससे पहले बेल बॉन्ड भरने के लिए सीबीआई कोर्ट ने लालू प्रसाद का पासपोर्ट मांग दिया था. सीबीआई ने कोर्ट को लिखकर दिया कि पासपोर्ट उसके पास है. जिसके बाद बेल बॉन्ड जारी किया गया. लालू प्रसाद की ओर से 50-50 हजार रुपए के दो बेल बॉन्ड भरे जा रहे हैं. झारखंड हाईकोर्ट से प्रोविजनल बेल संबंधी आदेश सीबीआई कोर्ट को बुधवार को ही मिला.

इससे पहले, मंगलवार को प्रोविजनल बेल संबंधी आदेश सीबीआई कोर्ट को नहीं मिल पाया था. इसके चलते वे जेल से बाहर नहीं निकल पाए. बता दें कि मेडिकल ग्राउंड पर झारखंड हाईकोर्ट ने लालू प्रसाद को 6 हफ्ते का अंतरिम बेल गत शुक्रवार को दिया. सोमवार को वे तीन दिन की पैरोल खत्म कर पटना से रांची की होटवार जेल लौटे थे.
 

No image

कांस रेड कारपेट पर विशालकाय गाउन में एंट्री कर दीपिका ने सबका ध्यान तो अपनी तरफ खींच लिया लेकिन अब उन्हें ट्रोल्स का भी सामना करना पड़ रहा है। पिंक हैवी रफल्ड गाउन में दीपिका को देख कुछ सोशल मीडिया यूजर्स ने उनके इस लुक की तुलना डायनासोर से कर दी। एक यूजर ने दीपिका की तस्वीर पोस्ट करते हुए लिखा, मुझे दीपिका पादुकोणबेहद पसंद हैं लेकिन कान्स 2018 में उनका यह लुक जुरासिक पार्क केडिलोफोसॉरस डायनासोर की याद दिला रहा है। एक और यूजर ने कहा कि दीपिका को देख जुरासिक पार्क फिल्म के उस सीन की याद आई जिसमें छिपकली की तरह दिखने वाला एक डायनासोर एक मोटे शख्स पर इंक जैसी कोई चीज थूकता है और फिर उसे खा जाता है। यूजर ने लिखा इस ड्रेस को तैयार करने के लिए शायद फिल्म के इस सीन से ही प्रेरणा मिली है। 

दीपिका की ड्रेस के अलावा कान्स कारपेट पर फोटो खींचवाने के दौरान उनके जीभ निकालने वाले एक्शन पर एक नेटीजन ने लिखा, दीपिका अपनी ड्रेस खाना चाहती हैं क्योंकि ये उन्हीं गुलाबी क्लाउड (कैंडी फ्लॉस) से बना है। एक तमिलफैन ने उनके इस ड्रेस की तुलना पौधे से कर डाली है। हालांकि इतने सारे ट्रोल्स का सामने करने वाली दीपिका के इस ड्रेस की प्रशंसा एक्ट्रेस अनुष्का शर्मा ने की है। अनुष्का शर्मा को दीपिका का यह लुक बेहद पसंद आया और उन्होंने इसे स्टनिंग बताया है। 
 

No image

अर्जुन कपूर फिल्म भावेश जोशी सुपरहीरो में अपने चचेरे भाई हर्षवर्धन कपूर के साथ आइटम गाने चुम्मे में च्यवनप्राश में नजर आएंगे। उनका कहना है कि नाच-गाने, जोश से भरपूर गाने उन्हें खुशी देते हैं क्योंकि वह व्यावसायिक सामग्री के जरिए लोगों का मनोरंजन करने में यकीन करते हैं। 

अर्जुन ने जारी बयान में कहा, बतौर अभिनेता जोश व ऊर्जा से भरपूर गाने करना मेरे लिए खास है। मैं व्यावसायिक सामग्री से लोगों का मनोरंजन करने में यकीन करता हूं। जब वे गाने या फिल्म का भरपूर लुत्फ उठाते हैं तो मुझे अच्छा लगता है और लोगों के लिए पैसा वसूल लगता है। चुम्मे में च्यवनप्राश हर्षवर्धन की फिल्म का एक प्रमोशनल संगीत वीडियो है। विक्रमादित्य मोटवानी निर्देशित भावेश जोशी सुपरहीरो 25 मई को रिलीज होगी। 
 

No image

 वह दिन दूर होने वाले है जब ट्रेन में महिलाओं के साथ छेड़छाड़, मारपीट या कोई अपराध होता था। भारतीय रेलवे ने एक महिला यात्रियों की सुरक्षा के लिए अब तक सबसे बड़ा कदम उठा लिया है। रेलवे ने जो निर्णय लिया है, उसके बाद अब महिलाओं के साथ ट्रेन में अपराध करना आसान न होगा। असल में रेलवे एेसी व्यवस्था करने जा रहा है, जिसमे महिला यात्री को एक बटन डिब्बे में हर सीट के पास दिया जाएगा, जिसको दबाने के बाद ट्रेन में सायरन बज उठेगा। कैसे होगा ये सब, जानने के लिए यहां पूरी खबर पढे़ं।

ट्रेनों में महिलाओं के साथ छेड़छाड़ सहित अन्य प्रकार के अपराध रोकने के लिए रेलवे हर डिब्बे में पैनिक बटन लगाने जा रहा है। ये बटन लगी हुई यात्री ट्रेनें शीघ्र ही मंडल से निकलेगी। इसका लाभ मंडल में यात्रा करने वाली महिला यात्रियों को भी होगा। इसकी शुरुआत पुर्वोत्तर रेलवे में हो गई है।रेलवे के इस निर्णय से रतलाम रेल मंडल में सबसे बड़ा लाभ होगा। क्योकि यहां पर सुबह अधिकतर महिलाएं व युवतियां डेमू व मेमू स्तर की ट्रेन में कामकाज के लिए जाती है व उनको भारी भीड़ के बीच सफर करने की मजबूरी रहती है। एेसे में उनके साथ कई प्रकार के अपराध होने का अंदेशा रहता है।

बता दे की रेलवे वर्ष 2018 को महिला व बच्चों की सुरक्षा वर्ष के रुप में मना रहा है। रेलवे अधिकारियों के अनुसार महिला यात्रियों को विशेषकर अकेले सफर करने वाली महिला यात्रियों को अनेक प्रकार की समस्याओं का सामना करना पड़ता है। इसके चलते ये निर्णय लिया गया है कि इस प्रकार के बटन को जंजीर के करीब लगाए जाया जाए, जिससे महिला यात्री की सुरक्षा और बेहतर हो सके।

ट्रेन के हर डिब्बे में लगा हुआ पैनिक बटन का नियंत्रण या सूचना की मशीन को गार्ड के डिब्बे में लगाया जाएगा। बटन दबाते ही गार्ड को ये पता चल जाएगा कि किस डिब्बे में महिया यात्री को परेशानी है। इसके बाद वॉकी-टॉकी से ट्रेन में पदस्थ स्काटिंग के जवानों तक सूचना पहुंचाई जाएगी। ये जवान संबंधित डिब्बे में महिला यात्री से संपर्क साधकर समस्या का समाधान करेंगे। ये सब प्रक्रिया 5 से 10 मिनट में पूरी हो जाएगी।रेलवे के इस निर्णय से रतलाम रेल मंडल में सबसे बड़ा लाभ होगा। क्योकि यहां पर सुबह अधिकतर महिलाएं व युवतियां डेमू व मेमू स्तर की ट्रेन में कामकाज के लिए जाती है व उनको भारी भीड़ के बीच सफर करने की मजबूरी रहती है। एेसे में उनके साथ कई प्रकार के अपराध होने का अंदेशा रहता है।

सूचना के अनुसार इसको प्रयोग के रुप में अन्य मंडल में शुरू किया गया है। प्रयोग सफल होने पर इसको मंडल में भी लागू किया जाएगा। इससे महिला यात्रियों की सुरक्षा अधिक बेहतर तरीके से होगी।

No image

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी के कैट एरिया में निर्माणाधीन पुल का एक हिस्सा गिरनने एक बड़ा हादसा हो गया। पुल का एक हिस्सा अचानक गिरने से उसके नीचे बड़ी संख्या में लोग और गाडिय़ां दब गई। इस हादसे में अब तक 18 लोगों की मौत हो गई है जबकि कई लोग घायल हैं। लापरवाही के चलते फ्लाइओवर के चीफ प्रोजेक्ट मैनेजर सहित चार अधिकारी सस्पेंड किए गए हैं। फ्लाईओवर का निर्माण उत्तर प्रदेश स्टेट ब्रिज कारपोरेशन करवा रहा था। उत्तर प्रदेश की योगी सरकार ने मृतकों के परिवार को पांच-पांच लाख रुपए की मदद की घोषण की है। 

मंगलवार शाम वाराणसी में कैंट स्टेशन के पास फ्लाईओवर का स्लैब गाडियों पर गिर गया। ये फ्लाइओवर अभी बन ही रहा था और इसके नीचे से ट्रैफिक गुजर रहा था। फिलहाल बचाव और राहत का काम खत्म हो गया है। चश्मदीदों ने बताया कि जो बीम गाडिय़ों के ऊपर गिरा था वो दो महीना पहले ही रख दिया गया था, लेकिन उसे लॉक नहीं किया गया था। हादसे के बाद चारों तरफ चीख-पुकार और अफरा-तफरी मच गई।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने आधी रात में हादसे वाली जगह पर पहुंचे। सीएम योगी ने जिला प्रशासन, लोक निर्माण विभाग और अन्य संबंधित विभागों को बचाव और राहत कार्य युद्धस्तर पर चलाने के निर्देश दिए हैं। राहत और बचाव कार्य के लिए एनडीआरएफ की टीम मौके पर मौजूद है। योगी ने अधिकारियों को निर्देशित किया है कि इस हादसे में घायल लोगों की समुचित चिकित्सा व्यवस्था और हर संभव मदद सुनिश्चित की जाए।

No image

 कर्नाटक में जैसे-जैसे मतगणना आगे बढ़ रही है, चुनावी तस्वीर साफ होती दिख रही है। 222 सीटों के आए रुझानों के मुताबिक बीजेपी बहुमत के आंकड़े (113) को पार कर 116 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। इसके साथ ही बीजेपी खेमे में जश्न भी शुरू हो गया है। निर्वाचन आयोग की ओर से जारी आधिकारिक रुझानों के मुताबिक बीजेपी 110 सीटों पर आगे चल रही है जबकि कांग्रेस 56 और जेडी (एस)39, अन्य 02 सीटों पर आगे हैं। रुझान नतीजों में तब्दील होते हैं तो यह सीधे तौर पर कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधी के लिए बड़ा झटका है। उनकी रणनीति एक बार फिर फेल हो जाएगी और कांग्रेस पार्टी मात्र पंजाब, पुडुचेरी और मिजोरम में सिकुड़ कर रह जाएगी। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी सीट से चुनाव हार गए हैं। हालांकि उनके बेटे यतींद्र वरुणा क्षेत्र से जीत गए हैं। रुझान देख सिद्धारमैया और कांग्रेस नेताओं के बीच मुख्यमंत्री आवास पर बैठक हो रही है।आपको बता दें कि राज्य में विधानसभा की कुल 225 सीटें हैं जिनमें से 224 पर विधायकों का निर्वाचन होता है जबकि एक सीट पर सदस्य का मनोनयन किया जाता है। 1985 के बाद से कर्नाटक की जनता ने किसी भी राजनीतिक दल पर लगातार दो बार भरोसा नहीं जताया है। अंतिम बार रामकृष्ण हेगड़े की अगुआई में जनता दल की लगातार दूसरी बार सरकार बनी थी। इस बार भी साफ दिख रहा है कि जनता ने कांग्रेस की मौजूदा सरकार के खिलाफ वोट किया है। कांग्रेस दूसरे नंबर पर सिकुड़ती दिख रही है।

अगर बीजेपी को बहुमत मिलता है तो यह 2019 लोक सभा चुनाव से पहले माने जा रहे इस सेमीफाइनल में उसकी बड़ी जीत मानी जाएगी। इससे आगे की दिशा भी तय होगी और बीजेपी के पक्ष में माहौल तैयार होगा। बीजेपी के पक्ष में आए नतीजों से साफ हो जाएगा कि पीएम मोदी का जादू बरकरार है और उनके ताबड़तोड़ चुनाव प्रचार का बड़ा असर हुआ है। आपको बता दें कि पोल्स में त्रिशंकु विधानसभा की संभावना जताई गई थी और बीजेपी व कांग्रेस में कड़ी टक्कर देखी जा रही थी।


कुछ सीटें कम पड़ीं तो.. अगर बहुमत में कुछ सीटें कम पड़ती हैं तो सरकार बनाने के लिए बीजेपी को पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा की पार्टी छ्वष्ठ(स्) का समर्थन हासिल करना पड़ सकता है। हालांकि 2-4 सीटों की कमी पर निर्दलीयों का भी समर्थन हासिल कर सरकार बनाने की पहल की जा सकती है। शुरुआती रुझानों को देख कांग्रेस ने कहा है कि सभी विकल्प खुले हुए हैं। 222 सीटों पर हुआ था मतदान आपको बता दें कि 12 मई को 222 सीटों पर मतदान हुआ था। एक सीट पर मतदान बीजेपी प्रत्याशी और वर्तमान विधायक बी एन विजयकुमार के निधन के चलते स्थगित कर दिया गया। बेंगलुरु के आरआर नगर में एक घर से हजारों की तादाद में सामने आए फर्जी आईकार्ड के मामले को देखते हुए चुनाव आयोग ने यहां वोटिंग को टाल दिया है। 

