बीपीएस चुनाव में गैदू पैनल के चाबी छाप का पलड़ा भारी,सभी ने जनसंपर्क किया तेज, 18 को होगा मतदान

0
11
malkeet singh

जगदलपुर। बीपीएस के चुनाव में 7 पदों के लिये 26 प्रत्याशी आमने सामने हैं। चुनाव अधिकारी द्वारा चुनाव चिन्ह आंबटन के बाद प्रत्याशियों ने जनसंपर्क अभियान तेज कर दिया है।

दावेदार अपने-अपने पैनल की फतह हासिल करने प्रचार भी तेज कर चुके हैं। अब तक के हालात में मलकीत सिंह गैदू पैनल का पलड़ा भारी है, जिनका चुनाव चिन्ह चाबी छाप है। स्थानीय विधायक का भी गैदू पैनल को समर्थन है, जो लगातार जनसंपर्क में साथ दे रहे हैं।

11  अप्रैल को होने वाले लोकसभा चुनाव के पूर्व बीपीएस के चुनाव 18 अपै्रल को होने से संभाग भर में चुनावी माहौल गरमा चुका है। बीपीएस के अध्यक्ष पद की कुर्सी पर कब्जा जमाने दावेदारों के बीच कांटे की टक्कर है। सभी अपनी जीत को सुनिश्चित करने को लेकर सदस्यों को भी प्रलोभन देना शुरू कर चुके हैं।

बीपीएस के चुनाव में इस बार तीन पैनलों के बीच सीधा मुकाबला है, जिसमें अध्यक्ष पद के लिये मलकीत सिंह गैदू पैनल को चाबी छाप, पाठक पैनल को बल्ला छाप, नयन पैनल को चुनाव चिन्ह घड़ी छाप दिया गया है।
गैदू पैनल का पलड़ा भारी

गैदू पैनल में ऐसे सदस्य चुनावी अखाड़े में है जो बीपीएस में ताला बंदी के दौरान लगातार प्रशासन पर दबाव बनाते हुए दफ्तर को पुन: चालू कराने में सफल हुए हैं। ऐसे सदस्यों की वर्तमान सरकार में अच्छी पकड़ है। बीपीएस सदस्य एक बार फिर गैदू पैनल को ताजपोशी करने की तैयारी में है।

गैदू पैनल में अध्यक्ष पद के लिये मलकीत मलकीत सिंह गैदू, सचिव शक्ति सचिव सिंह चौहान, उपाध्यक्ष राजीव शर्मा, गुरनाम सिंह, कोषाध्यक्ष विजय विश्वकर्मा, सह सचिव देवेन्द्र सिंह चिल्ली, जितेन्द्र मिश्रा। इस पैनल में अध्यक्ष एवं उपाध्यक्ष पद के प्रत्याशी बीपीएस के पुन: चालू कराने हाईकोर्ट तक दौड़ लगाने हमेशा सक्रिय रहे हैं। सत्ता परिवर्तन के बाद मलकीत सिंह गैदू जो लगातार सरकार पर दबाव बनाने में वर्षो पुरानी संस्था को चालू कराने में सफल हुए और सदस्यों में भी अच्छी पकड़ बना रखी है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here