बीजेपी के लिए दक्षिण का द्वार बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने कहा है कि कर्नाटक पार्टी के लिए दूसरी बार दक्षिण में कदम रखने का द्वार होगा। कर्नाटक में बीजेपी को सिर्फ एक बार 2008 से 2013 तक सत्ता में रहने का मौका मिला था, लेकिन पार्टी का कार्यकाल अंदरुनी कलह और भ्रष्टाचार के आरोपों से घिरा रहा। 
महज पांच वर्षों में पार्टी की ओर से तीन मुख्यमंत्री बनाए गए, जिनमें से एक फिलहाल पार्टी की ओर से मुख्यमंत्री पद के उम्मीदवार बीएस येदियुरप्पा हैं, भ्रष्टाचार के आरोपों में जेल भी जा चुके हैं। 2013 के चुनाव में कांग्रेस ने 122 सीटें जीती थीं। बीजेपी और जेडीएस को 40-40 सीटें मिली थीं।
 

No image

 तुर्की ने गाजा में हुई हिंसा में 55 फलस्तीनी प्रदर्शनकारियों की मौत पर इसी सप्ताह इस्लामिक सहयोग संगठन (ओआईसी) की आपात बैठक बुलायी है। तुर्की के सरकारी प्रवक्ता ने यह जानकारी दी। सरकारी प्रवक्ता बेकीर बोजडाग ने कहा कि तुर्की शुक्रवार को इस मामले पर आपात बैठक करना चाहता है। 

आपको बता दें कि सोमवार को यरुशलम में अमेरीका का नया दूतावास खोले जाने को लेकर गाजा पट्टी में प्रदर्शन कर रहे फिलिस्तीनियों पर इजरायली सुरक्षाबलों द्वारा चलाई गयी गोली के कारण कम से कम 55 प्रदर्शनकारियों की मौत हो गई। फिलिस्तीन के स्वास्थ्य अधिकारियों ने इस बात की पुष्टि की है। गाजा स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक सोमवार को हुए हिंसक प्रदर्शन में 900 से ज्यादा

लोगों को चोटें आई हैं। इजरायली सेना ने आरोप लगाया है कि गाजा में सत्तासीन हमास ने प्रदर्शनकारियों को बॉर्डर क्रॉस करने के लिए उकसाया, जिसके बाद उन्हें रोकने के लिए गोलीबारी करनी पड़ी। ताजा हिंसा, वर्ष 2014 के बाद की सबसे बड़ी इजरायली कार्रवाई बतायी जा रही है। अमेरिका ने यरूशलम में अपना दूतावास खोलने के विरोध में ये लोग प्रदशज़्न करते हुए गाजा सीमा की ओर जा रहे थे। गोलीबारी में 900 फिलिस्तीनी घायल हो गए जिनमें से 450 लोग गोली लगने से घायल हुए हैं।
 

No image

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की पत्नी मेलेनिया ट्रंप का कल किडनी का सफल ऑपरेशन किया गया। मेलेनिया के कार्यालय ने यह जानकारी दी। 
मेलेनिया के कार्यालय की प्रवक्ता स्टेफनी ग्रिशम ने अपने बयान में कहा कि 48 वर्षीय श्रीमती ट्रंप का किडनी से जुड़े उपचार के लिए ऑपरेशन किया गया। श्रीमती ट्रंप को किडनी के इस छोटे से ऑपरेशन के बाद एक सप्ताह तक वॉल्टर रीड मेडिकल सेंटर में ही रखा जाएगा।प्रवक्ता ने कहा, ऑपरेशन सफल रहा और इसमें कोई दिक्कत पेश नहीं आई। अमेरिका के राष्ट्रपति कार्यालय के एक अधिकारी ने कहा ट्रंप के वाशिंगटन के उपनगर मेरीलैंड के बेथेस्डा स्थित अस्पताल पहुंचकर मेलेनिया का हाल-चाल जानने की उम्मीद है।
 

No image

 कोलकाता नाइट राइडर्स और राजस्थान रॉयल्स के लिए इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के 11वें संस्करण में आज होने वाला मैच महत्वपूर्ण होगा। ईडन गार्डन्स स्टेडियम में खेले जाने वाले इस मैच में दोनों टीमें प्लेऑफ में प्रवेश हासिल करने के लक्ष्य से उतरेंगी। कोलकाता और राजस्थान दोनों के अंक तालिका में 12 अंक हैं। दोनों ही टीमों को दो मैच और खेलने हैं। नेट रन रेट के आधार पर कोलकाता (-0.189) चौथे और राजस्थान (-0.347) पांचवें स्थान पर है।
इस मैच के बाद कोलकाता 19 मई को प्लेऑफ में जगह बना चुकी सनराइजर्स हैदराबाद से भिड़ेगी, वहीं इसी दिन राजस्थान का सामना विराट कोहली की रॉयल चैलेंजर्स बेंगलोर से होगा। वानखेड़े स्टेडियम में मुंबई इंडियंस के खिलाफ रविवार रात को खेले गए मैच में इंग्लैंड के विकेटकीपर-बल्लेबाज जोस बटलर ने राजस्थान को खेल में वापसी दिलाई। उनकी धुंआधार बल्लेबाजी के दम पर राजस्थान ने सात विकेट से जीत हासिल की। 
आईपीएल के पहले संस्करण का खिताब जीतने वाली राजस्थान एक सप्ताह पहले बाहर होने की कगार पर थी, लेकिन बटलर की 94 रनों की शानदार पारी के दम पर टीम ने मुंबई के दिए 169 रनों के लक्ष्य को आसानी से हासिल कर लिया।
बटलर के अलावा वेस्टइंडीज के हरफनमौला खिलाड़ी जोफ्रा आर्चर भी अच्छी फॉर्म में हैं। कप्तान रहाणे अपनी बल्लेबाजी के साथ टीम को संभालने की कोशिश कर रहे हैं। हालांकि, उनकी फॉर्म भी चिंता का विषय रही है। 
गेंदबाजी में आर्चर के अलावा, बेन स्टोक्स, जयदेव उनादकट भी अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं। मुंबई के खिलाफ आर्चर ने सूर्यकुमार यादव और रोहित शर्मा को पवेलियन भेजा था। उन्होंने रोहित को खाता भी नहीं खोलने दिया। 
कोलकाता पर नजर डाली जाए, तो दिनेश कार्तिक की टीम मुंबई के खिलाफ मिले 102 रनों की हार से निकलने की कोशिश कर रही है। हालांकि, इस टीम ने किंग्स इलेवन पंजाब को 31 रनों से हराया था। 
पंजाब के खिलाफ खेले गए मैच में कोलकाता ने 245 रन बनाए थे, जो आईपीएल के इतिहास में चौथा सर्वोच्च स्कोर है। कार्तिक अपनी टीम का अच्छा नेतृत्व कर रहे हैं। बल्लेबाजी में सुनील नरेन, क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा और आंद्रे रसेल उनका साथ दे रहे हैं। इस बीच नितीश राणा और शुभम गिल जैसे युवा खिलाडिय़ों ने भी टीम के लिए अच्छा प्रदर्शन किया है। 
अपनी बल्लेबाजी के साथ-साथ रसेल अच्छी गेंदबाजी से भी कोलकाता का साथ दे रहे हैं। इसमें एम. प्रसिद्ध कृष्ण भी अहम भूमिका निभा रहे हैं। 
टीमें : 
कोलकाता नाइट राइडर्स : दिनेश कार्तिक (कप्तान), सुनील नरेण, आंद्रे रसेल, क्रिस लिन, रॉबिन उथप्पा, कुलदीप यादव, पीयूष चावला, नीतीश राणा, प्रसिद्ध कृष्ण, शिवम मावी, मिशेल जॉनसन, शुभमन गिल, आर. विनय कुमार, रिंकु सिंह, कैमरून डेलपोर्ट, जेवोन सियरले, अपूर्व वानखेड़े, इशांक जग्गी और टॉम कुरान
राजस्थान रॉयल्स : अजिंक्य रहाणे (कप्तान), हेनरीक क्लासेन, बेंजामिन स्टोक्स, जयदेव उनादकट, संजू सैमसन, जोफ्रा आर्चर, कृष्णप्पा गौथम, जोस बटलर, डी आर्की शॉर्ट, राहुल त्रिपाठी, धवल कुलकर्णी, जाहिर खान पाकतीन, बेन लाफलिन, स्टुअर्ट बिन्नी, दुश्मंथा चमीरा, अनुरीत सिंह, आर्यमान विक्रम बिरला, एस. मिधुन, श्रेयस गोपाल, प्रशांत चोपड़ा, जतिन सक्सेना, अंकित शर्मा और महिपाल लोमरोर। 
००

No image

सोशल मीडिया कंपनी फेसबुक ने कैम्ब्रिज एनालिटिका द्वारा यूजर्स डाटा का गलत इस्तेमाल करने वाले 200 एप को प्लेटफॉर्म से हटा दिया है। बता दें कि फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग ने डाटा चोरी का मामला सामने आने के बाद डाटा का गलत इस्तेमाल करने वाले एप की पड़ताल करने की बात कही थी। इसका मकसद यूजर्स तक इन एप की पहुंच को घटाना था।

फेसबुक के उत्पाद साझेदारी उपाध्यक्ष इम आर्किबोंग ने बताया कि जांच का काम तेजी से चल रहा है। यह काम दो चरणों में किया जाएगा। पहले चरण में फेसबुक डाटा तक पहुंच रखने वाले एक-एक एप की जांच हो रही है। दूसरे चरण के तहत जहां हमें संदेह होगा, हम पूछताछ करेंगे। गौरतलब है कि भारत समेत कई देशों ने फेसबुक को जवाब-तलब किया था। क्रैंबिज एनालिटिका पर आरोप लगा था कि उसने 2016 के राष्ट्रपति चुनाव में डोनाल्ड ट्रंप को जीताने के लिए फेसबुक के डाटा का मिसयूज किया था। इसके बाद मार्क जकरबर्ग को अमेरिका में ही दो कमेटियों का सामना करना पड़ा था। इस मामले में अभी जांच चल ही रही है।
 

No image

कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी जीत की ओर बढ़ चुकी है। अब तक के रुझानों में बीजेपी 112 सीटों पर बढ़त हासिल कर बहुमत हासिल कर चुकी है। यह नतीजे भले ही कर्नाटक के हैं, लेकिन इनका दूरगामी प्रभाव देश की राजनीति पर पडऩे वाला है। 2019 के आम चुनाव के लिए सेमीफाइल कहे जा रहे इस चुनाव का निश्चित तौर पर फाइनल पर भी असर देखने को मिल सकता है। इसके अलावा इस साल के अंत में होने वाले राजस्थान, मध्य प्रदेश और छत्तीसगढ़ के विधानसभा चुनावों में भी बीजेपी बढ़े हुए मनोबल के साथ उतर सकेगी।मोदी पर बरकरार है जनता का भरोसा 

कर्नाटक के चुनाव में भले ही बीजेपी ने सीएम कैंडिडेट के तौर पर येदियुरप्पा को प्रॉजेक्ट किया था, लेकिन प्रचार में पीएम मोदी प्रमुख चेहरा थे। प्रचार के आखिरी सप्ताह में पीएम मोदी ने मैराथन रैलियां कीं और भारी भीड़ उन्हें सुनने के लिए पहुंची थी। एक तरफ येदियुरप्पा के जरिए बीजेपी ने लिंगायतों को साधा तो बाकी सामाजिक वर्गों के लिए मोदी के असर का इस्तेमाल किया गया। इस तरह यदि मोदी इस चुनाव में चेहरा थे तो जीत का सेहरा भी उनके सिर बांधना गलत नहीं होगा।2019 में कर्नाटक से मिलेगी बड़ी ताकत 

बीजेपी की तरफ से मुख्यमंत्री पद के दावेदार बीएस येद्दियुरप्पा ने पहले कहा था, च्कर्नाटक का सीएम बनने के बाद मेरी पहली प्राथमिकता 2019 में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए 24-25 सीटें जुटाने की होगी।ज् ऐसे में अब बीजेपी की कर्नाटक जीत 2019 के मोदी मिशन को भी आसान करेगी और इस दक्षिणी सूबे से उसे बड़ी ताकत मिल सकेगी। इससे बीजेपी को राजस्थान, छत्तीसगढ़ और मध्यप्रदेश में कांग्रेस से निपटने का हौसला मिलेगा।राहुल के नेतृत्व पर सवाल, सहयोगियों का भरोसा होगा कमजोर कर्नाटक की हार का ठीकरा कांग्रेस भले ही सिद्धारमैया के सिर फोड़े, लेकिन यह नतीजे राहुल गांधी के नेतृत्व पर सवाल खड़े करते हैं। अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी के लिए यह नतीजे बड़े झटके की तरह हैं। हाल ही में राहुल गांधी ने कांग्रेस के सबसे बड़ी पार्टी बनने पर खुद के पीएम बनने की बात कही थी। इसे उनके पीएम पद के दावे के तौर पर देखा गया, लेकिन यह हार उनके इस दावे को कमजोर करेगी। खासतौर पर सहयोगी दल कांग्रेस पर दबाव बनाने की स्थिति में होंगे।
 

No image

प्रधानमंत्री मोदी और बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह अपने कांग्रेस मुक्त अभियान की तरफ एक और कदम बढ़ाते नजर आ रहे हैं. कर्नाटक विधानसभा चुनाव में बीजेपी पूर्ण बहुमत से सरकार बनाती दिख रही है तो कांग्रेस के सिमटने का सिलसिला जारी है. कर्नाटक में हार के बाद कांग्रेस दफ्तर में सन्नाटा पसरा हुआ है. कांग्रेस के दफ्तर में कोई नेता या प्रवक्ता मौजूद नहीं है, दफ्तर में केवल मीडिया कर्मी नजर आ रहे हैं.

कर्नाटक में कांग्रेस पस्त होने के बाद कांग्रेस पार्टी में एक बार फिर प्रियंका गांधी को आगे लाने की मांग हो रही है. कांग्रेस नेता जगदीश शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी को प्रियंका के साथ मिलकर काम करना चाहिए. जगदीश शर्मा ने कहा, 'लगता है जब प्रियंका गांधी, राहुल के साथ मिलकर काम करेंगी तभी कांग्रेस को जीत मिलेगी. शर्मा ने कहा कि राहुल गांधी मेहनत कर रहे हैं और उन्हें प्रधानमंत्री भी बनना चाहिए लेकिन जब भाई-बहन मिलकर काम करेंगे तभी कांग्रेस को जीत मिलेगी.

परिणामों से बीजेपी में उत्साहकर्नाटक चुनाव के परिणामों से पूरी बीजेपी में उत्साह है. बीजेपी नेता जीत का पूरा श्रेय प्रधानमंत्री मोदी को दे रहे हैं. चुनाव परिणामों पर छत्तीसगढ़ के सीएम रमन सिंह ने कहा कि कर्नाटक की जीत एतिहासिक है. यह इस बात का संकेत है कि 2019 में भी कमल खिलेगा. रमन सिंह ने कर्नाटक की जनता को धन्यवाद देते हुए कहा कि जीत का पूरा श्रेय प्रधानमंत्री मोदी और अमित शाह को जाता है. छत्तीसगढ़ की बात करते हुए उन्होंने कहा कि कांग्रेस के पास वहां नीयत और नीति नहीं है.
 

No image

साल 1988 में पटियला में शेरनाला गेट चौराहे के पास हुए रोडरेज के मामले में पंजाब सरकार के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू को सुप्रीम कोर्ट से राहत मिलेगी या फिर जेल होगी इसका फैसला सुप्रीम कोर्ट में आज होगा. इस मामले में पंजाब और हरियाणा उच्च न्यायालय ने पहले ही उन्हें तीन साल की सजा सुनाई है. न्यायमूर्ति जे चेलामेश्वर और न्यायमूर्ति संजय किशन कौल की पीठ ने 18 अप्रैल को इस मामले में अपना फैसला सुरक्षित रख लिया था.

गौरलतब है कि सिद्धू और रुपिंदर सिंह संधू 27 दिसंबर, 1988 को पटियाला में शेरनवाला गेट चौरोह के पास अपनी गाड़ी में बैठे हुए थे. उसी समय गुरनाम सिंह अपने दो साथियों के साथ बैंक से पैसे निकालकर लौट रहे थे. बताया जाता है कि गुरनाम सिंह ने सिद्धू और संधू से गाड़ी हटाने को कहा. इस पर दोनों पक्षों में कहासुनी हो गई इस पर सिद्धू ने सिंह को बुरी तरह पीटा और अस्पताल में उनकी मौत हो गई.
 

No image

पीछे जो खबर चल रही थी उसपर भारतीय रिजर्व बैंक ने ब्रेक लगाते हुए कहा है कि 200 और 2000 के बदरंग नोट हर बैंकों में बदले जा रहे हैं। हां दो टुकड़ों में बंटे नोटों के ममले में नियम बदला जा रहा है इसलिए धारक को थोड़ी परेशानी हो सकती है। मसलन कोई 200 या 2000 रुपये के मैले या बदरंग नोट आपके पास हो और इसे कोई स्वीकार नहीं कर रहा है, तो परेशान होने की आवश्यकता नहीं है। इसे भारतीय रिजर्व बैंक की किसी शाखा में या करेंसी चेस्ट वाले किसी बैंक शाखा में ले जाइए, इसे आसानी से बदल दिया जाएगा। 

रिजर्व बैंक का कहना है कि दीमक खाये हुए या जले नोट भी बदले जाएंगे, बशर्ते उसका नंबर सुरक्षित हो। इस क्षेत्र से जुड़े एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक इसके लिए गजट नोटिफिकेशन की प्रक्रिया चल रही है। इस नियम में बदलाव करने के लिए कई स्तर पर अनुमति लेनी पड़ती है। उनका कहना है कि नोट पर स्याही या रंग गिर गया हो तो भी उसे बैंक में बदला जा सकेगा। ऐसे नोटों को रिजर्व बैंक की किसी भी शाखा में या करेंसी चेस्ट वाली शाखा में जा कर बदला जा सकता है। 
यदि किसी बैंक शाखा में ऐसा करने से मना किया जा रहा है तो रिजर्व बैंक में शिकायत करें, उस पर तुरंत कार्रवाई की जाएगी।  रिजर्व बैंक के नोट रिफंड रूल में फिलहाल 5, 10, 20, 50, 100, 500 और 1000 रुपये के नोटों के ही बदलने का उल्लेख है। मतलब इस राशि के कटे-फटे नोट बैंक में बदले जाएंगे। एक बार नियमों में संशोधन हो जाने पर 200 और 2000 रुपये के नोट भी इसी श्रेणी में आ जाएंगे।
 

No image

सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को दूरसंचार कंपनी रिलायंस जियो की उस याचिका पर 18 मई को सुनवाई करने की सहमति दी जिसमें आईपीएल कवरेज के संबंध में एयरटेल के विज्ञापन पर दिल्ली उच्च न्यायालय के एक फैसले को चुनौती दी गई है। एयरटेल का विज्ञापन में आईपीएल मैच देखने की लाइव ऐंड फ्री एक्सेच (सीधी और मुफ्त सुविधा) की बात करता है। दिल्ली हाई कोर्ट ने इस विज्ञान की पेशकश में बदलाव का निर्देश दिया है।

उसने कहा है कि इस विज्ञापन के साथ मोटे अक्षरों में और दिखने लायक जगह पर डिस्क्लेमर नोटिस प्रकाशित किया जाए। सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश न्यायमूर्ति दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति एएम खानविल्कर और न्यायमूर्ति डीवाई चंद्रचूड़ की पीठ ने इस मामले को एक उचित पीठ के समक्ष शुक्रवार को सुनवाई सूचीबद्ध करने का निर्देश दिया।

पीठ ने कहा, रोस्टर के हिसाब से एक उचित पीठ के सामने मामले को 18 मई को सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया जाए। दिल्ली हाई कोर्ट की एक खंडपीठ ने इस मामले में एकल पीठ के अंतरिम आदेश को 10 मई को संशोधित किया। खंडपीठ ने रिलायंस जियो की याचिका पर सवाल भी उठाया था कि यह सुनवाई के योग्य है भी या नहीं।अपनी याचिका में जियो ने आईपीएल प्रसारण से संबंधित एयरटेल के विज्ञापन को भ्रामक और कपटपूर्ण बताया था।
 

 

 

 

No image

 कर्नाटक चुनाव के तुरंत बाद तेल कंपनियों ने सामवार को पेट्रोल और डीजल के दाम बढ़ा दिए थे। मंगलवार को एक बार फिर इसकी कीमत की समीक्षा करते हुए तेल कंपनियों ने पेट्रोल और डीजल की कीमतों में इजाफा किया है। इस बढ़ोतरी के साथ पेट्रोल और डीजल की कीमतें रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई हैं। इंडियन ऑयल कंपनी (आईओसीएल) के मुताबिक मंगलवार को दिल्ली में पेट्रोल की कीमत 74.95  रुपये प्रति लीअर एवं डीजल की कीमत 66.36 रुपये प्रति लीटर हो गया है। इस प्रकार पेट्रोल पर 15 एवं डीजल पर 20 पैसे की बढ़ोतरी की गयी है। 
केरल के त्रिवेंद्रम में एक लीटर डीजल आज 72.05 रुपये में मिल रहा है। दिल्ली के बाद मुंबई की बात करें, तो यहां एक लीटर पेट्रोल के लिए 82.79 रुपये चुकाने पड़ रहे हैं। डीजल के लिए 70.66 रुपये प्रति लीटर यहां देने पड़ रहे हैं। दिल्ली, मुंबई के अलावा अन्य मेट्रो शहरों की बात करें, तो कोलकाता में एक लीटर पेट्रोल के लिए 77.65 रुपये और चेन्नई में 77.77  रुपये प्रति लीटर चुकाने पड़ रहे हैं। 

डीजल की बात करें, तो कोलकाता में एक लीटर डीजल 68.90 रुपये प्रति लीटर हो गया है। चेन्नई में 70.02 रुपये प्रति लीटर देने पड़ रहे हैं। दरअसल अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार इजाफा होता जा रहा है। कच्चा तेल 75 डॉलर का आंकड़ा पार कर चुका है। यह 2014 के बाद अपने सबसे ऊंचे स्तर पर पहुंच चुका है। इसका सीधा असर देश में पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों के तौर पर देखने को मिल रहा है।बता दें कि कर्नाटक चुनाव के चलते 24 अप्रैल के बाद से पेट्रोल और डीजल की कीमतों में किसी भी तरह का बदलाव नहीं किया गया था. हालांकि इस दौरान अंतरराष्ट्रीय स्तर पर कच्चे तेल की कीमतों में लगातार इजाफा होता जा रहा है लेकिन 14 मई यानी सोमवार को कर्नाटक में मतदान खत्म होने के दो दिन बाद ही दाम बढ़ा दिए गए।कर्नाटक चुनाव की वजह से पेट्रोल और डीजल के दामों पर जो ब्रेक लगा था, वह रिलीज होने के बाद एकबार फिर कीमतों में तेजी शुरू हो गई है। विशेषज्ञों का कहना है कि फिलहाल पेट्रोल और डीजल की बढ़ती कीमतों से राहत मिलने की उम्मीद नहीं है।   
 

No image

राजस्थान की जोधपुर की एक अदालत ने फिल्म अभिनेता सलमान खान के खिलाफ आर्म्स एक्ट मामले की अगली सुनवाई 17 जुलाई को निर्धारित की है। जिला एवं सत्र न्यायाधीश चन्द्र कुमार सोनगरा की अदालत में आज हुई इस मामले की सुनवाई के दौरान राज्य सरकार की ओर से दायर याचिका पर सलमान के अधिवक्ताओं ने अपना पक्ष रखा।

सलमान के अधिवक्ता हस्तीमल सारस्वत ने अदालत में एक आवेदन प्रस्तुत कर गुहार लगाई कि उनके मुवक्किल पर इस संबंध में एक अन्य मुकदमा भी चल रहा है इसलिये दोनों मामलों में एक साथ सुनवाई हो। उन्होंने कहा कि कांकाणी हिरण शिकार और आर्म्स एक्ट प्रकरणों में गवाह भी वही है तथा पूरा प्रकरण भी लगभग एक जैसी प्रवृति के है अत: दोनों की सुनवाई एक ही दिन ही की जाए।

इस पर न्यायाधीश ने कांकाणी हिरण शिकार मामले के साथ ही इस मामले की अगली सुनवाई 17 जुलाई को करने की तारीख दी। गौरतलब है कि आर्म्स एक्ट मामले में मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत ने 18 जनवरी 2017 को सलमान को सन्देह का लाभ देते हुए बरी कर दिया था। इस फैसले के खिलाफ सरकार ने जिला एवं सेशन न्यायालय में अपील की थी जिस पर आज सुनवाई हुई।

No image

आरजेडी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव को कोर्ट ने छह हफ्ते की अंतरिम जमानत दी इसके बावजूद उन्हें सोमवार को फिर से जेल जाना पड़ा। लालू और उनका परिवार उन्हें अंतरिम जमानत मिलने से बहुत खुश थे। वहीं बेटे तेजप्रताप की शादी की खुशी भी घर में छाई थी। इन्हीं खुशियों के बीच उनके अंतरिम जमानत की कागजी कार्रवाई नहीं हो सकी और लालू को वापस जेल जाना पड़ा।सोमवार की रात लालू प्रसाद यादव बिरसा मुंडा सेंट्रल जेल रांची में फिर से जाना पड़ा। लालू के वकील प्रभात कुमार ने बताया कि लालू की रिहाई की कागजी कार्रवाई पूरी होते ही उन्हें मंगलवार को जेल से छोड़ा जा सकता है।

चारा घोटाले में दोषी लालू प्रसाद यादव के बेटे तेज प्रताप की शादी 12 मई को थी। उन्होंने जेल प्रशासन से बेटे की शादी के लिए पांच दिनों की परोल मांगी थी। जेल प्रशासन ने पांच की जगह उनकी तीन दिनों को परोल 10 मई को मंजूर की थी। वह बेटे की शादी में शामिल होने रांची से पटना पहुंचे थे। इधर उनकी ओर से कोर्ट में अंतरिम जमानत के लिए अर्जी दी गई थी। 11 मई को कोर्ट ने उनके इलाज के लिए 6 हफ्ते की अंतरिम जमानत मंजूर कर ली थी।सोमवार को लालू प्रसाद यादव शाम को लगभग चार बजे रांची पहुंचे। यहां उन्होंने जेल प्रशासन के सामने सरेंडर किया। लालू को कड़ी सुरक्षा के बीच जेल भेजा गया।
 

No image

साल 2008 के मुंबई हमलों को लेकर विवादित बयान देने के बाद पूर्व प्रधानमंत्री नवाज शरीफ के खिलाफ लाहौर हाई कोर्ट (एलएचसी) में सोमवार को देशद्रोह की एक याचिका दाखिल की गई है। यह याचिका राजनीतिक दल, पाकिस्तान अवामी तहरीक (पीएटी) के खुर्रम नवाज गंडपुर द्वारा दाखिल की गई है। इसमें कहा गया है कि शरीफ का बयान राष्ट्रीय सुरक्षा और राज्य के संस्थाओं के खिलाफ है।
याचिका में कहा गया है, 'नवाज शरीफ का बयान देशद्रोह के समान है। उनके खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज करने का निर्देश दिया जाना चाहिए। एक्सप्रेस ट्रिब्यून की रपट के मुताबिक, याचिका में शरीफ के अलावा संघीय गृहमंत्री एहसान इकबाल को भी एक पक्ष के रूप में शामिल किया गया है। पूर्व प्रधानमंत्री ने 12 मई को डॉन के साथ एक साक्षात्कार के दौरान कबूल किया था कि आतंकवादी संगठन पाकिस्तान में सक्रिय हैं और इस तरह के आतंकवादी हमले (26/11) रोके जा सकते थे। इस हमले में करीब 166 भारतीय व विदेशी नागरिक मारे गए थे।
उन्होंने कहा था, 'क्या हमें आतंकवादियों को सीमा पार जाने देना चाहिए और उन्हें मुंबई में 150 लोगों को मारने देना चाहिए? इसका मुझे स्पष्टीकरण दें। उन्होंने साफ तौर पर मुंबई हमले में मारे गए लोगों का संदर्भ देते हुए 10 पाकिस्तानी

आतंकवादियों को जिम्मेदार ठहराया। इसमें से एक आतंकवादी को पकड़ा गया था और उसे फांसी दी गई थी। उन्होंने कहा था, 'हमने खुद को अलग-थलग कर लिया है। तमाम कुर्बानियों के बावजूद हमारी बात को स्वीकार नहीं किया जा रहा है। अफगानिस्तान के बयान को स्वीकार किया जा रहा है लेकिन हमारा नहीं। हमें इस पर ध्यान देना चाहिए।बाद में शरीफ को अपनी टिप्पणी के लिए विपक्षी पार्टियों की आलोचना का सामना करना पड़ा। इसमें पाकिस्तान पीपल्स पार्टी (पीपीपी) और पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) भी शामिल रहीं। इन पार्टियों ने शरीफ के खिलाफ मोर्चा खोला और उन्हें 'सुरक्षा के लिए खतरा बताया।

पाकिस्तानी मुस्लिम लीग-नवाज के वरिष्ठ नेता और पूर्व आंतरिक मंत्री चौधरी निसार अली खान ने शरीफ के बयान का समर्थन नहीं किया। उन्होंने मुंबई हमले के संदिग्धों के मुकदमे में देरी के लिए भारत को जिम्मेदार ठहराया। इसके बाद शरीफ के भ्रामक बयान पर चर्चा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा समति की बैठक भी बुलाई गई। इसमें सेना के शीर्ष नेतृत्व, सेना प्रमुख जनरल कमर जावेद बाजवा सहित जॉइंट चीफ ऑफ स्टॉफ कमिटी के चेयरमैन जनरल जुबेर मोहम्मद हयात और इंटर सर्विसेस इंटेलिजेंस के महानिदेशक लेफ्टिनेंट जनरल नवीद मुख्तार ने भाग लिया। इस बैठक का आयोजन प्रधानमंत्री हाउस में किया गया।
 

No image

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने मंगलवार को कहा कि कांग्रेस ने यदि जनता दल सेक्युलर (जेडीएस) से गठबंधन किया होता तो पार्टी चुनाव में अच्छा प्रदर्शन कर सकती थी। ममता ने विजेताओं को बधाई दी, हालांकि उन्होंने भाजपा का उल्लेख नहीं किया। ममता ने ट्वीट कर कहा, ‘‘कर्नाटक चुनाव के विजेताओं को बधाई। जो हार गए हैं, वो धुंआधार वापसी करें। यदि कांग्रेस ने जेडीएस से गठबंधन किया होता तो नतीजे अलग होते।’’

विश्लेषकों का कहना है कि भाजपा लिंगायत प्रभुत्व वाली सीटों पर आगे चल रही है जबकि जेडीएस वोक्कालिगा प्रभुत्व वाली सीटों पर आगे चल रही है। मुख्यमंत्री सिद्धारमैया बदामी सीट पर आगे चल रहे हैं जबकि चामुंडेश्वरी सीट पर पीछे चल रहे हैं। भाजपा प्रवक्ता गौरव भाटिया ने कहा, हम बहुमत से जीतेंगे। वहीं, कांग्रेस पार्टी के नेता अशोक गहलोत ने कहा कि उनकी पार्टी जेडीएस के साथ गठबंधन को लेकर तैयार है।
 

No image

दिल्ली के पूर्व एसीपी रह चुके वेद भूषण की प्राइवेट जांच एजेंसी ने दावा किया है कि उन्होंने दुबई के उस होटल में जाकर छानबीन की, जहां 24 फरवरी को श्रीदेवी ने अंतिम सांस ली थी। रविवार को दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस ली गई और दावा किया गया कि दुबई पुलिस ने एक्ट्रेस की मौत पर लापरवाही बरती है।

श्रीदेवी की मौत ने सभी को चौंका दिया था। तब बताया गया था कि बाथटब में दुर्घटनावश डूबने की वजह से उनकी मौत हुई थी। अब इस मामले में नया मोड़ आया है। निजी जांच एजेंसी में दावा किया है कि श्रीदेवी की मौत कोई दुर्घटना नहीं थी बल्कि एक सोची-समझी साजिश थी। एजेंसी ने दावा किया कि दुबई पुलिस ने जल्दबाजी में केस का निर्णय सौंप दिया। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में भी लापरवाही हुई, होटल वाले और पुलिसवाले किसी ने भी ढंग से जवाब नहीं दिया।

वेद भूषण ने संकेत दिया है कि वो इस मामले की दोबारा जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दायर करेंगे। वेद भूषण ने दुबई के होटल जुमेराह एमिरेट्स के एक कमरे में जाकर श्रीदेवी की मौत को रीक्रिएट किया। जांच एजेंसी ने यह भी दावा किया कि होटल ने स्टाफ को इस मामले में चुप रहने का आदेश दिया है। होटल में वीडियोग्राफी पर भी रोक लगा दी गई है।

भूषण का मानना है कि मौत से किसको फायदा होता है इस पक्ष को लेकर पुलिस को जांच करना थी। हाल ही में फिल्म निर्माता सुनील सिंह ने भी दावा किया कि श्रीदेवी के नाम पर ओमान में 240 करोड़ का बीमा हुआ था, जो उसी हालत में मिलता जब एक्ट्रेस की मौत दुबई में होती।

No image

बेंगलुरु: कर्नाटक विधानसभा चुनाव के रुझानों के मुताबिक भाजपा ने बहुमत हासिल कर लिया। राज्य में भाजपा बड़ी पार्टी बनकर उभरी है। कांग्रेस को उम्मीद के मुताबिक सीटें हासिल नहीं हुईं। रूझानों के मुताबिक भाजपा को बाहरी समर्थन की जरूरत नहीं पड़ेगी। रूझानों ने पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी. देवगौड़ा का जनता दल (एस) ‘किंगमेकर’ की भूमिका को पूरी तरह से नकार दिया है। वहीं बहुमत मिलने के बाद भाजपा कार्यालसत्तारूढ़ कांग्रेस राज्य की 220, भाजपा 222, पूर्व प्रधानमंत्री एच डी देवेगौड़ा की पार्टी जनता दल (सेक्युलर) 199 और गठबंधन की साझेदार बहुजन समाज पार्टी (बसपा) 18 विधानसभा सीटों पर चुनाव लड़ रही है। मार्क्सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) 18, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) दो, स्वराज इंडिया पार्टी 11, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) 10 सीटों पर अपने उम्मीदवार उतारे हैं। भाजपा कांग्रेस और जनता दल (सेक्युलर) तीनों पार्टियां ही सरकार बनाने का दावा कर रही हैं। राज्य में 12 मई को हुए विधानसभा चुनाव में करीब 72.36 प्रतिशत मतदान हुआ था।

उल्लेखनीय है कि राज्य की 224 सदस्यीय विधानसभा की 222 सीटों पर 12 मई को मतदान हुआ था। आर.आर. नगर सीट पर चुनावी गड़बड़ी की शिकायत के चलते मतदान स्थगित कर दिया गया था। जयनगर सीट पर भाजपा उम्मीदवार के निधन के चलते मतदान टाल दिया गया था।य के बाहर जश्न का माहौल है।

No image

फिल्म वीरे दी वेडिंग में एकसाथ काम कर चुकीं ऐक्ट्रेसेस करीना कपूर खान और सोनम कपूर आहूजा ने अपनी बहनों के साथ रिश्तों को बयां किया है।मदर्स डे के खास मौके पर हैशटैग माईअदरमदर नाम से एक कैंपेन शुरू किया गया। इसमें लोगों से अपनी कहानियां और जीवन के खास शख्स के बारे में अपने विचार साझा करने के लिए इन्वाइट किया जाता है।

इस खास कैंपेन के तहत करीना ने कहा, मैं बहन करिश्मा के बेहद करीब होने के मामले में बहुत खुशकिस्मत हूं। वह हमेशा से मेरे साथ हैं। वह ऐसी शख्स हैं जिन्हें मैं अपनी दूसरी मां मानती हूं। वह ऐसी शख्स हैं जिनके साथ मैं सारी बातें शेयर कर सकती हूं। इसी कैंपेन के तहत सोनम ने कहा, मेरी बहन रिया बहुत अच्छी है। वह मुझसे छोटी होते हुए भी मां की तरह मुझ पर चिल्ला सकती है। मेरे जीवन में उसका अच्छा-खासा प्रभाव है।

No image

जयपुर की एक युवती को प्रेम करना इतना भारी पड़ा कि परिवार ने नाराज होकर अपनी ही बेटी को पहले बिजली के झटके दिए, उसके बाद छोटे भाई ने उसके बाल काट दिए।

झोटवाडा की धानका बस्ती में रहने वाली पीड़िता के चार साल से मनीष नाम के युवक के साथ प्रेम सबंध है, जिसे युवती के घरवाले पसंद नहीं करते हैं। इसके चलते युवती के परिजन उससे बार-बार मारपीट भी करते थे। परेशान होकर युवती 25 अप्रैल को अपने घर से किसी को बिना बताए सीकर के खाटूश्याम जी मंदिर चली गई। उसके बाद भी परिजन युवती को परेशान करते रहे।

परिजन युवक के घर पहुंच गए जिसके बाद युवक ने अपनी प्रेमिका से बात की और बताया कि अगर वो घर नही लौटेगी तो उसके परिजन उस युवक को परेशान करते रहेंगे जिसके चलते युवती अपने घर लौट आई।सोमवार को मोबाइल से बात करते देख उसके परिजन और ज्यादा नाराज हो गए। पहले तो परिजनों ने बेल्ट से युवती की पिटाई की और उसके बाल काट दिए। इसके बाद भी उनकी नाराजगी दूर नहीं हुई तो युवती के परिजनों ने उसे बिजली के झटके दिए जिसके चलते वो बेहोश तक हो गई। इसके बाद युवती को उसके परिजनों ने कमरे में बंद कर दिया।

No image

चॉकलेट देकर मुंह बोला मामा अपनी पांच साल की भांजी को झोपड़ी के पीछे ले गया। वहां उसके साथ अश्लील हरकत करने लगा। इसी दौरान बच्ची की मां वहां पहुंच गई। महिला के चिल्लाने पर पड़ोसियों ने आरोपित को पकड़ा और जमकर पिटाई कर दी। सूचना पर पहुंची पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है। आरोपित चौराहे पर लगने वाली दुकानों की चौकीदारी का काम करता है।

भंवरकुआं पुलिस ने सोमवार दोपहर शेखर नगर निवासी महिला की शिकायत पर किशोर (50) के खिलाफ छेड़छाड़ की धाराओं में केस दर्ज किया है। एएसआई प्रगति उपाध्याय ने बताया कि बच्ची की मां ने पूछताछ में बताया कि वह दोपहर में घर पर काम कर रही थी। बच्ची के दादा-दादी सो रहे थे। बेटी अपने डेढ़ साल के भाई के साथ घर के बाहर खेल रही थी। उसका परिवार राजीव गांधी चौराहे के पीछे झोपड़ी बनाकर रहता है। आरोपित चौराहे पर लगने वाली फलों की दुकानों की चौकीदारी करता है। उसे पूरे इलाके के लोग मामा कहकर बुलाते हैं।

उसके दोनों बच्चे भी उसे मामा कहकर पुकारते थे। आरोपित बच्ची को अपने साथ शिव मंदिर के पीछे नीम के पेड़ के पास ले गया था। महिला ने पुलिस को बताया कि बेटा अकेला ही घर पर लौट आया था। बेटी साथ नहीं होने से उसने उसे आवाज लगाई। जबाव नहीं मिलने पर वह बेटी को तलाश करने लगी। नीम के पेड़ के पास पहुंची तो आरोपित उसके साथ अश्लील हरकत कर रहा था। महिला ने बेटी को उसके चंगुल से छुड़ाया और आवाज लगाकर आसपास के लोगों को बुला लिया। घटना के वक्त बच्ची के पिता काम पर गए हुए थे। बच्ची के चाचा जितेंद्र अंजाने ने डायल 100 पर फोन लगाकर पुलिस को सूचना दी।

 

 

No image

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के बाद मंगलवार को हुई मतगणना के रुझानों में भाजपा को स्पष्ट बहुमत मिलता दिखाई दे रहा है। 222 सीटों पर हुई मतगणना के नीतजों में जहां भाजपा को 113 सीटों पर बढ़त है वहीं कांग्रेस 68 सीटों पर आगे है। राज्य में किंग मेकर मानी जा रही जेडीएस 39 सीटों पर आगे चल रही है। कांग्रेस के सीएम उम्मीदवार सिद्धारमैया चामुंडेश्वरी सीट पर 25 हजार वोटों से पीछे चल रहे हैं वहीं बादामी सीट पर कुछ सौ मतों से आगे हैं। वहीं भाजपा के मुख्यमंत्री उम्मीदवार येदयुरप्पा शिकारपुरा सीट से आगे चल रहे हैं। पार्टी की जीत को देखते हुए येदयुरप्पा आज तीन बजे दिल्ली रवाना होंगे।

मतगणना के दौरान आ रहे रुझानों ने पूरी भाजपा में जोश भर दिया है और बेंगलुरु से लेकर दिल्ली तक जश्न शुरू हो चुका है। बेंगलुरु में जहां पार्टी दफ्तर पर कार्यकर्ता नाचते-गाते नजर आए वहीं दिल्ली में केंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण को मिठाई खिलाकर जीत की बधाई दी।

वीआईपी सीटों की बात करें तो वरुणा से सिद्दरमैया के बेटे यतींद्र आगे चल रहे हैं। दावणगेरे से मल्लिकार्जुन खड़गे के बेटे पीछे चल रहे हैं। बेल्लारी से रेड्डी बंधुओं को शुरुआती बढ़त मिल रही है। एचडी देवेगौड़ा के दोनों बेटे एचडी कुमार स्वामी रामनगर और एचडी रेवन्ना होलनर्सीपुरी आगे चल रहे हैं।

राज्य में 222 सीटों के लिए 12 मई को हुए मतदान के बाद आज चुनाव मैदान में उतरे 2654 उम्मीदवारों की तकदीर का फैसला हो रहा है। इनमें से 216 महिला उम्मीदवार हैं। मतगणना के लिए राज्य के 38 मतगणना केंद्रों पर सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए हैं। राज्य में 55000 पुलिसकर्मी तैनात किए हैं जिनमें से 11 हजार तो सिर्फ बेंगलुरु में ही हैं।

No image

कर्नाटक विधानसभा चुनाव के रुझानों में भाजपा को बढ़त से शेयर बाजार में तेजी देखने को मिल रही है। करीब 329 अंकों की बढ़त के साथ सेंसेक्स 35,883 के स्तर पर पहुंच गया है, वहीं निफ्टी 88 अंकों की बढ़त के साथ 10,894 पर है।

इससे पहले करीब 9.30 बजे प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स 218 अंक चढ़कर 35778 के स्तर पर और निफ्टी 58 अंक की तेजी के साथ 10862 के स्तर पर रहा। वहीं नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मिडकैप इंडेक्स 0.58 फीसद और स्मॉलकैप 0.86 फीसद की बढ़त के साथ कारोबार हुआ।

एक्सपर्ट मानते हैं कि शेयर बाजार की दिशा कर्नाटक चुनाव के नतीजे स्पष्ट होने के बाद तय होगी। फिलहाल रुझानों में भाजपा 114 सीटों पर आगे चल रही है, वहीं कांग्रेस 62 और जेडीएस 44 सीटों पर बढ़त बनाए हुए है। 

सेक्टोरियल इंडेक्स की बात करें तो ऑटो को छोड़ सभी सूचकांक हरे निशान में कारोबार कर रहे हैं। सबसे ज्यादा खरीदारी रियल्टी शेयर्स में देखने को मिल रही है। बैंक (0.74 फीसद), फाइनेंशियल सर्विस (0.64 फीसद), एफएमसीजी (0.63 फीसद), आईटी (0.42 फीसद), मेटल (0.90 फीसद), फार्मा (0.28 फीसद) और रियल्टी (1.25 फीसद) की बढ़त देखने को मिल रही है।

No image

अंतरराष्ट्रीय स्तर पर दोनों कीमती धातुओं में रही तेजी के बीच खुदरा जेवराती मांग घटने से सोमवार को दिल्ली सर्राफा बाजार में सोना 115 रुपए लुढ़ककर 32,285 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। औद्योगिक मांग सुस्त पड़ने से चांदी भी 100 रुपए की गिरावट के साथ 41,300 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर लंदन का सोना हाजिर 2.48 डॉलर की बढ़त में 1320.80 डॉलर प्रति औंस बोला गया। अमरीका का जून का सोना वायदा भी 0.05 डॉलर की तेजी के साथ 1321.20 डॉलर प्रति औंस पर पहुंच गया। चांदी में भी तेजी रही और यह 0.07 डॉलर की बढ़त में 16.67 डॉलर प्रति औंस बोली गई। विश्लेषकों के मुताबिक दुनिया की अन्य प्रमुख मुद्राओं के बास्केट में डॉलर के टूटने से पीली धातु की चमक बढ़ी है।

वैश्विक तेजी के बावजूद स्थानीय जेवराती मांग कमजोर पड़ने से स्थानीय स्तर पर सोना स्टैंडर्ड 115 रुपए फिसलकर 32,285 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। सोना बिटुर भी इतनी ही गिरावट में 32,135 रुपए प्रति दस ग्राम पर आ गया। गिन्नी 24,800 रुपए प्रति आठ ग्राम पर टिकी रही।चांदी में भी गिरावट रही और यह 100 रुपए फिसलकर 41,300 रुपए प्रति किलोग्राम बोली गई। चांदी वायदा भी 80 रुपए टूटकर 40,470 रुपए प्रति किलोग्राम पर आ गई। इस दौरान सिक्का लिवाली और बिकवाली क्रमश: 76 हजार रुपए और 77 हजार रुपए प्रति सैकड़ा पर टिके रहे।

 

No image

बॉलिवुड ऐक्टर सुशांत सिंह राजपूत सोशल मीडिया पर काफी ऐक्टिव रहते हैं। वह अक्सर फैंस के साथ फोटोज, विडियोज शेयर करते रहते हैं। अब वह ट्विटर पर एक विडियो के जरिए नए अंदाज में नजर आ रहे हैं।दरअसल, सुशांत ने अपना 6 सेकंड का एक विडियो शेयर किया है। इसमें वह तीरंदाजी करते दिख रहे हैं। इसे देखकर लग रहा है कि उनका निशाना बोर्ड के बीचों-बीच लगा है।इस विडियो को शेयर करते हुए ऐक्टर ने लिखा, अर्जुन और आंख। फिलहाल यह साफ नहीं है कि वह तीरंदाजी किसी फिल्म की तैयारी के लिए कर रहे हैं या ऐसे ही। हालांकि, उनके इस नए अंदाज को देखकर फैंस तरह-तरह के रिऐक्शन दे रहे हैं।

फिल्मों की बात करें तो इन दिनों सुशांत के पास कई प्रॉजेक्ट्स हैं। आने वाले समय में वह डायरेक्टर अभिषेक कपूर की फिल्म केदारनाथ में सारा अली खान के साथ नजर आएंगे। इसके अलावा वह फिल्म सोन चिरैया में दिखेंगे। बीते दिनों उन्होंने फिल्म से अपना पहला लुक ट्विटर पर शेयर किया था जिसमें वह एक डकैत के गेटअप में नजर आ रहे थे। इस फिल्म की पृष्ठभूमि चंबल के डकैतों पर आधारित है। वहीं, संजय पूरन सिंह चौहान की फिल्म चंदा मामा दूर के में भी सुशांत एक अंतरिक्ष यात्री के रोल में दिखेंगे। वहीं, दंगल फेम डायरेक्टर नीतेश तिवारी की आने वाली फिल्म में भी वह ऐक्ट्रेस श्रद्धा कपूर के साथ नजर आ सकते हैं।
 

No image

देश के शेयर बाजार सोमवार को मजबूती के साथ खुले। प्रमुख सूचकांक सेंसेक्स सुबह 9.47 बजे 51.70 अंकों की मजबूती के साथ 35,587.49 पर और निफ्टी भी लगभग इसी समय 14.05 अंकों की बढ़त के साथ 10,820.55 पर कारोबार करते देखे गए।

 बम्बई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) का 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सुबह 20.04 अंकों की मजबूती के साथ 35555.83 पर, जबकि नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी 8.65 अंकों की बढ़त के साथ 10,815.15 पर खुला।
 

No image

 पिछले कुछ दिनों से पेट्रोल-डीजल की स्थिर कीमतों में फिर से इजाफा हो गया। सोमवार को दिल्ली में पेट्रोल 74.80 रुपये प्रति लीटर तो डीजल 66.14 प्रति लीटर, चेन्नै में पेट्रोल 77.61 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल 69.79 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में पेट्रोल 77.50 रुपये प्रति लीटर जबकि डीजल 68.68 रुपये प्रति लीटर हो गया। मुंबई में भी पेट्रोल डीजल की दरों में इजाफा हुआ और ये क्रमश: 82.65 रुपये प्रति लीटर और 70.43 रुपये प्रति लीटर हो गए।

पेट्रोल-डीजल में ताजा वृद्धि को कर्नाटक विधानसभा चुनाव के लिए मतदान संपन्न हो जाने से जोड़कर देखा जा रहा है। दरअसल, कर्नाटक में जारी चुनाव प्रचार के दौरान ही खबर आई थी कि सरकार के इशारे पर पेट्रोलियम कंपनियों ने पेट्रोल-डीजल के दाम में मार्केट के मुताबिक बदलाव करने से कदम पीछे खींच लिया था। लेकिन, अब चुनाव संपन्न होने के बाद फिर से इसे मार्केट के हवाले कर दिया गया।
बहरहाल, रविवार 13 मई को दिल्ली में डीजल 65.93 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में 68.63 रुपये प्रति लीटर, मुंबई में 70.20 रुपये प्रति लीटर जबकि चेन्नै में 69.56 रुपये प्रति लीटर था। इसी तरह दिल्ली में पेट्रोल 74.63 रुपये प्रति लीटर, कोलकाता में 77.32 रुपये प्रति लीटर, मुंबई में 82.48 रुपये प्रति लीटर जबकि चेन्नै में 77.43 रुपये प्रति लीटर था। 

ध्यान रहे कि साल 2010 तक सरकार देश में पेट्रोल-डीजल की कीमतें तय करती थी। उसके बाद यह काम तेल कंपनियों पर छोड़ दिया गया और तेल कंपनियां हर पखवाड़े पेट्रोल-डीजल के दाम बाजार कीमत के आधार पर तय करने लगीं। लेकिन, पिछले साल 16 जून से तेल कंपनियों ने पखवाड़े की जगह प्रति दिन तेल की कीमतों में बाजार आधारित बदलाव करने लगीं।
 

No image

 नोटबंदी के बाद जारी हुए 200 और 2000 के नोटों को लेकर आरबीआई ने बड़ा ऐलान किया है। आरबीआई की ओर से जारी किए गए 200 और 2000 रुपए के नए नोट अगर किसी वजह से गंदे हो जाएं तो बैंकों में इन्हें बदला नहीं जा सकेगा। 
आरबीआई ने करेंसी नोटों के एक्सचेंज से जुड़े नियमों के दायरे में इन नोटों को नहीं रखा गया है। आरबीआई ने साफ कहा है कि बैंक ऐसे नोटों को जमा भी नहीं करेंगे और न ही ये बदले जाएंगे। बता दें कि कटे-फटे या गंदे नोटों के एक्सचेंज का मामला आरबीआई (नोट रिफंड) रूल्स के तहत आता है, जो आरबीआई ऐक्ट के सेक्शन 28 का हिस्सा है। इस ऐक्ट में 5, 10, 50, 100, 500, 1,000, 5,000 और 10,000 रुपए के करंसी नोटों का जिक्र है, लेकिन 200 और 2,000 रुपए के नोटों को इसमें जगह नहीं दी गई है। सरकार और आरबीआई ने एक्सचेंज पर लागू होने वाले प्रावधानों में बदलाव नहीं किए हैं। इस वक्त 2,000 रुपए के करीब 6.70 लाख करोड़ रुपए मूल्य के नोट सर्कुलेशन में हैं और आरबीआई ने अब 2,000 रुपये के नोट छापना बंद कर दिया है। यह बात 17 अप्रैल को इकनॉमिक अफेयर्स सेक्रटरी सुभाष सी गर्ग ने बताई थी। 
आरबीआई के मुताबिक, नई सीरीज के नोट अगर गंदे हो जाते हैं या फिर कट-फट जाते हैं तो अभी बैंकों में इन्हें नहीं बदला जा सकेगा. आरबीआई ने कहा, महात्मा गांधी (नई) सीरीज के नोटों के आकार में बदलाव के कारण एमजी (न्यू) सीरीज में कटे-फटे/अशुद्ध नोटों की अदला-बदली मौजूदा नियमों के तहत नहीं की जा सकती है। आरबीआई (नोट रिफंड) रूल्स 2009 में संशोधन की जरूरत है। ऑफिशल गजट में बदलावों का नोटिफिकेशन होने के बाद एमजी (न्यू) सीरीज के कटे-फटे/अशुद्ध नोटों की अदला-बदली की जा सकती है। अभी तक इस मामले में सरकार की तरफ से कोई सफाई नहीं आई है। यह साफ नहीं है कि सरकार जरूरी बदलाव को लेकर इतना समय क्यों ले रही है। वित्त मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक, अभी तक इस पर कोई चर्चा नहीं हुई है, लेकिन सरकार जरूरी बदलाव करने पर विचार करेगी। उन्होंने कहा, एक्ट में बदलाव को लेकर जो भी जरूरी होगा, वह निश्चित ही किया जाएगा।
बैंकरों ने कहा कि नई सीरीज में कटे-फटे या गंदे नोटों के बेहद कम मामले सामने आए हैं, लेकिन उन्होंने आगाह किया कि अगर प्रावधान में जल्द बदलाव नहीं किया गया तो दिक्कतें शुरू हो सकती हैं। आरबीआई का दावा है कि उसने 2017 में ही बदलाव की जरूरत के बारे में वित्त मंत्रालय को पत्र भेजा था। मामले की जानकारी रखनेवाले एक सूत्र ने बताया कि आरबीआई को अभी सरकार से कोई जवाब नहीं मिला है। बदलाव ऐक्ट के सेक्शन 28 में करने होंगे, जिसका संबंध खो गए, चोरी हुए, कटे-फटे या अशुद्ध नोटों की रिकवरी से है। आरबीआई की ओर से 2017 में ही बदलाव को लेकर वित्त मंत्रालय को पत्र भेजा था। 
 

No image

कर्नाटक चुनाव के नतीजे मंगलवार को आ रहे हैं। उधर, केंद्र की मोदी सरकार को 4 साल भी पूरे हो रहे हैं। इस बीच किए गए एक सर्वे में 56 फीसदी लोगों ने मोदी सरकार में अपना भरोसा जताया है। इनका कहना है कि सरकार अपने वादों को पूरा करने के लिए सही दिशा में काम कर रही है। एक कम्यूनिटी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म द्वारा किए गए सर्वे में प्रत्येक 10 में से 6 लोगों का मानना है कि मोदी सरकार उम्मीदों पर खरी उतरी है या उससे आगे बढ़कर काम किया है। वहीं, सर्वे में शामिल करीब तीन-चौथाई लोगों ने पाकिस्तान से निपटने में सरकार की कार्यशैली का समर्थन किया है।

54 फीसदी से ज्यादा लोगों का कहना है कि टैक्स टेररेज़म घटा है और डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर (ष्ठक्चञ्ज) योजना सफल रही है। लोकल सर्कल्स ने अपनी सर्वे रिपोर्ट में कहा है, 4 साल के कार्यकाल में 56त्न नागरिकों का मानना है कि चुनाव से पहले घोषणापत्र में किए गए अपने वादों को पूरा करने के लिए सरकार सही ट्रैक पर काम कर रही है जबकि पिछले साल के सर्वे में ऐसे लोगों का आंकड़ा 59त्न था।
सर्वे के मुताबिक आमतौर पर राजनीतिक प्रतिष्ठानों या सत्तारूढ़ पार्टी के प्रति लोगों की अपेक्षाएं तेजी से घटी है। ऐसे में सरकार के लिए ये आंकड़े अच्छे संकेत हैं। इसी आउटफिट द्वारा पिछले 2 वर्षों में किए गए सर्वे में सामने आया है कि सरकार के प्रदर्शन पर लोगों का भरोसा धीरे-धीरे घटा है।
रिपोर्ट के अनुसार 2016 पोल में करीब 64 फीसदी लोगों का मानना था कि सरकार अच्छा काम कर ही है, इस साल यह आंकड़ा 57 फीसदी रहा।सांसद जी से संतुष्ट नहीं जनता 

सर्वे में शामिल लोगों की एक आम शिकायत है कि स्थानीय सांसद अपने निर्वाचन क्षेत्र में विकास और समस्याओं को दूर करने में ज्यादा सक्रिय नहीं रहे। लोक सभा चुनाव से एक साल पहले यह सर्वे भले ही सरकार को एक सुखद अहसास कराए पर कमियों को दूर करने पर भी ध्यान देना होगा। इन पर ध्यान देना होगा 
इस सर्वे में करीब 23 क्षेत्रों के बारे में भी जानकारी सामने आई है, जिसमें लिविंग कॉस्ट बढऩा, सांप्रदायिक मामलों को प्रभावी तरीके से हैंडल न कर पाना, बेरोजगारी दूर करने के लिए सरकार को और अधिक प्रयास करने की जरूरत के साथ-साथ बच्चों व महिलाओं के खिलाफ अपराध को रोकना शामिल है। 
जीएसटी, नोटबंदी पर राहत 

सकारात्मक पहलू देखें तो जीएसटी के कारण कीमतों में ज्यादा वृद्धि दिखाई नहीं देती। करीब 32 फीसदी लोगों का कहना है कि जीएसटी लागू होने के बाद उनका महीने का खर्च या कीमतें घटी हैं। जबकि 60 फीसदी लोगों का कहना है कि उन्होंने कीमतों में कोई बदलाव महसूस नहीं किया। सर्वे का कहना है, इसका मतलब यह है कि जीएसटी और नोटबंदी के बाद कुछ हद तक कीमतें स्थिर रही हैं। इसे सरकार के लिए बड़े सकारात्मक संकेत के तौर पर देखा जा रहा है क्योंकि सरकार के इन फैसलों की विपक्ष ने काफी आलोचना की थी।
 

No image

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के लिए जारी वोटिंग के लिए किए गए सुरक्षा इंतजामों की पोल खुलने लगी है। कई जगहों से मतदान के दौरान भारी हिंसा की खबरें लगातार आ रही हैं। अलग-अलग स्थानों पर हुई झड़पों में 40 से अधिक लोग घायल हो गए हैं जबकि 6 लोगों की जान चली गई है। राज्य के कई हिस्सों से बूथ कैप्चरिंग, वोटरों को धमकाने और बैलट इधर-उधर करने की घटनाएं सामने आ रही हैं।बैरकपुर में भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी को चाकू मार दिया गया। उन्हें जब अस्पताल ले जाया गया तब तक उनके पेट मे चाकू लग हुआ था। आखिरकार उनके जख्म जानलेवा साबित हुए। उधर, उत्तरी 24 परगना में एक बम धमाके में 20 लोग घायल हो गए। इससे पहले कूचबिहार में दो गुटों के बीच झड़प में 20 लोग घायल हो गए थे। उत्तर दिनाजपुर में कुछ लोगों ने बैलट बॉक्स को ही आग के हवाले कर दिया।उत्तरी 24 परगना उत्तरी 24 परगना के अमडंगा के साधनपुर में एक देसी बम फट गया। घटना में 20 लोग घायल हो गए। उधर, बीरपाड़ा से सामने आए एक विडियो में कथित तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) कार्यकर्ता एक पोलिंग बूथ के बाहर लोगों को वोट डालने जाने से रोकते हुए दिख रहे हैं और भांगर में टीएमसी पर बूथ कैप्चरिंग के आरोप लगे हैं।

अमडंगा के ही पांचपोटा में बम धमाके में एक सीपीएम कार्यकर्ता की मौत हो गई जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। अमडंगा के कुलताली में एक टीएमसी कार्यकर्ता आरिफ गाजी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। उधर, उलुडंगा में बम धमाके में पांच लोग घायल हो गए। इससे पहले शनिवार को कम्यूनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्कि्सस्ट) के एक कार्यकर्ता देबू दास और उसकी पत्नी ऊषा दास को जलाकर मार डालने की घटना भी सामने आई है। बताया गया है कि उनके घर को आग लगा दी गई थी जिसमें दोनों की मौत हो गई। पार्टी ने घटना के लिए टीएमसी कार्यकर्ताओं को जिम्मेदार ठहराया है।

कूचबिहार बंगाल के कूचबिहार में दो गुटों के बीच झड़प में करीब 20 लोगों के घायल होने की खबर है। घायलों ने उन पर हमला करने का आरोप तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं पर लगाया है। उन्होंने बताया, हम वहां वोट करने गए थे लेकिन टीएमसी के लोगों ने लाठियों से हम पर हमला कर दिया। सभी घायलों को एमजेएन अस्पताल में इलाज के लिए भर्ती कराया गया है।वहीं, टीएमसी कार्यकर्ता अनीरुल होसैन को कथित बीजेपी कार्यकर्ता ने गोली मार दी। घायल होसैन को गंभीर अवस्था में अस्पताल ले जाया गया जहां उनका इलाज चल रहा है। उधर, महीशकुची में बीजेपी पोलिंग एजेंट प्रभात अधिकारी को हमले में गंभीर रूप से घायल कर दिया गया। मंत्री ने बीजेपी समर्थक को मारा 

कूचबिहार के ही बूथ नंबर 8/12 में पुलिस के सामने ममता सरकार में मंत्री रबींद्रनाथ घोष ने एक भारतीय जनता पार्टी समर्थक को थप्पड़ जड़ दिया। यही नहीं, वहां मौजूद घोष के समर्थकों की भीड़ और एक पुलिसकर्मी ने सुजीत कुमार दास नाम के समर्थक को बाहर किया। घटना का विडियो सामने आने से घोष पर सवाल किए जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि घोष बूथ पर वोट डालने नहीं गए थे क्योंकि वह उस इलाके के निवासी भी नहीं हैं। ऐसे में उनकी वहां मौजूदगी और एक व्यक्ति को मारने को लेकर वह सवालों के घेरे में हैं।बीजेपी उम्मीदवार पर चाकू से हमला 

बिलकांडा में बीजेपी उम्मीदवार राजू बिस्वास पर कथित टीएमसी कार्यकर्ताओं ने चाकू से हमला कर दिया। हमले में वह गंभीर रूप से घायल हो गए। उन्हें फौरन पानीहाटी स्टेट जनरल अस्पताल ले जाया गया जहां उसका इलाज चल रहा है।
मीडिया पर हमला भांगर जिले से भी हिंसा की खबरें आ रही हैं। यहां मीडिया को निशाना बनाया गया है। रिपोर्ट्स के मुताबिक मीडिया के वाहन को आग के हवाले कर दिया है और कैमरों को भी तोड़ दिया गया है। मीडिया कर्मियों को क्षेत्र के अंदर दाखिल नहीं होने दिया जा रहा। भांगर में ही स्थानीय लोगों ने जमकर हंगामा किया। बड़ी संख्या में मौजूद भीड़ ने रास्ता जाम कर दिया। गुस्साए लोगों का आरोप था कि टीएमसी कार्यकर्ता बूथ कैप्चरिंग का प्रयास कर रहे थे।

उधर, बीरपाड़ा में भी मीडिया पर हमला किया गया। यहां पहले बूथ कैप्चरिंग को अंजाम दिया गया और फिर करीब पांच स्थानीय पत्रकारों को घायल कर दिया गया। वोट डालने से रोका यही नहीं, बीरपाड़ा में कुछ लोगों ने बूथ नंबर 14/79 पर जारी वोटिंग में व्यवधान डालने की कोशिश की। बताया गया है कि ये लोग कथित तौर पर टीएमसी कार्यकर्ता थे। सामने आए एक विडियो में बड़ी संख्या में लोग वोटरों को बूथ के अंदर दाखिल होने से रोकते दिख रहे हैं। उधर पश्चिम मिदनापुर में भी कथित टीएमसी कार्यकर्ताओं द्वारा लोगों को वोट डालने से रोके जाने की खबर है। उधर नाडिया जिले के शांतिपुर में एक बाहरी व्यक्ति को बूथ कैप्चरिंग करते हुए पाया गया तो भीड़ ने पीट-पीटकर उसकी जान ले ली।मुर्शीदाबाद में वोटिंग थमी 

मुर्शीदाबाद में बीजेपी और टीएमसी कार्यकर्ताओं में झड़प इस हद तक बढ़ गई कि बैलट पेपर ही तालाब में फेंक दिए गए। विवाद बढऩे पर वोटिंग रोक दी गई। उधर, बीरपाड़ा के मदारीहाट में कथित टीएमसी कार्यकर्ताओं ने बैलट में हेरफेर करने की कोशिश की।किए गए बड़े दावे गौरतलब है कि चुनाव के लिए नामांकन के समय से ही राज्य का अलग-अलग हिस्सों में हिंसा की घटनाएं सामने आ रही थीं। इसके मद्देनजर चुनाव के लिए सुरक्षा के कड़े प्रबंध किए गए है और असम, ओडिशा, सिक्किम और आंध्र प्रदेश से लगभग 1,500 सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया है।
 

No image

मशहूर टीवी ऐक्ट्रेस मौनी रॉय ने हाल ही में अपनी एक तस्वीर इंस्टाग्राम अकाउंट पर शेयर की। हमेशा की तरह उनकी यह तस्वीर भी देखते ही देखते सोशल मीडिया पर छा गई। इस फोटो में मौनी काफी खूबसूरत नजर आ रही हैं। इसमें उन्होंने पीले रंग की ट्रडिशनल ड्रेस पहनी हुई है जिस पर फ्लोरल एंब्रॉयडरी है। ऐक्ट्रेस ने भारी मांग टीका और बालों को गजरे से सजा रखा है।फोटो देखकर समझ आ रहा है कि उन्होंने कम मेकअप कर रखा है। बता दें, मौनी नागिन सीरीज में नजर आई थीं। वह टीवी शो क्योंकि सास भी कभी बहू थी से पॉप्युलर हुई थीं और कम समय में ही घर-घर में एक जाना-पहचाना नाम बन गईं। 

फिल्मों की बात करें तो वह जल्द ही आने वाली फिल्म गोल्ड में नजर आएंगी। गोल्ड सच्ची घटनाओं पर आधारित है और यह लंदन में 1948 में हुए एक्सआईवी ओलिंपियाड में जीते गए भारत के पहले ओलिंपिक मेडल के बारे में है। 
डायरेक्टर रीमा कागती की इस फिल्म में अक्षय कुमार अमित साध, कुणाल कपूर, विनीत सिंह और सनी कौशल जैसे ऐक्टर्स अहम भूमिकाओं में दिखेंगे।
 

No image

अभिनेता वरुण धवन का कहना है कि वर्षों बाद आगामी फिल्म 'कलंक में उन्हें रोमांचक भूमिका मिली है, जिसकी तैयारी को लेकर वह बेहदवरुण ने बुधवार रात जिम में वर्कआउट करते हुए अपनी एक तस्वीर साझा की। उत्साहित हैं।
वीडियो के साथ वरुण ने लिखा, '''कलंक के लिए नाइट ट्रेनिंग। वर्षों बाद मुझे ऐसी भूमिका मिली है जिसकी तैयारी के लिए मैं उत्साहित हूं। जब आप इन मूवमेंट्स के अभ्यस्त हो जाएं तभी यह करें। मुझे भी यह सीखने में समय लगा।

फिल्म में संजय दत्त, माधुरी दीक्षित-नेने, आलिया भट्ट, सोनाक्षी सिन्हा और आदित्य रॉय कपूर जैसे सितारे भी प्रमुख भूमिकाओं में हैं।फिल्म का निर्देशन अभिषेक वर्मन करेंगे और यह 19 अप्रैल, 2019 को रिलीज होगी। फिल्म संयुक्त रूप से करण, नाडियाडवाला, हीरू यश जौहर और अपूर्व मेहता द्वारा निर्मित होगी। फॉक्स स्टार स्टूडियो इसका सह-निर्माण किया जा रहा है।
 

No image

कठुआ गैंगरेप मामले में तीन आरोपियों ने सुप्रीम कोर्ट में गुहार लगाई है. आरोपियों ने पुलिस कस्टडी में यातना की शिकायत की है. आरोपियों का आरोप है कि कस्टडी में उनके साथ गलत व्यवहार किया जा रहा है. सुप्रीम कोर्ट इस मामले की सुनवाई बुधवार को करेगा.

इससे पहले कठुआ में मासूम बच्ची के साथ हुए गैंग रेप और हत्या मामले में मुख्य आरोपी संजी राम और विशाल जंगोत्रा ने सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल कर सीबीआई जांच की मांग कर चुके हैं. आरोपी का कहना है कि उसे मामले की जांच में जम्मू-कश्मीर पुलिस पर भरोसा नहीं है. आरोपी ने याचिका में यह भी कहा था कि कठुआ से उसके केस का ट्रांसफर नहीं किया जाना चाहिए. याचिका में कहा गया है कि केस को केवल पीडि़ता के परिवार वालों की अपील पर ही कठुआ से ट्रांसफर नहीं करना चाहिए.

क्या है कठुआ का पूरा मामला ?जम्मू-कश्मीर के कठुआ जिले में आठ साल की एक बच्ची के साथ गैंगरेप और हत्या के मामले को लेकर देश भर में गुस्सा है. जम्मू कश्मीर पुलिस की क्राइम ब्रांच ने सोमवार को मुख्य न्यायिक मजिस्ट्रेट की अदालत में 15 पेज का आरोपपत्र दाखिल किया. इसमें बकरवाल समुदाय की बच्ची के अपहरण, बलात्कार और उसकी हत्या को लेकर रोंगटे खड़े कर देने वाले खुलासे हुए.
 

No image

ओडिशा के कंधमाल और बलांगीर जिलों में पिछले दो दिनों में सुरक्षा बलों के साथ हुई अलग-अलग मुठभेड़ों में सात नक्सली मार गिराए गए हैं। अतिरिक्त पुलिस महानिरीक्षक (आपरेशंस) आर.पी. कोच ने सोमवार को कहा, कंधमाल के गोलंकी गांव के सुदुकुम्पा जंगल में चलाए गए अभियान के दौरान पांच नक्सली मारे गए। 
उन्होंने आगे कहा, जबकि, बलांगीर जिले के दुडकमल गांव में दो नक्सली मारे गए। कोच ने कहा कि सूचना मिलने पर कार्रवाई करते हुए पुलिस और स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप (एसओजी) द्वारा एक संयुक्त अभियान शुरू किया गया। 

उन्होंने कहा कि पुलिस ने इलाके से एके-47 और इंसास सहित नौ राइफलें और अन्य हथियार बरामद किए। जंगली इलाकों में अभियान अब भी जारी है।  पुलिस महानिदेशक आर.पी. शर्मा ने इसे ओडिशा पुलिस के इतिहास में एक महत्वपूर्ण दिन बताया। शर्मा ने कहा कि यह टीम का शानदार प्रयास है। जिला पुलिस अधीक्षकों ने साहस और आत्मविश्वास के साथ टीम का नेतृत्व किया। 
 

No image

केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली का गुर्दा प्रत्यारोपण का ऑपरेशन सोमवार यानी 14 मई को अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में किया जा रहा है। अस्पताल के सूत्रों की मानें तो यह ऑपरेशन आज संपन्न कर लिया जाएगा। जेटली (65 साल) बीते शनिवार (12 मई) को अस्पताल में भर्ती हुए थे। आपको बता दें कि जेटली पिछले एक महीने से गुर्दा (किडनी) की बीमारी से जूझ रहे थे और डायलिसिस पर चल रहे थे। सरकारी सूत्रों में तो यह भी बताया गया था कि बीमारी के दौरान जेटली पूर्ण रूपेण चिकित्सकीय अभिरक्षण में थे। 

इससे पहले बीते माह अप्रैल में केंद्रीय वित्तमंत्री अरुण जेटली का अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) में गुर्दा प्रत्यारोपण रद्द कर दिया गया था, क्योंकि दाता का अंग मैच नहीं कर पाया था। उन दिनों जेटली गुर्दा प्रत्यारोपण के लिए एम्स में तीन दिन तक भर्ती रहे थे। पिछली बार जेटली को एम्स के कार्डियो-न्यूरो टॉवर में शुक्रवार (6 अप्रैल) को भर्ती कराया गया था। उन्हें दाता व खुद उनके बीच गुर्दा प्रत्यारोपण शल्य चिकित्सा के लिए कागजी कार्यवाही पूरा करने के बाद भर्ती किया गया था। दाता की पहचान उजागर नहीं की गई थी। संभवत: इस बार भी दाता की पहचान उजागर नहीं किया गया है। 
 

No image

भारतीय जनता पार्टी के शीर्ष पदाधिकारियों ने रविवार को एक के बाद एक तीन उच्च स्तरीय बैठकें कीं। वहीं चौथी बैठक सोमवार की सुबह सीएम योगी आदित्यनाथ के साथ हुई और फिर वह सीधे दिल्ली निकल गए। राज्य में अटकलों का बाजार गर्म है कि वर्ष 2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को देखते हुए योगी मंत्रिमंडल में जल्द ही व्यापक बदलाव हो सकते हैं।

बीजेपी की पहली बैठक पार्टी मुख्यालय में हुई। इसमें प्रदेश के अध्यक्ष महेंद्र नाथ पाण्डेय, पार्टी के सभी महासचिव, सचिव, और संगठन मंत्री सुनील बंसल भी उपस्थित रहे। रविवार की देर रात तक चली बैठक में कैराना और नूरपुर में होने वाले उपचुनाव को लेकर भी चर्चा की गई। वहीं सीएम आवास में हुई बैठक में बीजेपी कोर कमिटी के सदस्य शामिल हुए।कर्नाटक चुनाव होने के बाद और वहां से प्रचार करके लौटे सीएम योगी आदित्यनाथ ने अब लोकसभा चुनाव की तैयारियां शुरू कर दी हैं। बीजेपी वर्ष 2014 की तरह ही 2019 में भी वापसी चाहती है। 2019 में धुआंधार वापसी के लिए ही बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह ने 18 मई को पार्टी के टॉप लीडर्स की बैठक बुलाई है।

संगठन के मंत्रियों ने चर्चा की कि मंत्रिमंडल में बदलाव करके पार्टी को कैसे मजबूत किया जाए। सरकारी निगमों में खाली पड़ीं 350 सीटों को भरने पर चर्चा हुई। निगमों में ऐसे लोगों को पद देने की बात हुई जिन्हें 2017 के विधानसभा चुनाव में टिकट नहीं मिल पाया या उन्हें पार्टी में कोई पोजिशन नहीं दी गई। 
कोर कमिटी ने यह भी फैसला लिया कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को जोडऩे के लिए कार्यक्रमों का आयोजन किया जाए। दलितों को लुभाने के लिए काम किया जाए। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष ने पार्टी के विभिन्न विंग के प्रभारी भी घोषित किए। महिला मोर्चा का प्रभार रंजना उपाध्याय, युवा मोर्चा की जिम्मेदारी अशोर कटारिया और किसान मोर्चा पंकज सिंह को दिया गया। 

सरकार में बदलाव भी पार्टी का टॉप अजेंडा है। प्रदेश में मुख्यमंत्री से लेकर मंत्रियों तक के 60 पद हैं। इनमें से अभी सिर्फ 47 मंत्री बनाए गए हैं। 13 पद अभी भी खाली हैं। सूत्रों की मानें तो इन 13 पदों पर एमएलसी और एमएलए को मंत्री बनाया जा सकता है। बीएसपी और एसपी के गठबंधन के बाद ओबीसी और दलित वोटर्स को कैसे लुभाया जाए उस पर चर्चा की गई। पार्टी के एक वरिष्ठ नेता ने कोर कमिटी के बैठक के बाद बताया कि प्रदेश में निगम, आयोग और तमाम बोर्ड के 350 पद खाली पड़े हैं। इनके पदों पर जल्द ही प्रभार दिया जाएगा। वहीं अच्छा प्रदर्शन न करने वाले मंत्रियों को भी हटाने पर चर्चा हुई। जल्द ही मंत्रिमंडल में पिछड़ा और अनुसूचित जाति के नए चेहरे शामिल हो सकते हैं।
 

No image

सुनंदा पुष्कर की मौत के चार साल बाद दिल्ली पुलिस आज पटियाला हाउस कोर्ट के सामने फाइनल रिपोर्ट पेश करेगी. कांग्रेस नेता शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर 17 जनवरी 2014 तो दिल्ली के एक होटल में संदिग्ध अवस्था में मृत मिली थीं. हालांकि यह देखना होगा कि पुलिस इस मामले में चार्जशीट फाइल करेगी या क्लोजर रिपोर्ट. सूत्रों ने बताया कि अगर चार्जशीट फाइल की जाती है तो थरूर पर सबूत नष्ट करने के आरोप तय हो सकते हैं. थरूर पर आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला भी दर्ज हो सकता है.

सुनंदा पुष्कर की 17 जनवरी 2014 को दिल्ली के एक लग्जरी होटल के कमरे में मौत हो गई थी. घटना से कुछ दिन पहले उनकी पाकिस्तानी जर्नलिस्ट मेहर तरार के साथ ट्विटर पर तीखी बहस भी हुई थी. इस बहस की कथित वजह शशि थरूर और मेहर तरार के बीच नज़दीकियां बताई जाती हैं.

शुरुआती पोस्टमार्टम रिपोर्ट में सामने आया कि सुनंदा की मौत ज़हर की वजह से हुई. उनके शरीर में एलज़ोलम के अंश पाए गए थे. साथ ही उनके कमरे में नींद की गोलियां भी मिली थीं. हालांकि, उनकी मौत किस ज़हर से हुई, इसकी पुष्टि नहीं हो पाई.  चूंकि दोनों की शादी को सिर्फ 7 साल हुए थे इसलिए सब-डिविजनल मजिस्ट्रेट (एसडीएम) की देखरेख में इस मामले की जांच शुरू की गई.

डॉक्टर सुधीर गुप्ता की अध्यक्षता में एम्स के बोर्ड ऑफ डायरेक्टर्स की टीम ने सुनंदा का पोस्टमार्टम किया. उनकी रिपोर्ट में बताया गया कि सुनंदा के शरीर पर चोट के 15 निशान थे. हालांकि, इसकी वजह से उनकी मौत नहीं हुई थी. रिपोर्ट के मुताबिक, उनके शरीर पर इंजेक्शन और काटने के निशान भी थे. रिपोर्ट में यह भी सामने आया कि सुनंदा के शरीर में एल्प्रोज़लम ड्रग की काफी मात्रा थी.
सुनंदा की विसरा रिपोर्ट में यह भी मालूम चला कि मौत से पहले वो पूरी तरह स्वस्थ थीं और उन्हें ड्रग की ज़रूरत नहीं थी. बोर्ड ने बताया कि ज़हर के कारण उनकी मौत हुई और यह अप्राकृतिक थी.इसी रिपोर्ट के आधार पर पुलिस ने हत्या का केस दर्ज किया. हालांकि, इसमें किसी का नाम शामिल नहीं था.

सुनंदा की मौत के एक साल बाद पुलिस की आधिकारिक जांच शुरू हुई. इसके बाद ही विसरा सैंपल्स को जांच के लिए एफबीआई लैब भेजा गया. यहां हुई जांच में सुनंदा के विसरा में एल्प्रोज़लम और हाइड्रो क्लोरोच्नि मौजूद होने की पुष्टि हुई. लेकिन इसमें यह भी कहा गया कि विसरा की रेडियो-केमेस्ट्री जांच में इसकी मात्रा तय सीमा से काफी कम पाई गई.सुनंदा के बेटे शिव मेनन ने दिल्ली पुलिस प्रमुख बीएस बस्सी को लिखा कि अगर एम्स डॉक्टर उनकी मौत की वजह तलाशने में नाकामयाब हैं तो दूसरे डॉक्टर्स से सलाह ली जाए.

इस मामले को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां भी रहीं. बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने दिल्ली हाईकोर्ट में पीआईएल दायर कर सीबीआई जांच और संयुक्त जांच टीम बनाने की अपील की. वे इससे पहले भी गृह मंत्रालय से इस मामले को सीबीआई को सौंपने की अपील कर चुके थे. हालांकि, गृह मंत्रालय ने कहा कि दिल्ली पुलिस एसआईटी जांच में काफी आगे पहुंच चुकी है और ऐसे में केस सीबीआई को सौंपने से देरी हो सकती है.दिल्ली हाईकोर्ट द्वारा स्वामी की याचिका खारिज होने पर उन्होंने सुप्रीम कोर्ट में अपील की थी.

No image

झारखंड की राजधानी रांची में हाईकोर्ट से चारा घोटाला मामले में औपबंधिक जमानत मिलने के बाद सोमवार को लालू प्रसाद यादव को होटवार जेल से रिलीज करने की प्रक्रिया शुरू की जाएगी. मिली जानकारी के मुताबिक हाईकोर्ट से औपबंधिक जमानत संबंधी आदेश मिलने के बाद निचली अदालत में 50-50 हजार रुपए का बेल बांड भरा जाएगा. इसके बाद सीबीआई अदालत जेल प्रबंधन को रिलीज ऑर्डर जारी करेगा.

आपको बता दें कि इससे पहले 3 दिनों के पैरोल पर पटना गए लालू प्रसाद यादव आज यानी सोमवार को दोपहर 3 बजे तक रांची लौटेंगे. वहीं, रांची लौटने के बाद लालू प्रसाद यादव की ओर से बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा में कागजी कार्रवाई पूरी की जाएगी.

मालूम हो कि स्वास्थ्य कारणों से हाईकोर्ट से मिली औपबंधिक जमानत का रिलीज ऑर्डर जेल प्रबंधन को मिलने के बाद लालू प्रसाद को 6 सप्ताह के लिए रिलीज किया जाएगा. ऐसे में ये कहा जा सकता है कि चारा घोटाला मामले में गत 23 दिसम्बर 2017 से रांची के होटवार जेल में बंद राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद यादव को बड़ी राहत मिली है.
 

No image

उत्तर प्रदेश के विभिन्न हिस्सों में रविवार को आई आंधी में मरने वालों का आंकड़ा 42 हो गया है. जबकि 68 लोग घायल हैं जिनका इलाज विभिन्न अस्पतालों में चल रहा है. आंधी-तूफान में 15 मवेशियों की भी मौत हुई है, जबकि 121 मकान क्षतिग्रस्त हुए हैंअधिकांश मौते दीवार, पेड़ और आकाशीय बिजली गिरने से हुई हैउत्तर प्रदेश के लगभग 25 जिले आंधी तूफान से प्रभावित हुए हैं. कासगंज में 6, इटावा और कन्नौज में एक-एक की मौत हुई है. बुलंदशहर में चार, संभल और अलीगढ़ में एक-एक की मौत की पुष्टि हुई है. गाजियाबाद में एक, गौतम बुद्ध नगर में एक

औरसहारनपुर में दो लोगों की मौत हुई है. बदायूं में एक, बाराबंकी में पांच, और बरेली में 6 लोगों की मौत होने की खबर है. प्रतापगढ़ और जौनपुर में दो-दो और मिर्जापुर में एक लोग की मौत हुई है. लखीमपुर खीरी में 3, मथुरा और शामली में एक-एक लोगों की मौत हुई है.प्रमुख सचिव  (सूचना) अवनीश अवस्थी नेने बताया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलाधिकारियों और आयुक्तों को निर्देश दिया है कि प्रभावित लोगों को तत्काल राहत मुहैया कराई जाए और यह सुनिश्चित किया जाए कि घायलों को तत्काल चिकित्सकीय उपचार मुहैया हो.

इससे पहले, राज्य सरकार ने चेतावनी दी थी कि इस आंधी तूफान से बहराइच, श्रावस्ती, बलरामपुर, गोंडा, सिद्धार्थनगर, महाराजगंज, कुशीनगर, गोरखपुर, संतकबीरनगर, बस्ती, फैजाबाद, सुल्तानपुर, आजमगढ, अंबेडकरनगर, मऊ, देवरिया, बलिया, गाजीपुर, जौनपुर, प्रतापगढ़, इलाहबाद, संतरविदास नगर, वाराणसी, चंदौली, मिर्जापुर और सोनभद्र जिले प्रभावित हो सकते हैं.
 

No image

 चेन्नई सुपरकिंग्स के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शतकीय पारी खेलने वाले मैन ऑफ द मैच अंबाती रायुडू की तरीफ करते हुए कहा कि वह तेज गेंदबाजों और स्पिनरों के खिलाफ समान रूप से रन बना सकते हैं। सलामी बल्लेबाज रायुडू की नाबाद 100 रन के बूते चेन्नई ने आईपीएल मैच में सनराइजर्स हैदराबाद को एक ओवर बाकी रहते आठ विकेट से करारी शिकस्त दी। उन्होंने 62 गेंद की पारी में सात छक्के और इतने ही चौके लगाए। टीम की जीत के बाद धोनी ने कहा, ''आईपीएल शुरू होने से पहले मुझे रायुडू के लिए जगह बनानी पड़ी , क्योंकि वह ऐसे खिलाड़ी है जिसकी प्रतिभा का मैं लोहा मानता हूं। वह तेज गेंदबाजों और स्पिनरों दोनों को अच्छी तरह से खेल सकते हैं। ज्यादातर टीमें सलामी बल्लेबाज पर दबाव बनाने के लिए स्पिन गेंदबाजी का सहारा लेती हैं। वह ( रायुडू ) बड़े शॉट खेलने वाले खिलाड़ी की तरह नहीं दिखते है,लेकिन वह जब भी बड़ा शॉट खेलते है तो गेंद मैदान के बाहर जाती है। 
धोनी इस बात से हालांकि आश्चर्यचकित थे कि चेन्नई की बल्लेबाजी के समय गेंद स्विंग नहीं कर रहीं थी जैसा उनकी टीम की गेंदबाजी के समय हो रहा था। उन्होंने कहा, ''मुझे लगा था कि दूसरी पारी में गेंद ज्यादा स्विंग करेगी लेकिन ऐसा नहीं हुआ। यह आश्चर्यचकित करने वाला था। हमें अच्छी शुरूआत मिली। वाटसन और रायुडू को जब भी मौका मिला उन्होंने गेंद को सीमा के पार पहुंचाया,नहीं तो हैदराबाद के खिलाफ 180 रन के लक्ष्य का पीछा करना काफी मुश्किल होता। 
रायुडू ने कहा कि वह अपने खेल का लुत्फ उठा रहे है। उन्होंने कहा, ''टी 20 में बल्लेबाजी करने के लिए यह अच्छी जगह ( सलामी बल्लेबाजी ) है। मैं अभी इसका लुत्फ उठा रहा हूं। इसका ( अच्छी बल्लेबाजी का ) कोई रहस्य नहीं है। मैं पारी शुरू करने के लिए तैयार था। अगर आप चार दिवसीय क्रिकेट में अच्छ खेलते हैं , तो आप किसी भी जगह पर बल्लेबाजी कर सकते हैं।उन्होंने कहा, ''मैं भारतीय टीम में वापसी करने पर वाकई खुश हूं, उम्मीद है कि मैं वहां अच्छा प्रदर्शन करूंगा। सीनियर सलामी बल्लेबाज शेन वाटसन के साथ बल्लेबाजी करने के बारे में पूछे जाने पर रायुडू ने कहा, ''हम दोनों खुद का साथ दे रहे हैं और बहुत अच्छी तरह से संवाद कर रहे हैं। वह मेरे लिए बहुत मददगार है। 
 

No image

मोदी की भाषा से खफा मनमोहन, राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखकर की शिकायत
मनमोहन सिंह ने इस बाबत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखकर उनसे मांग की है कि वे प्रधानमंत्री को अशोभनीय और धमकाने वाली टिप्पणी करने से रोके. उन्होंने लिखा है कि ऐसी बातें पीएम पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देतीं.

मोदी की भाषा से खफा मनमोहन, राष्ट्रपति को चिट्ठी लिखकर की शिकायत मनमोहन सिंह ने इस बाबत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखकर उनसे मांग की है कि वे प्रधानमंत्री को अशोभनीय और धमकाने वाली टिप्पणी करने से रोके. उन्होंने लिखा है कि ऐसी बातें पीएम पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देतीं. कर्नाटक में चुनाव अभियान के दौरान कांग्रेस नेताओं को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की भाषा से पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह खासे नाराज हैं. उन्होंने इस बाबत राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद को चिट्ठी लिखकर उनसे मांग की है कि वे प्रधानमंत्री को कांग्रेस नेताओं या किसी अन्य शख्स के खिलाफ अशोभनीय और धमकाने वाली टिप्पणी करने से रोके. उन्होंने लिखा है कि ऐसी बातें पीएम पद पर बैठे व्यक्ति को शोभा नहीं देतीं. राष्ट्रपति को लिखी इस चिट्ठी में कहा गया कि देश में इससे पहले जितने भी प्रधानमंत्री हुए, सभी ने सार्वजनिक व निजी कार्यक्रमों पूरी गरिमा और मर्यादा का पालन किया. यह सोचा भी नहीं जा सकता कि लोकतांत्रिक समाज में राष्ट्राध्यक्ष होने के नाते कोई प्रधानमंत्री मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेताओं और सदस्यों के खिलाफ सार्वजनिक रूप से ऐसे शब्दों का प्रयोग करेगा.अपनी चिट्ठी में मनमोहन सिंह ने कर्नाटक के हुबली में 6 मई को पीएम नरेंद्र के चुनावी भाषण का खास तौर से जिक्र किया है, जिसमें उन्होंने कहा था , 'कांग्रेस के नेता कान खोलकर सुन लीजिए, अगर सीमाओं को पार करोगे, तो ये मोदी है, लेने के देने पड़ जाएंगे.इस चिट्ठी में कहा कि प्रधानमंत्री की तरफ से कांग्रेस नेताओं को दी गई ये धमकी निंदनीय है. सवा अरब लोगों वाले लोकतांत्रिक देश के प्रधानमंत्री की ऐसी भाषा नहीं होनी चाहिए. निजी या सार्वजनिक जीवन में ऐसी भाषा अस्वीकार्य है. पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह ने राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद से आग्रह किया है कि वे प्रधानमंत्री को कांग्रेस नेताओं के खिलाफ ऐसी धमकाने वाली भाषा के इस्तेमाल से रोकें.

No image

पाकिस्तान में पहली बार किसी अमरीकी राजनयिक को देश छोड़कर जाने पर पांबदी लगाई गई है। इस कदम से पाकिस्तान और अमरीका के बीच तनाव बढ़ सकती है। पाक मीडिया के अनुसार रावलपिंडी में नूर खान एयरबेस पर एक अमरीकी विमान खड़ा था। यह विमान शनिवार को आया था और इसे अमरीका के दूतावास में रक्षा मामलों को देखने वाले कर्नल जोसेफ इमैनुएल हॉल को वापस लेकर जाना था। बाद में यह विमान अमेरिकी राजदूत को लिए बिना रवाना होगा गया।

गौरतलब है कि सात अप्रैल को इस्लामाबाद में हॉल ने लापरवाही से कार चलाते हुए यातायात सिग्नल तोड़ दिए थे। इस दौरान उन्होंने एक बाइक सवार को टक्कर मार दी थी। हादसे के बाद बाइक सवार की मौत हो गई थी और एक घायल हो गया। इसके बाद हॉल को पाकिस्तानी पुलिस ने हिरासत में ले लिया था। उन्हें ब्लैक लिस्टेड कर दिया था।

अमरीकी राजदूत को कई छूटें प्राप्त होती हैं। इस केस में भी राजदूत को राहत मिल सकती थी। इस्लामाबाद चाहता था कि राजदूत के देश वापस होने के बावजूद उस पर केस चलाया जा सके, इसके लिए ट्रंप प्रशासन से उसकी सहमति बन गई थी। राजदूत को निकालने के लिए अमरीकी सेना का विमान अफगानिस्तान के बगराम एयरफोर्स बेस से रावलपिंडी के नूर खान एयरबेस पर उतरा। लेकिन इसकी जानकारी पाकिस्तानी मीडिया में लीक हो गई और पूरे देश में फैल गई। जब कर्नल हॉल अमेरिकी दूतावास के आठ अन्य लोगों के साथ एयरबेस तक पहुंचे तो उन्हें विमान में बैठने की मंजूरी नहीं मिली और विमान को वापस भेज दिया गया। माना जा रहा है कि पाकिस्तान के कट्टरपंथी तत्वों के आदेश पर ऐसा हुआ है।

No image

बॉलिवुड ऐक्ट्रेस दिशा पाटनी अक्सर अपने फोटोज, विडियोज या ऐक्टर टाइगर श्रॉफ से रिलेशनशिप को लेकर चर्चा में रहती हैं। उनकी हालिया रिलीज फिल्म बागी 2 ने बॉक्स ऑफिस पर काफी अच्छा प्रदर्शन किया।हाल ही में दिशा ने फिल्मों के सिलेक्शन को लेकर बात की। उन्होंने कहा, मैं इंडस्ट्री में दूसरे कलाकारों से कॉम्पिटिशन करने के बजाय उन फिल्मों का हिस्सा बनकर खुश हूं जो दर्शकों को खुशी दें और जिसका कॉन्टेट अच्छा हो। 

यह पूछे जाने पर कि क्या बागी 2 की रिलीज से पहले इसकी सफलता को लेकर उनके मन में बेचैनी थी, इस सवाल के जबाव में दिशा ने कहा, बिल्कुल। ऐसा समय होता है तो मुझे घबराहट महसूस होती है। मैं कड़ी मेहनत और दर्शकों का मनोरंजन करना चाहती हूं। दिशा ने आगे कहा, मेरा लक्ष्य यह सुनिश्चित करना है कि जब लोग मेरी फिल्म देखने आएं तो वे खुशी महसूस करें। साथ ही उनके समय और पैसे के लायक फिल्म हो।
 

No image

कर्नाटक विधानसभा चुनाव का परिणाम कल आएगा लेकिन चुनाव परिणाम आने से पहले कांग्रेसी खेमें में एक अजीब सी बेचैनी है। इस बात का संकेत सीएम सिद्धारमैया रविवार को दे चुके हैं। दलित सीएम बनाने की मंशा जाहिर कर उन्‍होंने पार्टी हाईकमान को साफ संकेत दे दिया है कि कांग्रेस के लिए सत्‍ता में वापसी मुश्किल है।

एग्जिट पोल के रुझानों के मुताबिक ऐसा हुआ तो विपक्षी एकता के बल पर